एजेंसी

ग्वालियर : मध्य प्रदेश के ग्वालियर में सोमवार को मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए दो बदमाशों ने देशी कट्टा दिखाकर एक निजी कंपनी के कर्मचारियों से 1.20 करोड़ रुपये लूट लिए और फरार हो गए. हालांकि, पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लूट के पांच घंटे के भीतर ही एक आरोपी को गिरफ्तार करके उसके पास से लूटे गये 1.20 करोड़ रुपये भी बरामद कर लिए हैं. यह जानकारी पुलिस ने दी.

पुलिस ने बताया कि यह लूटपाट कंपनी के चालक ने अपने ही साथियों की मदद से की थी. पुलिस अधीक्षक अमित ने बताया कि सोमवार को करीब 11 बजे हरेन्द्र ट्रेडिंग कंपनी का अकाउंटेंट कार में चालक के साथ जयेन्द्रगंज स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में 1.20 करोड़ रुपये जमा कराने आया.

इस प्रकार से कंपनी का कैश नियमित रूप से बैंक में आता रहता है और ये दोनों ही लाते हैं. उन्होंने कहा कि उसी दौरान जयेन्द्रगंज इलाके में ही दो संदिग्ध व्यक्तियों ने कार को रोका और एक देशी कट्टा चालक व अकाउंटेंट पर ताना और कार की डिग्गी में रखा रुपयों वाला कार्टन लेकर मोटरसाइकिल से भाग गए.

सांघी ने बताया कि पुलिस नियंत्रण कक्ष को इसकी सूचना 12 बजे मिली. मामले में पुलिस तुरंत सक्रिय हुई और आसपास के सीसीटीवी फुटेज देखे और दोनों कर्मचारियों से पूछताछ की गई.उन्होंने कहा कि कंपनी के चालक के जबाव से शक हुआ, तो उससे कड़ी पूछताछ की गई. इसके बाद उसने अपने साथियों के साथ लूट को स्वीकार कर लिया. सांघी ने बताया कि इसके बाद आरोपियों की तलाश शुरू हुई तो एक आरोपी महाराजपुरा गांव में मिला और लूट के 1.20 करोड़ रुपये भी बरामद हो गए. उन्होंने कहा कि लूट का एक आरोपी फरार है और जल्दी ही उसे पकड़ लिया जाएगा.

सांघी ने बताया कि चालक ने यह साजिश अपने दो साथियों के साथ रची थी. सोमवार की सुबह ये कंपनी का करीब डेढ़ करोड़ रुपये लेकर बैंक में जमा कराने निकले और उसी समय चालक ने अपने साथियों के साथ लूट की योजना बनाई. योजना बनाकर एक साथी ने देशी कट्टा ताना और दूसरे ने डिक्की से रकम निकाली. इसके बाद फरार हो गए. उन्होंने कहा कि यह चालक कंपनी में पांच वर्षों से काम कर रहा है, लेकिन आज रकम ज्यादा देखकर उसकी नीयत खराब हो गई.

उन्होंने बताया कि इस मामले में कंपनी के चालक सहित आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है. सांघी ने बताया कि ग्वालियर रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डी श्रीनिवास वर्मा ने रिकॉर्ड समय में मामला सुलझाने और आरोपियों के पकड़ने वाली अपराध शाखा और इंदरगंज पुलिस थाने की टीम को 25,000 रुपये का इनाम भी दिया है.

22-Nov-2022

Related Posts

Leave a Comment