पुलिस नक्सलियों के बीच मुठभेड़, किसी के हताहत की खबर नहीं

पुलिस नक्सलियों के बीच मुठभेड़, किसी के हताहत की खबर नहीं

18-Jan-2019

राजनांदगांव : जिले में एक बार फिर पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की खबर आई है मिली जानकारी के मुताबिक गातापार थाना के मलैदा-धीरीमुरुम जंगल में आज शुक्रवार 18 जनवरी को नक्सलियों ने सर्चिंग पर निकली पुलिस टीम पर फायरिंग करना शुरू कर दिया जिसके बाद जवानो ने भी जवाबी फायरिंग किया अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है बताया जा रहा है की पुलिस जवानो ने भारी मात्रा में रोज उपयोग होने वाले चीजें और नक्सली साहित्य बरामद किया है बहरहाल आगे और अपडेट की प्रतीक्षा है !


मुख्यमंत्री का आदेश, 26 जनवरी को प्रत्येक गांव में पशुओं के लिए गौठान और चारागाह के लिए स्थान चिन्हित किया जाए

मुख्यमंत्री का आदेश, 26 जनवरी को प्रत्येक गांव में पशुओं के लिए गौठान और चारागाह के लिए स्थान चिन्हित किया जाए

17-Jan-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि खेती-किसानी की प्रगति के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) को कृषि से जोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने आगामी 26 जनवरी को ग्राम पंचायतो में ग्राम सभाओं का आयोजन कर प्रत्येक गांव में पशुओं के लिए गौठान और चारागाह के लिए स्थान चिन्हित किया जाए। उन्होंने कहा कि मनरेगा के माध्यम से गौठानों और चारागाहों का विकास किया जाए, इससे लोगों को रोजगार के साथ-साथ पशुओं के लिए चारे की व्यवस्था हो सकेंगी। 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां कृषि महाविद्यालय के सभागार में आयोजित पांच दिवसीय आठवीं इंडियन हार्टिकल्चर कांग्रेस का शुभारंभ करते हुए इस आशय के विचार प्रकट किये। मुख्यमंत्री ने कृषि उत्पादन आयुक्त को पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर ग्राम सभाओं का आयोजन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस पांच दिवसीय कांग्रेस का आयोजन इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर तथा हार्टिकल्चर सोसायटी ऑफ इंडिया द्वारा संयुक्त रूप से किया गया है।

कृषि की समृद्धि के लिए मनरेगा को कृषि विकास से जोड़ना होगा: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

इस अवसर पर विधायक श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा और सुश्री शकुंतला साहू, केन्द्रीय कृषि लागत एवं मूल्य आयोग के अध्यक्ष डॉ. व्ही.पाल शर्मा, कृषि उत्पादन आयुक्त श्री के.डी.पी. राव, हार्टिकल्चर सोसायटी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष पदमश्री सम्मानित डॉ. के.एल. चड्डा, मुख्यमंत्री के कृषि और ग्रामीण विकास सलाहकार श्री प्रदीप शर्मा और इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ.एस.के. पाटिल भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर ’फ्यूचर ऑफ हार्टिकल्चर’ सहित इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के प्रकाशनों सहित कृषि विशेषज्ञों की पुस्तकों का विमोचन किया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंचाई के साधनों की कमी के साथ खुले में घूमते पशु हमारे कृषि क्षेत्र की बड़ी समस्या है। उन्होंने किसानों से पशुओं को बांधकर रखने का आग्रह करते हुए कहा कि इससे खेतों की फैंसिंग का खर्च बचेगा, पशुओं का गोबर मिलेगा जिससे जैविक खाद और बायोगैस संयंत्र लगाए जा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने जबलपुर में स्थित कृषि उत्पादों के समर्थन मूल्य निर्धारित करने क्षेत्रीय कार्यालय छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में प्रारंभ करने, लघु धान्य फसलों कोदो, कुटकी और रागी जैसी फसलों के समर्थन मूल्य घोषित करने तथा लघु वनोपजों के समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी करने की जरूरत बतायी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को समय-समय पर टमाटर, प्याज और आलू जैसे विभिन्न उद्यानिकी फसलों के सही मूल्य कई बार नही मिल पाते हैं।

इसके लिए कृषि विशेषज्ञों को क्षेत्रवार कार्य योजना तैयार कर किसानों को फसल लगाने के संबंध में सलाह देनी चाहिए। श्री बघेल ने विशेषज्ञों से जलवायु परिवर्तन के विभिन्न फसलों पर प्रभाव का अध्ययन करने और फसलों के संरक्षण के लिए किसानांे को सलाह उपलब्ध करानी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि बारिश कम होने से और विभिन्न कारणांे से भू-जल में खारापन आ रहा है। खारापन दूर करने के लिए भी अनुसंधान कर इसके लिए तकनीक विकसित की जानी चाहिए। 

इस पांच दिवसीय आयोजन में देश-विदेश के 800 से ज्यादा उद्यान वैज्ञानिक तथा बागवानी विशेषज्ञ शामिल हुए। इस दौरान फल, फूल, सब्जियों तथा अन्य उद्यानिकी फसलों के उत्पादन की नई तकनीकों तथा अनुसंधान एवं विकास पर विषय विशेषज्ञों द्वारा चर्चा तथा विमर्श किया जाएगा। इस दौरान विषय विशेषज्ञ वैज्ञानिकों तथा शोधार्थियों द्वारा विभिन्न उद्यानिकी फसलों पर हुए अनुसंधान एवं विकास कार्य पर केन्द्रित शोध पत्र भी प्रस्तुत किये जाएंगे। यहां बागवानी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कृषकों को सम्मानित भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने महाविद्यालय परिसर में कृषि उत्पादों के प्रसंस्करण यंत्रों और कृषि एवं उद्यानिकी उत्पादों पर केन्द्रित प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के शिक्षक और विद्यार्थी बड़ी संख्या में उपस्थित थेे। 


दंतेवाड़ा : नक्सलियों ने यात्री बस को किया आग के हवाले

दंतेवाड़ा : नक्सलियों ने यात्री बस को किया आग के हवाले

16-Jan-2019

दंतेवाड़ा : आज बुधवार 16 जनवरी की सुबह दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियो ने एक यात्री बस को आग के हवाले कर दिया मिली जानकारी के अनुसार छिंदनार-कासोली के बीच सीएएफ केम्प के नज़दीक हथियारों से लैस नक्सलियों ने एक यात्री बस को रोककर उसमे आग लगा दी इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है बहरहाल घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. 


