बड़ी खबर: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से कब्जा

बड़ी खबर: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से कब्जा

19-Jan-2021

एजेंसी 

नई दिल्ली : ब्रिसबेन टेस्ट में टीम इंडिया ने कमाल कर दिखाया है. भारत ने यहां मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2-1 से अपने नाम कर ली है. इस ऐतिहासिक मैदान पर यह टीम इंडिया की पहली जीत है और यहां उसने जो करिश्मा किया है वह टेस्ट इतिहास में आने वाले कई सालों तक याद किया जाएगा. 

रोमांच से भरपूर इस मैच में पल-पल जीत का कांटा इधर-उधर फिसलता रहा लेकिन आखिरकार टीम इंडिया की युवा ब्रिगेड ने भारत की झोली में जीत डाल दी. मैच की चौथी पारी में भारत को 328 रन की दरकार थी. शुबमन गिल (91), चेतेश्वर पुजारा (56) और रिषभ पंत (85*) की बेहतरीन फिफ्टियों की बदौलत भारत ने यहां इतिहास रच दिया. इससे पहले इस मैदान पर कभी भी 250 रन का टारगेट चेज नहीं हुआ था. लेकिन अपने स्टार खिलाड़ियों के बिना खेल रही टीम इंडिया ने यहां यह भी करके दिखाया.


AUSvIND : भारत की सीरीज में वापसी, 8 विकेट से जीता बॉक्सिंग डे टेस्ट

AUSvIND : भारत की सीरीज में वापसी, 8 विकेट से जीता बॉक्सिंग डे टेस्ट

29-Dec-2020

एजेंसी 

नई दिल्ली : भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए चार टेस्ट मैचों की बॉर्डर-गावस्कर सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच आठ विकेट से जीतकर सीरीज में 1-1 की बराबरी हासिल कर ली है। एडिलेड में खेले गए सीरीज के पहले मैच के बाद टीम इंडिया के नियमित कप्तान विराट कोहली पैटरनिटी लीव पर स्वदेश लौट गए और इस मैच में अजिंक्य रहाणे ने टीम की कमान संभाली। मोहम्मद शमी, विराट कोहली जैसे दिग्गज खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में टीम इंडिया ने जिस तरह से यह टेस्ट मैच जीता, उसने क्रिकेट जगत को बता दिया है कि टीम इंडिया किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं है। इस टेस्ट मैच में शुभमन गिल और मोहम्मद सिराज ने डेब्यू किया और दोनों ने ही अपने खेल से सबका दिल जीता।

चलिए एक नजर डालते हैं टीम इंडिया की इस जीत की पांच खास बातों पर-

1- रहाणे की दमदार कप्तानीः  एडिलेड में टीम इंडिया दूसरी पारी में महज 36 रन बना सकी थी और आठ विकेट से मैच हारकर इस मैच में खेलने उतरी। विराट स्वदेश लौट गए थे, ऐसे में रहाणे ने जिस तरह से टीम को फ्रंट से लीड किया, वह सालों तक याद किया जाएगा। टॉस हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। रहाणे ने जिस तरह से गेंदबाजी में बदलाव किए और फील्ड सेट की, उन्होंने दुनिया को दिखा दिया कि वह कोई नौसिखिया कप्तान नहीं हैं। इसके बाद बल्लेबाजी की बारी आई तो रहाणे ने सेंचुरी ठोककर टीम को 300 के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। रविंद्र जडेजा की गलती पर रनआउट होकर पवेलियन लौटते हुए रहाणे ने जिस तरह से अपनी प्रतिक्रिया दी, उसने भी क्रिकेट जगत का दिल जीत लिया। 

2- डेब्यू करने वाले शुभमन और सिराज ने जीता दिलः सिराज ने पहली पारी में मार्नस लाबूशेन और कैमरोन ग्रीन के अहम विकेट झटके, इसके बाद दूसरी पारी में उन्होंने ट्रैविस हेड, कैमरोन ग्रीन और नाथन लायन को पवेलियन भेजा। ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के दौरान उमेश यादव चोटिल हो गए और महज 3.3 ओवर की ही गेंदबाजी कर सके। उमेश यादव के मैदान से बाहर जाने के बाद जसप्रीत बुमराह की अगुवाई में सिराज ने जबर्दस्त गेंदबाजी की। वहीं शुभमन गिल ने पहली पारी में 45 और दूसरी पारी में नॉटआउट 35 रनों की पारी खेली। 

3- विराट और शमी के बिना जीत के मायने अलगः इस मैच में विराट कोहली, मोहम्मद शमी, रोहित शर्मा और ईशांत शर्मा जैसे दिग्गज क्रिकेटर्स नहीं खेले, इसके बावजूद टीम इंडिया ने जिस तरह से ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पर धूल चटाई है, उसकी तारीफ होना लाजमी है। विराट के पैटरनिटी लीव पर जाने के बाद से इस बात की चर्चा हो रही थी कि अब टीम इंडिया यह सीरीज 0-4 से हारेगी, लेकिन टीम इंडिया ने इस मैच में एक यूनिट के तौर पर जबर्दस्त प्रदर्शन किया और ऐसी तमाम भविष्यवाणियों को गलत साबित कर दिया।

4- जडेजा की फिफ्टीः रविंद्र जडेजा पिछले कुछ समय में अपनी बल्लेबाजी के लिए काफी चर्चा में रहे हैं। इस मैच में भी उन्होंने अहम मौके पर कप्तान रहाणे का साथ निभाया और टीम इंडिया को पहली पारी में 100 से ज्यादा रनों की बढ़त दिलाने में अहम भूमिका निभाई। जडेजा ने हाफसेंचुरी ठोकी और साथ ही गेंदबाजी भी अच्छी की। पहली पारी में उन्होंने एक और दूसरी पारी में दो विकेट लिए।

5- डीआरएस को लेकर बवाल और सुधरी हुई फील्डिंगः पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया की फील्डिंग बहुत खराब रही थी और मेलबर्न में फील्डिंग काफी चुस्त नजर आई। इसके अलावा दूसरे टेस्ट मैच में डीआरएस और तीसरे अंपायर के फैसलों को लेकर काफी विवाद हुआ है। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने भी आईसीसी से मांग की है कि डीआरएस पर खासकर अंपायर्स कॉल को लेकर गहराई से काम किया जाना चाहिए।


