संकाटापन श्रमिकों के लिए जिला प्रशासन की सहायता राशि |

संकाटापन श्रमिकों के लिए जिला प्रशासन की सहायता राशि |

08-Apr-2020

बेमेतरा 7 मार्च 2020 :- जिला प्रशासन के माध्यम से कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमंण के कारण अन्य राज्यों में जैसे पुणे (महाराष्ट), कानपुर, लखनउ (उत्तर प्रदेश), हैदराबाद (तेलंगाना) एवं अन्य प्रदेशों में फसे हुए श्रमिकों को सहायता हेतु राज्य हेल्प लाइन, जिला हेल्प लाइन एवं जिला प्रशासन के माध्यम से जानकारी जिला प्रशासन को प्राप्त हुआ है। लाॅक डाउन होने के कारण अपने गृहगांव आने में असमर्थ एवं बंद की स्थिति में खाने पीने की व्यवस्था नही होने के कारण सहायता हेतु जिला बेमेतरा के 2172 श्रमिकों के खातों में एन.ई.एफ.टी.के माध्यम से दिनांक 31 मार्च 2020 से 6 अप्रैल तक सहायता राशि 6,57,600/- रूपये जिला प्रशासन की ओर से प्रदाय किया गया है। विभिन्न दान-दाताओं के माध्यम से एकत्रित किये गये राशि सहयोग हेतु से जिला कलेक्टर के माध्यम से प्रदाय किया जा रहा है।
 विभिन्न राज्यों में फसे हुए श्रमिकों के वर्तमान स्थिति का आकलन कर कलेक्टर श्री शिव अनंत तायल के द्वारा द्वितीय किश्त जारी किये जाने के निर्देश श्रम विभाग को दिया गया। आज दिनांक 7 अप्रैल 2020 को कलेक्टर की अनुसंशा के आधार पर पूर्व में भेजे गए श्रमिकों को द्वितीय किश्त के रूप में कुल 1488 श्रमिकों को राशि 437000/-  रूपये की राशि जारी किया गया। इस प्रकार अब तक कुल 10,94,600/- सहयोग राशि प्रदाय किया जा चुका है। तद संबंध में विभिन्न श्रमिकों द्वारा जिला प्रशासन एवं दान दाताओं का आभार व्यक्त किया जा रहा है। साथ ही श्रमिकों को उनके दैनिक जीवन यापन हेतु इन परिस्थितियों में जिला प्रशा
सन द्वारा जारी की गई राशि से विशेष सहयोग मिला।
समा.क्र. 31

 


कोरबा  कलेक्टरश्रीमती किरण कौशल  के परिजनों ने किया फोन, निवास पर पहुंची ‘हेल्प आन द व्हील्स‘

कोरबा कलेक्टरश्रीमती किरण कौशल के परिजनों ने किया फोन, निवास पर पहुंची ‘हेल्प आन द व्हील्स‘

07-Apr-2020

TNIS

कोरोना प्रभावितों के लिए भेजे गये राशन के 25 किट, आमजनों से भी सहायता की अपील 
कलेक्टर की पहल का कलेक्टर निवास से शुभारंभ

कोरबा 7 अपे्रल 2020/कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल द्वारा कोरोना प्रभावितों की मदद के लिए शुरू की गई हेल्प आन द व्हील्स वाहन का पहला उपयोग स्वयं कलेक्टर के परिजनों ने किया। आज कलेक्टर के पिता श्री एस.पीे.कौशल ने फोन कर वाहन को अपने घर बुलाया और अपने सभी परिजनों की उपस्थिति में कोरोना प्रभावितों के लिए राशन के 25 किट भेजे। इस दौरान कलेक्टर श्रीमती कौशल भी मौजूद रहीं। इन किटोेें में पांच किलो चावल, आधा किलो दाल, हल्दी, मिर्ची एवं धनिया के छोटे मसाला पैकेट, एक किलो आलू और हाथ धोने का एक साबुन शामिल था। कलेक्टर के सभी परिजनों ने आमजनों से भी इसी तरह कोरोना प्रभावितों के लिए आगे आकर सहायता करने की अपील की है।
उल्लेखनीय है कि आज से कलेक्टर श्रीमती कौशल की पहल पर कोरबा जिले में हेल्प आन द व्हील्स सुविधा शुरू हो गई है। जिसके तहत कोरोना प्रभावित सभी जरूरतमंदों की सहायता करने के इच्छुक लोगों के घरों तक एक फोन करने पर हेल्प आन द व्हील्स गाड़ी तत्काल पहुंचेगी। दान दाता अपनी सहायता सामाग्री इस गाड़ी के प्रभारी को सौंप सकेगा। हेल्प आन द व्हील्स के माध्यम से मिली सहायता सामाग्री, राशन आदि को कोरोना प्रभावित जरूरतमंद लोगों तक प्रशासन द्वारा पहुंचा दिया जायेगा। हेल्प आन द व्हील्स को अपने घर बुलाने के लिए अपर कलेक्टर श्री संजय अग्रवाल से दूरभाष क्रमांक 9425257057, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एस जयवर्धन के मोबाईल नंबर 8297948681, नगर निगम आयुक्त श्री राहूल देव से दूरभाष क्रमांक 9560932435, अपर आयुक्त श्री अशोक शर्मा से मोबाईल नंबर 9425224112 और प्रभारी अधिकारी श्री पी.आर.मिश्रा से दूरभाष क्रमांक 9827875999 पर संपर्क किया जा सकता है। लोग कोरोना से संबंधित जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष में भी दूरभाष क्रमांक 07759-228548 पर फोन कर हेल्प आन द व्हील्स के लिए सूचना दे सकते हैं।
      कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने इस बारे में बताया कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए किये गये लॅाक डाउन से प्रभावित लोगों की मदद करने के लिए जिला प्रशासन को कई स्वयंसेवी संस्थाओं, सामाजिक संगठनों, औद्योगिक घरानों के साथ-साथ अन्य जिला वासियों से भी लगातार सहयोग मिल रहा है। लॅाक डाउन के कारण लोग अपने घरों पर रहकर लोग बेसहारा, गरीब, बुजुर्गों और अन्य जगहों से आये प्रवासी मजदूरों जैसे जरूरतमंदों की चिन्ता कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ऐसे लोग जो जरूरतमंदों की सहायता करना चाहते हैं परंतु लॅाक डाउन की पाबंदियों के कारण अपने घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं, एक फोन करने से उन सभी के घरों तक जिला प्रशासन द्वारा हेल्प आन द व्हील्स गाड़ी पहुंचाई जायेगी। यह गाड़ी जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के आवासीय परिसरों, कालोनियों, प्रतिष्ठानों और गांवों तक पहुंचकर दान दाताओं के घरों से सहायता सामाग्री इकट्ठी करेगी। कलेक्टर श्रीमती कौशल ने ऐसे इच्छुक लोगों से सहायता सामाग्री के रूप में राशन किट बनाकर रखने की अपील की है। उन्होंने पांच किलो चावल, आधा किलो दाल, हल्दी, मिर्ची एवं धनिया के छोटे मसाला पैकेट, एक किलो आलू और हाथ धोने के लिए एक साबुन इस राशन किट में रखने की अपील की है।

