रायपुर : माना थाना क्षेत्र में मिली एक महिला और एक बच्चे की अधजली लाश, जांच में जुटी पुलिस

रायपुर : माना थाना क्षेत्र में मिली एक महिला और एक बच्चे की अधजली लाश, जांच में जुटी पुलिस

02-Dec-2019

रायपुर : राजधानी के माना थाना क्षेत्र के नकटी इलाके के राइस मिल के पास आज एक महिला और एक बच्चे की जली हुई अवस्था में शव मिलने से हड़कंप मच गया है मिल रही खबरों के अनुसार ग्रामीणों की सूचना पर एसएसपी आरिफ शेख घटना स्थल पर जायजा लेने पहुंचे हैं आज नकटी इलाके के राइस मिल के पास एक महिला जिसकी उम्र 25 वर्ष आंकी जा रही है व 4 वर्षीय बच्चे की अधजली हुई लाश बरामद हुई शवों पर चोट के निशान मिलें है जिससे स्पष्ट जाहिर किया जा रहा है कि हत्या कर शव जलाने की कोशिश की गई है दोनों के शवो की शिनाख्त नहीं हो पाई थी पुलिस मामले की जांच में जुटी है ।


जान देने की नियत से एक बुजुर्ग ने तोरवा पुल से नदी में लगा दी छलांग

जान देने की नियत से एक बुजुर्ग ने तोरवा पुल से नदी में लगा दी छलांग

02-Dec-2019

बिलासपुर : जिले के तोरवा पुल से आज एक बुजुर्ग ने छलांग लगा दी जिसका अब तक कोई अता-पता नहीं चला है सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार पुल से छलांग लगाने वाले बुजुर्ग की पहचान कुदुदंड निवासी 65 वर्षीय रमजान खान के रूप में हुई है वह लम्बे समय से दिल की बीमारी व अन्य बीमारियों से त्रस्त था आज सोमवार (2 दिसंबर) की सुबह वह अपने बड़े बेटे यूसूफ के यहां जाने के लिए निकला था वह 11 बजे के आसपास तोरवा पुल पर ऑटो से उतरा और नदी में छलांग लगा दी लोगों ने जब यह देखा इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी जिसके बाद एसडीआरएफ को सूचना दी गई। नदी में तलाशी के एक घंटे बाद भी बुजुर्ग का अता-पता नहीं चल पाया था खबर लिखे जाने तक बुजुर्ग का कोई पता नहीं चल पाया था. 

 


भिलाई के रिसाली मार्केट के पास डिवाइडर से जा टकराई बाइक, चालक की मौत, एक घायल

भिलाई के रिसाली मार्केट के पास डिवाइडर से जा टकराई बाइक, चालक की मौत, एक घायल

02-Dec-2019

भिलाई के रिसाली मार्केट के पास आज सोमवार (2 दिसंबर) की सुबह एक दर्दनाक हादसा हो गया जिसमे एक युवक की मौत हो गई मामले की जानकारी अनुसार स्टेशन मरोदा निवासी डोमन लाल साहू, पिता चुन्नी लाल उम्र 30 साल अपने एक साथी को बाइक में बिठाकर अपनी मां के लिए टिफिन छोडने रुआबांधा गया हुआ था वापसी के दौरान युवक का बाइक रिसाली आजाद मार्केट के मधुरम होटल के पास बाइक अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गया जिससे बाइक चालक युवक डोमन लाल साहू की मौके पर ही मौत हो गई वहीं पीछे सवार 14 वर्षीय उदय ठाकुर को भी गंभीर चोट आई है। जिसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है बाइक की हालत देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि बाइक की स्पीड तेज रही होगी हादसे में बाइक के परखच्चे उड़ गए  

मां के लिए टिफिन छोड़कर आ रहे युवक की बाइक डिवाइडर से टकराई, मौके पर मौत, दूसरे की हालत गंभीर


पत्थलगांव : साप्ताहिक बाजार में बंदूक की नोक पर गल्ला व्यापारी से 80 हजार की लूट

पत्थलगांव : साप्ताहिक बाजार में बंदूक की नोक पर गल्ला व्यापारी से 80 हजार की लूट

29-Nov-2019

पत्थलगांव जिले में एक गल्ला व्यापारी से लूट होने की खबर आ रही है मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार आरा साप्ताहिक बाजार में व्यापारी अपने दुकान में बैठा था। इस दौरान कुछ लोग पहुंचे और कनपटी पर बंदूक ​टिकाकर पैसे की मांग की और 80 हजार रुपए लूट कर झारखंड की ओर भाग निकले। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है अज्ञात आरोपियों की तलाश कर रही है.  

 


मुख्यमंत्री बघेल की केन्द्रीय मंत्री गड़करी से मुलाकात के बाद पतरापाली-कटघोरा मार्ग के निर्माण में आयी तेजी

मुख्यमंत्री बघेल की केन्द्रीय मंत्री गड़करी से मुलाकात के बाद पतरापाली-कटघोरा मार्ग के निर्माण में आयी तेजी

29-Nov-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गत दिवस केन्द्रीय भू-तल एवं परिवहन मंत्री नितिन गड़करी से मुलाकात की। उन्होंने श्री गड़करी से राज्य के कोरबा जिले के अंतर्गत पतरापाली-कटघोरा राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में तेजी लाने के संबंध में आवश्यक चर्चा की। इस दौरान राजमार्ग के निर्माण में वन आदि विभागों से संबंधित लंबित प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण कर अनापत्ति पत्र के संबंध में भी चर्चा हुई।

मुख्यमंत्री बघेल की केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी से मुलाकात के पश्चात पतरापाली-कटघोरा राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में तेजी आयी है। एन.एच.ए.आई. द्वारा पतरापाली-कटघोरा सड़क मार्ग के निर्माण का टेण्डर भी जारी कर दिया गया है। पतरापाली-कटघोरा राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण 575 करोड़ रूपए की राशि से किया जा रहा है। इस मार्ग के निर्माण से प्रदेश के दूरस्थ वनांचल में लोगों को आवागमन की सुगम सुविधा मिलेगी। 


