बजरंग पूनिया ने संगीता फोगाट के साथ की सगाई

बजरंग पूनिया ने संगीता फोगाट के साथ की सगाई

26-Nov-2019

नई दिल्ली। भारत से स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने संगीता फोगाट के साथ सगाई कर ली है। दोनों की शादी अगले साल होने जा रहे टोक्यो ओलंपिक के बाद होगी। बजरंग के पिता बलवान सिंह पहले ही कह चुके हैं कि उनके बेटे की शादी टोक्यो ओलंपिक से पहले नहीं होगी, क्योंकि वह उनसे मेडल चाहते हैं। संगीता नामी महावीर फोगाट की सबसे छोटी बेटी हैं। संगीता से बड़ी गीता और बबीता फोगाट हैं।

बिना दहेज के होगी शादी

बजरंग और संगीता की सगाई की सारी रस्में सोनीपत में बजरंग के घर में हुई हैं, जहां दोनों के परिवार शामिल थे। इस दाैरान यह भी फैसला लिया गया कि यह विवाह बिना दहेज के होगा ताकि समाज को संदेश दिया जाए। बजरंग पूनिया का रिश्ता एक रुपए से हुआ है। सगाई में संगीता के माता-पिता के अलावा बहन गीता फोगाट और उनके पहलवान पति पवन कुमार सरोहा भी शामिल थे।

गीता फोगाट ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ तस्वीरें भी शेयर की हुई हैं। गीता ने कुछ फोटो शेयर करते हुए लिखा, ''रोका सेरेमनी के शुभ अवसर पर फोगाट परिवार का हिस्सा बनने के लिए बजरंग पूनिया को बहुत-बहुत शुभकामनाएं। साथ में हमारी सबसे छोटी ओर लाड़ली बहन संगीता फोगाट को भी बहुत-बहुत शुभकामनाएं। भगवान का आशीर्वाद तुम दोनो पर बना रहे।''


विराट कोहली के बयान पर भड़के सुनील गावस्कर, बोले- जब आप पैदा नहीं हुए थे, तब भी जीतती थी भारतीय टीम

विराट कोहली के बयान पर भड़के सुनील गावस्कर, बोले- जब आप पैदा नहीं हुए थे, तब भी जीतती थी भारतीय टीम

25-Nov-2019

अपने दौर के दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने विराट कोहली के उस बयान को आड़े हाथों लिया जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय टीम ने सौरभ गांगुली के दौर में टेस्ट क्रिकेट की कठिन चुनौतियों का सामना करना शुरू किया था। सुनील गावस्कर ने कहा कि भारतीय टीम उस समय भी जीतती थी जब वर्तमान कप्तान (विराट कोहली) पैदा भी नहीं हुए थे। कोहली के बयान से असंतुष्ट पूर्व कप्तान गावस्कर ने कहा, ‘भारतीय कप्तान ने कहा कि यह 2000 से दादा (सौरव गांगुली) की टीम से शुरू हुआ। मुझे पता है कि दादा बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं इसलिए शायद कोहली उनके बारे में अच्छी बातें कहना चाहते थे। लेकिन भारत सत्तर और अस्सी के दशक में भी जीत रहा था। उस समय उनका (कोहली) जन्म भी नहीं हुआ था।’

उन्होंने टीवी शो में मैच समाप्त होने के बाद कहा, ‘बहुत से लोग अभी तक यह मानते हैं कि क्रिकेट 2000 के दशक में शुरू हुआ था लेकिन भारतीय टीम सत्तर के दशक में विदेश में जीत दर्ज करती थी। भारतीय टीम 1986 में भी जीती थी। भारत ने विदेश में सीरीज ड्रॉ भी कराई थी। वे बाकी टीमों की तरह हारे भी थे।’

बांग्लादेश के विरुद्ध दूसरे टेस्ट में भारत की धमाकेदार जीत के बाद कोहली ने कहा था कि भारत ने चुनौतियों का सामना करना सीख लिया है और यह सब ‘दादा (सौरभ गांगुली) की टीम से शुरू हुआ।’ भारतीय कप्तान ने मैच और सीरीज जीतने के बाद कहा था, ‘अब हमने खड़ा होना सीख लिया है। यह सबकुछ दादा (सौरभ गांगुली) के जमाने में शुरू हुआ था, जिसे हम अब आगे बढ़ा रहे हैं। अब हमारा बोलिंग गुट बेखौफ है और उन्हें अपने ऊपर भरपूर विश्वास है। वह किसी भी बल्लेबाज के सामने खेलने को तैयार हैं। हमने बीते 3 से 4 साल में जो भी मेहनत की है अब हम उसका फल काट रहे हैं।


PETA इंडिया के 'पर्सन ऑफ द ईयर' चुने गए विराट कोहली

PETA इंडिया के 'पर्सन ऑफ द ईयर' चुने गए विराट कोहली

20-Nov-2019

दिल्ली 

भारतीय कप्तान विराट कोहली को पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट आफ एनिमल्स (पेटा) ने वर्ष 2019 की शख्सियत चुना है. पेटा इंडिया ने एक बयान में कहा कि कोहली ने जानवरों के साथ बेहतर बर्ताव के लिए कई प्रयास किए हैं.

