वर्ष 2025 तक तैयार होगी छत्तीसगढ़ के विकास की बुलंद इमारत : डॉ. रमन सिंह

वर्ष 2025 तक तैयार होगी छत्तीसगढ़ के विकास की बुलंद इमारत : डॉ. रमन सिंह

08-Sep-2018

महासमुंद : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि गांव, गरीब, किसानों की बेहतरी के लिए राज्य सरकार द्वारा पिछले 15 वर्षों में किए गए कार्यों से प्रदेश में विकास की बुनियाद तैयार हुई है। इस बुनियाद पर अटल दृष्टि पत्र के अनुरूप वर्ष 2025 तक छत्तीसगढ़ के विकास की बुलंद इमारत तैयार होगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ वर्ष 2025 तक देश के सबसे विकसित राज्यों में शामिल होगा। छत्तीसगढ़ का सकल घरेलू उत्पाद आज की तुलना में दोगुना होगा। हर गांव में सड़क और इंटरनेट कनेक्टिविटी के साथ शिक्षा और स्वास्थ्य की और भी बेहतर सुविधाएं होंगी। छत्तीसगढ़ में रेल कनेक्टिविटी का विस्तार होगा और बड़े शहर एयर कनेक्टिविटी से जुड़ेंगे।

    मुख्यमंत्री 7 सितम्बर को  प्रदेशव्यापी अटल विकास यात्रा के दौरान जिला मुख्यालय महासमुंद में आयोजित विशाल आमसभा को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह विकास यात्रा छत्तीसगढ़ के निर्माता और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के गरीब परिवारों को एक रूपए किलो में चावल देने की मुख्यमंत्री खाद्यान्न सुरक्षा योजना, पीढ़ियों के लिए तैयार की गई है। आने वाले समय में भी छत्तीसगढ़ में कोई भूखा नहीं सोएगा। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर महासमुंद में नहर लिंक सड़क के निर्माण के लिए दस करोड़ 50 लाख रूपए की स्वीकृति की घोषणा करते हुए कहा कि जल्द ही इस क्षेत्र के लोगों की वर्षों पुरानी यह मांग पूरी हो जाएगी। डॉ. सिंह ने बताया कि बागबाहरा की स्वागत सभा में वहां के आईटीआई के नये भवन की स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होंने महासमुंद जिले की श्रीमती लक्ष्मी साहू को संचार क्रांति योजना (स्काई) योजना के तहत दस लाखवां स्मार्टफोन वितरित किया।

    डॉ. सिंह ने महासमुंद की आमसभा में 254 करोड़ 53 लाख रूपए के 45 विभिन्न निर्माण कार्यो की सौगात दी। उन्होंने जिला मुख्याला महासमुंद की विशाल जनसभा में 218 करोड़ 37 लाख रूपए की लागत के 33 नए स्वीकृत निर्माण कार्यो का भूमिपूजन और शिलान्यास तथा 36 करोड. 15 लाख रूपए के 12 पूर्ण हो चुके निर्माण कार्यो का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं में सामग्री और सहायता राशि वितरित की।

डॉ. सिंह ने केन्द्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को सामग्री और सहायता राशि के चेक वितरित किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि महासमुंद मेहनतकश किसानों का जिला है। जब किसान के पसीने की बूंद गिरती है, तो धान का दाना पैदा होता है। किसानों के परिश्रम को सम्मान दिलाने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने धान के समर्थन मूल्य में 200 रूपए की वृद्धि की है। राज्य शासन द्वारा एक नवम्बर से शुरू हो रही समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी के साथ किसानों को धान बोनस की राशि का भुगतान करने का फैसला किया है। धान खरीदी केन्द्रों में धान की बिक्री के समय ही किसानों के खाते में धान के समर्थन मूल्य के साथ बोनस की राशि जमा कर दी जाएगी। किसानों को धान की किस्म के अनुसार साधारण धान पर प्रति क्विंटल 2050 रूपए और ग्रेड-ए धान पर प्रति क्विंटल 2070 रूपए का मूल्य मिलेगा। किसानों को खेती-किसानी के लिए सहकारी बैंकों से बिना ब्याज का ऋण देने की व्यवस्था की गई है। किसानों को पांच हार्स पावर तक के एक से अधिक सिंचाई पम्पों पर भी फ्लेट रेट पर बिजली बिल भुगतान की सुविधा दी जा रही है। सिंचाई पम्पों को बिजली कनेक्शन देने के लिए एक लाख रूपए का अनुदान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 12 लाख गरीब परिवार जिन्हें 40 यूनिट तक निःशुल्क बिजली दी जा रही है, उन्हें बिजली की ज्यादा खपत होने पर फ्लेट रेट पर बिजली बिल भुगतान की सुविधा दी जा रही है।

    डॉ. सिंह ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ के गांव-गांव में विकास दिखता है। गरीब परिवारों की 36 लाख महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में रसोई गैस, सिलेण्डर और चूल्हे मिले, कच्चे मकानों में रहने वाले चार लाख गरीब परिवारों को पक्के मकान मिले उनके घर में शौचालय, बिजली कनेक्शन और रसोई गैस का इंतजाम हुआ। यदि विकास देखना है तो ऐसे गरीब लोगों के घरों में जाकर विकास देखा जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि तेंदूपत्ता संग्रहण की दर 450 रूपए से बढ़ाकर 2500 रूपए प्रति मानक बोरा कर दी गई है। तेंदूपत्ता संग्राहकों को 750 रूपए का बोनस बांटा जा रहा है।

     मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सौभाग्य योजना के अंतर्गत सात लाख 40 हजार घरों में बिजली कनेक्शन दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि महासमुंद जिले में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत एक लाख 42 हजार परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन दिए गए हैं।

    मुख्यमंत्री ने जिन पूर्ण हो चुके निर्माण कार्यो का लोकार्पण किया इनमें 3 करोड़ 74 लाख रूपए की लागत से शेर एनीकट, 13 करोड़ 6 लाख रूपए की लागत से बागबाहरा में आर्वधन जल प्रदाय योजना, 3 करोड़ 30 लाख रूपए की लागत से महासमुंद में लाईवलीहुड कॉलेज भवन का लोकार्पण शामिल है। इसके अलावा उन्होंने एक करोड़ 94 लाख की लागत से बम्बुरडीह से केरामुढ़ा तक सड़क, एक करोड़ 99 लाख रूपए की लागत से सुअरमाल से देवरी तक सड़क, 95 लाख रूपए की लागत से बिरकोनी में शासकीय उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय भवन, 63. लाख रूपए की लागत से सोनासिल्ली में नलजल प्रदाय योजना और रायतुम में आर्वधन जल प्रदाय योजना सहित अनेंक कार्यों का लोकार्पण किया। 

    मुख्यमंत्री ने जिन नए स्वीकृत निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया, इनमें 11 करोड़ 34 लाख रूपए की लागत से महासमुंद में जलप्रदाय आर्वधन योजना, 7 करोड़ 44 लाख रूपए की लागत से कौआझर, पिरदा, मालीडीह, गुडरूडीह में नहर लाईनिंग का कार्य, 3 करोड़ 19 लाख  रूपए की लागत से रामपुर, डुमरपाली में नहर निर्माण, 2 करोड़ 12 लाख रूपए की लागत से रूमेकेल झाकरमुढ़ा एवं रायमुड़़ा में नैनीनाला व्यपर्वतन के नहर निर्माण कार्य का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। इसके अलावा उन्होंने एक करोड़ 86 लाख रूपए की लागत से ग्राम बांदुमुढ़ा से पंचायत भवन से कलमीदादर में सड़क, 3 करोड़ रूपए की लागत से फारेस्ट ग्राउण्ड में मिनी स्टेडियम, एक करोड़ 31 लाख रूपए की लागत से लाईवलीहुड कॉलेज में बालक छात्रावास भवन, 2 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत से सिरगिढ़ी से उमरदा सड़क तथा बोड़रा में तीन करोड़ 35 लाख रूपए की लागत से सड़क निर्माण का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने आमसभा में 15 करोड़ 43 लाख रूपए की लागत से बनने वाले लम्बर-बिरकोल- बोडेसरा-सिंघोड़ा तक 39.99 किलोमीटर का सड़क, लगभग 17 करोड़ रूपए की लागत से जारातराई, रायतुम से पतेरापाली मार्ग और बनपचरी बरेकेल-धनगांव-रायतुम मार्ग, बेलर-घोंच मार्ग पर पुलिया निर्माण, कनेरा में केशवानाले और घांेच में सूखानाला पर पर उच्च स्तरीय पुलिया निर्माण, सहित अनेक कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया।