गरियाबंद : पुलिस ने 6 फर्जी नक्सलियों को किया गिरफ्तार, सरपंच से वसूले थे 2 लाख रुपए

गरियाबंद : पुलिस ने 6 फर्जी नक्सलियों को किया गिरफ्तार, सरपंच से वसूले थे 2 लाख रुपए

28-Nov-2019

गरियाबंद जिले से पुलिस ने नक्सलियों के नाम पर डराकर वसूली करने वाले 6 लोगों को धरदबोचा है बताया जा रहा है कि ये 6 लोग फर्जी नक्सली बनकर ग्रामीणों से पैसों की अवैध वसूली करते थे. आरोपियों के पास से पुलिस ने पिस्टल, वॉकी-टॉकी समेत अन्य हथियार भी बरादम किए हैं. आरोपियों ने जिले के एक सरपंच को धमकाया और 2 लाख मे से डेढ़ लाख रुपये वसूल चुके थे. पकड़े गए 6 में से एक आरोपी नाबालिग है. जंगल में पैसा लेते आरोपियों को घेराबंदी कर पकड़ा गया है. पुलिस इन आरोपियों के खिलाफ आगे की कार्रवाई कर रही है ।

गरियाबंद में अवैध वसूली करते 6 फर्जी नक्सली गिरफ्तार, पिस्टल और वॉकी-टॉकी जब्त

 

दंतेवाड़ा : एक नक्सली ने एसपी के समक्ष किया सरेंडर, चोलनार ब्लास्ट और और किरंदुल प्लांट के हमलो में रहा है शामिल

दंतेवाड़ा : एक नक्सली ने एसपी के समक्ष किया सरेंडर, चोलनार ब्लास्ट और और किरंदुल प्लांट के हमलो में रहा है शामिल

27-Nov-2019

दंतेवाड़ा में आज एसपी के समक्ष जनमिलिशिया कमांडर हड़मा ने सरेंडर किया है बताया जा रहा है कि वह चोलनार ब्लास्ट और और किरंदुल प्लांट में जवानों पर हमले जैसी बड़ी वारदात में शामिल रहा है वह 2007 से नक्सली संगठन में सक्रिय था. वह गुनियापाल का रहने वाला है.आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली को 10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दी गई.

 
 
 

राजधानी रायपुर में बनेगा देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क : श्री भूपेश बघेल

राजधानी रायपुर में बनेगा देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क : श्री भूपेश बघेल

27-Nov-2019

TNIS

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राजधानी रायपुर में बनने वाला जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क मुम्बई, कोलकाता और सूरत के बाद देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क होगा। यह पार्क अपने आप में अनूठा तथा देश और दुनिया के आकर्षण का केन्द्र बनेगा। मुख्यमंत्री आज सवेरे यहां सराफा बाजार के महावीर भवन में रायपुर सराफा एसोसिएशन द्वारा आयोजित अभिनन्दन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इसके पहले सदर बाजार स्थित ऋषभ देव मंदिर में पूजा कर प्रदेश की सुख समृद्धि की खुशहाली की कामना की। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पार्क का निर्माण रायपुर के पंडरी मंडी में लगभग दस लाख वर्गफीट में किया जाएगा। इसमें दस मंजिलें होंगी और दो हजार दुकानें बनेंगी। यह भवन सर्वसुविधा युक्त होगा और यहां सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा। श्री बघेल ने कहा कि इस भवन के डिजाइन के लिए सराफा एसोसिएशन से भी विचार विमर्श किया गया है। छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के अधिकारियों को जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क के अध्ययन के लिए कोलकाता भेजा गया है। इसके बाद उन्हें मुम्बई भी भेजा जाएगा, ताकि रायपुर में बनने वाले पार्क की गुणवत्ता एवं सुविधाओं में कोई कमी न रहे। मुख्यमंत्री ने एसोसिएशन द्वारा किए गए आत्मीय अभिनन्दन के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने समारोह में उपस्थित सभी लोगों को संविधान दिवस की बधाई और शुभकामनाएं दी।
    रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री हरक मालू ने बताया कि एसोसिएशन द्वारा मुख्यमंत्री से 13 नवम्बर को मिलकर रायपुर में जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क स्थापना का आग्रह किया गया था। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 15 नवम्बर को आयोजित केबिनेट की बैठक में पार्क स्थापना की मंजूरी प्रदान कर दी गई। श्री मालू ने कहा कि जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क बनने से छत्तीसगढ़ के कारीगरों, रिफाइनरी, कटिंग और पॉलिसिंग का हब बनेगा, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और राज्य सरकार को राजस्व भी मिलेगा। 
    इस अवसर पर रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री हरक मालू सहित सर्वश्री इंदरचंद धाड़ीवाल, जितेन्द्र बरलोटा, त्रिलोक बरड़िया, महेन्द्र कोचर तथा एसोसिएशन के अनेक पदाधिकारी, सदस्य और प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे। 

 


किसानों को धान का 2500 रूपए प्रति क्विंटल मूल्य दिलाने के लिए प्रारंभ होगी नई योजना :  मुख्यमंत्री ने सदन में की घोषणा स

किसानों को धान का 2500 रूपए प्रति क्विंटल मूल्य दिलाने के लिए प्रारंभ होगी नई योजना : मुख्यमंत्री ने सदन में की घोषणा स

27-Nov-2019

 