IPL 2020 Eliminator: हैदराबाद की जीत के साथ खत्म हुआ RCB का सफर

IPL 2020 Eliminator: हैदराबाद की जीत के साथ खत्म हुआ RCB का सफर

07-Nov-2020

नई दिल्ली : इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन (IPL 2020) के एलिमिनेटर मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB,आरसीबी) की टीम को सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के खिलाफ 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ आरसीबी का आईपीएल 2020 में सफर भी समाप्त हो गया। पहले बल्लेबाजी करते हुए बैंगलोर की टीम ने एबी डिविलियर्स (56) की पारी  के दम पर 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 131 रन बनाए। जवाब में हैदराबाद की टीम ने केन विलियमसन (नॉटआउट 50) और जेसन होल्डर (नॉटआउट 24) की पारियों के चलते इस लक्ष्य को 2 गेंद शेष रहते हुए ही अपने नाम कर लिया। आरसीबी टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) टीम के प्रदर्शन से नाखुश नजर आए। 

कोहली ने मैच के बाद कहा, 'अगर हम पहली पारी की बात करें तो मुझे नहीं लगता कि स्कोर बोर्ड पर रन काफी थे। हम दूसरे हाफ में इस मैच को बनाया। यह एक ऐसा गेम था जहां आप चूक नहीं कर सकते थे और अगर वहां केन को पकड़ लिया गया होता, तो यह गेम कुछ अलग होता। हालांकि, उन्होंने पहली पारी में हम पर काफी दबाव बनाया। हमने कुछ खराब शॉट्स के चलते विकेट गंवाए, कुछ वो विकेटों के मामले में वो भाग्यशाली रहे और हम स्कोर बोर्ड पर अच्छा टोटल नहीं लगा सके। हमको बल्ले से और अच्छा काम करने की जरूरत थी। हमने गेंदबाजों को छूट दी कि वो जिस एरिया में चाहे गेंदबाजी कर सकते हैं, उनके ऊपर हमने कोई प्रेशर नहीं बनाया। पिछले दो-तीन मैचों में हमने सीधा गेंद फील्डरों के हाथों में मारी, कुछ शानदार शॉट्स भी फील्डरों के पास गए। पिछले चार-पांच मैचों में एक अजीब तरह का फेस रहा।' 

कोहली ने युवा बल्लेबाज देवदत पडीक्कल की तारीफ करते हुए कहा, 'आरसीबी के लिए कुछ चीजें काफी पॉजिटिव रहीं, जिसमें से देवदत पडीकक्ल एक हैं। वो काफी अच्छे तरीके से आगे आए और 400 से ज्यादा रन बनाना कोई आसान काम नहीं है। उन्होंने टीम के लिए काफी अहम योगदान दिया। बहुत खुश हो उनके लिए। बाकी बल्लेबाजों ने भी बल्ले से योगदान दिया, लेकिन वो काफी नहीं था।'


आज सनराइजर्स हैदराबाद बनाम रॉयल चैलेंजर्स, हारने वाली टीम होगी बाहर!

आज सनराइजर्स हैदराबाद बनाम रॉयल चैलेंजर्स, हारने वाली टीम होगी बाहर!

06-Nov-2020

आईपीएल 2020 में शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर बनाम सनराइजर्स हैदराबाद के बीच अहम् मुकाबला होने जा रहा है। बतौर कप्तान विराट कोहली के सामने ऑस्ट्रेलियाई डेविड वार्नर होंगे, जो विराट कोहली को पूरी टक्कर देंगे।

द  न्यूज़ इंडिया समाचार सेवा  के अनुसार, सनराइजर्स हैदराबाद बनाम आरसीबी टीम के बीच हारने वाली टीम का आईपीएल 2020 में सफर खत्म हो जाएगा, तो वहीं जीतने वाली टीम 8 नवंबर को फाइनल में जाने के लिए भिड़ेगी।

प्रेडिक्शन की बात करें तो सनराइजर्स हैदराबाद टीम विराट कोहली की आरसीबी टीम पर भारी नजर आ रही है, गेंदबाजी यूनिट आरसीबी के मुकाबले हैदराबाद की मजबूत है।

टीम में टी नटराजन जैसे परफेक्ट यॉर्कर गेंदबाज है तो अनुभवी राशिद खान कभी भी अकेले मैच का रुख पलट सकने में सक्षम है। जेसन होल्डर के प्लेइंग 11 में आ जाने से टीम में गेंदबाजी और बल्लेबाजी, दोनों को ताकत मिली है।

बल्लेबाजी की बात करें तो रिद्धिमान साहा के आ जाने से हैदराबाद की ओपनिंग जोड़ी कमाल हो गई है, वहीं आगे मनीष पांडेय और जेसन होल्डर के रूप में टीम के पास अच्छे मिडिल आर्डर बल्लेबाज है।

हालांकि टीम विराट कोहली की अगुवाई वाली आरसीबी को हलके में नहीं ले सकती, क्योंकि उनके पास चहल की फिरकी और मिस्टर 360 डिग्री कहे जाने वाले एबी डिविलियर्स है।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर प्लेइंग 11 

देवदत्त पडिकल, जोश फिलिप, विराट कोहली, एबी डिविलियर्स, शिवम् दुबे, वाशिंगटन सुंदर, क्रिस मोरिस, ईसरु उडाना, नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज, युजवेंद्र चहल

सनराइजर्स हैदराबाद प्लेइंग 11 

डेविड वार्नर, रिद्धिमान साहा, मनीष पांडेय, केन विलियम्सन, अब्दुल समद, जेसन होल्डर, प्रियम गर्ग, राशिद खान, शादाब नदीम, संदीप शर्मा, टी नटराजन

 
 

IND vs AUS: सूर्यकुमार यादव को टीम इंडिया में जगह न मिलने पर भड़के हरभजन सिंह

IND vs AUS: सूर्यकुमार यादव को टीम इंडिया में जगह न मिलने पर भड़के हरभजन सिंह

28-Oct-2020

नई दिल्ली : दुनिया के सबसे धनी क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने सोमवार को ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए टीम इंडिया की घोषणा कर दी। कोविड-19 महामारी के बाद टीम इंडिया का यह पहला इंटरनेशनल दौरा होगा। टीम के खिलाड़ियों ने इससे पहले आईपीएल जैसे टूर्नामेंट में ही भाग लिया है। इस दौरे पर लिमिटेड ओवर क्रिकेट में टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा चोट की वजह से नहीं जा रहे हैं। इसके अलावा युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत की वनडे और टी-20 से छुट्टी कर दी गई है। ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम चयन से पहले हर कोई उम्मीद कर रहा था कि इस बड़े दौरे के लिए आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे सूर्यकुमार यादव को जगह मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका और उनकी एक बार फिर अनदेखी कर दी गई। उनके न चुने जाने पर दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने नाराजगी जताई है।