    आमसभा में लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री दयाल दास बघेल, लोकसभा सांसद श्री चंदूलाल साहू, संसदीय सचिव श्रीमती रूप कुमारी चौधरी, विधायक सर्व श्री चुन्नीलाल साहू, रामलाल चौहान और विमल चोपड़ा, क्रेडा के अध्यक्ष श्री पुरंदर मिश्रा, छत्तीसगढ़ राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष श्री चंद्रशेखर साहू, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिवरनत शर्मा सहित अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।

 
 
 

जिस दिन होगी धान खरीदी उसी दिन कीमत के साथ मिल जाएगा बोनस : डॉ. रमन सिंह

जिस दिन होगी धान खरीदी उसी दिन कीमत के साथ मिल जाएगा बोनस : डॉ. रमन सिंह

07-Sep-2018

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि जिस दिन समर्थन मूल्य पर धान खरीदी होगी उसी दिन किसानों को कीमत के साथ मिल जाएगा बोनस। उन्होंने कहा है कि धान के कटोरे छत्तीसगढ़ में किसानों को उनके पसीने के एक-एक बूंद का मेहताना दिलाने के लिए सरकार समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी कर रही है। इस साल एक नवंबर से धान की खरीदी शुरू होगी। 

    मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 6 सितम्बर को अटल विकास यात्रा के तहत रायपुर जिले के खरोरा (तिल्दा) में आयोजित स्वागत सभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह के खरोरा पहुंचने पर लोगों ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 327 करोड़ की लागत से बनी सिमगा-तिल्दा-खरोरा-आरंग (गुल्लू) और रायपुर-भैंसा डबल लेन सड़कों का लोकार्पण कर क्षेत्रवासियों को विकास कार्यो की सौगात दी। उल्लेखनीय है कि सिमगा-तिल्दा-खरोरा-आरंग (गुल्लू) तक 187 करोड़ 85 लाख रूपए की लागत से 57.15 किलोमीटर तथा रायपुर से भैंसा तक 138 करोड़ 99 लाख रूपए की लागत से 36 किलोमीटर डबल लेन सड़कांे के निर्माण से क्षेत्रवासियों का बलौदा बाजार-भाटापारा, धरसींवा, आरंग, अभनपुर तथा कुरूद जैसे अनेक सड़क मार्गों से आवागमन सुगम हुआ है। 

    स्वागत सभा में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल, रायपुर लोकसभा के सांसद श्री रमेश बैस, जांजगीर-चांपा क्षेत्र की सांसद श्रीमती कमला देवी पाटले, खाद्य मंत्री एवं रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष एवं विधायक धरसींवा श्री देवजी भाई पटेल, भाटापारा विधायक श्री शिवरतन शर्मा, आरंग क्षेत्र के विधायक श्री नवीन मारकण्डेय, छत्तीसगढ़ राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष श्री चंद्रशेखर साहू उपस्थित थे।

      खरोरा के भरत देवांगन शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में आयोजित स्वागत सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पिछले 15 सालों में विकास की जो गंगा बही है वह आने वाले समय में चार गुना तेजी से बहेगी। मॉ दंतेश्वरी और मॉ बम्बलेश्वरी के आर्शीवाद से प्रारंभ हुई यह यात्रा विकास और विश्वास की तीर्थ यात्रा है, जिसमें जनता का भरपूर प्रेम और आर्शीवाद मिल रहा है।

      डॉ. सिंह ने कहा कि महिलाओं को स्मार्ट फोन, बेटियों को सायकल, श्रमिक महिलाओं को सायकल और सिलाई मशीन ये सिर्फ योजनाएं नहीं है बल्कि इससे लोगों के जीवन में आ रहा परिवर्तन देखा जा सकता है। देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी बाजपेयी जी ने छत्तीसगढ़ का निर्माण कर यहां की ढाई करोड़ जनता का जो मान-सम्मान बढ़ाया है। इसलिए उनकी याद में दूसरे चरण की विकास यात्रा को अटल विकास यात्रा के नाम से आयोजित किया जा रहा है। उनकी  स्मृति को संजोए रखने नया रायपुर को अटल नगर के नाम दिया गया है। डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 36 लाख महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस चूल्हा, सात लाख परिवारों को पक्का मकान और 37 लाख परिवारों को साल में 5 लाख रूपए तक के निःशुल्क इलाज की सुविधा दी है, इसके लिए उन्हें धन्यवाद देने की यात्रा है।

     कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लोकसभा सांसद श्री रमेश बैस ने कहा कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी वर्गो के विकास के लिए आगे बढ़कर काम किया है। छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष श्री देवजी भाई पटेल ने कहा कि हमारा सौभाग्य है कि अटल विकास यात्रा खरोरा पहुंची है। मुख्यमंत्री ने आज यहां 327 करोड़ के विकास कार्यो की सौगात दी है। इसके साथ ही पिछले साल से प्रारंभ हुए नवीन महाविद्यालय के भवन के लिए 4 करोड़ 65 लाख रूपए, 132/33 के.व्ही. सबस्टेशन के लिए 40 करोड़ रूपए तथा गौरवपथ के निर्माण के लिए बजट में स्वीकृति दी गई है जिसके लिए हम उनका धन्यवाद ज्ञापित करते हैं। 

 
 
 

अटल विकास यात्रा : कभी विकास में पीछे कहे जाने वाला जशपुर आज विकास के अनेक क्षेत्रों में आगे

अटल विकास यात्रा : कभी विकास में पीछे कहे जाने वाला जशपुर आज विकास के अनेक क्षेत्रों में आगे

07-Sep-2018

जशपुर : मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा है कि जशपुर जिला विकास के नये-नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है, जिसमें बगीचा क्षेत्र का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा है।  डॉ.सिंह ने यह विचार 6 सितम्बर को यहां जनपद पंचायत मुख्यालय बगीचा के खेल मैदान में आयोजित ’’अटल विकास यात्रा’’ में  व्यक्त किये। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर लगभग 138 करोड़ 23 लाख रूपये से अधिक के विकास कार्याे की सौगात दी। इनमें 65 करोड़ 98 लाख रूपये की लागत के 61 विभिन्न निमार्ण कार्यों का भूमिपूजन और 56 करोड़ रूपये की लागत के 284 विभिन्न निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया गया। मुख्यमंत्री ने आमसभा में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत 46 हजार 911 हितग्राहियों को 16 करोड़ 20 लाख रूपये की राशि की सामग्री वितरित की। 

      मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि विकास को और नई उंचाईयों की ओर ले जाने के लिए 5 सितम्बर से डोंगरगढ़  से ’’अटल विकास यात्रा’’ शुरू की गई है। यह विकास की यात्रा है, छत्तीसगढ़ के विकास की परिकल्पना की यात्रा है और मैं इसे तीर्थ यात्रा कहता हूॅं। उन्होंने कहा कि कभी विकास में पीछे कहे जाने वाला जशपुर जिला आज विकास के अनेक क्षेत्रों में आगे है। जशपुर जिले के बच्चों ने भी अपनी प्रतिभा का परिचय दिया है, यहां के बच्चे मेडिकल कॉलेज, आईआई.टी और एनआईटी में अध्ययन कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जशपुर जिले के बच्चों ने कौशल उन्नयन के क्षेत्र में भी अच्छा कार्य किया है और देश के अन्य राज्यों में भी जाकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जशपुर जिले में कुपोषण दर कम करने की दिशा में भी अच्छा कार्य किया गया है। कुपोषण दर जो पहले 43 प्रतिशत थी, वह अब घटकर 27 प्रतिशत रह गई है। इसी तरह टीकाकरण और संस्थागत प्रसव के क्षेत्र में भी अच्छा कार्य हुआ है।  

      मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत प्रदेश के 7 लाख 40 हजार घरों में बिजली पहुुचाई जायेगी और कोई मजरा-टोला तथा पारे  विद्युत विहीन नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना का सबसे ज्यादा लाभ जशपुर जैसे पहाड़ी क्षेत्र के लोगों को मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि तेंदूपत्ता की संग्रहण दर पहले 450 रूपये थी, जिसे बढ़ाकर 2500 रूपये कर दिया गया है। तेंदूपत्ता संग्राहकों को बोनस भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा इस वर्ष धान का समर्थन मूल्य 200 रूपये प्रति क्विंटल बढ़ाया गया है। जिससे धान का समर्थन मूल्य 1700 रूपये से अधिक हो गया है। राज्य सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी पर प्रति क्विंटल 300 रूपये बोनस राशि दी जाएगी। उन्हांेने बताया कि राज्य सरकार ने 40 यूनिट से अधिक बिजली खर्च करने वाले सहज बिजली योजना में प्रदेश के 12 लाख गरीब परिवारों को राहत देने का निर्णय लिया है। उन्हें फ्लैट रेट पर अब केवल 100 रूपये प्रतिमाह बिजली का भुगतान करना होगा।