न्यूरो सर्जनों के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में CM बघेल ने कहा-दूर-दराज इलाकों के लोगों को अच्छी सुविधाएं उपलब्ध कराने संसाधनों का हो सही उपयोग

न्यूरो सर्जनों के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में CM बघेल ने कहा-दूर-दराज इलाकों के लोगों को अच्छी सुविधाएं उपलब्ध कराने संसाधनों का हो सही उपयोग

12-Jan-2019

TNIS

छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रदेश में स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम करने की जरूरत है। राज्य सरकार की यह मंशा है कि प्रदेश के दूर-दराज इलाकों के लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिले। उन्होंने कहा कि इसके लिए उपलब्ध संसाधनों का सही उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री आज यहां न्यूरोसर्जनों के चार दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन ’इंटरनेशनल ट्रांसफोर्मिनल इंडोस्कोपिक लंबर स्पाइन सर्जिकल कॉन्फ्रेंस’ के दूसरे दिन के सत्र को मुख्यअतिथि की आसंदी से सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने दीप प्रज्जवलित कर सत्र का शुभारंभ किया। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव विशेष अतिथि के रूप में कार्यक्रम में उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने डॉक्टरों से आग्रह किया कि वे छत्तीसगढ़ मंे स्वास्थ्य सुविधाओं के और अधिक सुधार तथा मरीजों के हित में महत्वपूर्ण सुझाव राज्य सरकार को देें। राजधानी रायपुर के अम्बेडकर अस्पताल की सेवाओं को और अधिक बेहतर कैसे बनाया जा सकता है। इस संबंध में भी चिकित्सक अपने सुझाव दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज की भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण रीढ़ की तकलीफें आम हो गयी हैं। यह प्रसन्नता का विषय है कि अब छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में रीढ़ की तकलीफ के इलाज की विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध हैं।

उन्होंने रायपुर में अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ को इस आयोजन का लाभ मिलेगा। विदेशांे से आए विशेषज्ञों से छत्तीसगढ़ के चिकित्सकों को काफी कुछ सीखने को मिलेगा। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने आयोजन की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने उम्मीद जतायी कि आने वाले समय में छत्तीसगढ़ ‘चिकित्सा विशेषज्ञता’ के प्रमुख केन्द्र के रूप में उभरेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार के लिए हर संभव सहयोग देगी। सत्र को डॉ. संदीप दवे और डॉ. एस.एन.मढरिया ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर डॉ. सतीशचन्द्र गोरे, डॉ. तनुश्री सिद्धार्थ सहित अनेक चिकित्सक उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर डॉ. मेलकम की पुस्तक ‘ट्रांसफारमिनल स्टीचलेस स्पाइंन सर्जरी अन्डर लोकल एनिस्थिसिया’ का विमोचन किया।

 


12 जनवरी को दुर्ग, नारायणपुर, गिरौदपुरी और बिलासपुर दौरे पर होंगे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

12 जनवरी को दुर्ग, नारायणपुर, गिरौदपुरी और बिलासपुर दौरे पर होंगे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

11-Jan-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल कल 12 जनवरी को दुर्ग, नारायणपुर, गिरौदपुरी (जिला बलौदाबाजार ) और बिलासपुर में आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होंगे। श्री बघेल निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार भिलाई से सवेरे 10 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर 10.10 बजे दुर्ग जिले के नेवई स्थित छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय पहंुचेंगे और वहां स्वामी विवेकानंद जयंती कार्यक्रम में शामिल होंगे।

मुख्यमंत्री इस अवसर पर विश्वविद्यालय के प्रथम चरण के भवन निर्माण कार्य का भूमिपूजन करेंगे। श्री बघेल पूर्वान्ह 11.40 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा जिला मुख्यालय नारायणपुर स्थित रामकृष्ण मिशन आश्रम पहुंकर वहां स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री दोपहर 1.40 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा बलौदाबाजार जिला स्थित बाबा गुरूघासी दास की जन्मस्थली एवं कर्मस्थली गिरौदपुरी पहुंचेंगे और वहां मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद नवनिर्वाचित विधायकों के सम्मान समारोह में शामिल होंगे। श्री बघेल अपरान्ह 3.20 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा बिलासपुर आएंगे और वहां व्यापार विहार में आयोजित व्यापार मेले का उद्घाटन करेंगे। मुख्यमंत्री शाम 5.10 बजे रायपुर लौट आएंगे।


जल रही झोपड़ी से आ रही थी मानव शरीर जलने की दुर्गन्ध, ग्रामीणों ने आग बुझाई तो मिली अधजली महिला की लाश, पुलिस जाँच में

जल रही झोपड़ी से आ रही थी मानव शरीर जलने की दुर्गन्ध, ग्रामीणों ने आग बुझाई तो मिली अधजली महिला की लाश, पुलिस जाँच में

10-Jan-2019

TNIS

कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ सिटी से 6 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत बोरीडांड के चुक्तिपानी में रोड़ किनारे बने झोपड़ी में एक अज्ञात महिला का अधजला शव बरामद हुआ है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात करीब 7-8 बजे ग्रामीणों ने सड़क किनारे स्थित झोपड़ी में आग लगे हुए देखा साथ ही आग के साथ मानव शरीर के जलने की दुर्गन्ध भी महसूस किया जिसके बाद ग्रामीण झोपड़ी के पास पहुंचे और झोपड़ी के आग को बुझाया आग बुझने पर उन्होंने एक अज्ञात महिला का शव देखा जिसके बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची शव की शिनाख्ती की कोशिश की मगर शव बुरी तरह से जलने से उसकी शिनाख्ती नहीं हो पाई पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और अज्ञात महिला के शव के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश कर रही है ।