सूर्यकुमार यादव को ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए टीम इंडिया में जगह न मिलने पर उन्होंने ट्वीट किया और लिखा, ''सूर्यकुमार यादव ऐसा क्या करें कि उन्हें टीम में चुन लिया जाए। वो आइपीएल के हर सीजन में और रणजी सीजन में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। टीम में चयन के लिए अलग लोगों के लिए अलग नियम हैं। मैं बीसीसीआई से अनुरोध करूंगा कि वो एक बार उनका रिकॉर्ड चेक करें।''

आईपीएल की बात करें तो यहां सूर्यकुमार यादव का सफर शानदार रहा है। अब तक खेले 11 मैचों में उन्होंने 149 की स्ट्राइक रेट से 283 रन बनाए हैं। उन्होंने इस दौरान दो फिफ्टी जड़ अपनी टीम को मिडिल ऑर्डर में मजबूती दी है। टीम इंडिया के इस दौरे पर मुंबई इंडिंयस के कप्तान रोहित शर्मा को भी जगह नहीं दी गई है। बीसीसीआई ने यह फैसला उनकी चोट की वजह से लिया है। उनकी अनुपस्थिति में लिमिटेड ओवर क्रिकेट में केएल राहुल को टीम इंडिया का उपकप्तान बनाया गया है। राहुल को यह मौका उनके आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से किए गए शानदार प्रदर्शन की बदौलत मिला है।


धोनी ने रचा इतिहास, IPL में ऐसा कारनामा करने वाले बने पहले खिलाड़ी

धोनी ने रचा इतिहास, IPL में ऐसा कारनामा करने वाले बने पहले खिलाड़ी

20-Oct-2020

यूएई में जारी इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) में बेशक तीन बार की चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन अच्छा न रहा हो लेकिन आज राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ होने वाले मुकाबले में सबकी नजरें टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर होंगी। इसके पीछे की वजह बेहद खास है क्योंकि आज धोनी आईपीएल इतिहास का अपना 200वां मैच खेल रहे हैं। इस खास कारनामे को अपने नाम करने वाले धोनी दुनिया के पहले क्रिकेटर हैं।

धोनी 2008 में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में जुड़े थे और उसके बाद हर सीजन(2016 और 2017 छोड़कर) में उन्होंने टीम की कप्तानी की है। 2016 और 2017 में चेन्नई टीम के आईपीएल खेलने पर बैन लग गया था। इन दो सालों में धोनी राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स की तरफ से खेले थे। इस दौरान उन्होंने कुल 30 मुकाबले खेले। 2016 में उन्होंने टीम की कप्तानी संभाली लेकिन अगले साल टीम मैनेजमेंट ने उनकी जगह ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ को कप्तानी का जिम्मा दे दिया था।

दो सालों के बाद चेन्नई की एक बार फिर आईपीएल में एंट्री हुई और एक बार फिर से टीम मैनेजमेंट ने धोनी पर भरोसा जताते हुए उन्हें कप्तान बनाया। धोनी के कप्तानी में सीएसके के टूर्नामेंट में रिकॉर्ड्स शानदार हैं। उनकी कप्तानी में चेन्नई ने रिकॉर्ड आठ बार फाइनल खेला है और तीन बार खिताब जीतने में भी सफलता प्राप्त की है। पिछले साल के आईपीएल फाइनल में चेन्नई को मुंबई इंडियंस के हाथों फाइनल में एक रन से हार का सामना करना पड़ा था।

धोनी की बल्लेबाजी की बात करें तो उन्होंने अब तक आईपीएल में 4568 रन बनाए हैं जिसमें चेन्नई की तरफ से 3994 रन दर्ज हैं। इसके अलावा दो साल पुणे की तरफ से खेलते हुए उन्होंने 17 पारियों में 574 रन बनाए। कप्तान के तौर  पर उन्होंने दो टीमों की तरफ से 183 मैचों में कप्तानी की है। चेन्नई की तरफ से धोनी ने अपनी कप्तानी में 169 मैचों में से 102 में जीत दिलाई है।

 
 

IPL-2020: दिनेश कार्तिक ने छोड़ी KKR की कप्तानी, इयोन मॉर्गन होंगे नए कैप्टन

IPL-2020: दिनेश कार्तिक ने छोड़ी KKR की कप्तानी, इयोन मॉर्गन होंगे नए कैप्टन

16-Oct-2020

नई दिल्ली : दिनेश कार्तिक ने कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की कप्तानी छोड़ने का फैसला कर लिया है. उन्होंने टीम प्रबंधन को अपने फैसले के बारे में बताया.  कार्तिक ने इंग्लैंड के सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मॉर्गन को कप्तानी सौंपने की इच्छा जताई. आज (शुक्रवार) अबु धाबी में मुंबई इंडियंस के खिलाफ होने वाले मैच में मॉर्गन ही टीम की अगुवाई करेंगे. मोर्गन अब तक उपकप्तान की भूमिका निभा रहे थे.

टीम के अब तक के लचर प्रदर्शन के कारण दिनेश कार्तिक की कप्तानी की आलोचना हो रही थी. कार्तिक ने केकेआर प्रबंधन को सूचित किया कि वह बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने और टीम के उद्देश्य में अधिक योगदान देने के लिए टीम की कप्तानी इयोन मॉर्गन को सौंपना चाहते हैं.

केकेआर के सीईओ वेंकी मैसूर ने कहा, 'हम भाग्यशाली हैं कि हमारे पास डीके (दिनेश कार्तिक) जैसा नेतृत्वकर्ता हैं. उन्होंने हमेशा टीम को पहले रखा है. उनके जैसा निर्णय लेने के लिए बहुत साहस चाहिए. हम उनके इस फैसले से आश्चर्यचकित हैं. हम उनकी इच्छाओं का सम्मान करते हैं. हम भाग्यशाली हैं कि 2019 विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मॉर्गन अब टीम का नेतृत्व करेंगे.'

