Report:M Imran

Place: jaloun

काफी दिनों से महाराजपुरा के ग्रामीण मनरेगा में भृष्टाचार को लेकर शिकायत कर रहे थे। जिस पर तहसील दिवस और डीएम के यहां शिकायतें की गई थी। जिस पर एसडीएम सालिकराम और खंड विकास अधिकारी दीपक यादव द्वारा मौके पर पहुंचकर जांच की गई। जिस में एसडीएम को मनरेगा के कार्यों में काफी खामियां मिली। ग्राम प्रधान और पंचायत मित्र के द्वारा फर्जी मजदूरों के मास्टररोल निकाल कर भुगतान कराया गया है। जिसको लेकर उप जिलाधिकारी की नाराजगी स्पष्ट दिखाई दी। इसके अलावा विकास कार्यों की भी जांच की जा रही है। फर्जी तरीके से हेडपंप की मरम्मत, नाली मरम्मत और सड़क का कार्य दिखा कर पैसे निकालने का काम किया गया। इन खामियों को लेकर जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई जाने की बात एसडीएम ने कही है। सुनिये फर्जी बाड़े को लेकर ग्रामीणों की जुबानी

 

28-Sep-2020

Related Posts

Leave a Comment