मार्टिन गप्टिल का तूफानी शतक, 35 गेंदों में ठोके 100 रन

मार्टिन गप्टिल का तूफानी शतक, 35 गेंदों में ठोके 100 रन

28-Jul-2018

दिल्ली : मीडिया रिपोर्ट 

न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल इस समय इंग्लैंड में टी20 ब्लास्ट टूर्नामेंट में खेल रहे हैं. उन्होंने शुक्रवार रात अपनी टीम वोरसेस्टशायर की ओर से खेलते हुए तूफानी 35 गेंदों में शतक लगा दिया. गनीमत रही कि वह 11वें ओवर में ही आउट हो गए वरना कोई और बड़ा रिकॉर्ड भी उनके नाम हो सकता था. उन्होंने अपनी पारी के दौरान 12 चौके और 7 गगनचुंबी छक्के लगाए. उनकी तूफानी पारी की मदद से उनकी टीम वॉरसेस्टशायर ने नॉर्थपंटशायर के द्वारा दिए गए 188 रनों के लक्ष्य को 13.1 ओवरों में हासिल कर लिया और मैच 9 विकेट से जीत लिया. गौर करने वाली बात है कि इस दौरान उन्होंने पहले विकेट के लिए शुरुआती 6 ओवरों में 96 रन जोड़े और फिर 10 ओवरों में 162 रन जोड़े.

मैच में पहले बैटिंग करने उतरी नॉर्थपंटशायर ने 20 ओवरों में 187-9 का स्कोर खड़ा किया. उनकी तरफ से रिचर्ड लेवी ने 39, बेन डकेट ने 25, स्टीवन क्रुक ने 33 और एलेक्स वेकली ने 28 रन बनाए. वहीं वॉरसेस्टशायर की ओर से पैट्रिक ब्राउन ने 31 रन देकर 3 विकेट झटके. जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी वॉरसेस्टशायर को ओपनर मार्टिन गप्टिल और जो क्लार्क ने तूफानी शुरुआत दी.

गप्टिल ने 20 गेंदों में तूफानी अर्धशतक लगाया और इसके बाद वह और भी तूफानी हो गए और गेंदबाजों पर कहर बनकर टूट पड़े. उन्होंने अगली 15 गेंदों में अगले 50 रनों का सफर तय किया और रिकॉर्ड शतक ठोक दिया. गप्टिल 38 गेंदों में 102 रन बनाकर आउट हुए. जब वह आउट हुए तब टीम का स्कोर 162 था. उनके आउट होने के बाद बैटिंग करने आए ट्रैविस हेड ने दो छक्के और एक चौका लगाया और मैच फिनिश कर दिया. हेड ने 9 गेंदों में नाबाद 20 रन बनाए. वहीं जो क्लार्क ने 33 गेंदों में नाबाद 61 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 4 चौके और 4 छक्के लगाए. इस तरह से वॉरसेस्टशायर ने मैच 9 विकेट से अपने नाम कर लिया. यह वॉरसेस्टशायर की 7 मैचों में पांचवीं जीत है. वे नॉर्थ ग्रुप प्वाइंट टेबल में 10 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर हैं.

 


उम्र 33 की लेकिन स्टैमिना 20 साल का : क्रिस्टियानो रोनाल्डो पर मेडिकल रिपोर्ट्स का दावा

उम्र 33 की लेकिन स्टैमिना 20 साल का : क्रिस्टियानो रोनाल्डो पर मेडिकल रिपोर्ट्स का दावा

25-Jul-2018

एजेंसी 

नई दिल्ली. मई में एक टीवी इंटरव्यू में क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने कहा था कि उनकी बाइलोजिक उम्र 23 साल की है. और, अब दो महीने बाद उनके नए फुटबॉल क्लब जुवेंटस के कराए मेडिकल टेस्ट में ये खुलासा हुआ है कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो की उम्र बेशक 33 साल की है लेकिन उनके अंदर स्टैमिना 20 साल के लड़के जितना है. इटली से जारी रिपोर्ट के मुताबिक द इंडिपेंडेंट ने लिखा है कि रोनाल्डो के फिजिकल टेस्ट में मेडिकल स्टाफ ने पाया है कि वो अपनी उम्र से 13 साल छोटे हैं.

रोनाल्डो के स्टैमिना की तुलना 20 साल से के लड़के से करने वाली मेडिकल रिपोर्ट्स में खुलासा हुआ है कि उनकी बॉडी में फैट सिर्फ 7 फीसदी है, जो कि दूसरे प्रोफेशनल फुटबॉलर्स के फैट के मुकाबले 3 फीसदी कम है. इसके अलावा रिपोर्ट में रोनाल्डो का मसल मास 50 फीसदी है, जो कि दूसरे प्रोफेशनल फुटबॉलर्स से 4 फीसदी ज्यादा है. रिपोर्ट्स ने दावा किया है कि नए क्लब जुवेंटस से खेलने वाले रोनाल्डो की टॉप स्पीड वर्ल्ड कप के दौरान 21.1 मील प्रति घंटा रिकॉर्ड की गई, जो कि टूर्नामेंट में खेल रहे बाकी प्लेयर्स से ज्यादा थी. बता दें कि 9 साल तक रियल मैड्रिड के लिए खेलने वाले रोनाल्डो ने जून में इस क्लब का साथ छोड़ दिया है और जुवेंटस के साथ 112 मिलियन यूरो में रिकॉर्ड करार किया है. अपने नए करार पर बोलते हुए रोनाल्डो ने कहा कि, ” मैं ये दिखाना चाहता हूं कि मैं टॉप प्लेयर हूं. इसके लिए मैं कड़ी मेहनत करता हूं. मुझे नहीं लगता कि कुछ अलग से बताने की जरुरत है. क्योंकि, जो है उसे मेरे आंकड़े खुद ब खुद बयां करते हैं.”

 


एबी डिविलियर्स के एक ट्विटर पोस्ट से भड़के भारतीय

एबी डिविलियर्स के एक ट्विटर पोस्ट से भड़के भारतीय

20-Jul-2018

Delhi 

साउथ अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज एबी डिविलियर्स के एक ट्विटर पोस्ट से भारतीय उन पर भड़क गए दरअसल एबी डिविलियर्स को भारतीयों के गुस्से का सामना इसलिए करना पड़ रहा है क्योंकि डिविलियर्स ने भारत के राष्ट्रध्वज के साथ शराब के ब्रैंड का प्रमोशन किया है। इस प्रमोशन की तस्वीर सोशल मीडिया पर आते ही लोगों की कड़ी प्रतिक्रिया सामने आई है।

डिविलियर्स ने इस फोटो के साथ लिखा की ‘एक्साइटेड टाइम! अब अतुल्य भारत में भी हमारी अपनी वाइन का स्वाद चखने को मिलेगा। कृपया हमें बताएं कि आप क्या सोचते हैं। इस फोटो में लिखा गया है कि हमारी वाइन भारत में भी पहुंच गई है।’ इसके साथ ही संपर्क भी दिया हुआ है। तिरंगे के साथ शराब के ब्रैंड के प्रमोशन की तस्वीरें सामने आने के बाद लोगों ने इसपर कड़ी नाराजगी जाहिर की है। 