उन्होंने बताया कि जशपुर जिले में 2500 से अधिक सोलर पंप स्थापित किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि 40 लाख बहनों को स्काई योजना के तहत स्मार्ट फोन प्रदान किया जा रहा है, जो महिला सशक्तिरण का बड़ा उदाहरण है। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों को बड़ी बीमारियांें के इलाज के लिए 5 लाख रूपये तक की सहायता मिलेगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रस्तुत मांगों के संबंध में उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री ने इसके पहले सभा स्थल पर विभिन्न विभागों द्वारा लगायी गई विकास प्रदर्शनी का अवलोकन किया।
    विधायक और सरगुजा एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री राजशरण भगत ने कहा कि आज गांव-गांव में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्के आवास बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही शौचालयों का निर्माण कराया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि स्कूलों में बच्चों को पढ़ाई के साथ ही मध्यान्ह भोजन की सुविधा मिल रही है। उन्होंने स्थानीय समस्याओं की ओर मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट किया। इस अवसर पर कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने स्वागत भाषण देते हुए जशपुर जिले का प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि आज 41 हजार 737 वनवासियों को 15 करोड़ 78 लाख रूपये का तेंदूपत्ता बोनस, उज्ज्वला योजना के तहत 5 हजार महिलाओं को गैस कनेक्शन, 500 स्वं सहायता समूहों को 5 लाख रूपये का अनुदान, श्रम विभाग द्वारा 36 लोगों को 1 लाख रूपये का अनुदान, स्काई योजना के तहत महिलाओं को मोबाईल फोन का वितरण, 7 किसानों को 5 हार्स पॉवर के सबमर्सिबल पंप वितरित किए गए हैं। 

राज्यसभा सदस्य श्री रणविजय प्रताप सिंह जूदेव, खादीग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष श्री कृष्ण कुमार राय, संसदीय सचिव श्री शिवशंकर पैकरा, कुनकुरी विधाायक श्री रोहित साय, बनोपज बोर्ड के अध्यक्ष श्री भरत साय, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती गोमती साय, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री प्रबल प्रताप सिंह जूदेव, मुख्यमंत्री के सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह, सरगुजा संभाग के कमिश्नर श्री टामन सिंह सोनवानी और पुलिस महानिरीक्षक श्री हिमांशु गुप्ता सहित अनेक जनप्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

 
 
 

अटल विकास यात्रा : मुख्यमंत्री ने दी बगीचा में 122 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात

अटल विकास यात्रा : मुख्यमंत्री ने दी बगीचा में 122 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात

06-Sep-2018

जशपुर : मुख्यमत्री डॉ रमन सिंह ने आज प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा  के तहत जशपुर जिले के बगीचा विकासखंड मुख्यालय में आयोजित आमसभा में लगभग 122 करोड़ रूपए की लागत के 345 विभिन्न कार्यो का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। उन्होंने इनमें से 65 करोड़ 98 लाख़ रूपए  के 61 कार्यों का भूमिपूजन और 56 करोड़ रूपए के 284 विभिन्न कार्यों का लोकार्पण किया। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर राज्य शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं में लगभग 47 हजार हितग्राहियों को 16 करोड़ 21 लाख रूपए की सामाग्री और सहायता राशि के चेक वितरित किए। उन्होंने इनमें से 41 हजार 737 तेंदूपत्ता संग्राहकों को 15 करोड़ 78 लाख रूपए का तेंदूपत्ता बोनस, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में पांच हजार से अधिक महिलाओं को रसोई गैस सिलेण्डर और चूल्हे वितरित किए।

       मुख्यमंत्री ने जिन कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें खुटेरा में 16 करोड़ 18 लाख रूपए की लागत से निर्मित 132/33 के.व्ही. क्षमता का विद्युत उप केन्द्र, 3 करोड़ 62 लाख रूपए की लागत से बगीचा के डोड़की नदी में निर्मित साहीडांड एनीकट, 2 करोड़ 81लाख रूपए की लागत से घुघरी नदी में पोंगरो एनीकट,  2 करोड़ 70 लाख रूपए़ की लागत से लावा नदी में 55.26 मी. स्पॉन के निर्मित वृहद पुल और रनपुर में 2करोड़ 63 लाख रूपए की लागत से स्थापित 33/11 के.व्ही विद्युत उपकेन्द्र शामिल है।

        डॉ. सिंह ने जिन नए स्वीकृत कार्यों का भूमिपूजन किया, उनमें 15 करोड़ 10 लाख रूपए की लागत सेे बनने वाला समडमा एनीकट, 14 करोड़ 57 लाख रूपए की लागत से जशपुर में बनने वाला 500 सीटर बालक-बालिका छात्रावास भवन,  7 करोड़ 52 लाख रूपए की लागत से चड़िया एनीकट, 2 करोड़ 83 लाख रूपए की लागत से कुनकुरी में बनने वाला इंडोर स्टेडियम और 2 करोड़ 12 लाख रूपए की लागत से जशपुर में बनने वाला 100 सीटर पहाड़ी कोरवा बालक आश्रम शामिल है।

      इस अवसर पर संसदीय सचिव श्री शिवशंकर पैकरा, राज्यसभा सांसद श्री रणविजय प्रताप जूदेव, सरगुजा एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री राजशरण भगत, छत्तीसगढ़ खादी ग्राम उद्योग बोर्ड के अध्यक्ष श्री कृष्ण कुमार राय, छत्तीसगढ़ लघु वनोपज सहकारी संघ के अध्यक्ष श्री भरत साय, जिला पंचायत जशपुर के उपाध्यक्ष श्री प्रबल प्रताप सिंह सहित अनेक जनप्रतिनिधि और ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 
 
 

अटल विकास यात्रा 2018 : रिमझिम बारिश के बीच मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का भव्य स्वागत

अटल विकास यात्रा 2018 : रिमझिम बारिश के बीच मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का भव्य स्वागत

06-Sep-2018

बिलासपुर : अटल विकास यात्रा दूसरे चरण के प्रथम दिवस पर कल मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का बिल्हा क्षेत्र के तिफरा की स्वागत सभा में रिमझिम बारिश के बीच जनता ने भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने जिले में आपातकालीन पुलिस हेल्पलाइन डॉयल 112 का शुभारंभ करते हुए इस सेवा के लिए पुलिस मोबाईल वाहनों का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने बिल्हा में 2 करोड़ 88 लाख रूपए की लागत से दिव्यांग जनों के कौशल उन्नयन के लिए 100 सीटों वाले छात्रावास भवन का शिलान्यास भी किया।

    उन्होंने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा - विकास यात्रा में करोड़ों के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया जा रहा है। तिफरा क्षेत्र को ग्राम पंचायत से लेकर नगर पंचायत फिर नगर पालिका का दर्जा मिला है। दिव्यांग जनों को शासकीय नौकरी में आरक्षण 6 प्रतिशत से बढ़ाकर 7 प्रतिशत किया गया है। धान खरीदी में समर्थन मूल्य के साथ जुड़कर बोनस भी किसानों को मिलेगा। जिस दिन किसान धान बेचेगा उसी दिन उसको बोनस भी मिल जायेगा। इसकी व्यवस्था करने के लिये 11 और 12 सितम्बर को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है और 2 दिन में किसानों के लिये 2400 करोड़ रूपये का अनुपूरक बजट मंजूर कर देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि 40 यूनिट से अधिक बिजली खपत करने वाले 12 लाख एकलबत्ती धारकों को अब महीने में 100 रूपये की फ्लैट दर से बिजली बिल देना पड़ेगा। पहले 40 यूनिट के बाद सामान्य दर पर चार्ज किया जाता था।

    मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने बताया कि बिलासपुर जिले के लिये डॉयल 112 हेल्पलाईन की शुरूआत आज से की जा रही है। इससे बिल्हा, तिफरा सहित बिलासपुर जिले के लोगों को लाभ मिलेगा। कोई गुंडागर्दी कर रहा है, झगड़ा कर रहा है, कहीं चोरी हो गई है, आग लग गई है, दुर्घटना हो गई है या किसी प्रकार का संकट आ गया है, किसी को हार्टअटैक आ गया है, तब लोग अपने घर से बैठकर 112 नंबर पर फोन करेंगे और 15 मिनट के भीतर पुलिस एवं सुरक्षा जवानों से लैस वाहन आकर खड़ी हो जायेगी। कोई व्यक्ति शराब पीकर हंगामा कर रहा है तो उसको थाने पहुंचाने के लिये यह महिलाओं की सहायता करेगी। यही 112 नंबर किसी को अस्पताल ले जाने के लिये भी 108 नंबर पर फोन कर देगा। फायर ब्रिगेड की गाड़ी आ जायेगी। यह पूरी तरह कन्ट्रोल रूम का काम करेगा। आम जनता की सुरक्षा के लिये यह बहुत बड़ी पहल है।

    पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक ने अपने उद्बोधन में कहा कि छत्तीसगढ़ में विषमता को समाप्त करने का कार्य सरकार ने किया है। विकास यात्रा के माध्यम से अपने कार्यों का लेखा जोखा जनता के बीच जाकर प्रस्तुत करने आये हैं। छत्तीसगढ़ में विकास के काम तेजी से हो रहे हैं जिससे देश के विकसित प्रदेश में यह शामिल होगा। उन्होंने बिल्हा विधानसभा में कराये गये विभिन्न विकास कार्यों का भी जिक्र  किया और कहा कि बिल्हा क्षेत्र में विकास के लिये पैसे की कमी नहीं है। 

    कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन, वाणिज्यकर, आबकारी मंत्री श्री अमर अग्रवाल, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य मंत्री और जिले के प्रभारी श्री अजय चंद्राकर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मण्डल के अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र सवन्नी, बिलासपुर के लोकसभा सांसद श्री लखन लाल साहू, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती हर्षिता पाण्डेय, तिफरा नगर पालिका के अध्यक्ष श्री रामू साहू, संभागायुक्त श्री टी.सी.महावर, कलेक्टर श्री पी.दयानन्द और सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि और नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे। 


अटल विकास यात्रा : राज्य शासन की योजनाओं से किसानों के जीवन में आ रहा सकारात्मक बदलाव : डॉ. रमन सिंह

अटल विकास यात्रा : राज्य शासन की योजनाओं से किसानों के जीवन में आ रहा सकारात्मक बदलाव : डॉ. रमन सिंह

06-Sep-2018

बिलासपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि राज्य शासन द्वारा किसानों के हित में लागू की गई योजनाओं से किसानों के जीवन में सकारात्मक परिर्वतन आ रहा है। प्रदेश में एक नवम्बर से प्रारंभ हो रही समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के साथ किसानों को धान का समर्थन मूल्य और धान पर बोनस की राशि का भुगतान एक साथ किया जाएगा। विधानसभा के 11 और 12 सितम्बर को बुलाए गए विशेष सत्र में धान बोनस के भुगतान के लिए 2400 करोड़ रूपए की मंजूरी विधानसभा से ली जाएगी। डॉ. सिंह ने 5 सितम्बर को प्रदेशव्यापी अटल विकास यात्रा के तहत बिलासपुर जिले के तखतपुर तहसील मुख्यालय स्थित शासकीय जे.एम.पी. शाला मैदान में आयोजित विशाल आमसभा को सम्बोधित कर रहे थे। बारिश के बावजूद तखतपुर के नागरिकों ने बड़ी संख्या में उपस्थित होकर अटल विकास यात्रा का अभूतपूर्व स्वागत किया। मंच पर समाज के विभिन्न वर्गों और संगठनों के लोगों ने मुख्यमंत्री जोशीला स्वागत किया। 

    मुख्यमंत्री ने जनता के आग्रह पर तखतपुर में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) का कार्यालय प्रारंभ करने, तखतपुर के शासकीय महाविद्यालय को स्नातकोत्तर महाविद्यालय का दर्जा देने तखतपुर में इंडोर बेडमिंटन हॉल में सुविधाओं के विकास के लिए दस लाख रूपए की मंजूरी की घोषणा की। डॉ. सिंह ने अपने सम्बोधन में बताया कि बिलासपुर-तखतपुर-मुंगेली राष्ट्रीय राजमार्ग के सुदृृढ़ीकरण के लिए 190 करोड़ रूपए की राशि मंजूर कर दी गई है। जल्द ही इस राजमार्ग का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। डॉ. सिंह ने तखतपुर से जुड़ी स्मृतियों का उल्लेख करते हुए कहा कि वे क्रिकेट खेलने यहां आया करते थे। 

    पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर, खाद्य मंत्री श्री पुन्नूलाल मोहले, लोकसभा सांसद श्री लखन साहू, संसदीय सचिव श्री राजू क्षत्री, छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती हर्षिता पाण्डेय और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक सहित अनेक जनप्रतिनिधि इस अवसर पर उपस्थित थे।  

    डॉ. सिंह ने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने धान के समर्थन मूल्य में प्रति क्विंटल 200 रूपए की वृद्धि की है। राज्य शासन द्वारा इस वर्ष की धान खरीदी पर भी प्रति क्विंटल 300 रूपए का बोनस दिया जाएगा। राज्य शासन की कल्याणकारी योजनाओं से किसानों के साथ-साथ हर व्यक्ति यह महसूस कर रहा है कि राज्य सरकार सबके लिए काम कर रही है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस योजना में 19 लाख परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन और चूल्हे वितरित किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की आयुष्मान भारत योजना में प्रदेश के 37 लाख गरीब परिवारों को गंभीर बीमारियों के लिए इलाज के लिए पांच लाख रूपए तक की मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि किसानों के पांच एचपी तक के एक से अधिक सिंचाई पम्प पर भी फ्लैट रेट पर बिजली बिल के भुगतान की सुविधा मिलेगी। डॉ. सिंह ने कहा कि वर्ष 2022 तक छत्तीसगढ़ में सभी लोगों का पक्का मकान होगा। 

मुख्यमंत्री ने सहज बिजली बिल योजना के  हितग्राहियों को वितरित किए प्रमाण पत्र

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस दौरान तखतपुर की आमसभा में सहज बिजली बिल योजना के हितग्राहियों को प्रमाण पत्र वितरित किए। उन्होंने प्रतीक स्वरूप ग्राम मोच की श्रीमती अमरिका बाई, देवरी के श्री लक्ष्मी प्रसाद, चितावर के श्री मनोज, सिलतरा के श्री रामशंकर और खम्हरिया के श्री टेकलाल को प्रमाण पत्र सौंपे। इस योजना में सिंगल फेज के घरेलू कनेक्शनों में 40 यूनिट मासिक निःशुल्क बिजली की खपत सीमा से ज्यादा खपत होने पर हितग्राहियों को वर्तमान में प्रचलित टैरिफ के स्थान पर 100 रूपए हर महीने के हिसाब से फ्लैट रेट बिल भुगतान की सुविधा का विकल्प दिया जा रहा है। यह विकल्प उन सिंगल फेस घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को दिया जाएगा, जिनकी वार्षिक बिजली खपत 1200 यूनिट तक होती है। इस योजना से प्रदेश के 12 लाख से ज्यादा घरेलू बिजली कनेक्शन वाले परिवार लाभान्वित होंगे। अटल विकास यात्रा के दौरान सहज बिजली बिल योजना के तहत हितग्राही परिवारों के आवेदन प्राप्त करने के लिए गांवों और शहरों में पुनरीक्षित बिजली बिल वितरण शिविर भी लगाए जाएंगे। 

तखतपुर की आमसभा में लगभग 272 करोड़ रूपए की लागत के 81 कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। उन्होंने इसमें से लगभग 92 करोड़ रूपए की लागत के 49 कार्यों का लोकार्पण और लगभग 178 करोड़ रूपए की लागत के 32 कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं में 327 हितग्राहियों को 24 लाख रूपये की सामग्री और सहायता राशि का वितरण किया।  

    डॉ. सिंह ने जिन कार्यों का लोकार्पण किया, उनमें 31.54 करोड़ रूपए की लागत से खम्हरिया-राजपुर-दैजा मार्ग का चौड़ीकरण कार्य, 3.57 करोड़ रूपए की लागत से कठमुण्डा व्यपवर्तन योजना के तहत विभिन्न निर्माण कार्य, लगभग दो करोड़ रूपए की लागत से पेण्डारी में निर्मित 33/11 के.व्ही.उपकेन्द्र, पौने दो करोड़ की लागत से गनियारी में निर्मित 33/11 के.व्ही.उपकेन्द्र, एक करोड़ 65 लाख रूपए की लागत से निर्मित 78 किलोमीटर लम्बा मेढ़पार से भुल्कहा मार्ग शामिल है।