 

 


कोरबा में निजामुद्दीन के मरकज में शामिल हुए बीस लोग आइसोलेशन में

कोरबा में निजामुद्दीन के मरकज में शामिल हुए बीस लोग आइसोलेशन में

01-Apr-2020

वरा के सीटीआई हास्टल और कोरबा के रसियन हास्टल में किया गया क्वारेंटाईन
राताखार की मस्जिद में 15 मार्च से रूके थे तबलीगी जमात के लोग

कोरबा 01 अपे्रल 2020/ दिल्ली की निजामुद्दीन में हुए मुस्लिम धर्मावलंबियों के मरकज में शामिल हुए 20 लोगों को जिला प्रशासन ने कोरबा में टेªस कर लिया है। इनमें से पंद्रह लोग राताखार की अंजुमन इस्लाहुल मुस्लमीन मस्जिद में रूके हुए थे जबकि पांच लोगों को कोरबा शहर में अलग-अलग जगहों से चिन्हांकित किया गया है। मस्जिद में रूके हुए सभी 15 लोग दिल्ली या उसके आसपास के क्षेत्रों के हैं जबकि अन्य पांच लोग मरकज में शामिल होने कोरबा से निजामुद्दीन गये थे। कोरोना वायरस के संक्रमण और उसके फैलाव की आशंका को लेकर इन सभी लोगों को आइसोलेट कर लिया गया है। जिला प्रशासन ने दिल्ली या उसके आसपास के सभी 15 लोगों को गेवरा के सीआईटी हास्टल शक्तिनगर में आइसोलेशन में रखा है वहीं कोरबा निवासी पांच लोगों को रसियन हास्टल में बने क्वारैंटाईन सेंटर में रखा गया है। मरकज में शामिल हुए तबलीगी जमात के इन सभी 20 लोगों के स्वास्थ्य पर विशेष नजर रखी जा रही है। इन्हें सावधानी स्वरूप सेनेटाईजर और मास्क आदि भी जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध करा दिये गये हैं। साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने, लाक डाउन के दौरान निर्धारित जगहों से बाहर नहीं निकलने और शासन द्वारा समय-समय पर जारी किये गये दिशा निर्देशों की पूरी जानकारी भी इन्हें दी गई है। इन सभी लोगों को यह भी हिदायत दी गई है कि वे आईसोलेशन की अवधि में पूरी तरह से अलग रहें। रहने की निर्धारित जगहों से बाहर न निकलें, भीड-भाड़ वाले इलाकों में न जायें। इसके साथ ही सर्दी, खांसी, बुखार या श्वास लेने में तकलीफ जेैसी कोई भी परेशानी होने पर तत्काल शासन प्रशासन के प्रतिनिधियों को सूचित करें।
      जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि अभी सभी लोग स्वस्थ्य हैं। किसी को भी कोरोना के प्रारंभिक लक्षणों संबंधी कोई तकलीफ नहीं है। सावधानी बरतते हुए गहन अवलोकन में इन लोगों को आइसोलेशन में रखा गया है। मेडिकल टीम द्वारा जांच लगातार की जा रही है। किसी भी प्रकार के कोरोना से संबंधित प्रारंभिक लक्षण दिखाई देने पर इनके सेम्पल जांच के लिए एम्स भेजे जायेंगे।
      कोरबा में आईसोलेट हुए मरकज में शामिल होने वाले इन लोगों में मुस्तफा बाग दिल्ली के छः, नेहरू बिहार दिल्ली के दो, गाजियाबाद के तीन और सुंदरनगरी दिल्ली, नागलोई दिल्ली, पुरानी दिल्ली तथा बेगुसराय बिहार का एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। आईसोलेट हुए इन लोगों में से एक ने बताया कि वे 12 मार्च को रात 10 बजे से 13 मार्च को दोपहर दो बजे तक निजामुद्दीन में हुई तबलीगी जमात के मरकज में शामिल हुए थे। उन्होंने यह भी बताया कि मुस्लिम धर्म की मानव कल्याण से जुड़ी बातों और सीखों के प्रचार-प्रसार के लिए वे लोग कोरबा आये हैं। यह सभी लोग दिल्ली से नागपुर, बिलासपुर होते हुए 15 मार्च को कोरबा पहुंचें हैं और तभी से राताखार की मस्जिद में रूके थे।

TNIS

 


सामाजिक संस्था आवाम ए हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी ने लॉक डाउन के चलते अनाज सब्जियां दाल एवं जरूरत की समाग्री मुहय्या करवायी

सामाजिक संस्था आवाम ए हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी ने लॉक डाउन के चलते अनाज सब्जियां दाल एवं जरूरत की समाग्री मुहय्या करवायी

29-Mar-2020

सामाजिक संस्था आवाम ए हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी ने आज पुनः लॉक डाउन के चलते रामनगर से लगे दो मोहल्लों गोकुल नगर एवं कृष्णा नगर के मजदूर वर्ग एवं झुग्गी झोपड़ी में बसर करने वाले लोगो कोे अनाज सब्जियां दाल एवं जरूरत की समाग्री मुहय्या करवायी।संस्था को ऐसे जरूरत मंदो की जानकारी रामनगर क्षेत्र के चौकी प्रभारी एवं संस्था के ऐमरजेन्सी नंबर के माध्यम से हुई,तत्पश्चात संस्थापक मोहम्मद सज्जाद खान अपनी टीम के साथ पहुचकर लोगो को जरूरत की समाग्री दी।इस कार्य में वसीम अकरम,फराज खान, राशिद बिलाल भी उपस्थित थे।

उपरोक्त जानकारी मों सज्जाद खांन द्वारा दी गई


कोरबा के कोरोना रिलिफ फण्ड में एक ही दिन में जमा हुये 2.26 लाख रूपये

कोरबा के कोरोना रिलिफ फण्ड में एक ही दिन में जमा हुये 2.26 लाख रूपये

27-Mar-2020
सांसद श्रीमती महंत ने 51 हजार, पूर्व महापौर ने एक लाख एक रूपये की दी सहायता (TNIS)
 