TNIS

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज विधानसभा में राज्य सरकार के वर्ष 2019-20 के द्वितीय अनुपूरक बजट पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि हम साफ नियत से किसानों के साथ खड़े हैं, उनके साथ न्याय होगा और उनकी जेब में प्रति क्विंटल धान का 2500 रूपए जाएगा। किसानों को धान के समर्थन मूल्य और 2500 रूपए के अंतर की राशि दिलाने के लिए नई योजना शुरू की जाएगी। सदन में चर्चा के बाद ध्वनि मत से 4 हजार 546 करोड़ 81 लाख 61 हजार 521 रूपए का द्वितीय अनुपूरक बजट पारित कर दिया गया।
      श्री बघेल ने कहा कि राज्य सरकार ने जो पांच सदस्यीय मंत्रिमंडलीय उपसमिति गठित की है, यह समिति बजट सत्र के पहले अपनी रिपोर्ट देगी और हम किसानों को धान का 2500 रूपए दिलाने के लिए नई योजना प्रारंभ करेंगे, जिसका प्रावधान बजट में किया जाएगा। किसानों के खाते में समर्थन मूल्य के साथ अंतर की राशि भी डाली जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों का कोई भी भुगतान बकाया ना रहे। यह सुनिश्चित करने के लिए द्वितीय अनुपूरक में धान उत्पादन पर प्रोत्साहन के लिए 210 करोड़ का प्रावधान रखा गया है। द्वितीय अनुपूरक को मिलाकर राज्य सरकार के वर्ष 2019-20 के बजट का आकार बढ़कर एक लाख 4 हजार 787 करोड़ रूपए हो गया है। 
    श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ का वित्तीय प्रबंधन देश के अन्य राज्यों से बेहतर स्थिति में है। उन्होंने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा राज्यों की वित्तीय स्थिति पर जारी वर्ष 2019-20 के प्रतिवेदन का उल्लेख करते हुए कहा कि कुल बजट में से विकासमूलक कार्यों पर व्यय के मामले में छत्तीसगढ़ देश में प्रथम स्थान पर है। छत्तीसगढ़ में कुल बजट में से सामाजिक क्षेत्र पर व्यय राष्ट्रीय औसत से अधिक है। छत्तीसगढ़ में कुल ऋण दायित्व एवं ब्याज भुगतान सभी राज्यों से न्यूनतम है और छत्तीसगढ़ में कुल बजट में से कमिटेड व्यय भी देश के सभी राज्यों से न्यूनतम स्तर पर है।  
    मुख्यमंत्री ने कहा कि कांक्रीट का जंगल बनाना नहीं, बल्कि मानव विकास हमारा लक्ष्य है। द्वितीय अनुपूरक में उन मुद्दों को शामिल किया गया है, जिनका इंतजार प्रदेश की जनता 19 वर्षों से करती आ रही हैं। श्री राम वन गमन पथ निर्माण एवं उन्नयन परियोजना का कार्य तत्काल प्रारंभ करने के लिए द्वितीय अनुपूरक में 5 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। इस मार्ग को विकसित करने के लिए 92 करोड़ का कॉन्सेप्ट प्लान तैयार किया गया है। श्री बघेल ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने सर्वाधिक समय रायपुर में बिताया था। वर्ष 1877 से 1879 तक वे रायपुर के बूढ़ापारा स्थित डे भवन में रूके थे। इस भवन को ‘स्वामी विवेकानंद स्मृति संस्थान’ के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके लिए द्वितीय अनुपूरक में एक करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। महिलाओं और बच्चों के विरूद्ध अपराध प्रकरणों के त्वरित सुनवाई के लिए फास्ट-ट्रेक कोर्ट की स्थापना के लिए द्वितीय अनुपूरक में 10 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। श्री बघेल ने कहा कि अमृत मिशन योजना के अंतर्गत नगरीय क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल व्यवस्था सिवरेज, पार्क इत्यादि मूलभूत सुविधाओं के लिए द्वितीय अनुपूरक में 300 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। नगरीय निकायों की जल आवर्धन योजना के लिए 25 करोड़ रूपए का, स्वच्छ भारत मिशन में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के लिए 17 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। बिजली के घरेलू उपभोक्ताओं को 400 यूनिट तक के बिजली बिल में आधी छूट की योजना के लिए द्वितीय अनुपूरक में 282 करोड़ रूपए, स्टील उद्योगों के रियायती पैकेज के लिए 424 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय राजनांदगांव के भवन निर्माण के लिए 76 करोड़, मेडिकल कॉलेज अम्बिकापुर भवन के लिए 50 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। एकीकृत बाल विकास परियोजना में मानदेय भुगतान के लिए 164 करोड़ रूपए और अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए 89 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है।  
 
    मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि राज्य की अपनी सीमाओं और भारतीय संविधान में कहीं कोताही होती है तो राज्य के उपायों का दायरा बढ़ाना पड़ता है। पिछले 15 सालों में जनता को अपनी जड़ों से काटने का षडयंत्र किया गया, उससे निजात दिलाने का हमारा अभियान सबसे पहला अभियान था, जो जारी है और जारी रहेगा। इस क्रम में हमने सिर्फ हरेली, तीजा-पोरा, विश्व आदिवासी दिवस, भक्त माता कर्मा जयंती, छठ पूजा, भाई दूज (मातर) जैसे त्यौहारों को अपनी माटी की सुगंध से ही नहीं जोड़ा, बल्कि अब इसका विस्तार भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ लोक रंगों की धरती है। हमारे यहां छत्तीसगढ़ी, गोंडी, हल्बी, दोरली, सरगुजिया हर बोली-भाषा का अपना संसार है और सबकी अपनी ऊंचाई है। हमे मौका मिला तो हमने डॉ. नरेन्द्र देव वर्मा द्वारा रचित ‘अरपा पैरी के धार को गीत को राजगीत का गौरव दिया। जिस तरह हमने हरेली को बचाया, राजिम मेले को बचाया उसी तरह छत्तीसगढ़ के हर अंचल की बोली-भाषा-संस्कृति-साहित्य सब हम बचाएंगे। मुख्यमंत्री ने इस संदर्भ में कवि मीर अली मीर की कविता का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि पहली बार आदिवासी संस्कृति के संरक्षण और प्रोत्साहन के लिए रायपुर में राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य समारोह का आयोजन किया जा रहा है। राष्ट्रीय युवा एवं खेल महोत्सव का विकासखण्ड, जिला और राज्य स्तर पर आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना शुरू की जाएगी। जिसमें 5 लाख रूपए तक वार्षिक इलाज की सुविधा मिलेगी। इस योजना का लाभ प्रदेश के लगभग 56 लाख पात्र परिवारों को मिलेगा। दुर्लभ बीमारियों के इलाज के लिए मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना प्रारंभ की जाएगी। जिसके तहत इलाज के लिए 20 लाख रूपए तक आर्थिक सहायता दी जाएगी। 
    श्री बघेल ने मुख्यमंत्री सुपोषण योजना, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना और ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए प्रारंभ की गई ‘नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी’ की प्रगति की जानकारी दी। 
द्वितीय अनुपूरक अनुमान (वर्ष 2019-20) एक नजर में