किसानों की समृद्धि से ही देश और राज्य में खुशहाली आएगी : सीएम भूपेश बघेल

किसानों की समृद्धि से ही देश और राज्य में खुशहाली आएगी : सीएम भूपेश बघेल

10-Jan-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसानों की समृद्धि से ही देश और राज्य में खुशहाली तथा बाजारों में रौनक आएगी। छत्तीसगढ़ के खजाने की एक-एक पाई का उपयोग प्रदेश की जनता के हित में किया जाएगा। राज्य सरकार ने जो वायदे किए हैं उन्हें अवश्य पूरा किया जाएगा। श्री बघेल आज राजधानी रायपुर के मोवा मोहल्ले में ओव्हरब्रिज के समीप आयोजित अभिनंदन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

 उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के 6100 करोड़ रूपए की कर्ज माफी और 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदी के अपने वायदे पर अमल शुरू कर दिया है। श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, जहां किसानों को हमारी सरकार ढाई हजार रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान की कीमत दे रही है। श्री बघेल ने कहा कि किसानों की समृद्धि से ही राज्य और देश में खुशहाली आएगी।

किसानों के पास अगर पैसा आएगा तो उससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत होगी और बाजारों में भी रौनक आएगी। उन्होंने कहा कि समाज के सभी वर्गो की भागीदारी से छत्तीसगढ़ का विकास होगा। समारोह को वन, आवास और पर्यावरण मंत्री श्री मोहम्मद अकबर तथा नगर निगम रायपुर के महापौर श्री प्रमोद दुबे सहित श्री विनोद तिवारी ने भी समारोह को सम्बोधित किया। समारोह में खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल, विधायक सर्वश्री सत्यनारायण शर्मा, विकास उपाध्याय और कुलदीप जुनेजा भी उपस्थित थे।


छत्तीसगढ़ में जल्द बनेगी नई उद्योग नीति, खेती से जुड़े उद्योग को मिलेगा बढ़ावा : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ में जल्द बनेगी नई उद्योग नीति, खेती से जुड़े उद्योग को मिलेगा बढ़ावा : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

04-Jan-2019

भिलाई : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य की जल्द ही नई औद्योगिक नीति बनाई जाएगी। इसमें औद्योगिकीकरण के साथ ही राज्य में खेती से जुड़े उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा। श्री बघेल कल 3 जनवरी को दुर्ग  जिले के भारी औद्योगिक क्षेत्र भिलाई के हथखोज में लोकार्पण एवं भूमिपूजन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भिलाई स्टील प्लांट छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। मुख्यमंत्री ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री गुरू रूद्र कुमार के आग्रह पर यहां कामगारों और ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को आवागमन की सुविधा के लिए जल्द ही सिटी बस सुविधा प्रारंभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर हथखोज में जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र दुर्ग के नये स्वीकृत भवन और हल्का एवं भारी औद्योगिक क्षेत्र में 4.25 किलामीटर सीमेंट कांक्रीट सड़क का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। उन्होंने उम्दा चौक से तान्दूला नहर तक नवनिर्मित सीमेंट एवं कांक्रीट सड़क का लोकार्पण भी किया।

    मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि भिलाई स्टील प्लांट छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। इस प्लांट के लगने से न केवल भिलाई, बल्कि आस-पास के क्षेत्र में अनेक सहायक उद्योग स्थापित हुए हैं। यहां उद्योग भवन सह जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र इस औद्योगिक क्षेत्र में बनने से उद्योगपतियों को उद्योग तथा अन्य जरूरी औपचारिकताओं को पूर्ण करने में सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही प्रदेश में नई उद्योग नीति तैयार की जाएगी। इसके लिए उद्योगपतियों से सुझाव देने का आग्रह किया, जिससे राज्य में एक बेहतर उद्योग नीति तैयार की जा सके। छत्तीसगढ़ में उद्योग लगाने के लिए बेहतर वातावरण बन सके। श्री बघेल ने छत्तीसगढ़ की ग्रामीण अर्थव्यवस्था  के अनुरूप खेती से जुड़े उद्योग-धंधे लगाने के लिए भी आग्रह किया।

    मुख्यमंत्री ने हथखोज औद्योगिक क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट नगर के प्रस्ताव को स्वीकृत कराने एवं फायर ब्रिगेड एवं प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना करने तथा मजदूर और कामकारो के लिए सस्ती दर पर भोजन व्यवस्था कराने के लिए आवश्यक पहल करने के लिए आश्वस्त किया। उन्होंने स्थानीय विधायक एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रूद्र कुमार के मांग पर 100 बिस्तर अस्पताल खोलने की मांग पर परीक्षण कर प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

    समारोह में लोक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने उद्योग विभाग को सरलता से उद्योग लगाने के लिए नियम एवं कानून को लचिला बनाने और उद्योग नीति में लघु एवं वृहद उद्योगों का संतुलन बनाने और उद्योग लगाने वाले युवाओं को अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने कहा। वाणिज्य-कर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में प्रदूषण रहित उद्योग लगने के साथ ही लोगों को अधिक से अधिक रोजगार देने पर बल दिया। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री गुरू रूद्र ने क्षेत्र में सिटी बस संचालित करने और 100 बिस्तर अस्पताल खोलने की मांग रही।     इस अवसर पर विधायक श्री देवेन्द्र यादव और श्री विनोद चन्द्राकर, क्षेत्र के निर्वाचित जनप्रतिनिधि सहित उद्योग जगत से जुड़े लोग तथा बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

 
 
 