कलेक्टर-एसपी ने जमा कराये 25-25 हजार रूप
कोरोना प्रभावितों की मदद के लिये बना रिलिफ फण्ड, जन सामान्य भी दे सकते हैं योगदान
कोरबा 27 मार्च 2020/ कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित लोगों की मदद के लिये जिला स्तर पर बनाये गये कोविड-19 रिलिफ फण्ड कोरबा में एक ही दिन में दो लाख 26 हजार रूपये जमा हो गये हैं। सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने आज 51 हजार रूपये इस फण्ड में जमा कराये हैं। पूर्व महापौर श्रीमती रेणु अग्रवाल ने एक लाख एक हजार रूपये की सहायता कोरोना प्रभावितों की मदद के लिये दी है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौषल और श्री अभिषेक मीणा ने 25-25 हजार रूपये इस रिलिफ फण्ड मंे आज जमा कराये। थोक सब्जी विक्रता संघ ने स्व प्रेरणा से आज कोरोना वायरस प्रभावितों की सहायता के लिये 25 हजार रूपये की राषि इस फण्ड में जमा करायी है।
कलेक्टर श्रीमती किरण कौषल ने जिलावासियों, स्वयंसेवी संस्थाओं सहित सभी औद्योगिक प्रतिष्ठानों और आम नागरिकों से भी कोरबा जिले में कोरोना प्रभावित लोगों की मदद के लिये इस रिलिफ फण्ड में अधिक से अधिक राषि दान स्वरूप जमा कराने की अपील की है। कलेक्टर श्रीमती कौषल ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस के कारण हुये लाॅकडाउन से गरीबों, बेसहारा और निराश्रित लोगों, भिक्षुओं सहित बड़ी संख्या में जन-जीवन प्रभावित हुआ है। काम बंद हो जाने और अपने घरों तक नहीं पहुॅंच पाने के कारण भी कई प्रवासी कामगार जिले में फंस गये हैं। ऐसे सभी लोगों तक भोजन-पानी, दवायें आदि आवष्यकतानुसार पहुॅंचाने के लिये यह फण्ड अत्यंत लाभदायक सिद्ध होगा। उन्होंने आमजनों से इस फण्ड में हाथ खोलकर राषि दान करने की अपील की है। 
91901-00701-51794 बैंक खाते में जमा की जा सकती है दान राषि:-
कोरोना प्रभावितों की मदद के लिये एक्सिस बैंक की पावर हाउस रोड स्थित शाखा में विषेष खाता कोविड-19 रिलिफ फण्ड कोरबा के नाम से खोला गया है। जिसका खाता क्रमांक 91901-00701-51794 है। शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों के साथ-साथ आमजन भी अपनी इच्छा के अनुसार इस बैंक खाते में कोरोना पीड़ितों की सहायता के लिये राषि जमा करा सकते है।
 
 
 

रायपुर : कोरोना महामारी: आम जनता की सहायता के लिए राजधानी रायपुर सहित सभी जिलों में कंट्रोल रुम स्थापित

रायपुर : कोरोना महामारी: आम जनता की सहायता के लिए राजधानी रायपुर सहित सभी जिलों में कंट्रोल रुम स्थापित

26-Mar-2020

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर राज्य शासन द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के उपायों के तहत राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के सभी 28 जिलों में कंट्रोल रुम स्थापित किए गए हैं। इनके हेल्प लाइन नंबर आम जनता के लिए जारी किए गये हैं। ये सभी कंट्रोल रुम सातों दिन 24 घंटे काम करेंगे। आम जनता को किसी प्रकार की दिक्कत होने पर इन कंट्रोल रुमों के नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। 

ज्ञातव्य है कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए पूरे देश में 21 दिनों का लाॅक डाउन लागू किया गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने सभी नागरिकों से लाॅक डाउन की बंदिशों का कड़ाई से पालन करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि अपने और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए घरों पर ही रहें। सिर्फ अत्यावश्यक कार्यों के लिए ही बाहर निकले। जरुरत होने पर कंट्रोल रुम के फोन नंबर पर संपर्क करें। कोरोना संक्रमण के लिये राज्य स्तर पर हेल्प लाइन नंबर 104 है। इसके साथ ही विभिन्न जिलों के कंट्रोल रुम के हेल्प लाइन नंबर इस प्रकार हैं-

 रायपुर - 100, 07714287199, 9479191099, पुलिस कंट्रोल रुम-101, फायर सर्विस- 112

 कोण्डागांव - 07786242180

 जशपुर - 07763223281

 कबीरधाम - 07741-232609

 कंाकेर - 07868-224610, 09165050224

 दंतेवाड़ा - 07856-252412, 9479150879

 कोरिया - 07836232330, 9406045758

 कोरबा - 07759-228548

 मुंगेली - 09111420188

 बालोद - 07749223950, 07828200007

 बिलासपुर - 07752-251000

 बीजापुर - 07853220023

 धमतरी - 07722-238479, 07722-237779

 बेमेतरा - 07824222150

 दुर्ग - 0788-2210773

 जांजगीर - 07817222123

 नारायणपुर - 07781252245, 07587399311

 सूरजपुर - 09111033446, 09301250252

 बलौदाबाजार- भाटापारा - 07727-223697

 सरगुजा - 093402-67340, 089899-36378

 गरियाबंद - 07706-241288, 062671-88110

 सुकमा - 07864284012

 राजनांदगांव - 7000210932

 बस्तर - 07782-223122

 रायगढ़ - 07762-223750

 गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही-7751221006

 बलरामपुर-रामानुजगंज-07831-273012, 07831-273177

 महासमुंद-6267770

TNIS


करोना वाईरस के चलते मीडिया कवरेज में सावधानी रखने आयुक्त जनसंपर्क ने लिखा पत्र

करोना वाईरस के चलते मीडिया कवरेज में सावधानी रखने आयुक्त जनसंपर्क ने लिखा पत्र

26-Mar-2020

 