'धोनी की पारी ने मुझे मेरी 36 रनों की 'बदनाम' पारी याद दिला दी' : सुनील गावस्कर

'धोनी की पारी ने मुझे मेरी 36 रनों की 'बदनाम' पारी याद दिला दी' : सुनील गावस्कर

17-Jul-2018

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लॉर्ड्स पर खेली गई उनकी धीमी पारी के लिए काफी आलोचना झेलनी पड़ रही है। उन्होंने 59 गेंद में 37 रन बनाए। हालांकि भारतीय कप्तान विराट कोहली सहित कई बड़े क्रिटर्स मे उनका समर्थन किया है। लेकिन इसी बीच पूर्व लीजेंड कप्तान सुनील गावस्कार ने धोनी की पारी पर चुटकी ली है। पूर्व कप्तान और लिटिल मास्टर के नाम से मशहूर सुनील गावसकर ने धोनी का बचाव करते हुए कहा कि प्रेशर में अक्सर ऐसा हो जाता है और बल्लेबाज चाहते हुए भी रन नहीं बना पाता है। गावसकर ने यह भी कहा कि दूसरे वनडे में धोनी द्वारा खेली गई 37 रनों की पारी ने उन्हें अपनी 36* की 'बदनाम' पारी याद दिला दी।  

टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए एक ऑर्टिकल में पूर्व कप्तान ने लिखा, "धोनी का संघर्ष समझ में आता है क्योंकि जब आप इस तरह की असंभव स्थिति में फंस जाते हैं तो आपके पास बहुत कम विकल्प होते हैं। आपका दिमाग नकारात्मक हो जाता है। तब सारे शॉट सीधा फील्डर के पास ही जाते हैं और डॉट गेंद बढ़ जाती है, जिससे दबाव भी बढ़ जाता है। धोनी के संघर्ष ने मुझे इसी मैदान पर खेली अपनी वो बदनाम पारी याद दिला दी।" गौरतलब है कि दूसरे वनडे में इंग्लैंड ने 322 रनों का स्कोर खड़ा कर दिया था, जिसपर गावसकर ने कहा कि बुमराह और भुवनेश्वर कुमार के बिना इंग्लैंड को आखिरी 10 ओवर में स्कोर करने से रोकना भारत के लिए मुश्किल हो गया था। वैसे गावस्कर की उस बदनाम पारी की बात करें तो उन्होंने 1975 के पहले विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ मैच के दौरान 335 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 174 गेंदो पर 36 रनों की नाबाद पारी खेली थी। भारतीय टीम वो मैच 202 रनों से हार गई थी। 


मोहम्मद कैफ ने क्रिकेट को कहा अलविदा अब किसी भी मैच में नहीं खेलेंगे !

मोहम्मद कैफ ने क्रिकेट को कहा अलविदा अब किसी भी मैच में नहीं खेलेंगे !

13-Jul-2018

भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने शुक्रवार को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायर होने का ऐलान किया है। रिटायर होने की जानकारी कैफ ने ई मेल के जरिए दी। मेल में कैफ ने लिखा, ‘मैं फर्स्ट क्लास क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायर हो रहा हूं।’
पत्र में उन्होंने लिखा, ‘मैं आज रिटायर हो रहा हूं, उस एतिहासिक नेटवेस्ट सीरीज को 16 साल बीत चुके हैं, जिसका मैं भी हिस्सा था।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘भारत के लिए खेलना मेरे लिए खुशी की बात है।’ कैफ उस भारतीय टीम का भी हिस्सा रहे जो साउथ अफ्रीका में वर्ल्ड कप के फाइनल तक पहुंची।
युवराज सिंह, कैफ उन खिलाड़ियों में से हैं जो अंडर 19 टीम से उभरकर आए थे। कैफ ने यूपी के लिए रणजी ट्रोफी भी जीती थी। कैफ करीब 12 साल पहले भारतीय टीम के लिए आखिरी मैच खेले थे। टीम में वह निचले मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते थे। उनकी फील्डिंग के सभी कायल थे। 37 साल के कैफ ने भारत के लिए 13 टेस्ट, 125 वनडे मैच खेले।
2002 में हुई नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल में उन्होंने लॉर्ड्स के मैदान पर 87 रन की यादगार पारी खेलकर टीम को जितवाया था। वह मैच 13 जुलाई को ही खेला गया था। कैफ हिन्दी क्रिकेट कमेंटेटर के रूप में करियर की दूसरी पारी शुरू कर चुके हैं। 

 


फीफा वर्ल्ड कप सेमीफाइनल: फाइल में जगह पाने के लिए फ्रांस और बेल्जियम में भिड़ंत!

फीफा वर्ल्ड कप सेमीफाइनल: फाइल में जगह पाने के लिए फ्रांस और बेल्जियम में भिड़ंत!

10-Jul-2018

राबर्टाे मार्टिनेज की बेल्जियम 21वें फीफा विश्वकप में बतौर शीर्ष स्कोरर सेमीफाइनल में पहुंची है जहां वह मंगलवार को अपने पुराने प्रतिद्वंद्वी फ्रांस की चुनौती को तोड़ते हुए फाइनल का टिकट कटाने उतरेगी जो इस बार ऊंचे आत्मविश्वास के साथ बड़े उलटफेर की तैयारी में है।

बेल्जियम ने विश्वकप के पांच मैचों में 14 गोल किये हैं और ब्राजील के खिलाफ क्वार्टरफाइनल में मिली 2-1 की जीत में उसने सबसे अधिक प्रभावित किया। रोमेलू लुकाकू, ईडन हेजार्ड और केविन डी ब्रुएन ने आक्रामक प्रदर्शन की बदौलत पांच बार की चैंपियन को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

इससे उलट फ्रांस की टीम ने ग्रुप चरण में आस्ट्रेलिया और पेरू के खिलाफ जीत दर्ज की और डेनमार्क से 0-0 से ड्रॉ खेलकर नॉकआउट में जगह बनाई।

हालांकि खिताब की दावेदारों में एक और गत उपविजेता अर्जेंटीना के खिलाफ उसकी अंतिम-16 में 4-3 की रोमांचक जीत ने फ्रांस के आत्मविश्वास को आसमान तक पहुंचाया है। डिडियर डीशैंप्स का मैच में संयोजन लगातार काम कर रहा है और अर्जेंटीना के खिलाफ काइलन एमबापे का हीरो जैसा प्रदर्शन सेमीफाइनल में बेल्जियम को जरूर याद रखना होगा।

क्वार्टरफाइनल मुकाबले में फ्रांसीसी टीम ने इसी लय को बरकरार रखते हुये उरूग्वे को 2-0 से आसानी से हराया और मैच पर शुरूआत से ही नियंत्रण रखा है।