सबसे वरिष्ठ विधायक रामपुकार सिंह बने प्रोटेम स्पीकर

सबसे वरिष्ठ विधायक रामपुकार सिंह बने प्रोटेम स्पीकर

03-Jan-2019

क़ादिर रज़वी

रायपुर : रामपुकार सिंह ने आज प्रोटेम स्पीकर का शपथ ले लिया। छत्तीसगढ़ के सभी 90 विधायकों में सबसे वरिष्ठ, राजभवन में सुबह 10 बजे राज्यपाल आनंदी बेन पटेल रामपुकार सिंह को शपथ दिलाई। रामपुकार सिंह विधानसभा में कल अपने साथी विधायकों को शपथ दिलाएंगे। रामपुकार सिंह कांग्रेस के सबसे वरिष्ठ नेता रहे है। वे जशपुर जिले के पत्थलगाँव विधान सभा से 8 वी बार विधायक हैं। भाजपा का गढ़ माना जाने वाले जशपुर इलाके में बतौर कांग्रेस विधायक रामपुकार सिंह अकेले पत्थलगाँव से चुवाव जीत कर आते रहे हैं।पूर्व में जनसंपर्क मंत्री भी रह चुके हैं।

 उनके पास लंबा राजनीतिक अनुभव रहा है। 2013 के चुनाव में रामपुकार सिंह हार गए थे, लेकिन 2018 में वे फिर रिकार्ड मतों से जीतकर 8वीं बार विधायक बने राजभवन में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, निर्वतमान विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल सहित मंत्रिमडंल के कई सदस्य मौजूद रहें।


बाबा गुरू घासीदास जी के विचार और सिद्धांत आज भी प्रासंगिक - मुख्यमंत्री श्री बघेल

बाबा गुरू घासीदास जी के विचार और सिद्धांत आज भी प्रासंगिक - मुख्यमंत्री श्री बघेल

31-Dec-2018

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज जिला मुख्यालय जांजगीर स्थित जैतखाम केरा रोड पहुंचे और यहां आयोजित जिला स्तरीय गुरू घासीदास जयंती समारोह में शामिल हुए। उन्हांेने श्वेत ध्वज के साथ जैतखाम की परिक्रमा कर पूजा-अर्चना की और राज्य की सुख समृद्धि की कामना की।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने केरा रोड में आयोजित गुरू घासीदास जयंती समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा गुरू घासीदास जी के विचार और सिद्धांत आज भी प्रासंगिकहै। उन्होंने कहा कि संत किसी एक समाज के लिए नही होते, वे पूरे मानव समाज के लिए होते हैं। उनका संदेश सभी के लिए उपयोगी और प्रेरणादायी होता है। उन्होंने कहा कि बाबा गुरू घासीदास ने लोगों को सच्चाई के रास्ते पर चलाना सिखाया है। उन्होंने कहा कि बाबा गुरू घासीदास ने जाति विहीन समाज की परिकल्पना को सार्थकता प्रदान करते हुए मनखे-मनखे एक समान का संदेश देकर मानव समाज को एक सूत्र में पिरोने का प्रयास किया, जो पूरे समाज के लिए अनुकरणीय है। उन्होंने कहा कि गुरू घासीदास ने छत्तीसगढ़ी भाषा को भी आगे बढ़ाया, इसका प्रमाण पंथी गीत है। उनका करूणा का दायरा व्यापक था। उन्होंने केवल मनुष्यों के लिए नहीं सोचा, बल्कि पशु-पक्षियों के लिए भी करूणा का संदेश दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा गुरू घासीदास के बताये मार्ग पर चलकर छत्तीसगढ़ राज्य को और अधिक विकसित और समृद्ध राज्य बनायेंगे। उन्हांेने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसान और मजदूरों की सरकार है। हमनें मात्र 10 दिनों के भीतर किसानों की कर्ज माफ किया है। अब किसान भाई नये उत्साह और उमंग से खेती-किसानी का कार्य कर सकेंगे। इसी तरह राज्य मंे धान की खरीदी 2500 रूपये प्रति क्विंटल की दर से की जा रही है। इससे किसानों के जीवन में समृद्धि आएगी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीयकृत बैंकों से लिये गये कृषिऋण को भी माफ करने पर विचार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि सिंचाई बांधों में पानी होने पर गर्मी फसल के लिए पानी दिया जाएगा। मवेशियों के लिए चारे की भी व्यवस्था होगी। गौठानों के लिए बाउंड्रीवाल बनाया जाएगा। जयंती समारोह को नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री शिव डहरिया ने भी  संबोधित किया। उन्होंने कहा कि गुरू घासीदास स्मरणीय एवं विश्व वंदनीय है। उनके विचारों से विकास और शांति की प्रेरणा मिलती है। उन्होंने कहा कि राज्य में छत्तीसगढ़िहा मुख्यमंत्री के साथ-साथ पूरा सरकार छत्तीसगढ़िहा है, अब छत्तीसगढ़िहों का सपना साकार होगा। उन्होंने लोगों को बाबा के बताये गये मार्ग पर चलने का आग्रह किया ताकि मानव समाज मंे सुख, समृद्धि और शांति बना रहे।

जयंती समारोह को सांसद श्रीमती कमलादेवी पाटले, विधायक श्री नारायण चंदेल और बिलाईगढ़ विधायक श्री चन्द्रदेव राय और श्री हरनाम सिंह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर श्रीमती मंजू सिंह और श्री रमेश पैगवार ने मुख्यमंत्री को शॅाल, खुमरी और प्रतीक स्वरूप नांगर भेंट कर स्वागत किया। इसके पूर्व छात्रावासी छात्र-छात्राआंे ने पंथी गीत एवं नृत्य के माध्यम से गुरू घासीदास के बताये गये मार्ग और सिंद्धांत को रेखांकित किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ जिला जांजगीर द्वारा प्रकाशित वार्षिक कलेण्डर का विमोचन किया।


किसानों का हित सरकार की पहली प्राथमिकता: श्री भूपेश बघेल

किसानों का हित सरकार की पहली प्राथमिकता: श्री भूपेश बघेल

29-Dec-2018

राजनाँदगाँव :  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसानों का हित राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता है। राज्य सरकार ने कैबिनेट की प्रथम बैठक में ही किसानों की कर्जमाफी और धान की खरीदी 2500 रुपए प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य पर करने का फैसला लिया। राज्य सरकार ने किसानों की लिंकिंग की राशि लौटाकर दस दिनों में अपने वायदे को प्राथमिकता से पूरा किया। मुख्यमंत्री आज राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ स्थित तीर्थ मां बम्लेश्वरी मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद छिरपानी प्रांगण में आयोजित अभिनंदन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। समारोह में डोंगरगढ़ के नागरिकों ने मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया। उन्होंने इसके पहले मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के साथ भूमि में बैठकर प्रसाद ग्रहण किया।