जनसंपर्क संचालनालय 
छत्तीसगढ़ , रायपुर


समस्त पत्रकार 
समाचार पत्र/ न्यूज़ चैनल 


विषय - कोरोना वायरस महामारी के कव्हरेज के दौरान सावधानी रखने बाबत 


जैसा की आप सब जानते ही है कि कोरोना वायरस महामारी के बारे में आम जनता तक सही सूचना पहुचाने और उन्हें जागरूक करने में  सभी समाचार माध्यमों के प्रतिनिधियों की महत्ती भूमिका है । ऐसे समय जब पूरा देश लॉक डाउन में है आप दिन रात समाज और देश के प्रति अपने दायित्व को निभाने के लिये दुरूह परिस्थितियों में भी  परिश्रम कर रहे है । 

माननीय मुख्यमंत्री जी ने इस बात के लिए चिंता जताई  है कि कई बार पत्रकार अपने कर्तव्य की पूर्ति करने के प्रक्रम में अपनी सुरक्षा के प्रति लापरवाह हो जाते है और इसका विपरीत प्रभाव उनके स्वास्थ्य पर पड़ सकता है । कोरोना वायरस महामारी के कवरेज के दौरान विश्व में कई पत्रकार इस वायरस की चपेट में आ चुके है । मेरा आप सभी पत्रकारगणों से आग्रह है कि कोरोना वायरस महामारी के कवरेज के दौरान पूरी सावधानी बरतें , सुरक्षा प्रोटोकॉल का पूरा पालन करे और प्रेस कॉन्फ्रेंस आदि से बचे । हर हाल में पत्रकारों को भी सोशल डिस्टेंसिन्ग का पालन करना जरूरी है । माननीय मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया है कि वह यह सुनिश्चित करे कि पत्रकारों को लॉक डाउन के दौरान समाचार संकलन में किसी तरह की कठिनाई न आये ।

आप सभी के सहयोग के लिए आभार सहित 


               तारन प्रकाश सिन्हा
               आयुक्त , जनसंपर्क

 

 


आयुक्त जनसम्पर्क श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने  जिला एवं पुलिस प्रशासन से मीडिया कर्मियों को  सहयोग करने पत्र लिखा !

आयुक्त जनसम्पर्क श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने जिला एवं पुलिस प्रशासन से मीडिया कर्मियों को सहयोग करने पत्र लिखा !

24-Mar-2020

आयुक्त जनसम्पर्क श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने  जिला एवं पुलिस प्रशासन से मीडिया कर्मियों को  सहयोग करने पत्र लिखा !
 रायपुर : छग शासन  जनसंपर्क विभाग के आयुक्त एवं सह सचिव मुख्यमंत्री श्री तारण प्रकाश सिन्हा  ने समस्त जिले के कलेक्टर एव पुलिस अधीक्षक के।नाम आज एक पत्र जारी करते हुए संक्रमण रोग कोरोना वायरस के चलते प्रदेश के पत्रकारों को समाचार कव्हरेज करने में हो रही कठिनाइयों को दूर करते हुए कहा है कि प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया की सामाजिक भूमिका चौथे स्तंभ की होती है वे शासन एव समाज मे सेतु का कार्य करते है वर्तमान परिदृश्य में कोरोना संक्रमण से प्रदेश जूझ रहा है ऐसे समय मे नवीन ताज़ा समाचारों के लिए उन्हें अनेक शहरी स्थलों में अवगमन करना पड़ रहा है जिसके।चलते  सकरात्मक तथ्य परक समाचारों के संकलन में बाधा हो रही है  श्री तारण प्रकाश सिन्हा आयुक्त जन संपर्क विभाग ने लिखित पत्र में पत्रकारों के समाचार संकलन में निर्बाध निरंतरता सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है तथा यह भी  उल्लेख किया है कि यदि जिले में कोई प्रतिबन्ध लगाए जा रहे हो तो उन्हें अपने सामाजिक नैतिक दायित्व निर्वहन में छूट प्रदान किया जाए इस संदर्भ में उन्होंने इसकी सूचना समस्त विभागों को प्रेषित कर दी है

 


रायपुर : कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का प्रदेश की जनता के नाम संदेश: राज्य सरकार पूरी तरह मुस्तैद: जनता से सहयोग की अपेक्षा

रायपुर : कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का प्रदेश की जनता के नाम संदेश: राज्य सरकार पूरी तरह मुस्तैद: जनता से सहयोग की अपेक्षा

19-Mar-2020

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना वायरस से बचाव के संबंध में आज प्रदेश की जनता को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा -प्रिय भाइयों और बहनों, जय जोहार, जैसा की आप जानते ही हैं कि पूरा विश्व इस समय कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा हैं। छत्तीसगढ़ में भी आज कोरोना वायरस का एक केस पाजीटिव पाया गया हैं । जिसका समुचित उपचार एम्स रायपुर में चल रहा हैं। पीड़ित के परिवार के सभी सदस्यों और उनके सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों की पहचान कर उनको भी आइसोलेशन में रखा गया हैं।

राज्य में कोरोनो वायरस से उपचार की माकूल व्यवस्था हैं और इससे डरने या चिंतित होने की कोई जरूरत नहीं हैं, लेकिन अब हमें ज्यादा सतर्क रहना होगा और लापरवाही से बचना होगा । एम्स में योग्य चिकित्सक, पीड़ित का उपचार कर रहे हैं । देश में अभी तक अनेक कोरोना पीड़ित स्वस्थ हो चुके है। राज्य में विदेश यात्रा करके लौटे सभी नागरिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आइसोलेशन में रखने की प्रक्रिया जारी हैं। मैं फिर से अपनी बात दोहराता हूॅ कि आपकी जानकारी में अगर ऐसा कोई व्यक्ति हैं जो विदेश यात्रा से लौटा हैं और उसने स्वास्थ्य विभाग को रिपोर्ट नहीं किया हैं तो इसकी सूचना तत्काल टोल फ्री नम्बर 104 पर दे ।  

लोगों को यह समझना होगा कि जानकारी छुपाने से कोरोना वायरस से बचाव नहीं हो सकेगा अपितु जानकारी देने और सही उपचार लेने से ही बचाव संभव हैं। बच्चों और बुर्जुगों को विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता हैं । मेरा राज्य के नागरिकों से आग्रह हैं कि बहुत आवश्यक होने पर ही अपने घर से बाहर निकले । लोगों की सावधानी और सुरक्षा के लिए मैंने स्वयं अपने सभी कार्यक्रम और समारोह रदद् कर दिये हैं । राज्य में स्कूल, कालेज, सिनेमा हॉल, मॉल और भीड़भाड़ वाले स्थानों पर लोगों के इकट्ठा होने पर रोक लगा दी हैं।