विराट कोहली ने आमेर किले में सवारी के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले हाथी मालती को भी छोड़ने के लिए पेटा इंडिया की ओर से अधिकारियों को पत्र लिखा था. इस हाथी को आठ व्यक्तियों ने बुरी तरह पीटा था. कोहली बेंगलुरू में जानवरों के एक आश्रय में घायल कुत्तों से भी मिलने गए. उन्होंने अपने प्रशंसकों से अपील की कि जानवरों को खरीदने की बजाय उन्हें गोद लें.

पेटा इंडिया के निदेशक (सेलिब्रिटी और पब्लिक रिलेशंस) सचिन बांगेरा ने कहा ,‘विराट कोहली जानवरों के अधिकारों के लिए काफी काम कर रहे हैं. हम सभी से उनसे प्रेरणा लेने की अपील करते हें .’ इससे पहले कांग्रेस नेता शशि थरूर, कोहली की पत्नी अभिनेत्री अनुष्का शर्मा, हेमा मालिनी, आर माधवन भी यह सम्मान हासिल कर चुके हैं.


IPL के अगले एडिशन से ओपनिंग सेरेमनी नहीं होगी, BCCI ने ‘बेहद खर्चीला’ मानते हुए बंद किया

IPL के अगले एडिशन से ओपनिंग सेरेमनी नहीं होगी, BCCI ने ‘बेहद खर्चीला’ मानते हुए बंद किया

06-Nov-2019

दिल्ली 

Indian Premier League (IPL) के अगले एडिशन से ओपनिंग सेरेमनी नहीं होगी. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इसे ‘बेहद खर्चीला’ मानते हुए बंद कर दिया है. सोमवार को IPL गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में यह बड़ा फैसला हुआ.

मीटिंग में यह भी तय हुआ कि सिर्फ नो-बॉल देखने के लिए फोर्थ अंपायर होगा. द इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत में BCCI के एक अधिकारी ने कहा, “ओपनिंग सेरेमनी पैसों की बर्बादी है. क्रिकेट फैन्‍स की दिलचस्‍पी उसमें नहीं दिखती और परफॉर्मर्स को अच्‍छी-खासी रकम देनी पड़ती है.”

Indian Premier League ने पिछले कुछ साल में ओपनिंग सेरेमनी पर करोड़ों रुपये खर्चे हैं. इसमें बॉलीवुड सितारों ने तो शिरकत की ही. केटी पेरी, एकॉन, पिटबुल जैसे इंटरनेशनल पॉप स्‍टार्स भी IPL ओपनिंग सेरेमनी का हिस्‍सा बने. इसके अलाव लेचर शो और आतिशबाजी पर भी पैसा खर्च हुआ.

नो-बॉल से जुड़े फैसले पर BCCI ने कहा, “पिछले सीजन में, कई प्‍लेयर्स को आउट दिया गया और रीप्‍ले में दिखा कि नो-बॉल थी. यह फैसला गलतियां और विवाद कम करने के लिए किया गया है.” IPL के लिए प्‍लेयर्स की नीलामी कोलकाता में 19 दिसंबर को होगी.

 

 

 


पाकिस्तानी क्रिकेटर अहमद शहजाद पर लगा बॉल-टेंपरिंग का आरोप

पाकिस्तानी क्रिकेटर अहमद शहजाद पर लगा बॉल-टेंपरिंग का आरोप

01-Nov-2019

नई दिल्ली 

पाकिस्तानी क्रिकेटर अहमद शहजाद पर मध्य पंजाब और सिंध के बीच क्वैद-ए-आज़म ट्रॉफी के दौरान गेंद की स्थिति में बदलाव करने का आरोप लगाया गया है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने गुरुवार रात को इस खबर की पुष्टि की और यह भी कहा कि खिलाड़ी पर फैसला शुक्रवार को लिया जाएगा। दूसरे दिन के खेल के दौरान इकबाल स्टेडियम फैसलाबाद में सिंध की पहली पारी के दौरान यह घटना घटी। "मध्य पंजाब के कप्तान अहमद शहजाद पर गेंद की स्थिति को बदलने के लिए आरोप लगाया गया है। निर्णय कल लिया जाएगा, "पीसीबी ने अपने बयान में लिखा।

अहमद शहजाद का अनुशासन के साथ खराब रिकॉर्ड यह पहली बार नहीं है जब अहमद शहजाद ने अनुशासनात्मक कारणों से खुद को मुसीबतों के बीच पाया है। पीसीबी के एंटी-डोपिंग नियमों का उल्लंघन करने के लिए पिछले साल, पीसीबी ने 10 जुलाई, 2018 को इस बल्लेबाज पर चार महीने का प्रतिबंध लगा दिया था। पाकिस्तान कप टूर्नामेंट के दौरान किए गए एक डोप परीक्षण के बाद प्रतिबंधित पदार्थ के लिए सकारात्मक परीक्षण आने के बाद उन्हें 10 जुलाई को निलंबित कर दिया गया था।