       मुख्यमंत्री ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि मां बम्लेश्वरी आशीर्वाद से प्रदेश खुशहाली के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। किसानों के प्रति हमारी बड़ी जिम्मेदारी है। किसानों का यह अधिकार है कि उन्हें फसल का उचित मूल्य मिले। किसानों के पास बचत नहीं हो पा रही थी, इसलिए उनकी खेती पिछड़ रही थी। उपज का अच्छा मूल्य मिलने से किसानों के पास अपनी खेती में निवेश करने के लिए पूंजी आएगी और खेती की उन्नति होगी। श्री बघेल ने कहा कि किसानों की खुशहाली से बाजार भी समृद्ध होगा और सभी वर्गों की उन्नति के लिए बेहतर परिस्थितियां तैयार होंगी।

       मुख्यमंत्री ने कहा कि टाटा इस्पात संयंत्र के लिए बस्तर जिले के लोहांडीगुड़ा क्षेत्र में किसानों की अधिग्रहित 4200 एकड़ भूमि लौटाने का निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि चाहे बिजली के आम उपभोक्ताओं के लिए हों अथवा किसानों, बिजली बिल आधा करने का फैसला भी राज्य शासन ने किया है। इससे बिजली उपभोक्ताओं को काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि सभी वर्गों के लिए किए गए वायदे पूरे किए जाएंगे। चाहे वे कर्मचारी हों या पुलिस के कर्मचारी अथवा पत्रकार साथी हों। इस मौके पर विधायक श्री भुनेश्वर बघेल ने मुख्यमंत्री को प्रथम डोंगरगढ़ आगमन के लिए नगरवासियों की ओर से धन्यवाद दिया। नागरिकों की ओर से श्री नवाज खान ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। इस मौके पर नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिव डहरिया, डोंगरगांव विधायक श्री दलेश्वर साहू, खुज्जी श्रीमती छन्नी साहू, मोहला-मानपुर विधायक श्री इन्द्र शाह मंडावी, जिला पंचायत राजनांदगांव अध्यक्ष श्रीमती चित्रलेखा वर्मा, पूर्व विधायक श्री भोलाराम साहू, श्री धनेश पाटिला, श्री गिरिवर जंघेल और श्रीमती तेजकुंवर नेताम, संभागायुक्त श्री दिलीप वासनीकर, कलेक्टर श्री भीम सिंह और पुलिस अधीक्षक श्री कमलोचन कश्यप सहित बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

TNIS


अब सरकारी नहीं रहेगी शराब दुकान, फिर से ठेकेदारी में बिकेगी शराब

अब सरकारी नहीं रहेगी शराब दुकान, फिर से ठेकेदारी में बिकेगी शराब

28-Dec-2018

रायपुर : राज्य में पूर्व सरकार के द्वारा शराब बिक्री का विरोध करने वाली कांग्रेस अब जैसे खुद ही शराब बेचने की मंशा बना रही है लगता है दरअसल शराब के ठेके के लिए आवेदन मंगाये गये हैं।  आबकारी आयुक्त की ओर से देश में विदेशी शराब बनाने वाली और आयात करने वाली कंपनियों को ब्रांड का पंजीयन करने 10 जनवरी 2019 तक का समय दिया है. पूर्ण शराबबंदी के वादे के साथ सत्ता में आयी सरकार के इस आदेश पर अब सवाल उठने लगा है।

आदेश में साफ लिखा गया है कि साल 2019-20 के लिए ठेका व्यवस्थापन कार्य शीघ्र होना है, इसके लिए भारत में निर्मित विदेशी मदिरा, नवीन ब्रांड व लेवलों का पंजीयन कराना है। बता दें कि चुनावो से पहले कांग्रेस ने राज्य में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा की थी लेकिन अब यह घोषणा जैसे झूठा साबित होता दिख रहा है अमित जोगी ने कांग्रेस सरकार के वादाखिलाफी पर ट्विट करते हुए कहा कि- "11वे दिन में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा करने वाली भूपेश सरकार की दूसरी वादा खिलाफ़ी। अब किस मुँह से छत्तीसगढ़ की माताओं, बहनों और बेटियों के पास जाएँगे?"

 
 
 

रायपुर रेलवे स्टेशन में हाईटेंशन तार की चपेट में आया युवक, दर्दनाक मौत

रायपुर रेलवे स्टेशन में हाईटेंशन तार की चपेट में आया युवक, दर्दनाक मौत

25-Dec-2018

रायपुर : रायपुर रेलवे स्टेशन में आज मंगलवार 25 दिसंबर को एक युवक ट्रेन के ऊपर चढ़ गया ट्रेन चलने पर वह हाईटेंशन तार की चपेट में आ गया जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई मिली जानकारी के अनुसार प्लेटफॉर्म नंबर 5 में खड़ी आजाद हिंद एक्सप्रेस के ऊपर एक अज्ञात युवक ट्रेन के ऊपर चढ़ गया जैसे ही ट्रेन चलने लगी ऊपर खड़ा युवक हाईटेंशन तार की चपेट में आ गया तार की चपेट में आने के बाद युवक के शरीर में विस्फोट के बाद आग लग गई और युवक की मौत हो गई मृतक की पहचान नहीं हो पाई है मृतक की उम्र 25-30 साल के बीच बताई जा रही है यह घटना दोपहर ढाई से तीन बजे के आसपास की बताई जा रही है । 

 
 
 

टाटा संयंत्र के लिए अधिग्रहित भूमि किसानों को होगी वापस, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिए निर्देश

टाटा संयंत्र के लिए अधिग्रहित भूमि किसानों को होगी वापस, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दिए निर्देश

