New Delhi

गोल्ड कोस्ट में आयोजित हो रहे कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल को बड़ा झटका लगा है, उन्होंने अपना दुख सोशल मीडिया पर शेयर किया है। सायना नेहवाल ने ट्विटर पर पोस्ट कर दावा किया कि राष्ट्रमंडल खेलों के लिए भारतीय टीम के अधिकारियों की सूची से उनके पिता हरवीर नेहवाल के नाम को हटा दिया गया है।

बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने सोमवार(2 अप्रैल) को ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘यह देखकर आश्चर्यचकित हूं कि जब हमने कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 के लिए भारत से शुरुआत की तो मेरे पिता का नाम टीम ऑफिशियल के रूप में पुष्टि की गई थी और मैंने इसका पूरा खर्च भी दिया था। मगर खेल गांव पहुंचने के बाद पता चला कि उनका नाम टीम अधिकारियों की लिस्ट में शामिल नहीं किया गया, वह मेरे साथ रुक भी नहीं सकते।’ वहीं, साइना ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि, ‘वह (पिता) मेरा मैच नहीं देख देख सकते, न ही वह खेल गांव में प्रवेश कर सकते हैं और न ही वह मुझसे मिल सकते हैं। यह किस तरह का सपोर्ट है सीजीएफ।’

वहीं, साइना ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘मुझे अपने पिता के सपोर्ट की जरुरत है क्योंकि मैं उन्हें अपने साथ प्रतियोगिताओं में लेकर जाती हूं, लेकिन मुझे समझ नहीं आता कि किसी ने मुझे इसकी पहले जानकारी क्यों नहीं दी कि वह कही भी आ नहीं सकते।’ नवभारत टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले खेल मंत्रालय की ओर से आईओए को भेजी गई लिस्ट में से साइना नेहवाल के पिता हरवीर सिंह, पीवी सिंधु की मां विजया पुर्सेला और शूटर हिना सिद्धू के पति और कोच रौनक पंउित का नाम हटा दिया गया था। यह कहा गया था कि वे अपने खर्च पर जा सकते हैं। बाद में खेल मंत्रालय ने 221 खिलाड़ियों सहित 325 सदस्यीय भारतीय टीम को भेजने की अनुमति दे दी।

इसमें खिलाड़ियों के अलावा 104 गैर खिलाड़ी शामिल हैं, जिसमें 58 कोच, 7 मैनेजर, 17 चिकित्सक एवं फिजियोथेरेपिस्ट और 22 अन्य अधिकारियों के नाम हैं। बैडमिंटन खिलाड़ी साइना के पिता, सिंधु की मां को उन 15 लोगों की लिस्ट में शामिल किया गया, जिनका खर्च सरकार नहीं देगी।

 

 

03-Apr-2018

Leave a Comment