मानसिक समस्या से जूझ रहे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मैक्सवेल ने क्रिकेट से लिया ब्रेक

मानसिक समस्या से जूझ रहे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मैक्सवेल ने क्रिकेट से लिया ब्रेक

31-Oct-2019

दिल्ली 

स्टार क्रिकेटर ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने ऑस्ट्रेलिया की टी20 टीम से हटने का फैसला किया है. मैक्सवेल इस समय मानसिक समस्या से जूझ रहे हैं, इसलिए उन्होंने क्रिकेट से शॉर्टब्रेक लिया है. शॉर्टर फॉर्मेट में अपनी जबर्दस्त बल्लेबाजी के लिए लोकप्रिय मैक्सवेल ने ऑस्ट्रेलिया टीम के सपोर्ट स्टाफ को बताया है कि वे मानसिक स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से जूझ रहे हैं. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें इससे उबरने के लिए पूरा सहयोग और समय देने का निर्णय लिया है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने मैक्सवेल के क्रिकेट से ब्रेक लेने के फैसले की जानकारी दी.

मैक्सवेल के स्थान पर डार्सी शॉर्ट को श्रीलंका के खिलाफ मेलबर्न में होने वाले तीसरे टी20 इंटरनेशनल की ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किया गया है. यह मैच 1 नवंबर को खेला जाना है. तीन टी20 मैचों की सीरीज के पहले दोनों मुकाबले जीतकर ऑस्ट्रेलिया पहले ही सीरीज पर कब्जा सुनिश्चित कर चुका है. सीए की सपोर्ट टीम के साइक्लॉजिस्ट माइकल लॉयड ने कहा कि ग्लेन अपने मानसिक स्वास्थ्य को लेकर कुछ परेशानी महसूस कर रहे थे. ऐसे में कुछ समय क्रिकेट से दूर रहेंगे.


बांग्लादेश क्रिकेट पर लगा भ्रष्टाचार के आरोप

बांग्लादेश क्रिकेट पर लगा भ्रष्टाचार के आरोप

22-Oct-2019

नई दिल्ली 

खिलाड़ियों की वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर हड़ताल के बीच बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के पूर्व अध्यक्ष ने देश में क्रिकेट में बड़े पैमाने पर मैच फिक्सिंग और भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। बीसीबी के पूर्व अध्यक्ष साबीर हुसैन चौधरी ने कहा बोर्ड की संचालन परिषद भी भ्रष्टाचार में शामिल है। चौधरी संसद सदस्य भी हैं। उन्होंने कहा, ''बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड दुनिया की एकमात्र ऐसी राष्ट्रीय खेल इकाई है जो संस्थागत तरीके से मैच फिक्सिंग और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देती है।'' उन्होंने कहा, ''यह अविश्वसनीय है। मैंने खुद कई बार इस मुद्दे को उठाया है।''

राष्ट्रीय टीम के कप्तान शाकिब अल हसन ने भी घरेलू क्रिकेट में भ्रष्टाचार पर चिंता जाहिर करते हुए क्रिकेटरों के वेतन को बढ़ाने की मांग के साथ देश के पेशेवर खिलाड़ियों के साथ हड़ताल शुरू की है। खिलाड़ियों के इस हड़ताल के कारण बांग्लादेश का आगामी भारतीय दौरा अधर में लटक सकता है। 

बांग्लादेश के क्रिकेट खिलाड़ियों ने घरेलू क्रिकेटरों की वेतन में 50 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ मैच फीस भी बढ़ाने की मांग की है। मैच फिक्सिंग के कथित आरोपों के कारण 2014 के बांग्लादेश प्रीमियर लीग टी-20 प्रतियोगिता को रद्द कर दिया गया था।  बांग्लादेश में भ्रष्टाचार का एक ऐसा ही मामला 2017 मे सामने आया जब दूसरे श्रेणी के एक मुकाबले में गेंदबाज ने लगातार वाइड और नो बॉल फेंक कर पहले ओवर में ही 92 रन लुटाये और टीम मैच हार गई। टीम ने हालांकि कहा था कि यह अंपायर के पक्षपाती रवैये के कारण किया गया था। 

इस मुकाबले में लालमाटिया की टीम 14 ओवर में 88 रन पर आउट हो गई थी जबकि एक्जिओम ने महज चार गेंदों में बिना विकेट गंवाए 92 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया था। इस दौरान गेंदबाज ने 13 वाइड और तीन नो बॉल फेंकी और ये सभी गेंद सीमा रेखा के पार गई, जिससे 80 अतिरिक्त रन बने।


मैच ड्रॉ होने पर निराश होकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने दीवार पर मार दिया मुक्का, टूटा हाथ

मैच ड्रॉ होने पर निराश होकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने दीवार पर मार दिया मुक्का, टूटा हाथ

