नागपुर : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मैच में शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को यहां कहा कि वह 46वें ओवर में विजय शंकर को गेंद सौंपना चाहते थे लेकिन पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी और उपकप्तान रोहित शर्मा ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया. मैन ऑफ द मैच कोहली ने 120 गेंद में 116 रन की पारी खेली, जबकि जसप्रीत और शंकर ने डेथ ओवरों में शानदर गेंदबाजी की जिससे भारत ने यह मैच आठ रन से जीता. शंकर ने न सिर्फ अंतिम ओवर की पहली तीन गेंदों पर दो विकेट लिए. कोहली के अनुसार, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान धोनी और रोहित शर्मा के दिए आईडिया ने नागपुर वनडे में जीत में अहम भूमिका निभाई.

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘ मैं ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी के दौरान 46वां ओवर शंकर को देने के बारे में सोच रहा था, लेकिन धोनी और रोहित ने मुझे जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के साथ गेंदबाजी जारी रखने की सलाह दी. उनका सोचना था कि अगर हम कुछ विकेट निकाल लेते हैं तो मैच में बने रहेंगे और ऐसा ही हुआ. शंकर ने स्टंप्स की सीध में गेंदबाजी की और यह काम आया. रोहित से सलाह लेना हमेशा अच्छा रहता है वह टीम का उप-कप्तान है और धोनी लंबे समय से यह काम करते आ रहे है.’’ भारतीय कप्तान ने आखिरी के ओवरों में शानदार गेंदबाजी के दम पर मैच में टीम की वापसी करने वाले बुमराह की तारीफ की.

 

06-Mar-2019

Related Posts

Leave a Comment