बेल्जियम के लिए हालांकि नॉकआउट राउंड में जापान के खिलाफ मुकाबला उसके लिये एक सबक की तरह रहा जहां उसे एशियाई टीम ने लगभग टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था।
इस मैच में अनुभवी टीम ने आखिरी मिनट में 3-2 से जीत अपने नाम करते हुये सबसे बड़ा उलटफेर टाल दिया लेकिन कोच मार्टिनेज का अपने सीनियर खिलाड़ियों को इस मैच में आराम देने का निर्णय उसपर उलटा पड़ गया। बेल्जियम ने जापान के खिलाफ मैच में खराब शुरूआत की और अनुभवी खिलाड़ियों के बाहर होने की वजह से टीम शुरूआत में 0-2 से पिछड़ गई।

मार्टिनेज ने हालांकि स्थिति संभालते हुये मारूने फेलानी और नासेर चादली को 65वें मिनट में उतारा जिन्होंने आखिरी मौके पर बेल्जियम को संभालते हुए मैच में वापसी करा दी।

चाडली ने मैच की आधिकारिक रूप से आखिरी किक पर विजयी गोल दागा और जापान को एक गोल के अंतर से बाहर कर दिया। ब्राजील के खिलाफ भी क्वार्टरफाइनल में मार्टिनेज ने अपनी रणनीति से चौंकाया और लुकाकू की जगह डी ब्रुएन को‘फाल्स नाइन’की शुरूआत का मौका दे दिया। यह रणनीति काम कर गयी और डी ब्रुएन ने रूस में अपना पहला गोल दाग दिया।

सेंट पीटर्सबर्ग स्टेडियम में मंगलवार को लेकिन प्रशंसक और विशेषज्ञ किसी एक टीम का दबदबा नहीं मान रहे हैं और उम्मीद है कि बेल्जियम और फ्रांस के बीच मुकाबला कांटे का होगा।

फ्रांस के डिफेंडर बेंजामिन पवार्ड ने कहा, ”दोनों ही टीमों के बीच बड़े खिलाड़ियों की मौजूदगी से इस मैच को रोमांचक माना जा रहा है। यह बड़े खिलाड़ियों का मैच होगा।” वर्ष 1998 का चैंपियन फ्रांस हालांकि सट्टेबाजों की नजर में थोड़ा पसंदीदा माना जा रहा है लेकिन यदि पुराने आंकड़ों पर नजर डालें तो यूरोपियन प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ बेल्जियम का पलड़ा हमेशा ही भारी रहा है।


साउथ अफ्रीका की दो महिला क्रिकेटरों ने की आपस में शादी

साउथ अफ्रीका की दो महिला क्रिकेटरों ने की आपस में शादी

10-Jul-2018

मीडिया रिपोर्ट 

जोहांसबर्ग: दक्षिण अफ्रीका महिला क्रिकेट टीम की कप्तान डेन वैन निकेर्क ने अपनी टीम की हरफनामौला खिलाड़ी मैरीजाने कैप से शादी कर ली है. दोनों खिलाड़ियों ने शादी रचाने के बाद सोशल मीडिया (इंस्टाग्राम) पर तस्वीर साझा करके अपने प्रशंसकों को यह जानकारी दी.

Image result for south africa two lady cricketer marriage each other

निकेर्क और कैप ने 2009 में हुए महिला क्रिकेट विश्व कप के दौरान अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पर्दापण किया. निकेर्क ने 8 मार्च को वेस्ट इंडीज के खिलाफ जबकि कैप ने 10 मार्च को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था. दोनों खिलाड़ियों ने अपने करीबी दोस्तों, परिवार और अफ्रीकी टीम के साथी खिलाड़ियों की मौजूदगी में शादी रचाई. नेकेर्क को 2017-18 सीजन के लिए दक्षिण अफ्रीका की शीर्ष महिला क्रिकेटर का पुरस्कार दिया गया था. यह दोनों खिलाड़ी महिला बिग बैश में सिडनी सिक्सर्स की टीम के लिए खेलती हैं.


मलेशिया ओपन के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हुए श्रीकांत

मलेशिया ओपन के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हुए श्रीकांत

30-Jun-2018

नई दिल्ली : वर्ल्ड नंबर-7 भारत के बैडमिंडन खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत मलेशिया ओपन के सेमीफाइनल से आगे नहीं जा सके. श्रीकांत को शनिवार को पुरुष एकल वर्ग के सेमीफाइनल में जापान के केंटो मोमोटा के हाथों हार का सामना करना पड़ा. वर्ल्ड नंबर-11 मोमोटा ने श्रीकांत को सीधे गेमों में 21-13, 21-13 से मात दी.

इस जीत के साथ मोमोटा ने फाइनल में जगह बना ली है.  जहां उनका सामना मलेशिया के ली चोंग वेई और टॉमी सुगाटरे के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच के विजेता से होगा.

 


बारबाडोस टेस्ट : श्रीलंकाई क्रिकेटर कुसल परेरा को लगी गंभीर चोट,अस्पताल में भर्ती

बारबाडोस टेस्ट : श्रीलंकाई क्रिकेटर कुसल परेरा को लगी गंभीर चोट,अस्पताल में भर्ती

26-Jun-2018

नई दिल्ली : बारबाडोस में श्रीलंका-वेस्टइंडीज के बीच तीसरे टेस्ट के दौरान श्रीलंकाई बल्लेबाज कुसल परेरा को फील्डिंग के वक्त जबरदस्त चोट लगी है. चोट लगने के बाद तुरंत परेरा को एंबुलेंस के सहारे जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया. परेरा को ये चोट तब लगी जब वो बाउंड्री पर एक कैच को पकड़ने की कोशिश कर रहे थे.

बारबाडोस टेस्ट के तीसरे दिन वेस्टइंडीज की पारी के 29वें ओवर के दौरान जब मेजबान टीम का स्कोर 9 विकेट पर 82 रन था उसी वक्त बाउंड्री पर खड़े कुसल परेरा एक कैच को लपकने में अपना कंट्रोल खो बैठे और वो वहां लगे होर्डिंग से जा टकराए. परेरा होर्डिंग से अपने शरीर के आगे के हिस्से से टकराए.  चोट लगने के बाद कुसल  परेरा ने अपनी छाती को जकड़ते हुए तुरंत ही मेेडिकल सहायता मांगी.इस घटना के बाद मैच को रोककर लंच ब्रेक ले लिया गया.

तीसरे दिन का खेल खत्म होने से एक घंटा पहले मैच के ऑफिशिएल ब्रॉडकास्टर्स ने बताया कि कुसल अभी भी अस्पताल में डॉक्टर्स की देख-रेख में हैं और वो अब बाकी बचे मैच में बल्लेबाजी भी नहीं कर सकते. बता दें कि कुसल परेरा की गैर मौजूदगी में धनुष्का गुणाथिलका और माहेला उद्दावटे ने श्रीलंका की दूसरी पारी की शुरुआत की.  हालांकि, अभी भी कुसल परेरा के बाकी बचे मुकाबलों में खेलने और न खेलने की आधिकारिक घोषणा की जानी बाकी है.