    डॉ. सिंह ने जिन कार्यों का भूमिपूजन किया, उनमें लगभग 112 करोड़़ रूपए की लागत से मंगला भैसाझार मार्ग का उन्नयन एवं पुनर्निर्माण कार्य, 26 करोड़ 81 लाख रूपए की लागत का उस्लापुर से दैजा मार्ग चौड़ीकरण कार्य, गनियारी में तीन करोड़ 68 लाख रूपए की लागत से बनने वाला मल्टीयूटीलिटी सेंटर, दो करोड़ 66 लाख रूपए की लागत से मुंगेली मार्ग से बनने वाला घुरू अमेरी गोकुल धाम पहुंच मार्ग और ढाई करोड़ रूपए की लागत से बनने वाला खरकेना मुरू मुख्यमार्ग से पाली पहुंच मार्ग शामिल है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों को आवास स्वीकृति पत्र, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की हितग्राहियों को रसोई गैस कनेक्शन, तेन्दूपत्ता संग्राहकों को तेन्दूपत्ता बोनस की राशि, मुख्यमंत्री सहज बिजली बिल योजना के अंतर्गत हितग्राहियों को प्रमाण पत्र, मुख्यमंत्री आबादी पट्टा योजना के हितग्राहियों को आबादी पट्टे, संचार क्रांति योजना (स्काई) के हितग्राहियों को स्मार्ट फोन, जिला अंत्याव्यवसायी सहकारी वित्त एवं विकास निगम की योजना के अंतर्गत हितग्राही श्री विजय कुमार बसंत को ट्रेक्टर ट्राली के लिए आठ लाख 40 हजार रूपए और श्री हरीश कुमार कुर्रे को पेसेंजर वाहन के लिए पांच लाख 60 हजार रूपए की राशि के चेक वितरित किए। उन्होंने कृषि विभाग की योजना के अंतर्गत हितग्राहियों को स्प्रिंकलर सेट, रोटावेटर विद्युत पम्प और मुख्यमंत्री मनरेगा श्रमिक टिफिन वितरण योजना के हितग्राहियों को टिफिन वितरित किए। 


अटल विकास यात्रा : राजनांदगांव और कवर्धा जिले के लिए ’एक्के नम्बर सब्बो बर’ डॉयल 112 हेल्पलाइन का शुभारंभ

अटल विकास यात्रा : राजनांदगांव और कवर्धा जिले के लिए ’एक्के नम्बर सब्बो बर’ डॉयल 112 हेल्पलाइन का शुभारंभ

05-Sep-2018

मुख्यमंत्री डॉ. सिंह और राज्यसभा सांसद श्री अमित शाह 
ने वाहनों को हरी झंडी दिखाई
नागरिकों को मिलेगी त्वरित एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस सहायता
 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और राज्यसभा सांसद श्री अमित शाह ने आज डोंगरगढ़ में प्रदेशव्यापी अटल विकास यात्रा के शुभारंभ के अवसर पर राजनांदगांव और कवर्धा जिले के लिए डॉयल 112 हेल्पलाइन का शुभारंभ किया। उन्होंने हरी झंडी दिखाकर ’एक्के नम्बर सब्बो बर’ हेल्पलाइन के लिए तैनात पुलिस वाहन, एम्बुलेंस और फायर ब्रिगेड वाहनों को रवाना किया। किसी भी आपातकालीन स्थिति में मोबाइल या टेलीफोन से 112 नम्बर डॉयल करने पर जरूरतमंद व्यक्ति को शहरी क्षेत्रों में 10 मिनट में और ग्रामीण क्षेत्रों में 30 मिनट में आवश्यकतानुसार एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस सहायता पहुंचायी जाएगी। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चंद्राकर, वन मंत्री श्री महेश गागड़ा, राज्यसभा सांसद सुश्री सरोज पांडेय, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, विधायक श्रीमती सरोजनी बंजारे, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक, नगर निगम राजनांदगांव के महापौर श्री मधुसूदन यादव, राज्य बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष श्री खुबचंद पारख सहित अनेक जनप्रतिनिधि इस अवसर पर उपस्थित थे। 
 

अटल विकास यात्रा का शुभारंभ : मुख्यमंत्री रमन सिंह और राज्यसभा सांसद अमित शाह ने किया  लगभग 828 करोड़ रूपए के कार्यो का लोकार्पण-भूमिपूजन

अटल विकास यात्रा का शुभारंभ : मुख्यमंत्री रमन सिंह और राज्यसभा सांसद अमित शाह ने किया लगभग 828 करोड़ रूपए के कार्यो का लोकार्पण-भूमिपूजन

05-Sep-2018

राजनांदगांव : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और राज्यसभा सांसद श्री अमित शाह  ने आज प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के शुभारंभ पर राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ के कुर्रूभाट प्रज्ञागिरी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में लगभग  लगभग 828 करोड़ रूपए की लागत के 94 विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण, शिलान्यास और भूमिपूजन किया। श्री अमित शाह ने इस अवसर पर राजनांदगांव और कबीरधाम जिले में डायल 112 हेल्पलाईन नम्बर का शुभारंभ करते हुए एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस वाहनों तथा दो पहिया वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

    मुख्यमंत्री डॉ. सिंह और राज्यसभा सांसद श्री शाह ने इस अवसर पर लगभग 735 करोड़ रूपए की लागत केे 41 कार्यों का लोकार्पण और 93 करोड़ रूपए के 53 कार्यों का शिलान्यास और भूमि पूजन किया। उन्होंने शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं में लगभग 60 हजार से अधिक हितग्राहियों को 30 करोड़ रुपए की सामाग्री और सहायता राशि का वितरण किया। कार्यक्रम में जिन कार्यो का लोकार्पण किया गया उनमें लगभग 139 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित 51 किमी की लंबाई का खैरागढ़-डोंगरगढ़-तुमड़ीबोड़ मार्ग, लगभग 109 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित सूखानाला बैराज, 92 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित धमधा-रोहदा-जोरातराई-अतरिया-खैरागढ़ मार्ग शामिल है। डॉ. सिंह और श्री शाह ने मोतीपुर-सुकुलदैहान-मुसरा-अछोली-डोंगरगढ़ मार्ग तथा चिचोला-छुरिया-कल्लूबंजारी मार्ग का भी लोकार्पण किया। प्रत्येक मार्ग की लागत 61 करोड़ रुपए है।

    कार्यक्रम में जिन कार्यो का भूमिपूजन किया गया, उनमें लगभग 38 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले उपरवाह से मोहदी तक 14 किमी मार्ग, राजनांदगांव में 6 करोड़ 29 लाख रूपए की लागत से बनने वाला फार्मेसी महाविद्यालय भवन, लगभग 5 करोड़ 30 लाख रूपए की लागत का बड़गांव-चारभांठा-नादिया सरहद पहुँच मार्ग, 4 करोड़ 87 लाख रूपए लागत से डोंगरगढ़-बोरतालाब मार्ग पर धरधरा नाला बनने वाला उच्चस्तरीय पुल शामिल है।     

मुख्यमंत्री डॉ. सिंह और राज्यसभा सांसद श्री शाह ने इस अवसर पर 10 हजार मनरेगा मजदूरों को टिफिन, 24 हजार तेंदुपत्ता  संग्राहक हितग्राहियों को 16 करोड़ रुपए की बोनस राशि और चरणपादुका वितरित की। उन्होंने लगभग एक हजार हितग्राहियों को मुख्यमंत्री साइकिल सहायता योजना के अंतर्गत साइकिल, 50 हितग्राहियों को ई-रिक्शा, श्रम विभाग की अनेक योजनाओं के हितग्राहियों को सामग्री वितरण किया। अतिथियों ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों को आवास स्वीकृति पत्र एवं प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के हितग्राहियों को भी रसोई गैस सिलेंडर तथा समाज कल्याण विभाग की योजना में 20 दिव्यांग जनों को मोटराइड ट्राइसिकल का वितरण किया।

इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चंद्राकर, लोक निर्माण आवास, पर्यावरण एवं परिवहन मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेश मूणत, राज्यसभा सांसद सुश्री सरोज पांडेय, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, विधायक श्रीमती सरोजनी बंजारे और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक सहित अनेक मंत्री, विधायक, जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

 


राजनांदगांव पहुंचे मुख्यमंत्री डॉ. सिंह और राज्यसभा सांसद शाह, मॉ बम्लेश्वरी से मांगा प्रदेश की सुख समृद्धि का आशीर्वाद