मैं बार बार आपको यह आश्वासन देता हूॅ कि आपको चिंतित होने की कोई आवश्यकता नहीं हैं । मैं आपका मुख्यमंत्री, राज्य सरकार और उसका पूरा महकमा पूरी तरह से मुस्तैद हैं और हमने इस वायरस से बचाव और उपचार की पूरी तैयारियां कर रखी हैं आवश्यकता हैं तो बस आपके सहयोग की । हमने राज्य में कोरोना वायरस से बचाव और उपचार की सही जानकारी देने के लिए एक इमरजेंसी कम्यूनिकेशन टीम ECTबनाई है जो आपको सतत रूप से सही सूचना देने का काम करेगी और भ्रामक खबरों के प्रचार को रोकेगी ।

मैं कोरोना उपचार के लिए लगातार काम कर रहे स्वास्थ्य विभाग के सभी चिकित्सकों और चिकित्सीय स्टॉफ का तहेदिल से आभारी हूँ । पूरा राज्य उनके समर्पण भाव की सराहना करता हैं । मैंने यह निर्णय लिया हैं कि कोरोना के उपचार में लगे स्वास्थ्य विभाग के अमले को विशेष भत्ता अतिरिक्त प्रदान किया जायेगा ।

राज्य सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए राजधानी रायपुर सहित सभी नगर निगम क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी हैं । इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को एक स्थान पर ज्यादा संख्या में एकत्रित होने से रोकना हैं जिससे कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके । मुझे पूरा विश्वास हैं कि छत्तीसगढ़ की जनता इस संकट की घड़ी में राज्य सरकार का और एक दूसरे का भी सहयोग करेगी ताकि हम इस कोराना वायरस के फैलाव को रोक सके। आपके सहयोग की अपेक्षा हैं ।


कोरोना इफेक्ट : अंतर्राज्यीय बस परिवहन सेवा तत्काल प्रभाव से स्थगित

कोरोना इफेक्ट : अंतर्राज्यीय बस परिवहन सेवा तत्काल प्रभाव से स्थगित

19-Mar-2020

रायपुर : कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण का प्रभाव छत्तीसगढ़ राज्य के कई सीमावर्ती राज्य में प्रकाश में आया है। इसे देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य में अन्य राज्यों से आने तथा जाने वाली बसों के परिवहन को तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया गया है। इसके साथ ही अखिल भारतीय पर्यटक परमिट वाली समस्त यात्री वाहनों का संचालन भी आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया गया है। परिवहन आयुक्त सह अध्यक्ष राज्य परिवहन प्राधिकार छत्तीसगढ़ द्वारा सभी क्षेत्रीय और जिला परिवहन अधिकारियों को आदेश जारी कर इसका पालन कर सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। 

 


 रायपुर: नगरीय क्षेत्रों के सभी मॉल, चौपाटी और फास्ट फूड वाले अस्थायी ठेले तत्काल प्रभाव से बंद करने के निर्देश

रायपुर: नगरीय क्षेत्रों के सभी मॉल, चौपाटी और फास्ट फूड वाले अस्थायी ठेले तत्काल प्रभाव से बंद करने के निर्देश

19-Mar-2020

नगरीय प्रशासन विभाग ने जिला कलेक्टरों और नगरीय निकायों को जारी किया आदेश

रायपुर : नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए राज्य शासन द्वारा पूर्व में जारी आदेशों के अलावा यह भी निर्णय लिया गया है कि नगरीय क्षेत्रों में स्थित सभी मॉल, चौपाटी, बाजार एवं अन्य स्थलों जहां चाट-पकौड़ी, फास्ट फूड तथा अन्य खाद्य वस्तु के विक्रय के लिए अस्थायी ठेले आदि लगाये जाते हैं, उन्हें आगामी आदेश तक बंद रखा जाए।

नगरीय क्षेत्रों में स्थित छात्रावासों और छात्रों को किराये पर उपलब्ध कराए जाने वाले पी.जी. को भी खाली कराया जाए अथवा उनमें निवास करने वाले छात्र-छात्राओं के बाहर आने जाने वाले को हतोत्साहित किया जाए। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों, नगर पालिक निगम के आयुक्त और नगर पालिका एवं नगर पंचायतों के मुख्य नगर पालिक अधिकारियों को इस आशय का आदेश जारी करते हुए इसका कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।


सूरजपुर : दशगात्र कार्यक्रम में हुए शामिल, परिवार से मिलकर हुए भावुक

सूरजपुर : दशगात्र कार्यक्रम में हुए शामिल, परिवार से मिलकर हुए भावुक

19-Mar-2020

TNIS (THE NEWS INDIA)

सूरजपुर 18 मार्च : आज मुख्यमंत्री श्री भुपेष बघेल हेलिकाप्टर के माध्यम से पार्वतीपुर पहुॅचकर खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत के पिता स्व. श्री दखलुराम भगत के दषगात्र कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री बघेल ने खाद्य मंत्री श्री भगत के पिता के छायाचित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रंद्धाजलि अर्पित किया और मंत्री श्री भगत की माताजी श्रीमती सुबो बाई के चरण स्पर्ष कर कहा कि इस दुःखद घड़ी में उनका बड़ा बेटा हमेषा उनके साथ है और रहेगा, मुलाकात के इस पल में उपस्थित मंत्री श्री भगत, विधानसभा अध्यक्ष डाॅ चरणदास महंत, मंत्री श्री रविन्द्र चैबे, मंत्री डाॅ षिव कुमार डहरिया सहित परिवार के सदस्यों की आॅखे नम हो गई थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री श्री बघेल के साथ सभी ने इस शोक की घड़ी में मृत आत्मा की शांति के लिए ईष्वर से प्रार्थना की और मंत्री श्री भगत व परिवारजनों को धैर्य रखने के लिए कहते हुए सभी को सांत्वना दी। विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने मंत्री श्री भगत के पिता जी को श्रंद्धाजलि अर्पित करते हुए इस शोक की घड़ी में परिवार के सबसे बड़े सदस्य होने के नाते सभी को धैर्य रखने को कहा और कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चैबे, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ शिव कुमार डहरिया ने भी मंत्री श्री भगत व परिजनों से मुलाकात कर शोक संतप्त परिवार को ढांढस बंधाते हुए स्व0 श्री दखलूराम भगत को श्रद्धांजलि अर्पीत किया।

