27 महीने बाद जेल से रिहा हुए सपा नेता शहर विधायक मोहम्मद आजम खान, समर्थकों में खुशी की लहर

रामपुर : रामपुर सपा नेता वह शहर विधायक मोहम्मद आजम खान शुक्रवार को सीतापुर जेल से रिहा उनके समर्थकों में खुशी का माहौल मोहम्मद आजम खान परिवार के लोगों ने काकी सच्चाई की जीत हुई है उन्नाले पर पूरा भरोसा था जानकारी के अनुसार शहर विधायक मोहम्मद आजम खान पिछले : करीब दो साल तीन महीने से जेल में बंद थे मोहम्मद आजम खान को सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम जमानत दी है. सुप्रीम कोर्ट ने अनुच्छेद 142 के अपने विशेष अधिकार का प्रयोग करते हुए आज़म खान को यह जमानत दी है. नियमित जमानत के लिए 2 हफ्ते के भीतर निचली अदालत में अर्जी दायर करनी होगी.

मोहम्मद आजम खान वर्ष 2020 26 फरवरी 2020 से जेल में बंद हैं. यानी करीब 27 महीने जेल में बंद आजम खान अब जेल से बाहर आ सकते हैं. सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को अपना फैसला सुनाते हुए  कहा कि आजम खान की जमानत की शर्तें ट्रायल कोर्ट तय करेगा.

सपा सरकार जाते ही भाजपा सरकार में मोहम्मद आजम खान पर एक के बाद एक लगातार 88 से अधिक मामलों में आजम खान के ऊपर केस चल रहे हैं. वहीं 88 मामलों नें उन्हें अब तक जमानत मिल चुकी है. गुरुवार को 89 मामले मे ज़मानत मिल गई लेकिन एक केस में जमानत मिलते ही उन पर दूसरा केस लग जाता है. इसलिए ही वह 27 महीने से जेल में बंद थे. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि ट्रायल कोर्ट से रेगुलर बेल मिलने तक अंतरिम आदेश लागू रहेगा. इधर जैसे ही मोहम्मद आजम खान की सुप्रीम कोर्ट ने जमानत मंजूर की आजम समर्थकों में खुशी की लहर उनके चाहने वालों ने एक दूसरे को मिष्ठान वितरण कर खुशी का इजहार किया शुक्रवार को मोहम्मद आजम खान सुबह सीतापुर जेल से रिहा हुए हैं और वह अपने बड़े बेटे अदीब आजम, और अब्दुल्ला जन के साथ रामपुर अपने आवास पर पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच पहुंचेंगे दूसरी ओर मोहम्मद आजम खान की पत्नी और परिवार के लोगों ने कहा कि उन्हें न्यायालय पर पूरा भरोसा था और यह  सच्चाई की जीत है मोहम्मद आजम खान रामपुर पहुंचते ही उनकी आवास पर कार्यकर्ताओं की और मिलने वालों की भीड़ लग गई इसी बीच मोहम्मद आजम खान के रामपुर पहुंचने पर पुलिस प्रशासन ने उनकी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं मोहम्मद आजम खान जेल से निकलने के बाद  लगभग 2:30 बजे गांधी समाधि पर पहुंचे इससे पूर्व सीतापुर से लेकर रामपुर तक जगह-जगह कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया तो वही रामपुर पहुंचने पर धमोरा स्थित सपा के जिला अध्यक्ष वीरेंद्र गोयल और उनके कार्यकर्ताओं ने मोहम्मद आजम खान का स्वागत किया स्वागत समारोह के बाद मोहम्मद आजम अपने काफिले के साथ गांधी समाधि पहुंचे जहां पहले पुलिस ने मोहम्मद आजम खान की गाड़ी निकलने के बाद काफिले में शामिल गाड़ियों को गांधी समाधि पर ही रोक दिया जिसको लेकर मोहम्मद आजम खान लगभग 15 मिनट गांधी समाधि पर रुक कर  गाड़ी के अंदर  ही बैठे रहे इस दौरान उन्होंने गांधी समाधि को गाड़ी के अंदर से ही कई बार देखा उसके बाद मोहम्मद आजम का सीटें अपने घर पहुंचे और वहां मुमताज पार्क के पास उन्होंने पहले से मौजूद कार्यकर्ताओं और समर्थकों की भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि उनके जेल जाने के बाद रामपुर शहर को बर्बाद कर दिया उनके उनके परिवार के साथ जुल्म की इंतेहा कर दी इतना ही नहीं कार्यकर्ताओं के साथ भी जुल्म किए हैं इस दौरान आजमगढ़ समर्थकों ने जैसी मोहम्मद आजम खान कार से उतरे उन्होंने एक शेर आया शेर आया रामपुर का शेर आया आजम खान अब्दुल आदम जिंदाबाद के साथ-साथ सुप्रीम कोर्ट के भी जिंदाबाद के नारे लगाए लेकिन जैसे ही मोहम्मद आजम खान अपने परिवार से घर पर मिले मोहम्मद आजम खां सहित उनके परिवार के लोग भी काफी भावुक होते हुए नजर आए

21-May-2022

Related Posts

Leave a Comment