वर्ष 2019-20 के मुख्य बजट में कुल प्रावधान         -    95 हजार 899 करोड़ 45 लाख रूपए
प्रथम अनुपूरक का आकार                 -    चार हजार 341 करोड़ 52 लाख रूपए 
द्वितीय अनुपूरक में कुल व्यय प्रावधान            -     पांच हजार एक करोड़ 6 लाख रूपए 
शुद्ध अनुपूरक मांग की राशि                -     चार हजार 546 करोड़ 81 लाख रूपए 
प्रथम एवं द्वितीय अनुपूरक सहित बजट का आकार    -    एक लाख 4 हजार 787 करोड़ रूपए 
    राजकोषीय घाटे को सीमा में रखने के लिए अनुत्पादक खर्चों में कटौती करते हुए मितव्ययता के साथ व्यय एवं अतिरिक्त राजस्व वृद्धि के उपाय किये जाएंगे, ताकि वर्ष के अंत में वित्तीय घाटे को निर्धारित सीमा कुल जी.एस.डी.पी. के 3 प्रतिशत के भीतर रखा जा सके। 
    मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सदन में चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश में 19 नवम्बर 2018 के पूर्व से काबिज कब्जा धारकों को भू-स्वामित्व का अधिकार दिया जाएगा तथा पूर्व के पट्टा धारियों को पट्टा नवीनीकरण की भी सुविधा दी जाएगी। इससे एक लाख शहरी गरीब परिवारों को सीधा लाभ मिलेगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मोर जमीन-मोर मकान योजना में हितग्राहियों को दो लाख 29 हजार रूपए की वित्तीय सहायता भी प्राप्त हो सकेगी। शहरी नागरिकों की दिन-प्रतिदिन की समस्याओं के निराकरण के लिए मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय योजना और प्रदेश के परम्परागत लघु व्यवसायियों को प्रोत्साहित करने के लिए सभी नगरीय निकायों में पौनी-पसारी योजना शुरू की गई है। इसके तहत 30 लाख रूपए की लागत से 255 पौनी-पसारी बाजारों का निर्माण किया जाएगा। नगरीय क्षेत्रों मे शुद्ध पेय जल व्यवस्था, सीवरेज सिस्टम, सार्वजनिक पार्क तथा गार्डन निर्माण इत्यादि मूलभूत सुविधाओं के विस्तार के लिए द्वितीय अनुपूरक में 300 करोड़ रूपए का अतिरिक्त प्रावधान किया जा रहा है। 
प्रदेश के एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले 09 शहरों में एक हजार 900 करोड़ रूपए तथा एक लाख से कम जनसंख्या वाले 12 शहरों में 190 करोड़ रूपए की लागत से पेयजल आवर्धन योजनाओं का काम तीव्र गति से कराया जा रहा है। इससे तीन लाख 50 हजार परिवारों को उनके आवास में नल कनेक्शन के माध्यम से शुद्ध पेयजल की सुविधा प्राप्त होगी। स्वच्छ भारत मिशन योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए द्वितीय अनुपूरक बजट में 17 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वर्ष 2015 से दिसम्बर 2018 तक शहरी क्षेत्रों में मात्र 8 हजार आवासों का निर्माण हुआ था। जबकि जनवरी 2019 से अक्टूबर 2019 के दौरान दस माह की अल्प अवधि में 38 हजार आवासों का निर्माण पूर्ण हो चुका है। नगरीय क्षेत्रों के लिए मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना प्रारंभ की गई है। इसके तहत स्लम क्षेत्रों में आयोजित 507 स्वास्थ्य शिविरों में 50 हजार से अधिक लोगों का उपचार किया गया है। इसी तरह राज्य के दूर-दराज गांवों में रहने वाले अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना शुरू की गई है। इसके तहत अब तक एक हजार 755 हाट-बाजारों में 11 हजार 170 हाट-बाजार क्लिनिक में छह लाख 50 हजार मरीजों को लाभ पहंुचाया जा चुका है। 
प्रदेश में सभी घरेलू उपभोक्ताओं को 400 यूनिट तक के विद्युत व्यय भार पर आधी छूट का लाभ एक मार्च 2019 से दिया जा रहा है। इस योजना से 31 लाख 73 हजार घरेलू उपभोक्ता लाभांन्वित हो रहे है। मुख्य बजट तथा प्रथम अनुपूरक सहित इस योजना के लिए 518 करोड़ रूपए का प्रावधान रखा गया है। हितग्राहियों की संख्या में अनुमानित वृद्धि देखते हुए द्वितीय अनुपूरक में इस योजना के लिए 282 करोड़ रूपए का प्रावधान रखा गया है। 
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों में अधोसंरचनात्मक सुविधाओं के विस्तार के लिए 57 करोड़ रूपए और अनुसूचित जाति पोस्ट मेट्रिक छात्रवृति के लिए 23 करोड़ रूपए तथा अनुसूचित जनजाति पोस्ट मेट्रिक छात्रवृति के लिए द्वितीय अनुपूरक बजट में 89 करोड़ रूपए का अतिरिक्त प्रावधान किया गया है। समग्र शिक्षा योजना के अंतर्गत स्कूल शिक्षा की विभिन्न गतिविधियों के लिए 400 करोड़ रूपए तथा निःशुल्क पाठ्यपुस्तकों के वितरण के लिए 120 करोड़ का प्रावधान किया गया है। शिक्षक पंचायत से नियमित शिक्षक में सविलियन किए गए शिक्षकों के वेतन भत्तों के भुगतान के लिए 110 करोड़ रूपए का अतिरिक्त प्रावधान किया गया है। 


रायपुर : शराब बिक्री में घोटाले का आरोप, पूछा गया 2856 करोड़ रुपये कहाँ गए?