राजनांदगांव पहुंचे मुख्यमंत्री डॉ. सिंह और राज्यसभा सांसद शाह, मॉ बम्लेश्वरी से मांगा प्रदेश की सुख समृद्धि का आशीर्वाद

05-Sep-2018

राजनांदगांव : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और राज्यसभा सांसद श्री अमित शाह ने आज छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध तीर्थ डोंगरगढ़ में प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के शुभारंभ के अवसर पर मॉ बम्लेश्वरी मंदिर में पूजा अर्चना कर उनसे प्रदेश की जनता की सुख समृद्धि का आशीर्वाद मांगा। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चंद्राकर, राज्यसभा सांसद सुश्री सरोज पांडेय, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, विधायक श्रीमती सरोजनी बंजारे, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक भी इस अवसर पर उपस्थित थे। 


छत्तीसगढ़ सरकार की अटल विकास यात्रा में शामिल होने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ​अमित शाह डोंगरगढ़ के बम्लेश्वरी मंदिर पहुंचे

छत्तीसगढ़ सरकार की अटल विकास यात्रा में शामिल होने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ​अमित शाह डोंगरगढ़ के बम्लेश्वरी मंदिर पहुंचे

05-Sep-2018

अटल विकास यात्रा में शामिल होने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ​अमित शाह छत्तीसगढ़  रायपुर पहुंचे. भाजपा के संपर्क फॉर समर्थन कार्यक्रम के तहत सतनामी समाजत के गुरु प्रकाश गुरु साहेब से अमित शाह ने की मुलाकात. रायपुर के कटोरा तालाब स्थित आश्रम मेंं प्रकाश मुनि साहेब से की चर्चा. मुलाकात के बाद वे हेलीकाप्टर से राजनांदगांव के डोंगरगढ़ पहुंचे. अमित शाह ने डोंगरगढ़ के मां बम्लेश्वरी में पूजा अर्चना की. डोंगरगढ़ से अटलल विकास यात्रा की करेंगे शुरूआत, डोंगरगढ़ में ही प्रसिद्ध कवि और पद्मश्री सुरेंद्र दुबे को अमित शाह दिलाएंगे पार्टी की सदस्यता. सुरेंद्र दुबे दुर्ग या बेमेतरा जिले से लड़ सकते है चुनाव. अमित शाह आमसभा के माध्यम से दुर्ग संभाग की 20 सीटों पर भाजपा की जीत का मंत्र देने की कोशिश भी करेंगे. साथ ही जनता को साधने का प्रयास भी होगा.
छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा विकास यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत बुधवार से की जा रही है. विकास यात्रा को अटल विकास यात्रा का नाम दिया गया है. राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र से मां बम्लेश्वरी की मंदिर में पूजा अर्चना के बाद विकास यात्रा को भाजपा के राष्ट्रीय अ​ध्यक्ष अमित शाह हरी झंडी दिखाएंगे. इसके बाद यात्रा रवाना होगी. बता दें कि अटल विकास यात्रा पांच सितंबर से पांच अक्टूबर तक चलेगी. इस दौरान 65 विधानसभा सीटों का दौरा किया जाएगा. इस दौरान सरकार की योजनाओं की जानकारी आम लोगों को देंगे. साथ ही समस्याओं के यथासंभव तत्काल समाधान करने की कोशिश भी की जाएगी.

 


राजधानी रायपुर पहुंचे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, अटल विकास यात्रा को दिखाएँगे हरी झंडी

राजधानी रायपुर पहुंचे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, अटल विकास यात्रा को दिखाएँगे हरी झंडी

05-Sep-2018

रायपुर : छत्तीसगढ़ सरकार के अटल विकास यात्रा को हरी झंडी दिखाने आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह राजधानी रायपुर पहुंचे चुके हैं वे राजधानी रायपुर से राजनांदगांव के लिए रवाना होंगे अमित शाह के स्वागत के लिए एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पार्टी प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक समेत कई अन्य भाजपा नेता मौजूद थे मुख्यमंत्री ने अमित शाह का स्वागत गुलदस्ता देकर किया संपर्क फॉर समर्थन अभियान के तहत भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कबीर समाज के धर्मगुरु प्रकाश मुनि साहेब से मिलेंगे बताया जा रहा है की चुनावी साल में वे कबीर समाज का समर्थन मांगेंगे वे उनके कटोरा तालाब स्थित आवास पर जाकर उनसे मुलाकात करेंगे आपको बता दें की आज से छत्तीसगढ़ सरकार की अटल विकास यात्रा शुरू हो रही जो की अगले महीने यानि 5 अक्टूबर तक चलेगी 


छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक और साम्प्रदायिक एकता बेमिसालः डॉ. रमन सिंह

छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक और साम्प्रदायिक एकता बेमिसालः डॉ. रमन सिंह

05-Sep-2018

उड़ान एक्सप्रेस नौ जिलों में उर्दू तालीम और आधुनिक शिक्षा पर 
केन्द्रित मोटिवेशन कार्यक्रमों की प्रस्तुति देगी

 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां अपने निवास परिसर से उर्दू तालीम, आधुनिक शिक्षा और रोजगार मूलक शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ’उड़ान एक्सप्रेस वाहन को हरी झंडी दिखाकर प्रदेश के नौ जिलों के भ्रमण के लिए रवाना किया। डॉ. सिंह ने छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी द्वारा की गई इस अभिनव पहल की सराहना करते हुए इस कार्यक्रम की सफलता के लिए अकादमी के अध्यक्ष श्री अकरम कुरैशी सहित सभी पदाधिकारियों और सदस्यों को बधाई और शुभकामनाएं दी।  यह वाहन प्रदेश के 9 जिलों का भ्रमण कर उर्दू तालीम, आधुनिक शिक्षा और रोजगार मूलक शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए बच्चों के बीच मोटिवेशन कार्यक्रम प्रस्तुत करेगा। छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी द्वारा राब्ता फाउन्डेशन पुणे के सहयोग से इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। 
     मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ में सभी वर्गों और समुदायों के बीच सांस्कृतिक और साम्प्रदायिक एकता देश और दुनिया में बेमिसाल है। समाज के सभी वर्गों और समुदायों को केन्द्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से जोड़कर सबके साथ सबके विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिलों में मोटिवेशन कार्यक्रम के दौरान लोगों को कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने का काम भी किया जाएगा। छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी के अध्यक्ष मोहम्मद अकरम कुरैशी, उपाध्यक्ष द्वय श्री शफीक अहमद फुग्गा भाई और श्रीमति नजमा अजीम, अकादमी के सदस्य सर्वश्री अब्दुल हफीज, जकी अहमद, उस्मान अली, हामिद शाह और छŸाीसगढ़ राज्य हज कमेटी के पूर्व अध्यक्ष डॉ. सलीम राज सहित स्कूली बच्चे उपस्थित थे।
    उड़ान वाहन 6 सितंबर को जगदलपुर, 7 सितंबर को नारायणपुर, 8 सितंबर को कबीरधाम, 9 सितंबर को मुंगेली, 10 सितंबर को रायगढ़, 11 और 12 सितंबर को बिलासपुर, 13 सितंबर को रायपुर, 14 सितंबर को दुर्ग और 15 सितंबर को राजनांदगांव पहुंचेगा। इन स्थानों पर मोटिवेशन कार्यक्रम के दौरान उर्दू भाषा के जानने वालों के लिए देश विदेश में रोजगार के अवसरों की जानकारी दी जाएगी और उर्दू शायरी तथा उर्दू भाषा पर केन्द्रित कार्यक्रम प्रस्तुत किए जायेंगे। उड़ान द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले कार्यक्रमों के दौरान छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी के अध्यक्ष सहित जिले के मंत्री, सांसद, विधायक तथा जनप्रतिनिधि, शैक्षणिक संस्थाओं के अध्यापक, प्रधानपाठक, महाविद्यालयों के प्राचार्य और प्राध्यापक, मदरसों के मुदर्रिस, सद्र मुदर्रिस छात्र-छात्राएं, उर्दू के शायर और साहित्यकार उपस्थित रहेंगे। इस दौरान छत्तीसगढ़ राज्य उर्दू अकादमी की योजनाओं पर केन्द्रित पुस्तिकाओं का वितरण भी किया जाएगा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी के सचिव श्री एम.आर.खान, राब्ता फाउंडेशन के सैय्यद सईद अहमद भी उपस्थित थे। 
 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 30 ग्रामीण चलित मेडिकल यूनिटों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने 30 ग्रामीण चलित मेडिकल यूनिटों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया

05-Sep-2018

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम यहां मेडिकल कॉलेज परिसर से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों खासकर दूरस्थ व आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 30 चलित चिकित्सा यूनिटों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। ये चलित चिकित्सा इकाईयां 16 जिलों बस्तर, बीजापुर, सुकमा, नारायणपुर, कांकेर, सरगुजा, कोरिया, जशपुर, राजनांदगांव, सूरजपुर, बेमेतरा, गरियाबंद, मुंगेली, कोण्डागांव जिले में 2-2 तथा दंतेवाड़ा व कवर्धा में 1-1  चलित चिकित्सा इकाई सेवाएं देंगी। इस चलित चिकित्सा इकाई में एक चिकित्सक, एक नर्स, एक फार्मासिस्ट, एक लेबटेक्नीशियन और एक वाहन चालक होंगे। मोबाईल यूनिट में माइक्रोस्कोप, वजन मषीन, बी.पी. मषीन, इंकुबेटर, नेबुलाइसर, सक्सन अपरेटस, आक्सीजन सिलेण्डर सहित लगभग 60 प्रकार के मषीन उपकरण व सहायक सामग्री तथा दवाईयॉं उपलब्ध रहंेगी। वाहन जी.पी.एस. सुविधा युक्त होगा। जिससे ऑनलाईन जानकारी मिल सकेगी। सेवा प्रदायगी में छोटी-मोटी बीमारियों का इलाज चर्म रोग, सर्दी, खांसी, बुखार, छोटी शल्य क्रिया, सर्प, जानवरों के काटने का इलाज व संदर्भन, टी.बी., मलेरिया, कुष्ठ एवं अन्य संक्रामक रोग, गैर संचारी रोग, उच्च रक्त चाप, मधुमेह, मोतियाबिंद, मानसिक रोग, तंबाकू संबंधित बीमारी आदि की सेवाएॅं दी जायंेगी।  वृद्धजनों के इलाज को प्राथमिकता, खून पेशाब की जांच तथा संदर्भन सेवाएॅं दी जायंेगी। इसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य शिविर लगाकर सेवायें भी प्रदान की जायेंगी। कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चन्द्राकर, कृषि और जल संसाधन मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल, विधायक श्री श्रीचंद सुन्दरानी, मुख्य सचिव श्री अजय सिंह और अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

 


प्रदेश के दस हजार किसान संगवारियों सहित कृषि विभाग के मैदानी अमले को दिया जाएगा प्रशिक्षण

प्रदेश के दस हजार किसान संगवारियों सहित कृषि विभाग के मैदानी अमले को दिया जाएगा प्रशिक्षण

04-Sep-2018

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश के लगभग दस हजार किसान संगवारियों के बेहतर प्रशिक्षण की जरूरत पर विशेष रूप से बल दिया है। उल्लेखनीय है कि राज्य के लगभग 20 हजार गांवों में हर दो गांवों के बीच स्थानीय किसानों में से एक-एक किसान संगवारी बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने किसान संगवारियों के साथ-साथ कृषि विभाग के मैदानी अधिकारियों के लिए भी प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि समयबद्ध कार्यक्रम बनाकर उन्हें राज्य के इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा विभिन्न जिलों में संचालित कृषि विज्ञान केन्द्रों में भी प्रशिक्षण दिलाया जा सकता है।  

    डॉ. सिंह ने कल शाम यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित कृषक कल्याण परिषद की बैठक में अधिकारियों को इस आशय के निर्देश दिए। कृषि और जल संसाधन मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल, परिषद के उपाध्यक्ष श्री विशाल चन्द्राकर और अन्य सदस्यों सहित कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री सुनील कुमार कुजूर, सचिव श्री अनूप श्रीवास्तव, मार्कफेड के प्रबंध संचालक श्री अन्बलगन पी, कृषि विभाग के संचालक श्री एम.एस. केरकेट्टा और संबंधित वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य सभी राज्यों को दिया गया है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने में किसान संगवारियों और कृषि विभाग के मैदानी कर्मचारियों और अधिकारियों की भूमिका भी बहुत महत्वपूर्ण होगी। इसके लिए उन्हें खेती-किसानी के क्षेत्र में आ रही नई तकनीकों का भी ज्ञान और प्रशिक्षण जरूरी है।

    अधिकारियों ने बैठक में बताया कि वर्तमान में राजधानी रायपुर स्थित राज्य कृषि प्रबंधन एवं प्रशिक्षण संस्थान में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों और विभाग के अन्य मैदानी अमले को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। राज्य सरकार की योजना के तहत हर जिले में प्रत्येक दो गांवों पर स्थानीय किसानों में से एक किसान संगवारी का चयन किया गया है। इस प्रकार प्रदेश के लगभग 20 हजार गांवों में दस हजार किसान संगवारी बनाए गए है। इन किसान संगवारियों को किसानों के बीच कृषि क्षेत्र से जुड़ी शासकीय योजनाओं के प्रचार-प्रसार का दायित्व सौंपा गया है। उन्हें यह भी कहा गया है कि वे इन योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ किसानों को दिलाने के लिए कृषि विभाग के साथ लगातार समन्वय और सम्पर्क बनाए रखें।

    मुख्यमंत्री ने किसान संगवारियों के अलावा ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों और ग्रामीण उद्यान विस्तार अधिकारियों के लिए भी प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए। डॉ. रमन सिंह ने इस बात पर खुशी जतायी कि कृषि विभाग ने अपनी योजना के तहत वर्ष 2015-16 से लगातार किसानों  के खेतों की मिट्टी का परीक्षण करवाया जा रहा है और उन्हें स्वायल हेल्थ कार्ड भी दिए जा रहे हैं। हर दो साल में मिट्टी परीक्षण का  प्रावधान किया गया है। अब तक लगभग 43 लाख स्वायल हेल्थ कार्ड किसानों को दिए जा चुके हैं। स्वायल हेल्थ कार्ड वितरण में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अग्रणी है। मुख्यमंत्री ने कृषि अधिकारियों से कहा कि वे किसानों को उनके स्वायल हेल्थ कार्ड में की गई अनुशंसा के आधार पर उर्वरकों के संतुलित उपयोग की समझाइश दें।


राज्य के बारह लाख परिवारों को मिलेगा सहज बिजली बिल योजना का फायदा : डॉ. रमन सिंह

राज्य के बारह लाख परिवारों को मिलेगा सहज बिजली बिल योजना का फायदा : डॉ. रमन सिंह

03-Sep-2018

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश के 12 लाख से ज्यादा घरेलू बिजली कनेक्शन वाले परिवारों को सहज बिजली बिल योजना का लाभ मिलेगा। डॉ. सिंह ने कल यहां बताया कि सहज बिजली बिल योजना वर्ष 2002 की गरीबी रेखा सूची और वर्ष 2011 की सामाजिक-आर्थिक जनगणना के आधार पर पात्रता रखने वाले बिजली उपभोक्ताओं के लिए शुरू की गई है। योजना के तहत सिंगल फेज के घरेलू कनेक्शनों में 40 यूनिट मासिक निःशुल्क बिजली की खपत सीमा से ज्यादा खपत होने पर हितग्राहियों को वर्तमान में प्रचलित टैरिफ के स्थान पर 100 रूपए हर महीने के हिसाब से फ्लैट रेट बिल भुगतान की सुविधा का विकल्प दिया जा रहा है। यह विकल्प उन सिंगल फेस घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को दिया जाएगा, जिनकी वार्षिक बिजली खपत 1200 यूनिट तक होती है।

     मुख्यमंत्री ने ऐसे बिजली उपभोक्ताओं से योजना के तहत इस वैकल्पिक सुविधा लाभ लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि पांच सितम्बर से शुरू हो रही अटल विकास यात्रा के दौरान सहज बिजली बिल योजना के तहत हितग्राही परिवारों के आवेदन प्राप्त करने के लिए गांवों और शहरों में पुनरीक्षित बिजली बिल वितरण शिविर भी लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन शिविरों का आयोजन छत्तीसगढ़ विद्युत वितरण कम्पनी द्वारा किया जाएगा। इन शिविरों में गरीब परिवारों को बिजली बिल में और किसानों को सिंचाई पम्पों के लिए फ्लैट रेट का विकल्प दिया जा रहा है।

    विद्युत वितरण कम्पनी के अधिकारियों ने बताया कि इन शिविरों में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत नये विद्युत कनेक्शनों के लिए आवेदन लिए जाएंगे और उपभोक्ताओं के संशोधन योग्य बिजली बिलों का पुनरीक्षण भी किया जा रहा है। इतना ही नहीं बल्कि इन शिविरों में राज्य सरकार की ओर से मुख्यमंत्री सहज बिजली बिल योजना के तहत लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों को यह प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा कि उनके देयकों को उनके चयनित फ्लैट रेट के विकल्प में परिवर्तित किया गया है। विकल्प चयन करने वाले उपभोक्ता की अगर कोई बकाया राशि होगी तो उस राशि की पुनः गणना भी कुल बकाया महीनों के आधार पर 100 रूपए प्रति माह के मान से की जाएगी।


छत्तीसगढ़: में दो लाख से ज्यादा फर्जी मतदाता होने का खुलासा  ,हक़ीक़त क्या है  !