14-Oct-2019

नई दिल्ली 

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मिचेल मार्श को ड्रेसिंग रूम में जाकर दीवार पर जोर से मुक्का मारना भारी पड़ गया  ऐसा करने के कारण उनका हाथ टूट गया है। मार्श के गेंद फेंकने वाली हाथ में चोट लग गई है। रिपोर्ट के अनुसार मार्श ने रविवार को शेफील्ड शिल्ड मैच के दौरान गुस्से में आकर ड्रेसिंग रुम की दीवार पर इतने जोर से हाथ मारा की वो चोटिल हो गए। 27 साल का ये खिलाड़ी दाहिने हाथ से गेंद फेंकता है और पर्थ में तासमानिया के खिलाफ मैच खेल रहा था। दूसरे इनिंग्स में मार्श ने अर्धशतक भी मारा था लेकिन जैक्शन बर्ड ने उन्हें आउट कर दिया. मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ जिसके बाद मार्श ने अपना गुस्सा दीवार पर निकालते हुए जोर से हाथ मारा जिसमें वो चोटिल हो गए।

वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के कप्तान के इस चोट के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है। अभी इस मामले में जांच चल रही है। मार्श ने ऑस्ट्रेलियाई टीम में अपनी वापसी से सबको चौंका दिया था जब उन्होंने पांचवे और आखिरी टेस्ट में 5 विकेट झटके थे।


किंग्स इलेवन पंजाब ने IPL के लिए अनिल कुंबले को बनाया अपना हेड कोच

किंग्स इलेवन पंजाब ने IPL के लिए अनिल कुंबले को बनाया अपना हेड कोच

11-Oct-2019

दिल्ली 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले को किंग्स इलेवन पंजाब ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सीजन के लिए अपना मुख्य कोच नियुक्त किया है. 'क्रिकइंफो' के अनुसार, कुंबले को टीम की क्रिकट से जुड़ी सभी गतिविधियों का जिम्मा सौंपा गया है. 48 साल के कुंबले आईपीएल में एकमात्र भारतीय कोच हैं. रिपोर्ट में बताया गया कि कुंबले 19 अक्टूबर को भविष्य के लिए अपनी योजनाओं को टीम प्रबंधन के सामने रखेंगे.

कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सबसे अधिक विकेट लिए हैं और वह पंजाब की टीम में न्यूजीलैंड के माइक हेसन की जगह लेंगे, जिन्होंने अगस्त में आईपीएल में खेलने वाली टीम से खुद को अलग किया था.

हेसन ने टीम के साथ दो साल का करार किया था, लेकिन वह बीच में ही अपना पद छोड़कर चले गए. पंजाब आईपीएल की तीसरी टीम होगी, जिसके साथ कुंबले जुड़ेंगे. इससे पहले वह बेंगलुरु और मुंबई की टीम से जुड़ चुके हैं. जून 2016 में उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम को मुख्य कोच भी नियुक्त किया गया था.


इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स पर पत्नी का गला दबाने का इल्जाम, वाइफ ने बताया सच

इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स पर पत्नी का गला दबाने का इल्जाम, वाइफ ने बताया सच

09-Oct-2019

दिल्ली 

इंग्लैंड के धाकड़ ऑलराउंडर बेन स्टोक्स एक बार फिर विवादों से घिर गए, जब उन पर पत्नी से मारपीट करने का आरोप लगा. लेकिन यह मामला और अधिक तूल पकड़ता, उससे पहले खुद उनकी पत्नी क्लेयर ने सच्चाई बयां की है. क्लेयर ने कहा कि वो सभी रिपोर्ट फर्जी हैं, जिनमें कहा गया है कि बेन ने मेरा गला दबाने की कोशिश की. दरअसल, ये मामला एक पार्टी से जुड़ा है, जहां ये कहा गया था कि बेन स्टोक्स ने अपनी पत्नी का गला दबाने की कोशिश की थी.

ben-2_100919010820.jpg

यह मामला प्रोफेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन अवॉर्ड के दौरान उस तस्वीर से जुड़ा है, जिसमें स्टोक्स का हाथ उनकी पत्नी के गले पर है. ये फोटो जल्द ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिसके बाद स्टोक्स की पत्नी क्लेयर ने सफाई दी है.ट्विटर पर क्लेयर ने सफाई दी है, 'मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि ये लोग इतना सब कुछ कैसे बना सकते हैं. मैं और बेन हंसी मजाक में एक-दूसरे का मुंह दबा रहे थे. ऐसा कर हम अपना प्यार भी जता रहे थे, लेकिन लोगों ने इसे कहानियां बना दीं. इसके बाद ही हम मैक्डोनाल्ड्स में भी गए.'