रायपुर : शराब बिक्री में घोटाले का आरोप, पूछा गया 2856 करोड़ रुपये कहाँ गए?

26-Nov-2019

रायपुर : विधानसभा में शीतकालीन सत्र के आज दूसरे दिन सदन में जनता कांग्रेस विधायक धर्मजीत सिंह शराब बिक्री का मामला उठाया उन्होंने कहा कि 22 महीने में 11128 करोड़ की बिकी का मामला सामने आया और कोषालय में 8271 करोड़ ही जमा हुआ। उन्होंने सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लूट, डकैती और गबन लगातार जारी है।

उन्होंने इस संबंध में जांच की मांग की। धर्मजीत सिंह के सवाल का जवाब देते हुए आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि 2856 करोड़ रुपये शराब खरीदी, शराब के परिवहन जैसे मदों में खर्च किये गए हैं. मंत्री के जवाब से असंतुष्ट विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि ये आपकी दुकान नहीं है कि सरकारी पैसा खर्च कर देंगे. पहले ये पैसा कोषालय में जमा होना चाहिए था.

इसमें बड़ा घोटाला हुआ है, इसकी जांच कराई जानी चाहिए. मैं इसकी मांग करता हूँ.  मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि इस मामले में किसी तरह की जांच की जरूरत नहीं है. शराब खरीदने में राशि खर्च की गई है. विधानसभा अध्यक्ष ने जांच की मांग को विचारधीन रखा है।

 

रायपुर में बनेगा देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क

रायपुर में बनेगा देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क

26-Nov-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राजधानी रायपुर में बनने वाला जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क मुम्बई, कोलकाता और सूरत के बाद देश का चौथा बड़ा जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क होगा। यह पार्क अपने आप में अनूठा तथा देश और दुनिया के आकर्षण का केन्द्र बनेगा। मुख्यमंत्री आज सवेरे यहां सराफा बाजार के महावीर भवन में रायपुर सराफा एसोसिएशन द्वारा आयोजित अभिनन्दन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इसके पहले सदर बाजार स्थित ऋषभ देव मंदिर में पूजा कर प्रदेश की सुख समृद्धि की खुशहाली की कामना की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पार्क का निर्माण रायपुर के पुरानी गंज मंडी में लगभग दस लाख वर्ग फीट में किया जाएगा। इसमें दस मंजिलें होंगी और दो हजार दुकानें बनेंगी। यह भवन सर्वसुविधा युक्त होगा और यहां सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा। सीएम बघेल ने कहा कि इस भवन के डिजाइन के लिए सराफा एसोसिएशन से भी विचार विमर्श किया गया है। छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के अधिकारियों को जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क के अध्ययन के लिए कोलकाता भेजा गया है। इसके बाद उन्हें मुम्बई भी भेजा जाएगा, ताकि रायपुर में बनने वाले पार्क की गुणवत्ता एवं सुविधाओं में कोई कमी न रहे। मुख्यमंत्री ने एसोसिएशन द्वारा किए गए आत्मीय अभिनन्दन के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने समारोह में उपस्थित सभी लोगों को संविधान दिवस की बधाई और शुभकामनाएं दी।

रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष हरक मालू ने बताया कि एसोसिएशन द्वारा मुख्यमंत्री से 13 नवम्बर को मिलकर रायपुर में जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क स्थापना का आग्रह किया गया था। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में 15 नवम्बर को आयोजित केबिनेट की बैठक में पार्क स्थापना की मंजूरी प्रदान कर दी गई। श्री मालू ने कहा कि जेम्स एण्ड ज्वेलरी पार्क बनने से छत्तीसगढ़ के कारीगरों, रिफाइनरी, कटिंग और पॉलिसिंग का हब बनेगा, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और राज्य सरकार को राजस्व भी मिलेगा। इस अवसर पर रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष हरक मालू सहित सर्वश्री इंदरचंद धाड़ीवाल, जितेन्द्र बरलोटा, त्रिलोक बरड़िया, महेन्द्र कोचर तथा एसोसिएशन के अनेक पदाधिकारी, सदस्य और प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे।

 
 
 

 रायपुर : मुख्यमंत्री ने आवासीय कॉलोनियों की स्वीकृति के लिए एकीकृत एकल खिड़की प्रणाली का किया शुभारंभ

रायपुर : मुख्यमंत्री ने आवासीय कॉलोनियों की स्वीकृति के लिए एकीकृत एकल खिड़की प्रणाली का किया शुभारंभ

25-Nov-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज विधानसभा परिसर स्थित कार्यालय कक्ष में आवासीय कॉलोनियों की स्वीकृति के लिए आवास एवं पर्यावरण विभाग द्वारा विकसित ’’सीजीअवास’’ एकल खिड़की प्रणाली का बंटन दबाकर शुभारंभ किया। इस प्रणाली के माध्यम से कॉलोनियों के लिए भू-व्यपवर्तन प्रमाण पत्र, अनुमोदित अभिन्यास, कॉलोनी विकास की अनुज्ञा एक ही खिड़की से निर्धारित समय-सीमा में मिलेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता आवास तथा पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर ने की। आज इस एकीकृत एकल खिड़की प्रणाली का शुभारंभ हुआ है। एक दिसम्बर से इसका ट्रायल होगा और 15 दिसम्बर से आवेदक इसमें आवेदन कर सकेगा। 