मैसूर ने कहा, ‘कार्तिक ओर इयोन ने इस टूर्नामेंट के दौरान मिलकर बहुत अच्छा काम किया. अब भले ही इयोन कप्तानी संभाल रहे हैं, लेकिन यह एकतरह से भूमिकाओं की अदला-बदली है और हमें उम्मीद है कि यह बदलाव सहजता से काम करेगा.’

उन्होंने कहा, ‘कोलकाता नाइट राइडर्स से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति की तरफ से हम दिनेश कार्तिक का पिछले ढाई वर्षों में कप्तान के रूप में उनके योगदान के लिए आभार व्यक्त करते हैं और इयोन को शुभकामनाएं देते हैं.’

मौजूदा आईपीएल में कोलकाता की टीम अंक तालिका में चौथे स्थान पर है. उसने अब तक 7 में से 4 मुकाबले जीते हैं. शुक्रवार को KKR अपने 8वें मैच में मुंबई इंडियंस का सामना करेगी.

दिनेश कार्तिक के प्रदर्शन की बात करें, तो उन्होंने अब तक 7 मैचों में 15.42 के एवरेज से बल्लेबाजी की और एक अर्धशतक के साथ 108 रन बनाए. उनकी बल्लेबाजी में निरंतरता नहीं दिखी. साथ ही कप्तान के तौर पर उनके फैसलों पर भी उंगली उठी.

केकेआर का सबसे बड़ी परेशानी उसके बल्लेबाजों का निरंतर एक जैसा प्रदर्शन नहीं कर पाना है. आंद्रे रसेल का खराब फॉर्म उसके लिए चिंता का विषय है. रसेल ने अब तक 7 मैचों में केवल 71 रन बनाए हैं.

कोलकाता के पास कई ऐसे बल्लेबाज हैं जो किसी भी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकते हैं. इनमें युवा शुभमन गिल, खुद इयोन मॉर्गन, नितीश राणा और दिनेश कार्तिक प्रमुख हैं, लेकिन कुछ मैचों को छोड़कर वे लगातार लंबी पारियां नहीं खेल पाए. अब मॉर्गन के पास टीम को संवारने का मौका है.


IPL 2020 : केकेआर को लगा बड़ा झटका, अली खान हुए टूर्नामेंट से बाहर

IPL 2020 : केकेआर को लगा बड़ा झटका, अली खान हुए टूर्नामेंट से बाहर

07-Oct-2020

नई दिल्ली: कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने अली खान को एक तेज गेंदबाज के रूप में टीम में शामिल किया था लेकिन अब उन्हें चोट के चलते टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा है। इससे पहले, खान संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएई) के पहले ऐसे गेंदबाज बने थे जो आईपीएल का हिस्सा बने थे। अली खान को इंग्लैंड के पेसर हैरी गुरनी की जगह टीम में रखा गया था, जिन्होंने कंधे की सर्जरी से गुजरने के लिए खुद को लीग से बाहर रखा। हालांकि अली खान को एक भी मैच खेलने का माैका नहीं मिला। केकेआर ने एक बयान जारी करते हुए कहा, ''अली खान आईपीएल में सिलेक्ट होने वाले अमेरिका के पहले खिलाड़ी बने थे, लेकिन अली खान चोट की वजह से टूर्नामेंट में नहीं खेल पाएंगे। अली खान ने प्रैक्टिस के दौरान खुद को घायल कर लिया।''

बता दें कि केकेआर के मालिक शाहरुख खान ने ही अली खान को टीम में शामिल किया। हाल ही में समाप्त हुई कैरेबियन प्रीमियर लीग में ट्रिनबागो नाइट राइडर्स (TKR) के लिए कुछ शानदार प्रदर्शनों के साथ अली खान नजर आ रहे थे। ट्रिनबागो नाइट राइडर्स सीजन-2020 में फाइनल में जीत हासिल कर चाैथी बार खिताब जीता था, जिसमें अली खान ने 8 मैचों में 7.43 की इकोनोमी से 8 विकेट हासिल किए। अली खान के लिए वैसे भी प्लेइंग इलेवन में शामिल होना थोड़ा मुश्किल दिख रहा है। इस सीजन में केकेआर लाइन-अप में इयोन मॉर्गन, टॉम बैंटन, पैट कमिंस, आंद्रे रसेल, क्रिस ग्रीन, सुनील नारायण और लॉकी फर्ग्यूसन की पसंद उनकी विदेशी टुकड़ी है।


IPL 2020: मुंबई की आंधी में उड़ी पंजाब, जाने हार के तीन बड़े कारण

IPL 2020: मुंबई की आंधी में उड़ी पंजाब, जाने हार के तीन बड़े कारण

02-Oct-2020

नई दिल्ली : रोहित शर्मा के शानदार अर्धशतक, आखिरी ओवरों में कीरोन पोलार्ड की आतिशी पारी और फिर जसप्रीत बुमराह की बेहतरीन गेंदबाज के दम पर मुंबई इंडियंस ने गुरुवार को इंडियन प्रीमियर लीग में किंग्स इलेवन पंजाब को 48 रन से हराकर एकतरफा जीत दर्ज की। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी के लिए भेजे जाने पर चार विकेट पर 191 रन बनाए। जवाब में पंजाब की टीम आठ विकेट पर 143 रन ही बना सकी। डेथ ओवरों के विशेषज्ञ बुमराह ने चार ओवर में सिर्फ 18 रन देकर दो विकेट लिए। मयंक अग्रवाल 18 गेंद में 25 रन बनाकर बुमराह का शिकार हुए। किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान कप्तान केएल राहुल भी कुछ खास नहीं कर सके और 17 के स्कोर पर राहुल चाहर को रिटर्न कैच दे बैठे। आइए नजर डालते हैं उन कारणों पर जिनके चलते पंजाब को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा।

टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला
यूएई में हो रहे पिछले कुछ मैचों में यह देखा गया है कि टॉस जीतकर फील्डिंग करने वाली टीमों को इस आईपीएल में हार का सामना करना पड़ा है। पहले बल्लेबाजी करने पर दबाव नहीं होता और खिलाड़ी खुलकर खेल सकते हैं। इसके अलावा अब यूएई की पिचें बाद में बल्लेबाजी के दौरान धीमी होती जा रही है। ऐसे में बाद में बल्लेबाजी करना मुश्किल हो जाता है। भले ही ओस का फैक्टर देखा गया हो लेकिन यहां इतना असर ओस का दिखा नहीं है।