एंडी मोल्स को बनाया गया अफगानिस्तानी क्रिकेट टीम का निदेशक और मुख्य चयनकर्ता

एंडी मोल्स को बनाया गया अफगानिस्तानी क्रिकेट टीम का निदेशक और मुख्य चयनकर्ता

04-Oct-2019

काबुल । इंग्लैंड के पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटर एंडी मोल्स को अफगानिस्तानी टीम का क्रिकेट निदेशक और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया गया। दायें हाथ के सलामी बल्लेबाज मोल्स पिछले महीने बांग्लादेश के सफल दौरे पर अफगानिस्तान के अंतरिम कोच थे। 

दौरे के दौरान अफगानिस्तान ने बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट 224 रन के बड़े अंतर से जीता था और फिर मेजबानों के साथ फाइनल के रद्द होने के कारण त्रिकोणीय श्रृंखला ट्राफी भी साझा की थी जिसमें तीसरी टीम जिम्बाब्वे थी। 

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि एंडी मोल्स को क्रिकेट निदेशक और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया गया। मोल्स को खेल में 25 साल से ज्यादा का अनुभव है और वह लेवल-चार के कोच भी हैं। क्रिकेट बोर्ड ने हाल में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व आल राउंडर लांस क्लूजनर को 2020 तक के लिये मुख्य कोच नियुक्त किया था। 


रंगास्वामी के बाद कपिल देव ने भी CAC से दिया इस्तीफा

रंगास्वामी के बाद कपिल देव ने भी CAC से दिया इस्तीफा

02-Oct-2019

दिल्ली 

शांता रंगास्वामी के बाद कपिल देव ने भी क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के एथिक्स ऑफिसर डीके जैन ने क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के तीनों सदस्यों को नोटिस भेजा था, जिसके एक दिन बाद ही शांता रंगास्वामी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था और अब कपिल देव ने भी उन्हीं की राह पर चलते हुए इस्तीफा सौंप दिया है. सीएसी के तीसरे सदस्य अंशुमन गायकवाड़ हैं.

कपिल ने पद छोड़ने की वजह का खुलासा नहीं किया है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) को ई-मेल कर अपने फैसले की जानकारी दी. कपिल देव ने सीओए प्रमुख विनोद राय और बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी को ई-मेल में लिखा, 'खास तौर पर पुरुष क्रिकेट टीम के हेड कोच का चयन करने के लिए एड-हॉक सीएसी का हिस्सा बनना खुशी की बात थी. मैंने अपना इस्तीफा सौंप दिया है.'

मध्‍य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के आजीवन सदस्‍य संजीव गुप्‍ता ने सितंबर में सीएसी के सदस्‍यों के खिलाफ शिकायत की थी. शिकायत में गुप्‍ता ने दावा किया था कि सीएसी के सदस्‍य कई भूमिकाएं एक साथ निभा रहे हैं. गुप्‍ता ने कहा था कि कपिल देव इसलिए हितों का टकराव कर रहे हैं, क्‍योंकि वह कमेंटेटर हैं, फ्लडलाइट कंपनी के मालिक हैं और सीएससी के अलावा भारतीय क्रिकेटर्स एसोसिएशन के सदस्‍य भी हैं. वहीं, शांता रंगास्‍वामी भी भारतीय क्रिकेटर्स एसोसिएशन और सीएसी समेत कई भूमिकाओं का निर्वहन कर रही हैं.


IND vs SA: पहले टेस्ट के लिए भारतीय टीम का एलान, पंत की जगह ऋद्धिमान साहा को मिला मौका

IND vs SA: पहले टेस्ट के लिए भारतीय टीम का एलान, पंत की जगह ऋद्धिमान साहा को मिला मौका

01-Oct-2019

नई दिल्ली: साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच को लेकर भारतीय टीम का एलान कर दिया गया है. तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले के लिए टीम में ऋद्धिमान साहा को विकेटकीपर के तौर पर शामिल किया गया है. साहा ने ऋषभ पंत की जगह ली है. कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को यह घोषणा की. 34 साल के साहा चोट की वजह से लंबे समय से टीम से बाहर थे और अगस्त में वेस्टइंडीज में दो टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान टीम में वापस आए थे. हालांकि, उन्हें वहां खेलने को नहीं मिला और दोनों मैचों में पंत को जगह मिली थी. साहा आखिरी बार भारतीय टीम के लिए जनवरी 2018 में साउथ अफ्रीका दौरे पर केपटाउन टेस्ट में मैदान पर उतरे थे.

इससे पहले 21 साल के युवा क्रिकेटर ऋषभ पंत भारतीय टेस्ट टीम में मुख्य विकेटकीपर की भूमिका निभा रहे थे. लगातार मौका मिलने के बावजूद पंत इसका फायदा नहीं उठे सके. लापरवाही से खेलने के लिए उन्हें लगातार आलोचना का सामना करना पड़ा. इस साल पंत ने भारतीय टीम लिए कुल पांच टेस्ट मैच खेले हैं. ऋद्धिमान साहा ने भारतीय टीम के लिए 32 टेस्ट मैचों में 30.63 की औसत से 1164 रन बनाए हैं. तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच विशाखापट्नम में दो अक्टूबर से खेला जाएगा. भारतीय टीम इस प्रकार है....