छत्तीसगढ़ शासन के आवास एवं पर्यावरण विभाग द्वारा विकसित इस प्रणाली से अब आवासीय कॉलोनी के अनुमोदन की प्रक्रिया में तेजी आएगी और यह प्रक्रिया सरल तथा सुगम हो जाएगी। एकल खिड़की में समस्त दस्तावेज जमा होने के उपरांत 100 से अधिकतम 140 दिवस के अंदर विकास अनुज्ञा जारी हो जाएगी। विभिन्न विभागों द्वारा कॉलोनी विकास के लिए आवश्यक अनापत्तियां भी एकल खिड़की पर प्राप्त हो जाएगी। पहले आवासीय कॉलोनी के विकास की अनुज्ञा प्राप्त करने के लिए जहां डेढ़ से दो साल का समय लग जाता था, वहीं अब इसकी समय-सीमा तय कर दी गई है और आवेदकों को 100 से 140 दिन के भीतर विकास की अनुज्ञप्ति प्राप्त हो सकेगी। पहले आवेदकों को प्रकरण की स्थिति जानने के लिए जहां संबंधित कार्यालयों के चक्कर लगाने पड़ते थे, वहीं अब एकल खिड़की प्रणाली से इससे मुक्ति मिलेगी।

इस प्रणाली के लागू होने से एक बार में समस्त अनापत्तियां मिलेंगी। भूमि स्वामित्व के परीक्षण, भूमि नामांतरण, राजस्व विभाग, नगरीय निकाय द्वारा अखबार में विज्ञापन के प्रकाशन, भूमि एकीकरण सम्पूर्ण सर्वें में लगने वाले समय में बचत होगी। एक ही जगह से कॉलोनाईजन को कॉलोनी का अनुमोदन मिलेगा।  आवेदन की हर स्तर पर ट्रेकिंग की जा सकेगी। प्रक्रिया में पारदर्शिता आयेगी। 

आवेदक अब अपने आवेदन की अद्यतन स्थिति मोबाईल में एस.एम.एस. के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं, जिससे उन्हें कार्यालय में सम्पर्क करना नहीं पड़ेगा एवं कार्यों में पारदर्शिता रहेगी। एकल खिड़की प्रणाली के अंतर्गत आवासीय कॉलोनी के विकास अनुज्ञा के लिए राजस्व, नगर तथा ग्राम निवेश तथा नगरीय प्रशासन विभाग को एकल खिड़की के माध्यम से एकीकरण किया गया है। इसके तहत 100 दिन में कॉलोनी विकास की अनुज्ञा प्रदान करना है। अगर नामांतरण एवं भूमि संविलयन की प्रक्रिया नहीं की गई है, तो कॉलोनी विकास अनुज्ञा के लिए 140 दिवस का समय लगेगा। इससे आवासीय कॉलोनी के अनुमोदन की प्रक्रिया में पारदर्शिता लायी गई है। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, विशेष सचिव आवास एवं पर्यावरण सुश्री संगीता पी., उप सचिव आवास एवं पर्यावरण भोसकर विलास संदीपन सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

 


मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना : ग्रामीणों को मिल रहा है बेहतर स्वास्थ्य सुविधा का लाभ

मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना : ग्रामीणों को मिल रहा है बेहतर स्वास्थ्य सुविधा का लाभ

24-Nov-2019

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना से ग्रामीण अंचल के जनता को बेहतर स्वास्थ्य लाभ मिल रहा है। हाट बाजार में इस प्रकार की सुविधा के मिलने से इसके प्रति ग्रामीणों में विशेष रूचि दिखाई दे रही है। 

    बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के आदिवासी बाहुल कसडोल और बिलाईगढ़ विकासखंड के 12 गांव की हाट-बाजारों में संचालित है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती के अवसर पर विगत 2 अक्टूबर को जिले में इसका शुभारंभ हुआ है। इस योजना से लगभग तीन हजार से अधिक ग्रामीण को सुविधा का लाभ मिला है। प्रति सप्ताह आयोजित होने वाले हाट बाजार में डॉक्टरों की टीम जरूरी दवाईयां लेकर वहां पहुंचती है। साग-सब्जी अथवा अन्य मनिहारी दुकानों के बीच में वे भी अपना स्टॉल लगा लेते हैं और आत्मीयता पूर्वक स्थानीय लोगों की बोली-भाषा में बात-चीत करते हुए उनका इलाज कर दिल जीत रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर संचालित यह योजना राज्य के दूरस्थ अंचलों में लगने वाले हाट-बाजारों में आने वाले लोगों को स्वास्थ्य सुविधा का भी मिल पाना संवेदनशील सरकार की अभिनव पहल है। 

    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. खेमराज सोनवानी ने बताया कि योजना को जिले में अच्छा प्रतिसाद मिला है। सरकार द्वारा निर्धारित मापदण्डों के अनुरूप कसडोल विकासखण्ड में 8 हाट-बाजार एवं बिलाईगढ़ विकासखण्ड में 4 हाट-बाजार में प्रति सप्ताह टीम पहुंचती है। कसडोल के थरगांव, रवान, अर्जुनी,छाता, असनीद, बार, बफरा, नवागांव और बिलाईगढ़ के बगमल्ला, चारपाली, गेड़ापाली एवं ढनढनी मंे लगने वाली साप्ताहिक हाट-बाजार में यह योजना संचालित हो रही है। हाट-बाजार में आने वाले आस-पास के ग्रामीणों को भी इस योजना का फायदा मिल रहा है। उनका कहना है कि छोटे-मोटे बीमारियों के इलाज के लिए ग्रामीणों को दूरस्थ स्थित स्वास्थ्य केन्द्र तक आने की जरूरत ना हो और इसके लिए अतिरिक्त समय गंवाना ना पड़े, इसे ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार यह योजना लांच की है। हाट-बाजार में डॉक्टर, नर्स, फार्मासिस्ट सहित पूरी टीम साथ रहती है। उनके द्वारा छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याएं जैसे- मौसमी बुखार, दर्द, मलेरिया, पेचिस, दस्त, उल्टी एनीमिया, कमजोरी, रक्तचॉप, मधुमेह, त्वचा रोग आदि बीमारियांे की जांच एवं इलाज किया जाता है। स्वस्थ्य रहने के उपाय भी बताये जाते हैं।
    उल्लेखनीय है कि हाट बाजारों में आने वाले और वहां अपने जीविकापार्जन करने वाले अधिकांश ग्रामीण जनता अपने इलाज के लिए विभिन्न कारणों से अस्पताल नहीं जा पाते उनके लिए यह लाभदायक सिद्ध हो रहा है।