24-Dec-2018

रायपुर : टाटा इस्पात संयंत्र के लिए आदिवासी बहुल बस्तर जिले के लोहांडीगुड़ा क्षेत्र में जिन किसानों की भूमि अधिग्रहित की गई थी, उन्हें उनकी जमीन जल्द वापस की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किसानों से किए गए अपने वादे का उल्लेख करते हुए अधिकारियों को इसके लिए जरूरी प्रक्रिया जल्द पूर्ण करने और मंत्री परिषद की आगामी बैठक में प्रस्ताव लाने के निर्देश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि श्री बघेल के साथ ही सांसद श्री राहुल गांधी ने भी बस्तर प्रवास के दौरान लोहांडीगुड़ा क्षेत्र के किसानों को विश्वास दिलाया था कि उनकी अधिग्रहित भूमि उन्हें वापस दिलायी जाएगी। जनघोषणा पत्र में प्रदेश के किसानों से यह वादा किया गया है कि औद्योगिक उपयोग के लिए अधिग्रहित कृषि भूमि, जिसके अधिग्रहण की तारीख से 5 वर्ष के भीतर उस पर कोई परियोजना स्थापित नहीं की गई है, वह किसानों को वापस की जाएगी।

श्री बघेल ने जन घोषणा पत्र के इस बिन्दु के अनुरूप बस्तर जिले में टाटा इस्पात संयंत्र के लिए 10 गांवों के किसानों की अधिग्रहित जमीन वापस करने के लिए अधिकारियों को प्रक्रिया तत्काल शुरू करने के लिए कहा है। टाटा संयंत्र के लिए यह भूमि फरवरी 2008 और दिसम्बर 2008 में अधिग्रहित की गई थी। संयंत्र के लिए जिन गांवों में भूमि अधिग्रहण किया गया था, उनमें तहसील लोहांडीगुड़ा के अंतर्गत ग्राम छिंदगांव, ग्राम कुम्हली, छिंदगांव, बेलियापाल, बडांजी, दाबपाल, बड़ेपरोदा, बेलर और सिरिसगुड़ा में तथा तहसील तोकापाल के अंतर्गत ग्राम टाकरागुड़ा शामिल हैं। इस पर संबंधित कम्पनी द्वारा अब कोई उद्योग स्थापित नहीं किया गया है।

 
 
 

निगम-मंडलों में अलग-अलग डायरी कैलेण्डर छपवाने पर रोक

निगम-मंडलों में अलग-अलग डायरी कैलेण्डर छपवाने पर रोक

22-Dec-2018

रायपुर : राज्य सरकार ने राजस्व विभाग और पर्यटन विभाग को छोड़कर अन्य सभी विभागों, निगमों, मंडलों आदि सार्वजनिक उपक्रमों में में नये कैलेण्डर वर्ष 2019 के लिए अलग - अलग डायरी और कैलेण्डर छपवाने पर रोक लगा दी है। सभी विभागों और शासकीय संस्थाओं को सिर्फ राजस्व विभाग द्वारा मुद्रित सरकारी डायरी-कैलेण्डरों का उपयोग करने के निर्देश दिए गए हैं। 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा सरकारी खर्चाें में मितव्ययिता बरतने के लिए अधिकारियों को दिये गए निर्देशों पर त्वरित अमल करते हुए सामान्य प्रशासन विभाग ने इस सिलसिले में कल सभी विभागों को यहां मंत्रालय (महानदी भवन) से परिपत्र जारी कर दिया है। परिपत्र में कहा गया है कि राजस्व विभाग द्वारा शासकीय डायरी और कैलेण्डर का मुद्रण करवाया जाता है, इसके अलावा विभिन्न विभागों, निगमों और मंडलों द्वारा भी अलग-अलग डायरी और कैलेण्डर छपवाये जाते हैं। 

परिपत्र में मितव्ययिता के संबंध में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देशों का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि पर्यटन विभाग को छोड़कर शेष सभी विभाग, निगम और मंडल आदि राजस्व विभाग द्वारा तैयार शासकीय डायरी और कैलेण्डर का ही उपयोग करें। निगम, मंडल आदि के लिए पृथक से डायरी और कैलेण्डर का मुद्रण नहीं करवाया जाए। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन के डायरी और कैलेण्डर का मुद्रण और प्रकाशन राजस्व विभाग से संबंधित शासकीय मुद्रणालय द्वारा किया जाता है। 


राजधानी चिटफंड कम्पनियों के निवेशकों का पैसा वापस करवाया जाएगा: दोषी पदाधिकारियों पर होगी अभियोजन की कार्रवाई

राजधानी चिटफंड कम्पनियों के निवेशकों का पैसा वापस करवाया जाएगा: दोषी पदाधिकारियों पर होगी अभियोजन की कार्रवाई

21-Dec-2018

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि चिटफंड कम्पनियों में पैसा जमा करने वाले निवेशकों का पैसा वापस करवाया जाएगा और इन कम्पनियों के दोषी पदाधिकारियों के खिलाफ अभियोजन की कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमने अपने जन घोषणा पत्र में भी यह वायदा किया है। मुख्यमंत्री कल यहां राज्य अतिथि गृह ’पहुना’ में छत्तीसगढ़ अभिकर्ता एवं उपभोक्ता सेवा संघ के प्रतिनिधि मंडल से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने प्रतिनिधि मंडल को आश्वासन दिया कि चिटफंड कम्पनियों के अभिकर्ताओं के रूप में कार्यरत लोगों पर दर्ज मामलों को कानूनी प्रक्रिया के जरिए वापस लिया जाएगा। किसी भी अभिकर्ता के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। श्री बघेल से संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री गगन कुम्भकार और महासचिव श्री नंद कुमार निषाद के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने उनके ज्ञापन के विभिन्न बिन्दुओं पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का भी आश्वासन दिया।

 
 
 

हमें व्हीआईपी कल्चर की जरूरत नहीं,सादगी के साथ जन सेवा हमारा संकल्प: मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

हमें व्हीआईपी कल्चर की जरूरत नहीं,सादगी के साथ जन सेवा हमारा संकल्प: मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