ज्ञातव्य है कि छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत के पिता जी श्री दखलूराम भगत का आकास्मिक निधन विगत 9 मार्च 2020 को रायपुर के एक निजी अस्पताल में हो गया था। इसके बाद मंत्री श्री भगत ने परिवार सहित अपने गृहग्राम पार्वतीपुर में सामाजिक रिति-रिवाजों का निर्वहन कर रहें हैं। मंत्री श्री भगत के पिता जी का दशगात्र, चन्दनपान एवं ब्रम्हभोज कार्यक्रम यहां पार्वतीपुर में था। इस दौरान सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं विधायक प्रेमनगर श्री खेलसाय सिंह, सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष द्वय श्री वृहस्पत सिंह, श्री गुलाब कमरों, विधायक लुण्ड्रा डाॅ प्रीतम राम, विधायक भटगांव श्री पारसनाथ राजवाड़े, विधायक रायपुर श्री विकास उपाध्याय, विधायक भिलाई श्री देवेंद्र यादव, विधायक बैकुंठपुर श्रीमती अम्बिका सिंहदेव, विधायक सामरी श्री चिंतामणी महाराज, विधायक जांजगीर चांपा श्री नारायण चंदेल, विधायक पालीतानाखार श्री मोहित राम, विधायक खल्लारी श्री द्वारिकाधीष यादव, विधायक जषपुर श्री विनय कुमार भगत, विधायक पत्थलगांव श्री रामपुकार सिंह, विधायक कुनकुरी यु.डी.मिंज, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव श्री टामन सिंह सोनवानी, पूर्व विधायक मरवाही श्री अमीत जोगी, पूर्व मंत्री श्री भैयालाल राजवाड़े, महापौर अम्बिकापुर श्री अजय तिर्की, कमिश्नर सरगुजा श्री इमिल लकड़ा, सरगुजा रेंज के महानिरीक्षक श्री रतनलालडांगी, कलेक्टर श्री दीपक सोनी, वनमण्डलाधिकारी श्री जे.आर.भगत, पुलिस अधीक्षक श्री राजेष कुकरेजा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अष्वनी देवांगन, अपर कलेक्टर श्री एस.एन.मोटवानी सहित अन्य जनप्रतिनिधि,वरिष्ठ अधिकारी तथा गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।


छत्तीसगढ़ सरकार ने नक्सली हिंसा में शहीद जवानों के परिजनों को मिलने वाली एक्सग्रेशिया राशि को 3 लाख से बढ़ाकर किया 20 लाख रूपए

छत्तीसगढ़ सरकार ने नक्सली हिंसा में शहीद जवानों के परिजनों को मिलने वाली एक्सग्रेशिया राशि को 3 लाख से बढ़ाकर किया 20 लाख रूपए

18-Mar-2020

रायपुर : छत्तीसगढ़ सरकार ने नक्सल हिंसा में शहीद जवानों के परिजनों को दी जाने वाली एक्सग्रेशिया राशि को बढ़ाकर 20 लाख रूपए कर दिया है। पहले शहीद जवानों के परिजनों को 3 लाख रूपए एक्सग्रेशिया राशि (अनुग्रह अनुदान) दिया जाता था।

राज्य सरकार के गृह विभाग द्वारा आज इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है। राज्य शासन द्वारा पुलिस मुख्यालय के प्रस्ताव पर भारत सरकार की नवीन एसआरई गाईड लाइन के अनुसार नक्सली हिंसा में शहीद जवानों के परिजनों को दी जाने वाली एक्सग्रेशिया राशि में यह वृद्धि की गई है।


रायपुर : घर बैठे कर सकते हैं वेबपोर्टल पर जन्म-मृत्यु का ऑनलाईन पंजीयन : पंजीयन की जानकारी मिलेगी ई-मेल तथा मोबाइल पर

रायपुर : घर बैठे कर सकते हैं वेबपोर्टल पर जन्म-मृत्यु का ऑनलाईन पंजीयन : पंजीयन की जानकारी मिलेगी ई-मेल तथा मोबाइल पर

18-Mar-2020

रायपुर : भारत के महा रजिस्टार कार्यालय नई दिल्ली के वेबपोर्टल ( www.crsorgi.gov.in) के माध्यम से जन्म-मृत्यु और मृत जन्म का ऑनलाईन पंजीयन जनसाधारण अपने घर बैठे कर सकते हैं। पंजीयन के बारे में सूचनाएं ई-मेल तथा मोबाइल पर प्राप्त किया जा सकता है।

आर्थिक एवं सांख्यिकी संचालनालय नवा रायपुर से प्राप्त जानकारी के अनुसार वेबपोर्टल में उपयोगकर्ताओं को राज्य की क्षेत्रीय भाषा अथवा अंग्रेजी में रिपोर्टिंग फार्म भरने की सुविधा दी गई है। जनसाधारण को घर बैठे जन्म एवं मृत्यु पंजीयन करने के पश्चात पंजीयन की जानकारी मोबाइल, ई-मेल पर प्रमाण पत्र प्राप्त करने की सुविधा दी गई है। प्रमाण पत्र पर मुद्रित क्यूआरकोड से प्रमाण पत्र की वैधता की जांच संबंधित एजेंसियों द्वारा तुरंत किया जा सकता है। वेबपोर्टल पर 21 दिनों के भीतर सूचना दिए जाने पर निःशुल्क पंजीयन तथा प्रमाण पत्र की प्रथम प्रति निःशुल्क मिलेगी। महा रजिस्टार कार्यालय द्वारा लोगों की सुविधा के लिए कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) के माध्यम से जन्म एवं मृत्यु का प्रावधान किया गया है।

सीएससी के माध्यम से घर या अन्य स्थानों रास्ते में, होटल, धर्मशाला आदि होने वाली घटनाओं की सूचना 21 दिनों के भीतर दी जा सकती है, परंतु सीएससी के माध्यम से संस्थागत घटनाओं तथा विलंबित घटनाओं की सूचना नही दी जा सकेगी। भरे गए पंजीयन फार्म का प्रिंटआउट लेकर सीएससी संबंधित रजिस्टार (जन्म-मृत्यु) को अपेक्षित दस्तावेजों के साथ व्यक्तिगत अथवा दिए गए पते पर डाक द्वारा भेजना होगा ताकि रजिस्टार (जन्म-मृत्यु) के द्वारा दस्तावेजों का मिलान, परीक्षण कर पंजीयन की कार्यवाही की जा सकेगी।

