पुणे में लौकी का जूस पीने से 41 साल की स्वस्थ महिला की मौत होने की सनसनीखेज खबर सामने आई। महिला कोई बीमारी नहीं और न किसी बीमारी पहले से इलाज चल रहा था। लौकी का जूस पीने से महिला की मौत के बाद लोग सकते में हैं।

12 जून को खराब हुई थी तबीयत-
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 12 जून को सुबह महिला ने जब एक गिलास लौकी का जूस पिया तो इसके आधे घंटे  बाद ही उसे उल्टी दस्त शुरू हो गए। इस उसे पास के अस्पताल में ले जा गया लेकिन अगले  दो-दिन में उसकी हालत और खराब होती गई। और अंत में 16 जून की आधी रात को उसकी मौत हो गई।

लोग इसलिए पीते हैं लौकी का जूस-
आयुर्वेदिक दवाओं की सलाह देने वालों के अनुसार, खाली पेट लौकी का जूस पीने से डायबिटीज, हृदयरोग, पेशाब से संबंधित समस्याओं में लाभ होता है। इसलिए लोग किसी की सलाह पर लौकी का जूस पीने लगते हैं। लेकिन जब लौकी का जूस कड़ुवा हो तो इसे पीने परहेज करना चाहिए नहीं तो घातक साबित हो सकता है।

नुकसान देह है लौकी का कड़वा जूस-
यदि कसैली लौकी का रस या लौकी का कड़वा जूस पीता है पेट में यह जहरीले रसायन बढ़ाता है। इसके परिणाम स्वरूप बेचैनी, पेट में दर्द, उल्टी या खून की उल्टी और तनाव बढ़ जाता है। अगर स्थिति नियंत्रित नहीं हुई तो मरीज के लिए घातक भी साबित हो सकता है। इसलिए किसी भी चीज का विशेष प्रकार से सेवन करने से पहले उससे जुड़े विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

22-Jun-2018

Leave a Comment