आखिरी ओवर में कृष्णप्पा गौतम की पिटाई 
अंतिम ओवर किंग्स इलेवन पंजाब के लिए कृष्णप्पा गौतम ने किया जिसे मुंबई इंडियंस के बल्लेबाज किरोन पोलार्ड और हार्दिक पांड्या ने धो दिया। पोलार्ड ने तीन लगातार छक्के जड़े। उनके अलावा पांड्या ने भी एक छक्का जड़ा। अंतिम ओवर में कुल 25 रन जड़कर मुंबई ने स्कोर 190 के पार पहुंचा दिया और किंग्स इलेवन पंजाब के लिए यह ओवर भारी पड़ा।

मयंक-केएल राहुल न चल पाना
पंजाब के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और मंयक अग्रवाल दोनों अच्छी फॉर्म में हैं लेकिन इस बार उनका बल्ला नहीं चला। हालांकि शुरुआत तो अच्छी हुई थी लेकिन बाद में दोनों आउट हो गए। मयंक ने जहां 25 रन का योगदान दिया वहीं केएल राहुल ने 17 रन बनाए। इसके बाद निकोलस पूरन के अलावा किंग्स इलेवन का कोई भी बल्लेबाज क्रीज पर नहीं टिका। उन्होंने 27 गेंद में तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 44 रन बनाए। उन्हें जेम्स पेटिंसन ने विकेट के पीछे क्विंटन डिकॉक के हाथों लपकवाया। ग्लेन मैक्सवेल और जेम्स नीशम जैसे ऑलराउंडर भी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सके।


IPL 2020 : पंत-अय्यर की तूफानी बल्लेबाजी

IPL 2020 : पंत-अय्यर की तूफानी बल्लेबाजी

26-Sep-2020

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में आज चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और दिल्ली कैपिटल्स (DC) के बीच मुकाबला खेला जा रहा है. चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी है. आईपीएल रिकॉर्ड की बात करें, तो चेन्नई सुपर किंग्स टीम बेहतर स्थिति में है. दोनों के बीच अब तक 21 मुकाबले (2008-2019) हो चुके हैं, जिनमें से चेन्नई ने 15 और दिल्ली ने 6 मैच जीते हैं.
18 ओवर के बाद- दिल्ली कैपिटल्स ने 2 विकेट के नुकसान पर 157 रन बना लिए हैं. श्रेयस अय्यर (23 रन) और ऋषभ पंत (31 रन) क्रीज पर हैं.

 


आईपीएल 2020- किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 97 रनों से हराया

आईपीएल 2020- किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 97 रनों से हराया

25-Sep-2020

किंग्स इलेवन पंजाब ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल 2020) मैच में गुरुवार (24 सितंबर) को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को 97 रन से हराया। किंग्स इलेवन ने कप्तान केएल राहुल के नाबाद 132 रन की मदद से तीन विकेट पर 206 रन बनाए। इसके जवाब में रॉयल चैलेंजर्स की टीम 17 ओवर में 109 रन पर आउट हो गई। अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए केएल राहुल को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।केएल राहुल के शानदार नाबाद 132 रनों की पारी के बाद पंजाब के गेंदबाजों ने अपना कमाल दिखाया। आरसीबी के विकेटों का पतझड़ शुरुआत से ही जारी रहा। आरसीबी के लिए देवदत्त पडीक्कल 1, आरोन फिंच 20, जोश फिलिप 0, विराट कोहली 1, एबी डिविलियर्स 28, वाशिंगटन सुंदर 30 और शिवम दुबे ने 12 रन बनाए। वहीं, पंजाब के लिए रवि बिश्नोई ने 32 रन और मुरुगन अश्विन ने 21 देकर 3-3 विकेट लिए। शेल्डन कोट्रेल ने 17 रन देकर 2 विकेट झटके। मोहम्मद शमी और ग्लेन मैक्सवेल को एक-एक विकेट मिले।

इससे पहले किंग्स इलेवन पंजाब ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ तीन विकेट पर 206 रन बनाए। किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से कप्तान केएल राहुल ने नाबाद 132 रन बनाए। राहुल ने यह ताबड़तोड़ पारी 69 गेंदों में खेली। इस दौरान उन्होंने 14 चौके और 7 छक्के जड़े। विराट कोहली ने दो बार राहुल का कैच छोड़ा। राहुल जब 83 और 89 रन पर थे, तब कोहली ने उनके कैच छोड़े थे जिसका फायदा उठाकर उन्होंने आखिरी दो ओवरों में 49 रन जोड़ने में अहम भूमिका निभाई। मयंक अग्रवाल 26, निकोलस पूरन 17, ग्लेन मैक्सवेल 5 और करुण नायर ने नाबाद 15 रन बनाए। बैंगलोर की तरफ से युजवेंद्र चहल ने 25 रन देकर 1 विकेट और शिवम दुबे ने 33 रन देकर 2 विकेट हासिल किए। उमेश यादव ने 33, नवदीप सैनी ने 37 और डेल स्टेन 57 रन दिए। यह तीनों ही गेंदबाज कोई विकेट हासिल नहीं कर पाए। आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया।


आईपीएल – मुंबई इंडियंस ने केकेआर को 49 रन से हराया

आईपीएल – मुंबई इंडियंस ने केकेआर को 49 रन से हराया

24-Sep-2020

कप्तान रोहित शर्मा की विस्फोटक पारी के दम पर मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के पांचवें मैच में कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराकर टूर्नामेंट में शानदार वापसी की है. मुंबई की ओर से रोहित शर्मा ने रिकॉर्ड छक्कों की मदद से 80 रन बनाये. जिसमें उन्होंने 54 गेंदों का सामना किया और 3 चौके व 6 छक्के जमाये. मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट के नुकसान पर 195 रन बनाया. जवाब में केकेआर की टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर केवल 146 रन ही बना पायी.

मुंबई इंडियंस ने केकेआर को 49 रन से हराया
आईपीएल 2020 के पांचवें मैच में मुंबई इंडियंस ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराकर टूर्नामेंट में शानदार वापसी की है. टॉस हारकर मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट के नुकसान पर 195 रन बनाया. जवाब में केकेआर की टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर केवल 146 रन ही बना पायी.