कवर्धा : पति गया था काम पर घर लौटकर पत्नी को देखा मृत, हत्या की आशंका, पुलिस जांच में जुटी

कवर्धा : पति गया था काम पर घर लौटकर पत्नी को देखा मृत, हत्या की आशंका, पुलिस जांच में जुटी

23-Nov-2019

कवर्धा जिले के भोरमदेव थाना क्षेत्र में ग्राम हरमो कडगो में एक मकान में एक महिला की लाश बरामद हुई है मृतका की पहचान कौशिल्या धुर्वे बताया जा रहा है मृतका की डेढ़ साल पहले शादी हुई थी. महिला की मौत की खबर पुलिस को पति अभिषेक धुर्वे ने दी मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेजा मृतका के सिर और चेहरे पर चोट के मिलें है जिससे मामला संदिग्ध भी लग रहा है पति ने अपने बयान में बताया कि वह काम पर गया हुआ था काम से लौटने पर उसने अपनी पत्नी को इस अवस्था में देखा बहरहाल पुलिस जांच में कर रही है.  


बलौदाबाजार : खदान के गड्ढे में मिली महिला की लाश, हत्या या आत्महत्या का खुलासा नहीं

बलौदाबाजार : खदान के गड्ढे में मिली महिला की लाश, हत्या या आत्महत्या का खुलासा नहीं

22-Nov-2019

बलौदाबाजार : जिले के कसडोल थाना के कटगी गांव में एक खदान के गड्ढे में एक महिला की लाश बरामद हुई है मृतका की पहचान कटगी गांव निवासी 28 वर्षीया के रूप में की गई है बताया जा रहा है कि महिला बुधवार रात अपने मायके हसुवा गांव से किसी को बिना बताए निकली थी. लोगों ने खदान के गड्ढे में महिला की लाश देखने पर पुलिस को सूचना दी जिसके बाद पुलिस पहुंची और महिला के शव को बाहर निकालकर उसकी शिनाख्त की व उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा यह हत्या है या आत्महत्या इसका खुलासा पीएम रिपोर्ट पर ही होगा बहरहाल कसडोल थाना और गिधौरी थाना की पुलिस जांच में जुटी है.


 बीजापुर जिले में 14 सालो से बंद पड़े 26 स्कूल  फिर से हुए गुलजार

बीजापुर जिले में 14 सालो से बंद पड़े 26 स्कूल फिर से हुए गुलजार

22-Nov-2019

बस्तर अंचल के बीजापुर जिले में लंबे समय से बंद पड़े 26 स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई-लिखाई के साथ धमाचौकड़ी देखने को मिल रही है। अरसे बाद ये स्कूल फिर से गुलजार हुए हैं। जिला प्रशासन की विशेष पहल से वनांचल में रहने वाले बच्चों के भविष्य को सवारने का काम शुरू हो गया है। 

जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि नक्सली भय और आतंक के चलते बीजापुर जिले के इन बंद पड़े स्कूलों में फिर से पढ़ाई-लिखाई का काम शुरू हुआ है। स्कूलों के संचालन के लिए अस्थाई शैड की व्यवस्था की गई है। इन स्कूलों में ग्रामीणों को समझाईश देकर उनके बच्चों को दाखिला दिया जा रहा है। बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का जिम्मा स्थानीय युवाओं को दिया गया। इन्हें शिक्षा दूत के रूप में मानदेय आधार पर नियुक्त किया गया है। बच्चों के लिए कापी, किताब, स्लेट, पेनसिल आदि की व्यवस्थ की गई है। इन स्कूलों में मध्यान्ह  भोजन की व्यवस्था की गई है। 

अधिकारियों ने बताया कि जिले के बीजापुर और भैरमगढ़ के पांच-पांच, उसूर के छह और भोपालपट्टनम के दस स्कूलों में लंबे अरसे बाद फिर से पढ़ाई -लिखाई शुरू हुई है। इससे ग्रामीणों में शासन प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ा है। अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए इन स्कूलों में भेज रहे हैं। ग्रामीणों द्वारा कई स्थानों में स्कूल शुरू करने की मांग भी आ रही है। 

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2005 में सलवा-जुड़ूम अभियान के दौरान आतंक और भय के कारण जिले के कई स्कूल बंद हो गये थे जिसके चलते यह ईलाका पूरी तरह से मुख्य धारा से कट कर शासन प्रशासन की योजनाओ से वंचित हो गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल से इन इलाकांे में बच्चों को शिक्षा से जोड़ने की मुहिम जिला प्रशासन द्वारा चलाई गई जिसके तहत् अतिसंवेदनशील ईलाको में ग्रामीणों का साथ लेकर शालाओं को फिर से शुरू किया गया है। 


भिलाई : रेलवे क्रासिंग के कुछ दूरी पर मिला युवक का जला हुआ शव, पुलिस जांच में जुटी

भिलाई : रेलवे क्रासिंग के कुछ दूरी पर मिला युवक का जला हुआ शव, पुलिस जांच में जुटी

21-Nov-2019

आज गुरुवार भिलाई भट्टी थाना क्षेत्र के पॉवर हाउस वूलन मार्केट के पीछे रेलवे क्रासिंग से कुछ दूरी पर एक युवक की जली हुई लाश मिली है मीडिया रिपोर्टो के अनुसार मार्केट के पीछे कुछ लोगों ने युवक का जला हुआ शव देखा जिसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक की शिनाख्त की कोशिश की लेकिन खबर लिखे जाने तक उसकी पहचान नहीं हो पाई थी उसकी उम्र 30-35 वर्ष के आसपास बताई जा रही है बहरहाल पुलिस जांच में जुटी है ।


