भाजपा को घेरने के लिए बंगाल की दोहरी चाल एक तरफ बंगाल को बाहरियों के हांथों में जाने से बचाने की मुहिम तो दूसरी ओर ममता की शिल्प आंदोलन उत्तर24 परगना दमदम के पनिहाटी में बाहरियों से बंगाल को बचाने के लिए तृणमूल सांसद सौगतो राय ने किया यज्ञ का आयोजन पश्चिम बंगाल की सत्ता पाने के लिए एक तरफ जहाँ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शहीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीं और उनकी केंद्रीय टीमो ने अपनी-अपनी मोर्चा सम्भाल ली है वहीं दूसरी ओर ममता भी अपनी सत्ता बचाने के लिए अपनी भूल को सुधारते हुए भाजपा को घेरने में जुट गई है ममता अपने रूठे किसानों युवाओं को मनाने के लिए अब कृषि आंदोलन के साथ-साथ अब बंगाल में शिल्प आंदोलन शुरू कर राज्य के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के सपने दिखाने में जुट गई है ऐसे में ममता के सिप्पेसलारों की अगर हम माने तो उनमे से कुछ राज्य सरकार की तमाम योजनाओं से वंचित लोगों को उन योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए उनके घर घर पहुंच रहे हैं तो कुछ सिप्पेसलार बंगाल को बाहरी लोगों से बचाने की मुहिम छेड़े हुए हैं और राज्य के तमाम जिलों में कार्यक्रम कर बाहरी यानी के भाजपा के हांथों बंगाल को बचाने की लोगों से अपील कर रहे हैं ऐसी ही एक मुहिम उत्तर24 परगना के दमदम इलाके के पनिहाटी इलाके में देखने को मिली जहाँ बाहरियों से बंगाल को बचाने के लिए तृणमूल के राज्यसभा सांसद सौगतो राय मोर्चा खोले हुए नजर आए उन्होंने अपनी सभा के दौरान बंगाल की जनता से बाहरियों से बचाने और उनके हांथों से बंगाल को बचाने की अपील की उन्होंने एक यज्ञ में शामिल होकर माँ चंडी और काली से ये प्रार्थना की के वो बाहरियों के हांथों में बंगाल को जाने से बचाएं
27-Dec-2020

Related Posts

Leave a Comment