गौरतलब है कि भारत के महा रजिस्टार कार्यालय के मार्गदर्शन में मुख्य रजिस्टार जन्म-मृत्यु कार्यालय के निर्देशानुसार जन्म, मृत्यु और मृत जन्म का ऑनलाईन पंजीयन जिला अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रांे तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में शुरू की गई है। जनवरी 2020 से  नगरीय निकायों में भी प्रारंभ किया गया है। यदि जन्म-मृत्यु घर में हुई हो तो वेबसाइट ( www.crsorgi.gov.in)पर लॉगिन पैनल के ठीक नीचे दिए गए जनरल पब्लिक साइन अप लिंक के माध्यम से 21 दिनों के भीतर घर के किसी सदस्य द्वारा ऑनलाइन रिपोर्ट किया जा सकता है। यदि जन्म, मृत्यु किसी निजी अस्पताल में (संस्थागत) हुई है, तो अस्पताल की यह जिम्मेदारी है कि वह उस घटना की सूचना उस क्षेत्र के रजिस्टार (जन्म-मृत्यु) को 21 दिनों के भीतर ऑनलाइन या मैन्युअल रूप से दे। 21 दिनों के बाद सभी विलंबित घटनाओं को सीधे रजिस्टार (जन्म-मृत्यु) के कार्यालय को सूचित किया जाता है।

जनरल पब्लिक साइन अप, सीएससी, निजी संस्थानों द्वारा विलंबित घटनाओं की ऑनलाइन रिपोर्टिंग के लिए कोई प्रावधान नहीं हैं। विलंबित घटनाएं राज्य सरकार के द्वारा तय किए गए शुल्क के साथ तथा सक्षम प्राधिकारी (जिला रजिस्टार, अतिरिक्त जिला रजिस्टार, कार्यपालिक मजिस्ट्रेट) के आदेश के बाद रजिस्टार (जन्म-मृत्यु) को सूचित किया जाता है। इन घटनाओं को ऑनलाइन पंजीयन करने की जिम्मेदारी संबंधित रजिस्टार की है।

 
 
 

मंत्री टी एस सिंहदेव को राजस्थान में पर्यवेक्षक की जवाबदेही

मंत्री टी एस सिंहदेव को राजस्थान में पर्यवेक्षक की जवाबदेही

17-Mar-2020

TNIS

 रायपुर : प्रदेश के स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव को कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व ने अहम जिम्मेदारी सौंपी है मंत्री टी एस सिंहदेव को राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने राजस्थान में पर्यवेक्षक की जवाबदेही दी है उनके साथ राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सूरजेवाला भी मौजूद होंगे।

 


छत्तीसगढ़ विधानसभा में विपक्ष का हंगामा,आसंदी पर कार्यसूची फाड़कर फेंका

छत्तीसगढ़ विधानसभा में विपक्ष का हंगामा,आसंदी पर कार्यसूची फाड़कर फेंका

16-Mar-2020

TNIS

रायपुर : विधानसभा सदन में अध्यक्ष की आसंदी पर कार्यसूची फाड़कर फेंके जाने के मामले में विधायक सत्यनारायण शर्मा के नेतृत्व में 20 कांग्रेसी विधायकों ने भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल और अजय चंद्राकर के विरुद्ध विशेषाधिकार हनन की कार्यवाही करने को कहा । विपक्ष के इस हरकत को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और संसदीय कार्य मंत्री रवींद्र चौबे ने विपक्ष के आचरण को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि छत्तीसगढ़ की विधानसभा के इतिहास में ऐसा पहला दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण है.


रायपुर : अभनपुर-रायपुर नेशनल हाईवे पर अनियंत्रित होकर पलटी यात्री बस, 4 घायल

रायपुर : अभनपुर-रायपुर नेशनल हाईवे पर अनियंत्रित होकर पलटी यात्री बस, 4 घायल

16-Mar-2020

अभनपुर-रायपुर नेशनल हाईवे पर स्थित ग्राम केन्द्री के पास एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पलट गई जिससे 4 लोग घायल हो गए मामले की जानकारी अनुसार आज सोमवार (16 मार्च) को मनीष ट्रेव्हल्स की लग्जरी बस क्र.सीजी 07 ई 7801 रायपुर से जगदलपुर जा रही थी वह ग्राम केन्द्री के पास पहुंचा ही था कि अनियंत्रित होकर पलट गई बस में 80 यात्रियों के सवार होने की सूचना है जिसमे से 4 यात्री घायल हो गए उन्हें एम्बुलेंस की सहायता से अभनपुर के सरकारी अस्पताल भेजा गया है. घटना दोपहर 1 बजे के करीब की बताई जा रही है 

 
 
 

रायपुर : सूचना के अधिकार नियम का उल्लंघन करने वाले जन सूचना अधिकारी पर आयोग ने एक लाख का अर्धदंड लगाया

रायपुर : सूचना के अधिकार नियम का उल्लंघन करने वाले जन सूचना अधिकारी पर आयोग ने एक लाख का अर्धदंड लगाया

14-Mar-2020

जन सूचना अधिकारी एन०सी० सिंह कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग अंबिकापुर के ऊपर राज्य सूचना आयोग द्वारा चार प्रकरणों में 25000 -25000 रुपए कुल 1,00,000 रुपए का अर्थ दंड देने का दिया आदेश

रायपुर : डी०के०सोनी अधिवक्ता एवं आरटीआई कार्यतकर्ता द्वारा सूचना के अधिकार के तहत जानकारी प्रदान करने हेतु चार अलग-अलग आवेदन दिनांक 1/2/17 प्रस्तुत कर दिनांक 1/8/2016 से आज दिनांक तक आप के कार्यालय का चेक स्टेटमेंट इंटरनेट के माध्यम से कटता है की प्रमाणित प्रतिलिपि तथा उक्त अवधि के कैश बुक की प्रमाणित प्रतिलिपि तथा कार्यालय के क्षेत्रान्तर्गत जो भी फर्नीचर खरीदा गया है उसका बिल वाउचर की प्रमाणित प्रतिलिपि तथा भुगतान के बिलों की प्रमाणित प्रतिलिपि तथा कार्यालय द्वारा जो भी बिजली के  सामान क्रय किए गए हैं उनके बिल वाउचर तथा भुगतान की जानकारी की प्रमाणित प्रतिलिपि एवं स्टेशनरी जिसमें फोटो कॉपी तथा अन्य खर्च किए गए राशि की जानकारी तथा बिल वाउचर की प्रमाणित प्रति तथा भुगतान किए गए बिलों की प्रमाणित प्रतिलिपि से संबंधित जानकारी की मांग किया गया था 