विराट कोहली (कैप्टन), अजिंक्य रहाणे (vc), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, रिद्धिमान साहा (wk), इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी


पूर्व भारतीय क्रिकेटर माधव आप्टे का हार्ट अटैक से निधन

पूर्व भारतीय क्रिकेटर माधव आप्टे का हार्ट अटैक से निधन

23-Sep-2019

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय क्रिकेटर माधव आप्टे का सोमवार सुबह दिल का दाैरा पड़ने से निधन हो गया है। उनकी उम्र 86 साल थी। माधव लंबे समय से बीमार भी थे। उन्होंने मुंबई के कैंडी ब्रिज हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली। आप्टे ने 1979 से 1979 की अवधि के दौरान तीन टेस्ट में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष के रूप में भी काम किया है। माधव आप्टे एक प्रतिभाशाली क्रिकेटर थे, लेकिन ज्यादा मौके न मिलने कारण वे अपने खेल को निखार नहीं सके। माधव आप्टे 1950 के दशक के भारतीय खिलाड़ी थे। उनके बेटे वामन ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हमें दुख जरूर है लेकिन हम यह कह सकते हैं कि उन्होंने एक शानदार तरीके से अपनी पूरी जिंदगी जी। आपको बता दें कि आप्टे उस दौर के खिलाड़ी हैं जब क्रिकेट की पहचान न के बराबर थी।

इस पूर्व खिलाड़ी ने अपने क्रिकेट करियर में कुल 7 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 542 रन बनाए हैं। इन सात मैचों की पारियों में उन्होंने एक शतक और तीन अर्धशतक भी लगाए हैं। अगर फर्स्ट क्लास क्रिकेट की बात करें तो माधव ने कुल 67 मैच खेले जिसमें उन्होंने 3336 रन बनाए हैं। इसमें उन्होंने 16 अर्धशतक और 6 शतक लगाए थे। 1979 में, आप्टे को भारत के विंडीज दौरे के लिए चुना गया था। उस समय, वह प्यूल उमरीगर के बाद सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बने। 1979 में, उन्होंने केवल एक प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच खेला। उसके बाद उन्हें भारतीय टीम के लिए कभी नहीं चुना गया। क्यों नहीं चुना गया? वह 'अनसुलझी पहेली' बनी हुई है। आप्टे मुंबई चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष भी थे। वह वर्तमान में आप्टे समूह के प्रमुख थे।


सुनील गावसकर ने कहा - भारतीय क्रिकेट में धोनी का समय पूरा हुआ

सुनील गावसकर ने कहा - भारतीय क्रिकेट में धोनी का समय पूरा हुआ

20-Sep-2019

दिल्ली 

भारतीय क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान सुनील गावसकर ने महेंद्र सिंह धोनी के बारे में अपनी राय रखते हुए कहा कि धोनी का समय भारतीय क्रिकेट में पूरा हो चुका है.

इससे पहले भी कई पूर्व भारतीय क्रिकेटर धोनी के संन्यास के बारे में अपनी राय रख चुके है और अब पूर्व कप्तान गावसकर भी इस सूची में शामिल हो गए हैं.

सुनील गावसकर ने एक इंटरव्यू में कहा, “अब समय आ गया है कि भारतीय क्रिकेट टीम को आगे बढ़ने की जरुरत है. धोनी के बिना टीम इंडिया को खेलने की आदत डालनी होगी. मुझे लगता है धोनी को खुद अपने बारे में फैसला लेना चाहिए, इससे पहले उन पर दबाव डाला जाए. धोनी को एक शानदार विदाई मिलनी चाहिए.” धोनी पहले ही टेस्ट क्रिकेट में साल 2014 में संन्यास ले चुके हैं और उसके बाद से वह वनडे और टी-20 खेलना जारी रखे हुए हैं.

धोनी ने आईसीसी विश्व कप 2019 सेमीफाइनल के बाद से कोई मैच नहीं खेला है वेस्टइंडीज दौरे पर वो नहीं गए थे. इंडियन आर्मी के साथ ट्रेनिंग करने के लिए धोनी ने क्रिकेट से ब्रेक लिया था. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चल रही टी-20 सीरीज में भी वह टीम का हिस्सा नहीं है. हाल ही में विराट कोहली ने धौनी के साथ एक फोटो शेयर की थी, जिसके बाद से ऐसी खबरें आने लगी थीं कि धोनी इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास घोषित कर देंगे.

वहीं चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने साफ किया था कि धोनी के संन्यास की घोषणा पर कोई अपडेट नहीं है और ये खबरें गलत हैं.


नागल बांजा लुका चैलेंजर खिताब से चूके

नागल बांजा लुका चैलेंजर खिताब से चूके

16-Sep-2019

नई दिल्ली : छठी वरीय भारत के सुमित नागल बोसनिया और हेरजेगोविना के बांजा लुका में चल रहे 48,600 यूरो की ईनामी राशि वाले चैलेंजर टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में हॉलैंड के तालोन ग्रिक्सपुअर से पराजित होकर खिताब से चूक गये। नागल ने टूर्नामेंट में शुरूआत से बढ़िया प्रदर्शन दिखाया लेकिन रविवार को हुये पुरूष एकल के फाइनल में उन्हें विपक्षी खिलाड़ी के हाथों 91 मिनट तक चले मुकाबले में लगातार सेटों में 2-6, 3-6 से पराजय झेलनी पड़ गयी।