बारबाडोस टेस्ट को जीतने के लिए वेस्टइंडीज ने श्रीलंका को 144 रन का टारगेट दिया है. इस लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका ने तीसरे दिन 5 विकेट खोकर 81 रन बना लिए थे. यानी अब चौथे दिन उसे जीत के लिए 63 रन और बनाने हैं. अगर श्रीलंका ये टेस्ट जीत लेता है तो बारबाडोस में खेले अब तक 16 टेस्ट में पहली जीत दर्ज करने वाली वो पहली एशियाई टीम बन जाएगी.


फीफा वर्ल्ड कप: अहमद मूसा ने दो गोल दागकर नाइजीरिया को दिलाई जीत, नॉकआउट में पहुंचने की उम्मीद बरकरार

फीफा वर्ल्ड कप: अहमद मूसा ने दो गोल दागकर नाइजीरिया को दिलाई जीत, नॉकआउट में पहुंचने की उम्मीद बरकरार

23-Jun-2018

रूस में चल रहे फीफा महाकुंभ में शुक्रवार को दूसरा मुकाबला आइसलैंड और नाइजीरिया के बीच हुआ। स्ट्राइकर अहमद मूसा के दूसरे हाफ में दागे गये दो गोल की मदद से नाईजीरिया ने शुक्रवार को आइसलैंड को 2-0 से हराकर फीफा विश्व कप 2018 के नॉकआउट में पहुंचने की अपनी उम्मीदें बरकरार रखी।
मूसा ने 49वें और 75वें मिनट में गोल दागे जिससे नाईजीरिया अपनी पहली जीत दर्ज करने में सफल रहा। उसे पहले मैच में क्रोएशिया के हाथों 0-2 से हार झेलनी पड़ी थी लेकिन ग्रुप डी में अर्जेंटीना के लचर प्रदर्शन के कारण अब नाईजीरिया तीन अंक के साथ दूसरे नंबर पर पहुंच गया है।
आइसलैंड ने अर्जेंटीना के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ छूटे पहले मैच में जिस तरह का जलवा दिखाया था वह शुक्रवार को नहीं दिखा पाया। पहले हाफ में उसने जरूर अच्छे मौके बनाये, लेकिन दूसरे हाफ में नाईजीरिया के आक्रामक तेवरों का उसके पास कोई जवाब नहीं था। इसके अलावा उसके स्टार स्टार गिल्फी सिगुर्डसन ने एक पेनल्टी को भी गंवाया।
पहले हाफ में आइसलैंड के सिगुर्डसन ने दो अच्छे मौके बनाये लेकिन दोनों अवसरों पर फ्रांसिस उजोहो ने उनके प्रयासों को नाकाम कर दिया। नाईजीरिया ने पहले छह मिनट में सिगुर्डसन के इन हमलों के बाद सतर्कता बरती और गेंद को अपने कब्जे में रखने पर ध्यान दिया।
नाईजीरिया इसमें काफी हद तक सफल भी रहा लेकिन यह मैदान के बीच तक ही सीमित रहा और उसने कोई खतरनाक मूव नहीं बनाया। इस बीच आइसलैंड ने जरूर आक्रामक तेवर दिखाये लेकिन वह गोल करने में नाकाम रहा। पहले हाफ के इंजुरी टाइम में सिगुर्डसन और जान बोडवर्सन दोनों चूक गये और इस तरह से मध्यांतर तक स्कोर गोलरहित बराबरी पर रहा।
नाईजीरिया ने हालांकि दूसरे हाफ के शुरू में ही जवाबी हमले से गोल करके आइसलैंड पर दबाव बना दिया। मूसा ने 49वें मिनट में विक्टर मोसेज के क्रास पर अच्छी तरह से नियंत्रण जमाने के बाद शाट जमाया और हेनेस हाल्डरसन के पास उसे रोकने का कोई मौका नहीं था।
इसके बाद नाईजीरिया अधिक आक्रामक होकर खेला। मूसा ने अपना असली जलवा तो खेल के 75वें मिनट में दिखाया जब उन्होंने एकल प्रयास से गोल करके अपनी टीम की बढ़त दोगुनी की।
मूसा ने पहले कारी अर्नसन को अपनी तेजी और कौशल से पीछे छोड़ा और फिर गोलकीपर हाल्डरसन को छकाकर आसानी से गोल दागा। यह उनका पिछले दो विश्व कप मैचों में चौथा गोल है। वह पिछले मैच में नहीं खेले थे लेकिन इससे पहले 2014 में ब्राजील में खेले गये अपने पिछले विश्व कप मैच में उन्होंने अर्जेंटीना के खिलाफ दो गोल किये थे।
मूसा ने पहले कारी अर्नसन को अपनी तेजी और कौशल से पीछे छोड़ा और फिर गोलकीपर हाल्डरसन को छकाकर आसानी से गोल दागा। यह उनका पिछले दो विश्व कप मैचों में चौथा गोल है। वह पिछले मैच में नहीं खेले थे लेकिन इससे पहले 2014 में ब्राजील में खेले गये अपने पिछले विश्व कप मैच में उन्होंने अर्जेंटीना के खिलाफ दो गोल किये थे।
नाईजीरिया अपने आखिरी मैच में 26 जून को अर्जेंटीना से भिड़ेगा जबकि आइसलैंड का सामना ग्रुप से शीर्ष पर चल रहे क्रोएशिया से होगा   TSM

 


फीफा वर्ल्ड कप 2018: स्पेन ने ईरान को 1-0 से दी मात

फीफा वर्ल्ड कप 2018: स्पेन ने ईरान को 1-0 से दी मात

21-Jun-2018

फीफा विश्व कप 2018 में बुधवार को खेले गए तीसरे मुकाबले में स्पेन ने ईरान को 1-0 से मात दी. मैच का एकमात्र गोल स्ट्राइकर डिएगो कोस्टा ने किया और स्पेन को विश्व कप के 21वें संस्करण की पहली जीत दिलाई.
कजान ऐरेना में खेले गए इस मुकाबले में ईरान ने रक्षात्मक रूप से शानदार प्रदर्शन किया और स्पेन के गेंद पर बेहतर नियंत्रण के बावजूद उनके फॉरवर्ड खिलाड़ियों को अपने बॉक्स में अधिक जगह नहीं दी. स्पेन को नौवें मिनट में बॉक्स के बाहर बाएं फ्लेंक पर फ्री-किक मिली. मिडफील्डर डेविड सिल्वा ने बेहतरीन क्रॉस दिया लेकिन बॉक्स में कोई भी खिलाड़ी गेंद के पास नहीं पहुंच पाया.
2010 फीफा विश्व का खिताब जीतने वाली स्पेन ने अपने स्वाभाविक खेल को जारी रखा. 25वें मिनट में टीम को बॉक्स के बाहर 30 गज की दूरी से फ्री-किक पर गोल करने का मौका मिला लेकिन ईरान के गोलकीपर अली बिरेवांड ने सिल्वा के शॉट को
आसानी से रोक लिया.
मैच के 30वें मिनट में स्पेन ने ईरान के बॉक्स में एक बार फिर खलबली मचाई. सिल्वा ने छह गज की दूरी से बाइसाइकिल किक लगाकर पहला गोल करने की कोशिश की लेकिन वह गेंद को गोलपोस्ट के ऊपर से मार बैठे. ईरान को 36वें मिनट में मैच का पहला कॉर्नर मिला. हालांकि, वे स्पेन के डिफेंस को भेदने में कामयाब नहीं हो पाए.
स्पने ने सेकंड हाफ में भी अपने दमदार प्रदर्शन को जारी रखा. मैच के 50वें मिनट में मिडफील्डर सर्गियो बुस्क्वेट्स ने बॉक्स के बाहर से जोरदार शॉट लगाया लेकिन बिरेवांड ने अपने बाईं ओर कूदते हुए शानदार बचाव किया.

