दिल्ली : भारत ने बुधवार को नॉटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच 203 रनों से जीत लिया था। विराट कोहली ने पहली पारी में 97 और दूसरी पारी में 103 रनों का योगदान दिया था, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था। हालांकि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की माने तो विराट इस अवॉर्ड के अकेले हकदार नहीं थे। अपनी ऐप 100 एमबी पर लाइव इंटरैक्शन के दौरान तेंदुलकर ने इस बात को कहा।

तेंदुलकर से जब पूछा गया कि क्या नॉटिंघम टेस्ट में विराट की जगह हार्दिक पांड्या को मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया जाना चाहिए था। इस पर तेंदुलकर ने कहा, 'अगर मेरे बस में होता तो मैं हार्दिक और विराट दोनों को मैन ऑफ द मैच चुनता। मैं दोनों को ये अवॉर्ड शेयर करने के लिए देता। भारत की जीत में दोनों का बहुत बड़ा योगदान था। विराट की 97 रनों की पारी ने भारत को अच्छा स्कोर दिया और दूसरी पारी में सेंचुरी से इंग्लैंड को बड़ा टारगेट मिला। मेरी नजर में हार्दिक ने पहली पारी में बहुत अहम रोल अदा किया।' पांड्या ने पहली पारी में पांच विकेट झटके थे और भारत को अच्छी लीड दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी, इसके अलावा उन्होंने दूसरी पारी में तेज फिफ्टी भी जड़ी थी। तेंदुलकर ने पांड्या के लिए कहा, 'वो पांच विकेट बहुत जरूरी थे। जो रूट, जॉनी बेयरस्टो जैसे बल्लेबाजों को आउट करना बड़ी बात थी।'

 

25-Aug-2018

Leave a Comment