हरियाणा के झज्जर के निवासी 21 वर्षीय नागल फिलहाल विश्व में 174वीं रैंकिंग पर हैं। उन्होंने फाइनल मैच में 21 में से 16 ब्रेक प्वांइट बचाये लेकिन पांच में से केवल एक मौके पर ही तालोन की सर्विस तोड़ सके। वहीं विश्व में उनसे निचली 187वीं रैंकिंग के हॉलैंड के खिलाड़ी ने पांच में से चार बार अपने ब्रेक अंक बचाये और 21 में से पांच ब्रेक अंकों को भुनाया।

अपने करियर के पहले ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन-2019 के फाइनल में पहुंचे नागल ने स्विस मास्टर रोजर फेडरर के खिलाफ मैच के पहले सेट को जीतकर सुर्खियां बटोरी थीं। लेकिन अपनी से निचली रैंक खिलाड़ी के खिलाफ वह तीन डबल फाल्ट कर बैठे और केवल 56 अंक ही जीते। तालोन ने मैच में एस एस लगाया और एक डबल फाल्ट भी किया। उन्होंने कुल 74 अंक जीते। दोनों खिलाड़ियों ने पहली सर्विस पर 60 फीसदी अंक लिये। नागल ने पहली सर्विस पर 14 अंक और दूसरी सर्विस पर 16 अंक जीते।

भारतीय टेनिस खिलाड़ी को फाइनल में पहुंचने की बदौलत 48 एटीपी अंक और 3,650 यूरो की ईनामी राशि मिली जबकि तालोन को 6,190 यूरो की ईनामी राशि और 80 एटीपी अंक प्राप्त हुये हैं। तालोन ने अपने करियर का पहला एटीपी चैलेंजर बेंगलुरू में वर्ष 2017 में जीता था।


क्रिकेटर मोहम्मद शमी की गिरफ्तारी पर रोक

क्रिकेटर मोहम्मद शमी की गिरफ्तारी पर रोक

10-Sep-2019

पश्चिम बंगाल की एक जिला अदालत ने कथित घरेलू हिंसा के मामले में भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है. मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने उन पर घरेलू हिंसा का मुकदमा किया हुआ है. पीटीआई के मुताबिक जिला एवं सत्र न्यायाधीश राय चटोपाध्याय ने दो सितंबर को अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (एसीजेएम) की अदालत से उनके खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी।

मार्च, 2018 में हसीन जहां ने मोहम्मद शमी पर घरेलू हिंसा, हत्या की कोशिश और बलात्कार के आरोप लगाए थे. इसके बाद कोलकाता पुलिस ने इस क्रिकेटर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. उधर, मोहम्मद शमी ने इन सभी आरोपों को गलत बताते हुए ट्वीट किया था, ‘जितनी भी खबरें मेरे बारे में चल रहीं हैं, सभी गलत हैं और एक साजिश है जिससे मुझे बदनाम किया जा सके और मेरा गेम खराब किया जा सके.’

इस सब के बीच मोहम्द शमी की पत्नी ने उन पर मैच फिक्सिंग जैसा गंभीर आरोप भी लगा दिया. इसका नतीजा यह हुआ कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम के खिलाड़ियों को मिलने वाले कॉन्ट्रैक्ट में से मोहम्मद शमी को बाहर कर दिया और जांच शुरू हो गई. हालांकि बीसीसीआई की एंटी करपशन यूनिट ने इस आरोप को गलत पाया. इसके बाद मोहम्मद शमी को दोबारा अनुबंधित किया गया.


दौरे से भारत नहीं लौटे क्रिकेटर शमी, जानिए, कहां गये ?

दौरे से भारत नहीं लौटे क्रिकेटर शमी, जानिए, कहां गये ?

08-Sep-2019

वेस्टइंडीज दौरा समाप्त होने के बाद भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अमेरिका चले गए हैं और वह अब बीसीसीआई के साथ-साथ अपने अमेरिकी वकील के भी संपर्क में हैं।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, कोलकाता की अलीपुर अदालत ने भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी मोहम्मद शमी के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामले में गिरफ्तारी वांरट जारी किया है। शमी पर उनकी पत्नी हसीन जहां ने घरेलू हिंसा के आरोप लगाए थे।
अदालत ने शमी को 15 दिन के अंदर सरेंडर करने और जमानत की अर्जी देने के आदेश दिए हैं। बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि शमी 12 सितम्बर को भारत लौटेंगे।
इस समय वे अपने वकील सलीम रहमान के संपर्क में हैं। अधिकारी ने कहा, वेस्टइंडीज दौरा समाप्त होने के बाद शमी अमेरिका चले गए हैं और वे 12 सितंबर को भारत लौटेंगे।
कोर्ट से मिले गिरफ्तारी वारंट मामले में वे अपने वकील के संपर्क में हैं और उन्होंने इस मामले पर बोर्ड के लोगों से बात की है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दो सितम्बर को कहा था कि शमी के खिलाफ बोर्ड तब तक कोई कार्रवाई नहीं करेगा जब तक वो चार्जशीट नहीं देख लेता है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि इस मामले पर अभी कोई कार्रवाई करना जल्दबाजी होगी।