 


बॉल टैंपरिंग में दोषी पाए गए श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांदीमल, होगी कठोर सजा !

बॉल टैंपरिंग में दोषी पाए गए श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांदीमल, होगी कठोर सजा !

18-Jun-2018

मीडिया रिपोर्ट 

दुबई: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद इस महीने के आखिर में होने वाली सालाना कांफ्रेंस में गेंद से छेड़छाड़ के मामलों में कठोर सजा की पैरवी करेगी. श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल पर वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया है. आईसीसी इस तरह के अपराधों को लेवल दो से लेवल तीन का करने पर विचार कर रही है. अभी तक लेवल दो के अपराध में एक टेस्ट या दो वनडे के लिए प्रतिबंध का प्रावधान है जबकि लेवल तीन में खिलाड़ी पर चार टेस्ट या आठ वनडे का प्रतिबंध लगाया जाता है.

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन ने क्रिकइन्फो से कहा कि क्रिकेट समिति का मानना है कि गेंद से छेड़छाड़ के मामले धोखेबाजी के हैं और खेल भावना के विपरीत हैं. आईसीसी के आचार संहिता का अनुच्छेद 2.2.9 टेस्ट मैच, वनडे और टी-20 के खेल की शर्तों के उपनियम 41.3 के उल्लंघन से संबंधित है. यह गेंद को पॉलिश करने के अलावा किसी भी उद्देश्य के लिए गेंद पर किसी भी तरह की कृत्रिम और गैर-कृत्रिम चीजों को लागू करने के उद्देश्य से गेंद को जानबूझकर जमीन पर फेंकने जैसे कार्यों पर प्रतिबंध लगाता है. 

श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल ने स्वीट का इस्तेमाल करके गेंद से छेड़खानी के आरोपों को खारिज किया है. आईसीसी ने कहा कि उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के बाद सुनवाई का सामना करना पड़ेगा. आईसीसी ने एक बयान में कहा, ‘‘दिनेश चांदीमल ने कहा है कि वह आईसीसी की आचार संहिता की धारा 2.2 .9 के उल्लंघन के दोषी नहीं है. मैच रैफरी जवागल श्रीनाथ मौजूदा टेस्ट के बाद मामले की सुनवाई करेंगे.’’  मैच अधिकारियों ने शुक्रवार (16 जून) के खेल के आखिरी सत्र का रिप्ले देखने के बाद चांदीमल को आरोपी ठहराया था. रिप्ले में दिखाया गया कि चांदीमल ने अपनी जेब से स्वीट निकाली और मुंह में डाली. उन्होंने गेंद पर कुछ कृत्रिम पदार्थ भी लगाया. 

दिनेश चांदीमल पर वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दौरान ‘गेंद से छेड़छाड़’ के उल्लघंन का आरोप लगा, जिसमें वह दोषी भी पाए गए. मैच के तीसरे दिन श्रीलंकाई टीम ने गेंद बदलने की मांग से नाराज होकर मैदान पर उतरने से इनकार कर दिया और मैदान में दो घंटे देर से उतरे. अंपायर अलीम डार और इयान गाउल्ड गेंद की हालत से संतुष्ट नहीं थे जिसका उपयोग दूसरे दिन के खेल के आखिर में किया गया था. श्रीलंकाई टीम से कहा गया कि वे उसी गेंद से खेल आगे शुरू नहीं कर सकते. 

आईसीसी ने टि्वटर पर घोषणा की थी कि चांदीमल पर आईसीसी आचार संहिता के नियम 2.2.9 के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है. यह उल्लघंन ‘गेंद की हालत बदलने’ से संबंधित है. श्रीलंका पर पहले ही पांच रन का जुर्माना लगाया जा चुका है. वेस्टइंडीज के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज में बॉल टैंपरिंग मामले में फंसे श्रीलंका टीम के कप्तान दिनेश चांदीमल पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा लगाए गए आरोप के बाद श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) अपने खिलाड़ियों के बचाव में उतर आया था वेबसाइट 'ईएसपीएन डॉट कॉम' की रिपोर्ट के अनुसार, एसएलसी ने एक मीडिया रिलीज के जरिए यह कहा है कि वह अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के खिलाफ लगे असंगत आरोपों से उसका बचाव करेगा. 

श्रीलंका बोर्ड ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कहा, "टीम प्रबंधन ने हमें यह बताया है कि श्रीलंका टीम के खिलाड़ियों ने कुछ भी गलत नहीं किया है. ऐसे में अगर किसी भी प्रकार का गलत आरोप लगाया जाता है, तो बोर्ड अपनी टीम के किसी भी खिलाड़ी के बचाव में जरूरी कदम उठाएगा."

 

 


अर्जुन तेंदुलकर भारतीय अंडर-19 टीम में शामिल, सचिन तेंदुलकर बेहद खुश

अर्जुन तेंदुलकर भारतीय अंडर-19 टीम में शामिल, सचिन तेंदुलकर बेहद खुश

08-Jun-2018

मुंबई : पूर्व दिग्गज भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को भारतीय अंडर-19 टीम में शामिल किया गया है। अर्जुन को भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम के श्रीलंका दौरे पर होने वाली चार दिवसीय मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह मिली है। अपने बेटे की इस नायाब उपलब्धि पर सचिन तेंदुलकर बेहद खुश हैं। सचिन ने अपने एक बयान में कहा, 'अर्जुन के अंडर-19 टीम में शामिल होने पर हम बहुत खुश हैं। ये उसके क्रिकेट करियर में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। अंजलि और मैं हमेशा अर्जुन के फैसलों का समर्थन करेंगे और उसकी सफलता के लिए प्रार्थना करेंगे।'

बता दें कि भारतीय अंडर-19 टीम को अगले महीने श्रीलंका का दौरा करना है, जिसके लिए अर्जुन को शामिल किया गया है। भारतीय टीम जुलाई में श्रीलंका दौरे पर चार दिवसीय और वन-डे मैच खेलेगी। 18 वर्षीय ऑलराउंडर को अगले महीने दो चार दिवसीय मैचों में खेलने का मौका मिल सकता है। भले ही चार दिवसीय मैचों में अर्जुन प्रमुख खिलाड़ियों में से एक हो, लेकिन उन्हें पांच मैचों की वन-डे सीरीज के लिए टीम में मौका नहीं मिला है। बता दें कि भारतीय अंडर-19 स्तर पर आशीष कपूर, ज्ञानेंद्र पांडे और राकेश पारिख चनयकर्ता हैं।


 


फीफा विश्व कप 2018: चैम्पियन टीम को मिलेगा इतना रुपये, सुनकर दंग रह जायेंगे!