आईपीएल के समय Quarantine के दौरान कैसा महसूस किया  उसे बताया  क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने

आईपीएल के समय Quarantine के दौरान कैसा महसूस किया उसे बताया क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने

05-Sep-2020

अगर कोई भारतीय क्रिकेटर है जो कोरोनोवायरस-प्रेरित लॉकडाउन के दौरान भी अपने खेल पर काम कर रहा है, तो वह तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी थे।

घर में उपलब्ध सुविधाओं के लिए धन्यवाद, उन्होंने प्रशिक्षण को याद नहीं किया और पेसर ने कहा कि इससे उन्हें काफी फायदा हुआ है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13 वें संस्करण की तैयारी के लिए मैदान पर वापस आ गए हैं।

छह दिन का संगरोध
एएनआई से बात करते हुए, शमी ने संयुक्त अरब अमीरात पहुंचने के बाद छह दिन की संगरोध अवधि पर प्रकाश डाला, खिलाड़ियों के खेलने की भूख, इस आईपीएल के प्रशंसकों की अनुपस्थिति, बहुत बहस की लार पर प्रतिबंध और वह युवा केएल राहुल की मदद करना चाहते हैं। गेंदबाजी इकाई के साथ अपने आदानों को साझा करके पिच।


 
जबकि किसी को लगता होगा कि प्लेन पर चढ़ना और आईपीएल के लिए यूएई तक पहुंचना, घर पर लॉकडाउन में महीनों बिताने के बाद राहत होती, किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के पेसर को भीख मांगने के लिए अलग करना पड़ता। उन्होंने कहा कि होटल के कमरे के अंदर छह दिन उनके लिए कठिन थे।

“चार महीने सभी के लिए कठिन रहे, चाहे वह खिलाड़ी हो या सामान्य व्यक्ति। भगवान का शुक्र है कि मुझे अपनी ट्रेनिंग करने की सुविधाएं मिलीं। जब हम यहां (यूएई) आए और चौकन्ना हो गए, तो इन छह दिनों को उन चार महीनों की तुलना में अधिक कठिन लगा, क्योंकि उन महीनों में मैं खुद को प्रशिक्षित कर रहा था, जरूरतमंदों की मदद कर रहा था और गतिविधियों में व्यस्त था। लेकिन इन छह दिनों में, मैंने महसूस किया है कि उन चार महीने लोगों के लिए कितने मुश्किल रहे होंगे। अब वह मैदान पर सहज महसूस करता है।

लॉकडाउन के दौरान प्रशिक्षण
“मैंने जो प्रशिक्षण किया है (लॉकडाउन के दौरान) ने अब मदद की है। कठोरता वहाँ नहीं है और यह अधिक महसूस किया है जैसे मैंने वसूली के लिए एक ब्रेक लिया। शरीर अच्छा और लय में लगता है। कुछ में सामान्य प्रवाह गायब है। कैरेबियन प्रीमियर लीग में खेलने वाले लोग प्रवाह में दिख रहे हैं, लेकिन जो घर के अंदर फंस गए हैं, वे थोड़े कड़े दिख रहे हैं। टूर्नामेंट में जाने वाले 25 से 30 दिनों का उपयोग करना महत्वपूर्ण है, ”उन्होंने समझाया।


IPL 2020: फिर से IPL खेलने लौट सकते हैं सुरेश रैना

IPL 2020: फिर से IPL खेलने लौट सकते हैं सुरेश रैना

02-Sep-2020

IPL 2020: सुरेश रैना (Suresh Raina) अचानक से निजी कारणों की वजह से आईपीएल 2020 (IPL 2020) को छोड़कर वापस भारत लौट आए हैं. रैना ने भारत लौटकर एक ट्वीट किया जिसमें उनके रिश्तेदारों के साथ हुए हादसों का जिक्र किया लेकिन उन्होंने ट्वीट में यह नहीं बताया कि आईपीएल से बाहर होने की वजह असल में क्या रही, लेकिन अब उन्होंने आईपीएल से बाहर होने को लेकर चुप्पी तोड़ी हैं और कहा है कि वो फिर से यूएई जाकर आईपीएल खेल सकते हैं., क्रिकेट वेबसाइट Cricbuzz को दिए अपने इंटरव्यू में रैना ने इस बात का खुलासा किया है. उन्होंने इंटरव्यू में कहा है कि सीएसके और उनके बीच किसी तरह की कोई बात नहीं हुई है.  रैना ने कहा कि भारत वापस आना उनका अपना फैसला रहा है, उन्होंने आगे कहा कि भारत आने का फैसला करना उनके लिए काफी मश्किल भरा था, सीएसके मेरा परिवार है और माही भाई (MS Dhoni) मेरे लिए सब कुछ हैं. मेरे और सीएसके बीच कोई विवाद नहीं है.

रैना ने आगे इंटरव्यू में ये भी कहा है कि कोई भी 12.5 करोड़ रूपये ऐसे ही नहीं छोड़ सकता है इसके पीछे कोई ठोस कारण ही रहा होगा, मैं भले ही इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुका हूं लेकिन मैं अभी युवा हूं और 4 से 5 साल तक आईपीएल खेल सकता हूं.

सुरेश रैना (Suresh Raina) ने कहा कि क्वारंटीन के समय भी मैं लगातार ट्रेनिंग कर रहा था, आप नहीं जानते कि आप मुझे फिर से सीएसके कैंप (CSK) में देख सकते हैं. वहीं दूसरी ओर सीएसके मालिक श्रीनिवासन (N. Srinivasan) को लेकर रैना ने कहा कि वह मेरे पिता की तरह हैं, वह मुझे हमेशा बेटे की तरह ही देखते हैं, उन्हें मेरे आईपीएल छोड़ने की असली वजह नहीं पता थी, एक बाप अपने बच्चे को डांट सकता है, उनको अब मेरे बाहर होने के बारे में पता लग चुका है और वो मेरे फैसले के साथ हैं, श्रीनिवासन हमेशा मुझे सपोर्ट करते हैं..