20-Dec-2018

रायपुर : छत्तीसगढ़ के नये मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने अधिकारियों से कहा है कि प्रदेश की नवनिर्वाचित सरकार व्हीआईपी कल्चर को बढ़ावा नहीं देगी। हमें व्हीआईपी कल्चर की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि राजधानी से लेकर गांवों तक सादगी के साथ जनसेवा करना हमारी सरकार का संकल्प है। सभी अधिकारी इसे ध्यान में रखकर काम करें। मुख्यमंत्री कल शाम यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के संभागीय कमिश्नरों, जिला कलेक्टरों, पुलिस महानिरीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों की बैठक ले रहे थे।

जनप्रतिनिधियों के मान-सम्मान का पूरा ध्यान रखें अधिकारी

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को पक्ष और विपक्ष के सभी जनप्रतिनिधियों के मान-सम्मान का पूरा ध्यान रखने के निर्देश दिए और कहा कि प्रशासनिक अधिकारी अपने कार्यालय मेें ज्ञापन लेकर आने वाले सांसदों और विधायकों से सम्मानपूर्वक खड़े होकर उनका ज्ञापन लें। उल्लेखनीय है कि शपथ ग्रहण के तीसरे दिन मुख्यमंत्री ने आज पहली बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए यह बैठक ली। उन्होंने अधिकारियों को जन घोषणा पत्र के सभी बिन्दुओं पर क्रियान्वयन के लिए विभागवार कार्रवाई तत्काल शुरू करने के भी निर्देश दिए। इसके साथ उन्होंने कहा कि किसानों को धान पर प्रति क्विंटल 2500 रूपए देने और कृषि ऋण माफी के फैसलों पर अमल के लिए सभी जिलों में आवश्यक जानकारी के साथ कार्य योजना भी जल्द तैयार कर ली जाए।

श्री बघेल ने कहा कि हर जिले में जिला प्रशासन के कार्य जनोन्मुंखी हों और सभी कलेक्टर तथा उनके मातहत अधिकारी जनता की समस्याओं का पूरी संवेदनशीलता के साथ निराकरण करंे। उन्होंने साफ शब्दों में सभी कलेक्टरों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि छोटी-छोटी समस्याओं के निराकरण के लिए आम जनता को सुदूर इलाकों के अपने घरों से मंत्रालय न आना पड़े और उनकी समस्याओं का निराकरण यथासंभव जिला स्तर पर हो जाए।

कोल माफिया, भू-माफिया, सट्टे बाजों और सूदखोरों पर

पुलिस को शिकंजा कसने के निर्देश

श्री बघेल ने कोल माफिया, भू-माफियाओं, सूदखोरों और सट्टे बाजों पर पुलिस को कठोरता से शिकंजा कसने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए पुलिस की धमक जरूरी है और अपराधियों पर पुलिस का खौफ भी होना चाहिए, लेकिन उसकी कार्य प्रणाली ऐसी हो कि आम जनता पुलिस को अपना मित्र और सहयोगी माने। उन्होंने बैठक में धान खरीदी की प्रगति की जानकारी ली । उन्होंने पुलिस अधिकारियों को भिलाई नगर जैसे औद्योगिक शहरों में सूदखोरी के व्यवसाय के बारे में मिलने वाली शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए। श्री बघेल ने कहा कि औद्योगिक शहरों में मेहनतकश श्रमिकों को सूदखोरों के चंगुल से बचाने और सूदखोरी के धंधे में लगे लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है।

बेमौसम बारिश से फसल क्षति का सर्वेक्षण जल्द किया जाए

श्री बघेल ने अधिकारियों को विगत दो दिनों में समुद्री तूफान के प्रभाव से राज्य में हुई बेमौसम बारिश के कारण फसलों को क्षति पहुंचने की आशंका को देखते हुए आंकलन के लिए सर्वेक्षण कार्य तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए और कहा कि सर्वेक्षण के आधार पर प्रभावित पाए जाने वाले किसानों को आरबीसी 6-4 के तहत उचित मुआवजा दिया जाएगा।

सीमावर्ती जिलों में धान के अवैध परिवहन को रोकने कड़ी निगरानी के निर्देश

 मुख्यमंत्री ने कहा-राज्य सरकार ने किसानों का धान 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदने और कृषि ऋण माफी का भी निर्णय लिया है। श्री बघेल ने कहा-देश में धान पर सबसे ज्यादा कीमत किसानों को छत्तीसगढ़ में मिलेगी। उन्होंने कहा-इसे देखते हुए छत्तीसगढ़ से लगे हुए राज्यों की सीमाओं पर हमारे जिला कलेक्टरों, खाद्य अधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को लगातार कड़ी निगरानी रखने की जरूरत है, ताकि बाहरी राज्यों का धान अवैध आवक न होने पाए। मुख्यमंत्री ने कहा-धान के अवैध परिवहन और अन्य राज्यों का धान यहां लाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए और उनके अवैध धान सहित वाहनों को भी जब्त कर लिया जाए। मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह जानकर खुशी जताई कि बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के एक तहसीलदार ने धान का अवैध परिवहन करने वाले तीन वाहनों को जब्त कर लिया। श्री बघेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कलेक्टर के माध्यम से संबंधित तहसीलदार को बधाई दी और कहा कि ऐसी ही प्रशासनिक मुस्तैदी और सक्रियता सभी जिलों में होनी चाहिए।

ईमानदार अधिकारियों को सरकार पूरा संरक्षण देगी

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि सभी सरकारी अधिकारी पूरी ईमानदारी से जनता की सेवा करें। ईमानदारी से काम करने वाले अधिकारियों को सरकार पूरा संरक्षण देगी। श्री बघेल ने संभागीय आयुक्तों और कलेक्टरों से कहा-जनहित के किसी भी मुद््दे पर अधिकारी मुझसे निःसंकोच चर्चा कर सकते हैं। उन्होंने जिलों में सरकारी मोबाइल फोन का वितरण फिलहाल स्थगित रखने के निर्देश दिए और कहा कि इस सम्बंध में शासन स्तर पर बाद में उचित निर्णय लिया जाएगा। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मंत्री द्वय श्री टी.एस. सिंहदेव और श्री ताम्रध्वज साहू ने जिलों में किसानों को कृषि उपजों का उचित मूल्य दिलाने के लिए खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों की जरूरत पर बल दिया ।