फीफा विश्व कप 2018: चैम्पियन टीम को मिलेगा इतना रुपये, सुनकर दंग रह जायेंगे!

08-Jun-2018

अगले हफ्ते से रूस में शुरू होने जा रहे फीफा वर्ल्ड कप 2018 में अरबों रुपए ईनाम के तौर खिलाड़ीयों और टीमों को दिए जाएंगे। विजेता टीम को सिर्फ फुटबॉल की बादशाहत और 18 कैरेट की चमचमाती सोने की ट्रोफी ही नहीं मिलेगी, बल्कि टीम पर पैसों की बरसात भी होगी।
14 जून से 15 जुलाई तक चलने वाले फुटबाल के इस महाकुंभ में दुनियाभर से 32 टीमें हिस्सा लेने जा रही हैं।
इस बार फीफा विश्व कप 2018 में कुल इनामी राशि 791 मिलियन डॉलर यानि लगभग 53 अरब रुपए है जो पिछली बार 2014 में हुए विश्वकप के मुकाबले लगभग 40 प्रतिशत ज्यादा है। पिछली बार 2014 में ब्राजील में हुए विश्व कप का आयोजन किया गया था।
फुटबाल विश्वकप का आयोजन करने वाली संस्था फीफा के आंकड़ों के मुताबिक कुल पुरस्कार राशि में से 400 मिलियन डॉलर आयोजन में हिस्सा लेने वाली टीमों को उनके प्रदर्शन के आधार पर मिलेंगे, जबकि बाकी 391 मिलियन डॉलर खिलाड़ियों के क्लबों को विभिन्न योजनाओं के तहत दिए जाएंगे।
15 जुलाई को जो टीम फुटबाल में विश्वविजेता बनेगी उसे 38 मिलियन डॉलर यानी लगभग 225 करोड़ रुपये मिलेंगे। उपविजेता टीम 29 मिलियन डॉलर यानि लगभग 195 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। इसी तरह टूर्नामेंट में तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को 160 करोड़ रुपए का ईनाम मिलेगा।
दुनिया के सबसे बड़े खेल आयोजनों में से एक इस टूर्नामेंट में भाग ले रही सभी 32 टीमों को तैयारी की फीस के तौर पर 15-15 लाख डॉलर मिलेंगे। वहीं पहले चरण से बाहर होने वाली प्रत्येक टीम को 8 मिलियन डॉलर और अंतिम 16 से बाहर होने वाली टीमों को एक करोड़ 2 मिलियन डॉलर दिए जाएगे।

 


17 साल बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के CEO जेम्स सदरलैंड का अपने पद से इस्तीफा

17 साल बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के CEO जेम्स सदरलैंड का अपने पद से इस्तीफा

06-Jun-2018

मीडिया रिपोर्ट 

मेलबर्न: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने आज अपने पद से इस्तीफा देने का एलान कर दिया. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में 17 सालों की लंबी पारी खेलने के बाद सदरलैंड ने अपना पद छोड़ा. बॉल-टेम्परिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के लिए ये एक और बड़ा झटका है. सदरलैंड अगले 12 महीने या फिर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में उनके पद पर किसी और जिम्मेदार शख्स की नियुक्ति तक वो ये पद संभालेंगे.

ये पूर्व मध्यम गति तेज़ गेंदबाज़ साल 1998 में बतौर जनरल मैनेजर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ जुड़े थे. जिसके तीन साल बाद माल्कम स्पीड के छोड़ने पर उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पद पर नियुक्त किया गया. इस बड़ी घोषणा के बाद सदरलैंड ने कहा कि ये फैसला लेने के लिए ये सही समय है. उन्होंने कहा, 'क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में लगभग 20 साल बिताने के बाद मुझे लगता है कि मेरे लिए, खेल के लिए और टीम के लिए ये सही समय है.'

दरअसल जेम्स सदरलैंड पर मार्च महीने में बॉल-टेम्परिंग विवाद के बाद से ही अपना पद छोड़ने का दबाव बनने लगा था. हालांकि उस समय स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर की बर्खास्तगी और कोच डैरेन लेहमन के पद छोड़ने के बाद सदरलैंड अपने पद पर बने रहे. लेकिन अब अगले दौरे से ठीक पहले उन्होंने ये पद छोड़ने का बड़ा फैसला लिया है. अगली सीरीज़ में ऑस्ट्रेलियाई टीम इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेलेगी. बॉल टेम्परिंग विवाद से उनके इस्तीफे को जोड़ते पर किए गए पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कहा, 'वो उस समय बहुत बड़ा विवाद था. लेकिन जब आप बतौर सीईओ खेल जगत में इतने बेहतरीन माहौल में काम करते हो तो ऐसी चीज़े वक्त के साथ-साथ आती जाती रहती हैं. इसका मेरे फैसले से कोई लेना देना नहीं है.' सदरलैंड ने कहा, 'पिछले 12 महीनों में हमने नई नींव रखी है, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए नई रणनीति शामिल है. ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स एसोसिएशन के साथ एक नया समझौता ज्ञापन, जो हमारे पुरुष और महिला क्रिकेटरों को एक निश्चितता प्रदान करता है.'


फीफा विश्व कप 2018: जानिए, कौन टीम है किस ग्रुप में, कब से कब तक होगा मैच!

फीफा विश्व कप 2018: जानिए, कौन टीम है किस ग्रुप में, कब से कब तक होगा मैच!