रायपुर : छत्तीसगढ़ी फिल्म ऐक्ट्रेस माया साहू पर डंडे से हमला करने के आरोप में दो युवक गिरफ्तार

रायपुर : छत्तीसगढ़ी फिल्म ऐक्ट्रेस माया साहू पर डंडे से हमला करने के आरोप में दो युवक गिरफ्तार

19-Nov-2019

रायपुर : छत्तीसगढ़ी फिल्म ऐक्ट्रेस माया साहू पर डंडे से हमला करने के आरोप में दो युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों की पहचान सागर साहू और लकी साहू बताया जा रहा है। युवकों ने ऐक्ट्रेस पर हमला क्यों किया इसका खुलासा नहीं हो पाया है बता दें कि कुछ दिनों पहले माया पर भिलाई स्थित उनके निवास के करीब युवको ने डंडे से हमला कर दिया था और फरार हो गया था जिसकी तलाश में पुलिस थी 

 


इस बुधवार को मुख्यमंत्री निवास में नहीं होगा ‘जनचौपाल: भेंट-मुलाकात‘

इस बुधवार को मुख्यमंत्री निवास में नहीं होगा ‘जनचौपाल: भेंट-मुलाकात‘

18-Nov-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रायपुर स्थित निवास में आगामी 20 नवम्बर बुधवार को आयोजित होने वाला ‘जनचौपाल भेंट-मुलाकात‘ का कार्यक्रम अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया गया है।


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक, लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक, लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय

15-Nov-2019

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज निवास कार्यालय में आयोजित मंत्रिपरिषद की बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए - छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य के सभी नागरिकों को बेहतर एवं गुणवत्तापूर्ण उपचार सुविधा प्रदान करने हेतु नई स्वास्थ्य योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया। (अब ट्रस्ट मोड पर कार्य किया जाएगा )

1. डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना में राज्य में स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने वाली समस्त योजनाएं आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना, संजीवनी सहायता कोष, मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना, मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना एवं राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (चिरायु) योजना इस नई योजना में समाविष्ट हो जाएंगी।
        इस नई योजना में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में शामिल परिवार के साथ ही सभी प्राथमिकता एवं अंत्योदय राशन कार्डधारी परिवारों को 5 लाख रूपए तक स्वास्थ्य सुविधा मिलेगी एवं अन्य राशन कार्डधारी परिवारों को 50 हजार रूपए तक इलाज की सुविधा मिलेगी।
 
2. मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना- वे बीमारियां जो योजनांतर्गत शामिल नही है या हितग्राही का नाम सूची में नही है या नई योजना अंतर्गत बीमा कवर राशि इलाज हेतु पर्याप्त नही है, उन परिवारों के लिए वर्तमान में लागू संजीवनी सहायता कोष का विस्तार करते हुए मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया। इसमें मुख्यमंत्री के अनुमोदन से प्रति परिवार 5 लाख रूपए से अधिकतम 20 लाख रूपए तक के इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी।

डॉ. नरेन्द्र वर्मा द्वारा लिखित छत्तीसगढ़ी गीत- ‘‘अरपा पइरी के धार महानदी हे अपार‘‘......को राज्य-गीत घोषित करने का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मण्डल के स्वावित्तीय, भाड़ाक्रय आवासीय योजनाओं के भवनों की बकाया राशि पर भारित पूंजीगत ब्याज और दाण्डिक ब्याज में छूट एवं विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत निर्मित अविक्रित आवासीय एवं व्यावसायिक भवनों के मूल्यों में छूट की कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया। जिसके तहत अविक्रित आवासीय एवं व्यावसायिक संपदा के निर्माण दिनांक से वर्तमान रिक्त अवधि के आधार पर भवनों के मूल्यों में 15 से 20 प्रतिशत तक कमी का निर्णय लिया गया।

         इसी तरह स्ववित्तीय योजना के तहत विलंबित अवधि की राशि एकमुश्त जमा करने पर   ब्याज में छूट एवं भाड़ा क्रय योजना के तहत लंबित राशि एकमुश्त जमा करने पर दण्ड ब्याज में छूट प्रदान करने के निर्णय का अनुमोदन किया गया।

खनन प्रभावित लोगों के लिए आवास, दैनिक उपयोग के लिए आवश्यक सामग्री तथा महिलाओं एवं बच्चों के लिए वस्त्र आदि की उपलब्धता के लिए छत्तीसगढ़ जिला खनिज न्यास नियम-2015 में नया सेक्टर प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया। इसमें अन्य प्राथमिकता के क्षेत्र अंतर्गत प्राप्त होने वाली राशि में से 5 प्रतिशत अधिकतम राशि का उपयोग उपरोक्त कार्यो के लिए किया जा सकेगा।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर (एम्स) को नवा रायपुर, अटल नगर में निःशुल्क भूमि  आबंटन का निर्णय लिया गया। नया रायपुर डेव्लपमेंट अथॉरिटी (एनआरडीए) द्वारा सेक्टर-40 में आबंटित भूमि के संबंध में एम्स रायपुर से किए जाने वाले एम.ओ.यू. प्रारूप का अनुमोदन किया गया।

छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के पास उपलब्ध चावल का निराकरण राज्य और केन्द्र शासन द्वारा संचालित विभाग और संस्थाओं की विभिन्न योजनाओं में उपयोग करने का निर्णय लिया गया।

छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र विकास प्राधिकरण निधि नियम-2012 में आवश्यक संशोधन का अनुमोदन किया गया। इसमें नए कार्यो (शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण आदि) को सम्मिलित किया गया।

जेम एण्ड ज्वेलरी पार्क रायपुर शहर में स्थापित करने का निर्णय लिया गया ।

नंदनवन जंगल सफारी नवा रायपुर में प्रचलित प्रवेश शुल्क को आधा करने का निर्णय लिया गया। 12 वर्ष से कम और दिव्यांग लोगों के लिए निःशुल्क रहेगा।