वीवीएस लक्ष्मण ने बताया  कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सफलता का राज

वीवीएस लक्ष्मण ने बताया कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सफलता का राज

19-Aug-2020

नई दिल्ली : पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि नतीजों से भावनात्मक रूप से अलग रहने ने महेंद्र सिंह धोनी की सफलता में बड़ी भूमिका निभाई। धोनी ने भारतीय क्रिकेट में बड़ी विरासत छोड़ते हुए शनिवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया। मैदान पर अपने धैर्य के लिए पहचाने जाने वाले धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की सभी ट्रॉफियां जीतने वाले एकमात्र कप्तान हैं। उन्होंने 15 अगस्त को इंस्टाग्राम पर बेहद संक्षिप्त शब्दों में संन्यास लेने की घोषणा की। लक्ष्मण ने शानदार सफलता के लिए भारतीय टीम के अपने पूर्व साथी को बधाई दी।

लक्ष्मण ने कहा- मुझे हमेशा से लगता है कि भारत की कप्तानी करना संभवत: किसी के लिए भी सबसे कड़ी चुनौती है क्योंकि दुनिया भर में सभी की आपसे इतनी अधिक उम्मीदें होती हैं। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी कभी नतीजों से भावनात्मक रूप से नहीं जुड़ा रहा। उसने खेल प्रशंसकों को ही नहीं बल्कि लाखों भारतीयों को प्रेरित किया और बताया कि किस तरह का आचरण करना चाहिए और कैसे अपने देश का दूत बनना चाहिए, सार्वजनिक जीवन में खुद को कैसे रखना चाहिए। और यही कारण है कि वह इतना सम्मानित है।

लक्ष्मण ने कहा कि इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपने आचरण और खेल के प्रति योगदान से भविष्य की पीढिय़ों के लिए उदाहरण पेश किया। उन्होंने कहा- क्रिकेट प्रशंसकों का प्यार आपकी क्रिकेट उपलब्धियों के लिए मिलता है लेकिन सम्मान इस चीज से मिलता है कि आपका आचरण कैसा रहा। 
लक्ष्मण बोले- अगर आप सोशल मीडिया पोस्ट देखें तो सिर्फ पूर्व खिलाडिय़ों या क्रिकेट प्रशंसकों ने ही टिप्पणी नहीं की बल्कि सभी भारतीयों ने की जिसमें फिल्मी सितारे, जाने माने उद्योगपति, राजनेता शामिल रहे। उन्होंने कहा- दुनिया भर के पूर्व क्रिकेटरों, क्रिकेट जगत ने भारतीय क्रिकेट ही नहीं बल्कि विश्व क्रिकेट में योगदान के लिए महेंद्र सिंह धोनी को शुक्रिया कहा।

 

 


भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत समेत 4 खिलाड़ी कोरोना संक्रमित पाए गए

भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत समेत 4 खिलाड़ी कोरोना संक्रमित पाए गए

08-Aug-2020

भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह समेत चार खिलाड़ियों को बेंगलुरु में भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के राष्ट्रीय खेल उत्कृष्टता केंद्र में राष्ट्रीय हॉकी शिविर में रिपोर्ट करने के बाद कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाया गया। ये खिलाड़ी घर पर ब्रेक के बाद टीम के साथ शिविर के लिए पहुंचे थे। साई के अनुसार, ‘साई ने शिविर में रिपोर्ट करने वाले सभी खिलाड़ियों का पहुंचने पर रैपिड कोविड-19 परीक्षण कराना अनिवार्य किया है।

पॉजिटिव आए इन सभी खिलाड़ियों ने एक साथ ही यात्रा की थी तो पूरी संभावना है कि घर से बेंगलुरु पहुंचते हुए उनसे वायरस फैला होगा।’ विज्ञप्ति में कहा गया, ‘सभी चार खिलाड़ियों को रैपिड परीक्षण में नेगेटिव पाया गया था। लेकिन मनप्रीत और सुरेंद्र में बाद में कुछ कोविड-19 के लक्षण दिखायी दिए तो उन्हें और उनके साथ यात्रा करने वाले अन्य 10 खिलाड़ियों के साथ गुरुवार का आरटी-पीसीआर परीक्षण कराया गया जिसमें ये चार कोविड-19 पॉजिटिव निकले।’

उनके नतीजे हालांकि अभी साई को सौंपे नहीं गए हैं लेकिन राज्य सरकार ने साई अधिकारियों को इनके बारे में बता दिया और कुछ परीक्षण के नतीजों का अब भी इंतजार है। शिविर के लिए रिपोर्ट करने वाले मनप्रीत सहित सभी खिलाड़ी स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार क्वॉरंटीन में रह रहे हैं और वायरस के संक्रमण की संभावना को रोकने के लिए उन्हें एहतियाती कदम के अनुसार अलग रखा गया था।

मनप्रीत ने साई द्वारा जारी बयान में कहा, ‘मैं साई परिसर में अकेला क्वॉरंटीन में हूं और जिस तरह से साई अधिकारियों ने हालात को संभाला, उससे खुश हूं। मैं खुश हूं कि उन्होंने सभी खिलाड़ियों का परीक्षण अनिवार्य किया है। इस कदम से सही समय पर वायरस से संक्रमण का पता चल जाएगा। मैं ठीक हूं और जल्द ही उबरने की उम्मीद है।’

इन पृथक खिलाड़ियों ने शिविर में मौजूद अन्य खिलाड़ियों से बातचीत नहीं की थी। राज्य सरकार और साई की मानक परिचालन प्रक्रिया का शिविरों में कड़ाई से पालन किया जा रहा है।


पाकिस्तानी टीम को नहीं मिल पाया स्पॉन्सर, ड्रेस पर लगाएंगे अफरीदी का लोगो

पाकिस्तानी टीम को नहीं मिल पाया स्पॉन्सर, ड्रेस पर लगाएंगे अफरीदी का लोगो

10-Jul-2020

कराची : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) राष्ट्रीय टीम के लिए मुख्य प्रायोजक ढूंढने के लिए जूझ रहा है और ऐसे में इंग्लैंड के खिलाफ आगामी श्रृंखला के दौरान पाकिस्तान क्रिकेटर अपनी जर्सी पर शाहिद अफरीदी फाउंडेशन का लोगो लगाकर खेलेंगे. पूर्व कप्तान अफरीदी ने ट्वीट किया, ‘‘हमें खुशी है कि शाहिद अफरीदी फाउंडेशन का लोगो पाकिस्तानी खिलाड़ियों की किट पर होगा क्योंकि हम पीसीबी के चैरिटी साझेदार हैं. लगातार समर्थन के लिए वसीम खान और पीसीबी को धन्यवाद. दौरे के लिए हमारे खिलाड़ियों को शुभकामनाएं.”