इस पर मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को इसके लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। श्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि स्कूल-कॉलेज आने जाने वाली बालिकाओं की सुरक्षा के सभी जरूरी उपाय करने चाहिए। यह विषय हमारे जन घोषणा पत्र में भी शामिल है। मुख्यमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को इस संबंध में जरूरी निर्देश दिए। श्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में फसलों की वर्तमान स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने मुंगेली जिले के संदर्भ में जलाशयों में पानी की उपलब्धता के बारे में भी पूछा। मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को नामांतरण, बंटवारा और सीमांकन के मामलों का तत्परता से निराकरण करवाने के भी निर्देश दिए।

 
 
 

सामाजिक संस्था अवाम - ए - हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी ने निर्धन,असहाय लोगों में बांटे कम्बल,शॉल

सामाजिक संस्था अवाम - ए - हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी ने निर्धन,असहाय लोगों में बांटे कम्बल,शॉल

18-Dec-2018

रायपुर : 17 दिसम्बर 2018 की कड़कड़ाती ठंड और रिमझिम पानी की बौछारों के बीच जहां शहर का हर व्यक्ति अपने आशियाने के अंदर अपने आपको सुरक्षित कर रहा था । वहीं दूसरी ओर राजधानी की  सामाजिक संस्था अवाम - ए - हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी , के संस्था के संस्थापक मों सज्जाद खांन के अगवाई मे सभी सदस्य  सक्रिय रुप से  शहर के विभिन्न स्थानों जैसे रेलवे स्टेशन , अम्बेडकर अस्पताल के अंदर , पंडरी बस स्टैंड , कालीबाडी चौक तथा फुटपाथों मे गुजर बसर कर रहे निर्धन , असहाय , बीमार व्यक्तियों को इस भीषण ठंड से राहत पहुंचाने के उपदेश्य से कम्बल , शाल व गर्म कपड़ों का वितरण किया । संस्था के सदस्यों को यह एहसास हुआ कि शहर में ऐसा कोई सुरक्षित स्थान नहीं है जहां ठंड से पीड़ित व्यक्ति अपने जीवन की रक्षा कर सके । केवल कुछ ही जागरूक सामाजिक संस्थाएं ही इस नेक कार्य में आगे आकर अपनी सक्रिय भूमिका निभाते चली आ रही हैं ।

अतः अवाम -ए-हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी , माननीय मुख्यमंत्री महोदय छत्तीसगढ़ शासन से करबद्ध निवेदन करती है कि , छत्तीसगढ़ अंचल के विभिन्न शहरों एवं ग्रामीण अंचल में " रैनबसेरा " खोलने का कष्ट करें जिससे ठंड से पीड़ित व्यक्ति को राहत पहुंच सके और अपने जीवन को सुरक्षित कर सके । कल रात्रि को सम्पन्न हुए इस कार्यक्रम में , संस्थापक मोहम्मद सज्ज़ाद खान जी के साथ वसीम , मोहम्मद रज़ा मेमन , सैय्यद जाकिर हुसैन अजीज खांन यासिर अमीन खांन राजेश साहू अनिल शुक्ल  ज़ुबैर खान एवं अन्य सदस्य गणों ने अपना सराहनीय योगदान दिया ।


15 वर्षो के लम्बे इंतजार के बाद छत्तीसगढ़ की सत्ता में कांग्रेस का सीएम विराजमान

15 वर्षो के लम्बे इंतजार के बाद छत्तीसगढ़ की सत्ता में कांग्रेस का सीएम विराजमान

18-Dec-2018

रायपुर : 15 वर्षो के लम्बे इंतजार के बाद कांग्रेस को आखिरकार छत्तीसगढ़ की सत्ता मिल ही गई 17 दिसंबर को कांग्रेस के भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उनके साथ-साथ टी.एस. सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई। बीते 15 वर्षो से वर्ष 2003 से छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार थी इस चुनावो में कांग्रेस ने जबरदस्त वापसी करते हुए 68 सीटो पर जीत दर्ज की भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के तुरंत बाद वादे के मुताबिक किसानों को राहत दी।

उन्होंने 16.65 लाख किसानों का सरकारी बैंकों से लिया गया 6100 करोड़ रुपए का कर्ज माफ करने का ऐलान किया। अन्य मदों में बैंकों से लिए गए कर्ज को भी जांच के बाद माफ करने का भरोसा दिलाया। बघेल ने धान पर समर्थन मूल्य भी 2500 रुपए प्रति क्विंटल करने की घोषणा की। अभी किसानों को 1750 रु. प्रति क्विंटल के हिसाब से समर्थन मूल्य मिलता है। अब इसमें 750 रुपए प्रति क्विंटल की प्रोत्साहन राशि और शामिल की जाएगी। मुख्यमंत्री ने झीरम घाटी हमले की जांच के लिए भी एसआईटी के गठन के आदेश दिए हैं। 2013 में हुए इस नक्सली हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नंद कुमार पटेल समेत 29 लोग मारे गए थे। 

 


नक्सलियों के IED ब्लास्ट की चपेट में आए 3 जवान, एक की हालत गंभीर

नक्सलियों के IED ब्लास्ट की चपेट में आए 3 जवान, एक की हालत गंभीर

15-Dec-2018

बीजापुर : बीजापुर जिले के भैरमगढ़ थाना क्षेत्र में नक्सलियों के द्वारा ब्लास्ट IED में 3 जवान घायल हो गए जिसमे से एक जवान की हालत गंभीर बताई जा रही है मिली जानकारी के अनुसार भैरमगढ़ थाना क्षेत्र के बोदली के जंगलों में आज शनिवार 15 दिसंबर को सर्चिंग पर निकले जवान नक्सलियों के IED की चपेट में आ गए और ब्लास्ट में सब इंस्पेक्टर कमल गेंदरे, जवान सफीक खान और सहायक आरक्षक मुन्ना पोडियम घायल हो गए। मुन्ना की हालत गंभीर बताई गई है।