 
अधिकारी ने कहा, हां, हम जानते हैं कि गिरफ्तारी वांरट जारी हुआ है, लेकिन इस समय हम इस मामले में नहीं पड़ेंगे। एक बार हम चार्जशीट देख लें। इसके बाद हम फैसला लेंगे कि चीजें किस तरह से होंगी और अगर बीसीसीआई का संविधान कार्रवाई की इजाजत देता है तो करेंगे। लेकिन इस समय मैं यही कह सकता हूं कि इस मामले पर कोई भी कार्रवाई करना जल्दबाजी होगी।

शमी के वकील ने बाद में स्पष्ट करते हुए कहा था कि यह गिरफ्तारी वारंट नहीं है और शमी को सरेंडर करने के लिए कहा गया है। शमी की पत्नी हसीन जहां ने बाद में आईएएनएस से कहा था कि शमी के पास बचने के लिए अब कोई रास्ता नहीं है।

उन्होंने कहा था, अगर आसाराम बापू और राम रहीम कानून से नहीं बच पाए तो उसके सामने शमी कौन है? हसीन ने कहा, मैं पिछले डेढ़ साल से लड़ाई लड़ रही हूं।
मैं उम्मीद खोती जा रही थी, मैं आर्थिक तौर पर भी मजबूत नहीं हूं और न ही मुझे किसी तरह का समर्थन हासिल है। मैं काफी मेहनत कर रही हूं लेकिन मुझे उम्मीद नजर नहीं आ रही थी मैं हार मान रही थी।

उन्होंने कहा, ऐसा लग रहा था कि यह मामला दब गया, लेकिन अल्लाह का शुक्रिया कि सच की जीत हुई। मैंने जितने भी आरोप शमी पर लगाए वो सभी सही साबित हुए। न्यायतंत्र सभी के लिए एक है। मैं काफी खुश हूं और शुक्रगुजार हूं कि मुझे न्याय मिला और मेरा दर्द समझा गया।


पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर अब्दुल कादिर का निधन

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर अब्दुल कादिर का निधन

07-Sep-2019

पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट क्रिकेटर अब्दुल कादिर का शुक्रवार 6 सितंबर की रात हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया. पाकिस्तानटु़डे डॉट कॉम पीके ने कादिर के परिवार के करीबी सूत्रों के हवाले से यह खबर दी. दाएं हाथ के लेग स्पिनर कादिर 1980 के दशक में पाकिस्तानी टीम का अहम हिस्सा थे और करीब 16 साल तक टीम का हिस्सा बने रहे. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने भी ट्वीट कर कादिर के निधन पर शोक व्यक्त किया.

“पीसीबी महान खिलाड़ी अब्दुल कादिर के निधन की खबर सुनकर सदमे में है और उनके परिवार तथा दोस्तों के साथ अपनी संवेदनाएं व्यक्त करती है.”

67 साल के कादिर ने पाकिस्तान के लिए 67 टेस्ट मैच खेले. इसमें उनके नाम 236 विकेट हैं. इसके अलावा कादिर ने पाकिस्तान के लिए 104 वऩडे में 131 विकेट भी लिए. वह पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के मुख्य चयनकर्ता भी रह चुके थे. कादिर को उस दौर में लेग स्पिन को लोकप्रिय बनाने और नया स्तर देने के लिए भी जाना जाता रहा.

 


15 साल की क्रिकेटर ने बनाई भारतीय टी-20 टीम में जगह

15 साल की क्रिकेटर ने बनाई भारतीय टी-20 टीम में जगह

06-Sep-2019

नई दिल्ली: भारतीय महिला टी20 टीम में मिताली राज के संन्यास लेने के बाद अखिल भारतीय सीनियर महिला चयन समिति ने गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टी20 और वनडे सीरीज के लिए भारतीय महिला टीम की घोषणा कर दी है। मिताली के जाने के बाद से टी20 टीम में अधिक युवा खिलाड़ियों के लिए एंट्री का रास्ता बन गया है और इस रास्ते से एक ऐसी ही युवा खिलाड़ी शेफाली वर्मा की एंट्री हुई है जो केवल 15 साल की हैं। हरियाणा की शेफाली को उनकी शानदार बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है और उन्होंने टी-20 चैलेंज में अच्छे प्रदर्शन किया है जिसके आधार पर उनको भारतीय टीम में जगह दी गई है। इसी के साथ शेफाली भारतीय महिला टीम में शामिल होने वाली सबसे युवा खिलाड़ियों में शुमार हो गई हैं।

हरियाणा की शेफाली को उनकी शानदार बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है और उन्होंने टी-20 चैलेंज में अच्छे प्रदर्शन किया है जिसके आधार पर उनको भारतीय टीम में जगह दी गई है। इसी के साथ शेफाली भारतीय महिला टीम में शामिल होने वाली सबसे युवा खिलाड़ियों में शुमार हो गई हैं।