पीसीबी पर भी कोरोना वायरस महामारी का आसर पड़ा है. पीसीबी के एक सूत्र के अनुसार पेय पदार्थ बनाने वाली एक बहुराष्ट्रीय कंपनी के साथ बात चल रही है जिसने नया टीम लोगो करार करने में रुचि दिखाई है लेकिन बोर्ड के मार्केटिंग विशेषज्ञों की उम्मीद से काफी कम राशि की पेशकश की है. सूत्र ने बताया कि कंपनी ने बोर्ड के साथ पिछले अनुबंध की राशि का सिर्फ 35 से 40 प्रतिशत देने की पेशकश की है. पाकिस्तान को इंग्लैंड दौरे पर तीन टेस्ट और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला खेलनी है. पहला टेस्ट मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में पांच से नौ अगस्त तक खेला जाएगा जबकि बाकी बचे दो मैच साउथम्पटन में 13 और 21 अगस्त से शुरू होंगे. दोनों टीमों के बीच सभी टी20 मैच ओल्ड ट्रैफर्ड में 28 और 30 अगस्त तथा एक सितंबर को खेले जाएंगे.

 


ड्वेन ब्रावो ने धोनी के जन्मदिन पर रिलीज किया एक खास गाना

ड्वेन ब्रावो ने धोनी के जन्मदिन पर रिलीज किया एक खास गाना

07-Jul-2020

ड्वेन ब्रावो ने धोनी के बर्थडे पर एक खास गाना रिलीज कर दिया है। इस गाने में ब्रावो ने धोनी के डेब्यू से लेकर सभी आईसीसी चैंपियन ट्रॉफी जीतने और आईपीएल तक के सफर के बारे में बताया है।

ब्रावो ने इस वीडियो की शुरुआत धोनी के डेब्यू से की है। ब्रावो ने बताया है कि कैसे रांची से आए एक बच्चे ने इंटरनेशन क्रिकेट में कदम रखा और सौरव गांगुली ने उन्हें खेलने का मौका दिया। धोनी ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए शतक भी जड़ा था जिसके बाद पूरे विश्व में उनकी एक अलग पहचान बनी थी। ब्रावो ने इसके बाद धोनी की सभी आईसीसी ट्रॉफी जीतने के रिकॉर्ड के साथ उनके हेलीकॉप्टर शॉट और आईपीएल सफर के बारे में भी बताया है। 

 


दिल्ली के क्लब क्रिकेटर संजय डोभाल का कोरोना वायरस से निधन

दिल्ली के क्लब क्रिकेटर संजय डोभाल का कोरोना वायरस से निधन

29-Jun-2020

जाने माने क्लब क्रिकेटर और दिल्ली की अंडर 23 टीम के पूर्व सहयोगी स्टाफ संजय डोभाल का कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सोमवार (29 जून) की सुबह निधन हो गया है। उनके परिवार के करीबी सूत्र ने यह जानकारी दी। डोभाल 53 वर्ष के थे और उनके परिवार में पत्नी तथा दो बेटे हैं। बड़ा बेटा सिद्धांत राजस्थान के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलता है और छोटा बेटा एकांश दिल्ली की अंडर 23 टीम में है। कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने संजय डोभाल को श्रद्धांजलि देते हुए अपने टि्वटर की प्रोफाइल फोटो बदल दी है।

डीडीसीए के एक अधिकारी ने बताया, ''डोभाल में कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण थे और उन्हें पहले बहादुरगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां जांच में वह पॉजिटिव पाए गए। उसके बाद हालात बिगड़ने पर उन्हें द्वारका के एक अस्पताल में दाखिल कराया गया। उन्हें प्लाज्मा थेरेपी भी दी गई, लेकिन कोई असर नहीं हुआ।''

फिरोजशाह कोटला मैदान पर जाना माना चेहरा संजय डोभाल दिल्ली के क्रिकेटरों वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, मिथुन मन्हास के बीच काफी लोकप्रिय थे। उन्होंने सोनेट क्लब के लिए क्रिकेट भी खेला। गंभीर और मन्हास ने ट्विटर के जरिये प्लाज्मा डोनेशन की अपील भी की थी। आम आदमी पार्टी के विधायक दिलीप पांडे ने डोनर का इंतजाम किया था। 

डोभाल ने एयर इंडिया के लिए खेलने के बाद जूनियर क्रिकेटरों को कोचिंग देना शुरू किया। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष सीके खन्ना, दिल्ली के दिग्गज खिलाड़ियों मदन लाल और मन्हास ने उनके निधन पर शोक जताया है। 


सौरव गांगुली के बड़े भाई और भाभी पाए गए कोरोना पॉजेटिव

सौरव गांगुली के बड़े भाई और भाभी पाए गए कोरोना पॉजेटिव

20-Jun-2020

नई दिल्ली: भारतीय पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के बॉस सौरव गांगुली के भाई स्नेहासीष और उनकी भाभी दोनों कोविड-19 पॉजेटिव पाए गए हैं. स्नेहासीष गांगुली क्रिकेट एसोसिएश ऑफ बंगाल के सचिव भी हैं. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी को मीडिया से साझा किया.जानकारी के अनुसार स्नेहासीष के सास और ससुर भी पिछले हफ्ते कोरोना पॉजेटिव पाए गए थे. खबर के अनुसार इन चारों ने स्वास्थ्य संबंधी शिकायत की थी. ये चारों ही सौरव के बेहला स्थित नहीं, बल्कि दूसरे घर पर ठहरे हुए थे. और बाद में टेस्ट के बाद ये चारों ही कोरोना पॉजेटिव पाए गए. स्नेहासीष गांगुली एक समय टीम इंडिया में चयन के मुहाने पर थे. स्नेहासीष बैटिंग ऑलराउंडर थे. वह ऑफ स्पिन गेंदबाजी करते थे और 59 प्रथण श्रेणी मैच खेल चुके हैं.

एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि कोरोना पॉजेटिव पाए जाने के बाद चारों को निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. उन्होंने कहा कि अब उन्हें अस्पताल से कब छुट्टी मिलती है,, यह टेस्ट के परिणाम पर निर्भर करेगा.  कुछ दिन पहले शाहिद आफरीदी को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद आज शनिवार को पहले बांग्लादेश के क्रिकेटर नफीस इकबाल और अब स्नेहासीष गांगुली कोरोना  पॉजेटिव पाए गए हैं.

बता दें कि स्नेहाशीष गांगुली खुद प्रथण श्रेणी क्रिकेट रहे हैं. स्नेहासीष ने 59 प्रथम श्रेणी मैचों में 39.59 के औसत के औसत से 2534 रन बनाए.