31-May-2018

यूरोपियन फुटबॉल सीजन खत्म होने के बाद अब वक्त आ गया है साल के सबसे बड़े खेल आयोजन यानी 2018 फीफा वर्ल्ड कप का। जहां दुनिया की श्रेष्ठ फुटबाल टीमें वर्ल्ड चैंपियन बनने के लिए एक-दूसरे से जोर आजमाइश करेंगी।
इस बार का फुटबॉल वर्ल्ड कप पिछली बार से कई मायनों में खास होगा। इस बार ये आयोजन 14 जून से 15 जुलाई 2018 तक चलेगा। इस दौरान टीमों के बीच कुल 64 मुकाबले होंगे। आगाज मेजबान रूस और सऊदी अरब के बीच होने वाले मैच से होगा।
फीफा वर्ल्ड कप 2018 में कुल 32 टीमें हिस्सा ले रही हैं। जिन्हें अलग-अलग आठ ग्रुपों में बांटा गया है। एक ग्रुप में कुल चार टीमें रहेंगी। हर ग्रुप से चोटी की दो टीमें सीधे नॉकआउट स्टेज में जाएंगी। फीफा वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले 11 और 12 जुलाई को खेले जाएंगे। वहीं खिताबी जंग 15 जुलाई को होगी।
पिछली बार की चैंपियन जर्मनी अपने अभियान का आगाज मैक्सिको के खिलाफ 17 जून को करेगी। वहीं फुटबॉल इतिहास की सबसे कामयाब टीम ब्राजील, जो पांच बार वर्ल्ड कप का खिताब जीत चुकी है, वो अपना पहला मैच स्विटजरलैंड से खेलेगी।
इस बार स्पेन, फ्रांस, इंग्लैंड, पुर्तगाल, अर्जेंटीना और बेल्जियम की नजरें भी खिताब पर नजरें होंगी। ये टीमें फुटबॉल वर्ल्ड कप में हमेशा से ही अच्छा करती हैं। इस बार भी वर्ल्ड कप से पहले इन टीमों का प्रदर्शन अच्छा रहा है।
इस बार सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क को फीफा वर्ल्ड कप के ब्रॉडकास्ट अधिकार मिले हैं। ये मुकाबले सोनी टेन 2 HD और सोनी टेन 3 HD पर दिखाए जाएंगे। वहीं सोनी लाइव ऐप और SonyLiv.com पर मैच की लाइव स्ट्रीमिंग होगी।

 


IPL में इनामों की हुई बारिश, जानिए आईपीएल में कितना धन बरसा

IPL में इनामों की हुई बारिश, जानिए आईपीएल में कितना धन बरसा

28-May-2018
आईपीएल का 11वां सीजन चेन्नई सुपरकिंग्स के विजयी होते ही समाप्त हुआ। वानखेड़े स्टेडियम में 7 अप्रैल से शुरू हुआ आईपीएल 2018 का रोमांचक सफर इसी मैदान पर फाइनल होने के साथ ही खत्म हो गया। पूरे टूर्नामेंट में सभी टीमों ने अपना पूरा दमखम दिखाया और कई मैच रोमांच से भरे रहे। चेन्नई सुपरकिंग्स के जीतने के बाद मैदान पर इनाम और धन की वर्षा हुई। विजेता टीम के लिए जहां जमकर धनवर्षा हुई, वहीं
 
दूसरी ओर उपविजेता टीम को भी अपार धन मिला। साथ ही खिलाड़ियों को भी कई पुरस्कारों से नवाजा गया। 
आइए, जानते हैं आईपीएल में कितने खिलाड़ियों को इनाम दिए गए और कितनी रकम उन्हें मिली..
 
विजेता टीम -
आईपीएल 2018 की चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स को 20 करोड़ रुपए और ट्रॉफी प्रदान की गई।
 
उपविजेता टीम -
फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स से हारकर उपविजेता बनी सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को 12.5 करोड़ रुपए इनाम के रूप में मिले।
सुपर स्ट्राइकर ऑफ द सीजन -
आईपीएल 2018 सुपर स्ट्राइकर ऑफ द सीजन का खिताब कोलकाता नाइटराइडर्स के सुनील नरेन को दिया गया। उन्हें 10 लाख रुपए की राशि और कार प्रदान की गई।
 
इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर -
आईपीएल 2018 में इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर का खिताब इस बार दिल्ली डेयरडेविल्स के ऋषभ पंत को मिला। पंत को 10 लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया।
 
परफेक्ट कैच ऑफ द सीजन -
दिल्ली डेयरडेविल्स के ट्रेंट बोल्ट ने बेंगलुरु के खिलाफ खेले गए मैच में विराट कोहली का शानदार कैच लपका था, जिसके लिए उन्हें वी‍वो परफेक्ट कैच ऑफ द सीजन का अवॉर्ड दिया गया। बोल्ट को 10 लाख रुपए, ट्रॉफी और वीवो फोन दिया गया।
ऑरेंज कैप -
सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने आईपीएल 2018 में सर्वाधिक 735 रन बनाकर ऑरेंज कैप हासिल की। विलियमसन को 10 लाख रुपए और ट्रॉफी से नवाजा गया।
 
पर्पल कैप -
किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाई को सर्वाधिक 24 विकेट लेने के लिए पर्पल कैप मिली। इसके लिए उन्हें 10 लाख रुपए और ट्रॉफी से नवाजा गया।
 
फेयरप्ले अवॉर्ड -
सीजन के दौरान लीग और प्लेऑफ मैचों के दौरान खेल की भावना को बनाए रखने के लिए मुंबई इंडियंस को इस साल का फेयरप्ले अवॉर्ड मिला। मुंबई की टीम को इसके लिए ट्रॉफी प्रदान की गई।
 
स्टाइलिश प्लेयर ऑफ द ईयर -
दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाड़ी ऋषभ पंत को स्टाइलिश प्लेयर ऑफ द ईयर के अवॉर्ड से नवाजा गया। पंत को 10 लाख रुपए और ट्रॉफी प्रदान की गई।
 
इसी के साथ ही ईडन गार्डंस को इस सत्र में आईपीएल का सर्वश्रेष्ठ मैदान आंका गया और इसके लिए 50 लाख रुपए की राशि प्रदान की गई।

लकी चार्म है युसूफ पठान IPL की जिस टीम में गये, वही बना चेम्पियन इतिहास गवाह है

लकी चार्म है युसूफ पठान IPL की जिस टीम में गये, वही बना चेम्पियन इतिहास गवाह है

27-May-2018

चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेले जाने वाले आईपीएल 11 के फाइनल मुकाबले के लिए हर कोई तैयार है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले जाने वाले इस मुकाबले में दोनों टीमों के कई बड़े खिलाड़ियों पर नजर होगी। लेकिन इस बीच हैदराबाद के पास एक ऐसा लकी चार्म है जो उसे आज फाइनल जितवा सकता है।
वो खिलाड़ी कोई और नहीं ऑल राउंडर यूसुफ पठान हैं। दरअसल, पठान अब तक जिस भी टीम के लिए फाइनल खेलें हैं वह टीम जीती है, फिर चाहे वो आईपीएल की बात हो या फिर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की।
दरअसल, 2007 में जब भारतीय टीम ने टी-20 वर्ल्ड कप जीता तो यूसुफ टीम का हिस्सा थे, इसके अलावा वर्ल्ड कप 2011 में भी यूसुफ टीम में थे और भारत चैंपियन बना। सिर्फ टीम इंडिया के लिए ही नहीं, बल्कि आईपीएल में भी यूसुफ का लकी चार्म चला।
2008 में जब राजस्थान चैंपियन बना तो यूसुफ टीम का हिस्सा थे, इसके अलावा 2012 और 2014 में कोलकाता चैंपियन बनी तो भी यूसुफ टीम का हिस्सा थे।

2007 – टी20 वर्ल्ड कप.

2008 – राजस्थान रॉयल्स

2011 – 50 ओवर वर्ल्ड कप

2012 – कोलकाता नाइट राइडर्स

2014 – कोलकाता नाइट राइडर्स

2018 – ???