जिसमें जन सूचना अधिकारी द्वारा समयावधि में वांछित जानकारी प्राप्त ना होने पर डी०के०सोनी द्वारा चारों आवेदनों का अलग-अलग चार प्रथम अपील यह दिनांक 3/4/2017 को प्रथम अपीलीय अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया गया था जिसमें प्रथम अपीलीय अधिकारी ने दिनांक 28/4/2017 को चारों अपील प्रकरण में आदेश पारित करते हुए चाही गई जानकारी 15 दिवस के भीतर निःशुल्क प्रदान करने हेतु आदेश पारित किया गया। लेकर उक्त आदेश का पालन जन सूचना अधिकारी द्वारा नहीं करने के कारण के डी०के० सोनी के द्वारा धारा 18 के तहत राज्य सूचना आयोग में शिकायत प्रकरण क्रमांक सी/941/2017, सी/942/2017,सी/943/2017 एवं सी/948/2017 प्रस्तुत किया गया था।

उक्त चारों शिकायत प्रकरण को माननीय राज्य सूचना आयोग ने पंजीबद्ध करते हुए जन सूचना अधिकारी कार्यपालन अभियंता कार्यालय जन संसाधन संभाग क्रमांक 1 के जन सूचना अधिकारी एन०सी०सिंह को नोटिस जारी किया गया लेकिन जन सूचना अधिकारी उक्त नोटिस के बाद भी आयोग के समक्ष उपस्थित नहीं हुए और ना ही चारों शिकायत प्रकरण में जवाब प्रस्तुत किया गया जिसके कारण उक्त सभी प्रकरणों में विधिवत सुनवाई करते हुए दिनांक 10/12/2019 को शिकायत प्रकरण क्रमांक सी/941/2017, सी/942/2017,सी/943/2017 एवं सी/948/ 2017 में आदेश पारित करते हुए राज्य सूचना आयोग द्वारा श्री एन०सी०सिंह कार्यपालन अभियंता कार्यालय जल संसाधन संभाग क्रमांक 1 अंबिकापुर को सूचना के अधिकार अधिनियम की धारा 20(1) का दोषी मानते हुए तथा सूचना उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण उपरोक्त चारों प्रकरण में 25000-25000 रुपए कुल 1,00,000 रुपए का अर्थदंड अधिरोपित करने का आदेश दिया गया है। साथ ही साथ आयोग एवं वरिष्ठ अधिकारी के आदेश का पालन नहीं करने के कारण उक्त आदेश की प्रतिलिपि प्रमुख अभियंता जल संसाधन विभाग शिवनाथ भवन नवा रायपुर को भेजकर सूचना के अधिकार अधिनियम की धारा 20(2) के तहत कार्यवाही करने की भी अनुशंसा की गई है।


कोरबा : बैंक में चोरी करने घुसे चोरों ने दो सीसीटीवी व दो मॉनीटर किया चोरी, कैश सुरक्षित

कोरबा : बैंक में चोरी करने घुसे चोरों ने दो सीसीटीवी व दो मॉनीटर किया चोरी, कैश सुरक्षित

13-Mar-2020

कोरबा जिले के बालकोनगर हनुमान मंदिर के पास स्थित स्टेट बैंक की शाखा में गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात चोरों ने धावा बोल दिया चोरों के हाथ नगदी तो नहीं लगी लेकिन उन्होंने बैंक से दो सीसीटीवी व दो मॉनीटर ले उड़े बताया जा रहा है कि आज शुक्रवार (13 मार्च) की सुबह स्थानीय लोगों ने बैंक के दीवार में बड़ा सा होल देखा इसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी पुलिस ने मामले की जांच की जिसमें  दो सीसीटीवी व दो मॉनीटर चोरी होने की पुष्टि हुई जबकि  कैश व अन्य सामग्री सुरक्षित है। पुलिस अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज करके आगे की कार्रवाई कर रही है.

Breaking: स्टेट बैंक की बालकोनगर शाखा में सेंधमारी, कैश सुरक्षित, चोर ले गए सीसीटीवी व मॉनीटर


मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कोरोना के संबंध में ली आपात बैठक : केंद्र सरकार की एडवाइजरी के अनुरूप कार्रवाई करने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कोरोना के संबंध में ली आपात बैठक : केंद्र सरकार की एडवाइजरी के अनुरूप कार्रवाई करने के दिए निर्देश

13-Mar-2020

कोरोना वायरस से निपटने के लिए किए गए इंतजामों की समीक्षा की

परीक्षाओं को छोड़कर स्कूल और कॉलेजों को 31 मार्च तक बंद करने का लिया गया निर्णय

लोगों को सजग रहने और शासकीय कार्यक्रमों में भीड़-भाड़ से बचने की हिदायत

 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज देर शाम दिल्ली से लौटते ही अपने निवास कार्यालय में आपात बैठक लेकर प्रदेश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए की गई तैयारियों और इंतजामों की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को कोरोना वायरस से बचाव के लिए किए गए इंतजामों की नियमित समीक्षा और निगरानी करने के निर्देश दिए है। भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस को लेकर जारी की गई एडवाइजरी के तारतम्य में बैठक में प्रदेश में परीक्षाओं को छोड़कर सभी स्कूल और कॉलेजों को आगामी 31 मार्च तक बंद करने का निर्णय लिया गया। परीक्षाएं अपने निर्धारित समय-सारणी के अनुसार आयोजित की जाएंगी। बैठक में लोगों को सजग और जागरूक रहने तथा शासकीय कार्यक्रमों में भीड़-भाड़ से बचने की हिदायत भी दी गई। कोरोना से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एडवाइजरी का व्यापक प्रचार-प्रसार भी करने के निर्देश मुख्यमंत्री ने विभागीय अधिकारियों को दिए है।

     बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए संपूर्ण तैयारियां सुनिश्चित की गई है। राज्य सरकार द्वारा पूर्व में ही कार्यालयों में 31 मार्च तक बायोमेट्रिक उपस्थिति पर रोक लगा दी गई है। कोरोना वायरस के संबंध में केन्द्र सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी निर्देशों का लगातार नियमित रूप से सभी माध्यमों में व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियमित रूप से बुलेटिन भी जारी किया जा रहा है। विभागीय अमले द्वारा इस पर पूरी नजर रखी जा रही है और नियमित रूप से एडवाइजरी जारी कर लोगों को इससे बचाव के लिए जागरूक किया जा रहा है।  
        बैठक में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, मुख्य सचिव श्री आर. पी. मण्डल, अपर मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री गौरव द्विवेदी, प्रमुख सचिव विधि श्री एन. के. चंद्रवंशी, स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह, स्वास्थ्य विभाग के संचालक श्री नीरज बंसोड़ सहित अन्य वरिष्ठ विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।