छत्तीसगढ़: में दो लाख से ज्यादा फर्जी मतदाता होने का खुलासा ,हक़ीक़त क्या है !

01-Sep-2018

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने ऐन चुनाव से पहले एक बड़ा खुलासा कर सबको चौंका दिया है। प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने शुक्रवार को कहा कि प्रदेश में 2 लाख से ज्यादा फर्जी मतदाता हैं, कांग्रेस ने फर्जी मतदाताओं की जानकारी जुटाने में एक वेब एजेंसी ‘द पॉलीटिक्स डॉट इन’ की मदद ली है।
राजीव भवन में प्रेसवार्ता के दौरान द पॉलिटिक्स डॉट इन के सीईओ विकास जैन ने फर्जी मतदाताओं की सूची जारी करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में 1 करोड़ 80 लाख मतदाता हैं।
हर साल एक से डेढ़ लाख की संख्या में मतदाता बढ़ते हैं, लेकिन 2013 के विधानसभा और 2014 के लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में 7 से 8 लाख मतदाता बढ़ गए। ​मतलब हर महीने एक लाख से ज्यादा मतदाताओं की संख्या बढ़ी है। लिहाजा, मतदाता सूची की जब जांच-पड़ताल की गई तो हकीकत सामने आई।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में 1 करोड़ 81 लाख मतदाता हैं। इनमें से 91 लाख 46 हजार पुरुष हैं, जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 90 लाख 32 हजार है। चौंकाने वाली बात ये है कि इन 1 करोड़ 81 लाख मतदाताओं में से 2 लाख 12 हजार 424 मतदाता डुप्लीकेट हैं।
वहीं, बघेल ने कहा कि आपको यह जानकर और भी ज्यादा हैरानी होगी कि 2013 में कांग्रेस को भाजपा से 97 हजार वोट ही कम मिले थे, ऐसे में सवाल ये उठ रहा है कि क्या भाजपा ने चुनाव फर्जी मतदाताओं के जरिए जीती थी? विपक्षी कांग्रेस ने यह खुलासा तब किया है, जब निर्वाचन आयोग का फुल कोर्ट छत्तीसगढ़ में ही मौजूद है। 

 


राजधानी पहुंची 'आप' की अलका लाम्बा, बोली- भाजपा 15 सालों में नही कर पाई वो हमने किया

राजधानी पहुंची 'आप' की अलका लाम्बा, बोली- भाजपा 15 सालों में नही कर पाई वो हमने किया

30-Aug-2018

रायपुर : आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लाम्बा आज राजधानी रायपुर पहुँच चुकी है वह दो दिनों के प्रवास पर छत्तीसगढ़ आई हैं आज 30 अगस्त को वह बिलासपुर में होंगी वहीँ कल 31 अगस्त को रायपुर में संवाद करेंगी रायपुर पहुंचते ही अलका लांबा ने कहा  2010 के बाद आज छत्तीसगढ़ आने का मौका मिला, युवाओं से संवाद करके छत्तीसगढ़ आज कहां होना चाहिए था उस पर संवाद होगा. उन्होंने कहा  दिल्ली सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे मुद्दों पर जो काम किया वो भाजपा 15 सालों में नही कर पाई. 


कार्यालय कांसाबेल के नायब तहसीलदार पर अश्लील गाली-गलौज करने का आरोप, पटवारी-कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर

कार्यालय कांसाबेल के नायब तहसीलदार पर अश्लील गाली-गलौज करने का आरोप, पटवारी-कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर

29-Aug-2018

जशपुर : नायब तहसीलदार कांसाबेल बुधवार सिंह सिदार पर बहुत ही गंभीर आरोप तहसील कार्यालय कांसाबेल जिला जशपुर (छ.ग.) के पटवारी व कर्मचारियों ने लगाया है पटवारी व कर्मचारियों ने नायब तहसीलदार पर बेहद ही अश्लील तरीके से गाली गलौज करने का आरोप लगाया है आरोपों के अनुसार गाली भी ऐसे ऐसे हैं जिन्हें हम यहाँ लिख नहीं सकते हाँ लेकिन हम पटवारी व कर्मचारीगण के द्वारा जारी किए गए विज्ञप्ति की एक छायाप्रति जरुर यहाँ पर डाल रहे हैं जिससे आपको पता चल जाएगा की नायब तहसीलदार बुधवार सिंह सिदार पर कितना गंभीर आरोप लगे हैं

आरोपों में कहा गया है की नायब तहसीलदार पटवारियों को गाली गलौज करके कहते हैं की सब को यहाँ भगाउंगा वहां भगाउंगा और जातिगत गाली भी देते हैं व महिला पटवारियों को रात 8-9 बजे कबूतर या मुर्गा बनाकर लाने की फरमाइश करता है साथ ही अगर किसी को छुट्टी/अवकाश की आवश्यकता होती है तो नायब तहसीलदार 1000 रुपए की घुस लेता है कर्मचारीगण ने नायब तहसीलदार के विरुद्ध कार्यवाही करने को लेकर आज 29 अगस्त को अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है इस हड़ताल में कांसाबेल के कर्मचारी व पटवारी शामिल रहेंगे सभी काम बंद कर आज तहसील कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया है. 


नहीं थम रहा है डेंगू से मौतों का सिलसिला, एक और शख्स की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत

नहीं थम रहा है डेंगू से मौतों का सिलसिला, एक और शख्स की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत

28-Aug-2018

भिलाई : डेंगू से भिलाई में मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है आज मंगलवार 28 अगस्त को एक बार फिर डेंगू से एक युवक की मौत की खबर आई है मिली जानकारी के अनुसार सुरेश निर्मलकर पिता केशराम निर्मलकर 35 वर्ष वार्ड 12 कॉन्ट्रेक्टर कॉलोनी निवासी डेंगू से पीड़ित था जिसे उपचार के लिए राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था जिसकी आज मौत हो गई 


अटल नगर छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता के  सपनों का शहर - मुख्यमंत्री डॉ. सिंह

अटल नगर छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता के सपनों का शहर - मुख्यमंत्री डॉ. सिंह

28-Aug-2018

 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम यहां अटल नगर (नया रायपुर) में टाइम स्क्वेयर (शॉपिंग माल) का लोकार्पण किया। अटल नगर के सेक्टर 19 में स्थित इस पांच मंजिले शापिंग माल में बैंक आफिस, होटल सहित अत्याधुनिक सुविधाएं हैं। यह मंत्रालय और अन्य विभागों के कार्यालय के समीप है। इस शापिंग माल को एक प्रायवेट व्यावसायिक संस्थान के द्वारा विकसित किया गया है। 
      मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस अवसर पर आयोजित समारोह में कहा कि नया रायपुर को अब अटल नगर के रूप में नई पहचान मिलेगी। यह छत्तीसगढ़ के ढाई करोड़ जनता के सपनों का शहर है। उन्होंने कहा कि यह नगर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के स्मार्ट सिटी की कल्पना के अनुरूप योजनाबद्ध ढंग से विकसित किया जा रहा है। यहां उन्होंने देश में पहली बार स्मार्ट सिटी की सुविधाओं के व्यवस्थित संचालन के लिए सेन्ट्रल कमांड एण्ड कंट्रोल सिस्टम का शुभारंभ किया था। यहां बाटनिकल गार्डन, जंगल सफारी, पुरखौती मुक्तांगन, सत्यसांई संजीवनी अस्पताल, वेदांता कैंसर अस्पताल जैसी अनेक सुविधाएं विकसित की गई हैं। यहां आने वाले 15-20 वर्षों में 5 लाख आबादी के मान से अधोसंरचना योजनाबद्ध ढंग से विकसित की गई हैं। आने वाले समय में यहां विधानसभा भवन और राजभवन निर्माण की प्रक्रिया भी प्रारंभ होगी। अवसर पर लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत और नया रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री अमन कुमार सिंह और बड़ी संख्या में आम नागरिक उपस्थित थे।