गौरतलब है कि टी-20 क्रिकेट का महाकुंभ कहा जाने वाला आईपीएल का 11वां सीजन आज खत्म होगा। मुंबई में होने वाले फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद खिताबी जंग में जोर आजमाइश करेंगे। दोनों ही टीमों ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन अब बारी आखिरी वार की है।

मीडिया इन पुट 


IPL सनराइजर्स हैदराबाद ने तेज गेंदबाज खलील अहमद को अचानक मौका दे कर सबको अचंभित किया

IPL सनराइजर्स हैदराबाद ने तेज गेंदबाज खलील अहमद को अचानक मौका दे कर सबको अचंभित किया

26-May-2018

IPL -2018 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में कोलकाता के प्रतिष्ठित इडेन गार्डंस स्टेडियम पर सनराइजर्स हैदराबाद और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीमें आमने-सामने थीं।

दोनों ही टीमों के लिए ये इस सीजन का सबसे अहम मुकाबला था क्योंकि यहीं से सीधे फाइनल का टिकट मिलना था जो हैदराबाद ने हासिल कर लिया।
ऐसे दबाव वाले मैच में किसी कप्तान का अचानक अहम फैसला लेना बहुत बड़ी बात होती है और सनराइजर्स के कप्तान केन विलियम्सन ने ऐसा ही एक फैसला लिया।
सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियम्सन और उनके कोच टॉम मूडी ने इस मैच में 20 साल के तेज गेंदबाज खलील अहमद को पहली बार मौका देने का फैसला किया और इसी के साथ 6 साल बाद किसी खिलाड़ी ने आईपीएल प्लेऑफ में अपने आईपीएल करियर की शुरुआत की।
बड़े मैच में किसी युवा खिलाड़ी को अचानक डेब्यू कराना कम ही देखने को मिलता है और यही वजह है कि ये नजारा 6 साल बाद देखने को मिला है। इससे पहले दिल्ली डेयरडेविल्स ने आईपीएल 2012 के दूसरे क्वालीफायर मैच में सनी गुप्ता को डेब्यू का मौका दिया था।
जबकि उससे पहले आईपीएल 2010 में तीसरे स्थान के प्लेऑफ मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने नयन दोषी को डेब्यू करने का मौका दिया था। ये मौका आईपीएल में सिर्फ तीन बार आया है इससे पता चल जाता है कि कोई भी टीम प्लेऑफ जैसे अहम मौके में इतना बड़ा प्रयोग करने से बचती है।
हालांकि खलील अपने इस पहले मैच में कुछ खास नहीं कर सके और उन्होंने 4 ओवर में बिना कोई विकेट हासिल किए 38 रन लुटाए लेकिन उम्मीद है कि अनुभव के साथ ये गेंदबाज आगे बढ़ता नजर आए।
खलील अहमद राजस्थान के टोंक से हैं और भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम से खेलते हुए पहली बार चर्चा में आए थे।
अब तक इस खिलाड़ी ने सिर्फ 2 प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच खेले हैं। भारत की अंडर-19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ भी इस गेंदबाज की तारीफ कर चुके हैं।

खलील को आईपीएल 2018 की नीलामी में 3 करोड़ रुपये में खरीदा गया था जबकि उनका बेस प्राइज 20 लाख रुपये था। उन्हें खरीदने के लिए दिल्ली, पंजाब और हैदराबाद के बीच नीलामी में जमकर जंग हुई थी लेकिन अंत में हैदराबाद ने उन्हें अपनी टीम में शामिल कर ही लिया।


एबी डिविलियर्स ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

एबी डिविलियर्स ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

23-May-2018

नयी दिल्‍ली : दक्षिण अफ्रीका के महान क्रिकेटर एबी डिविलियर्स ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है. उन्‍होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिये एक वीडियो संदेश पोस्‍ट किया और संन्‍यास लेने की घोषणा की. उन्‍होंने अपने वीडियो संदेश में कहा कि यह फैसला लेना उनके लिए बेहद कठीन था, लेकिन यह उनके संन्‍यास लेने का सही समय है. उन्‍होंने कहा, वक्‍त आ गया है कि अब युवाओं के लिए जगह खाली किया जाए, उन्‍हें मौका दिया जाए. उन्‍होंने कहा, वो अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्‍यास की घोषणा कर रहे हैं. हालांकि उन्‍होंने कहा कि वो घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे.


वीडियो संदेश में उन्‍होंने कहा कि वो दक्षिण अफ्रीकी और दुनिया भर में अपने फैन्‍स के शुक्रगुजार हैं. जिन्‍होंने उन्‍हें बेहद प्यार दिया और उनका समर्थन किया. 34 साल के डिविलि‍यर्स ने 2004 में अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में अपने सफर की शुरुआत की. उन्‍होंने 17 दिसंबर 2004 में इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट क्रिकेट में डेब्‍यू किया और आखिरी टेस्‍ट 30 मार्च 2018 को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ खेला. टेस्‍ट में डिविलियर्स के नाम बेहतरीन रिकॉर्ड हैं. उन्‍होंने 123 टेस्‍ट मैच में 50.66 के औसत से 8765 रन बनाये हैं, जिसमें उनका 22 शतक और 46 अर्धशतक भी शमिल है.

डिविलियर्स का वनडे कैरियर भी खाता प्रभावित करने वाला रहा है. उन्‍होंने 228 वनडे मैच में अपने देश का प्रतिनिधित्‍व किया. जिसमें उन्‍होंने 53.50 के बेहतरीन औसत से 25 शतक और 53 अर्धशतक की मदद से 9577 रन बनाये. उन्‍होंने अपना वनडे कैरियर 2 फरवरी 2005 से इंग्‍लैंड के खिलाफ शुरू किया और आखिरी वनडे 13 फरवरी 2018 को भारत के खिलाफ खेला.

डिविलियर्स एक बेहतरीन टी-20 प्‍लेयर रहे हैं. उन्‍होंने 78 अंतरराष्‍ट्रीय टी-20 मैच खेले, जिसमें उन्‍होंने 10 अर्धशतक और 26.12 के औसत से 1672 रन बनाये हैं. उन्‍होंने अपना टी-20 कैरियर 24 फरवरी 2006 को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ शुरू किया और आखिरी मैच भारत के खिलाफ 17 फरवरी 2018 को खेला. वनडे में सबसे तेज शतक जमाने का रिकॉर्ड एबी डिविलियर्स के नाम है. उन्‍होंने 18 जनवरी 2015 को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ जोहानसबर्ग में महज 31 गेंद में 16 छक्‍कों और 9 चौकों की मदद से शतक जमाया था. उन्‍होंने उस दिन 149 रन की पारी खेली थी. डिविलियर्स ने कोरी एंडरसन के 36 गेंद में शतक का रिकॉर्ड को तोड़ा था. डिविलियर्स का रिकॉर्ड आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है. सबसे तेज शतक के मामले में पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी तीसरे नंबर पर मौजूद हैं. उन्‍होंने 37 गेंद में शतक जमाया था.