मीडिया रिपोर्ट 

मेलबर्न: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने आज अपने पद से इस्तीफा देने का एलान कर दिया. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में 17 सालों की लंबी पारी खेलने के बाद सदरलैंड ने अपना पद छोड़ा. बॉल-टेम्परिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के लिए ये एक और बड़ा झटका है. सदरलैंड अगले 12 महीने या फिर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में उनके पद पर किसी और जिम्मेदार शख्स की नियुक्ति तक वो ये पद संभालेंगे.

ये पूर्व मध्यम गति तेज़ गेंदबाज़ साल 1998 में बतौर जनरल मैनेजर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ जुड़े थे. जिसके तीन साल बाद माल्कम स्पीड के छोड़ने पर उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पद पर नियुक्त किया गया. इस बड़ी घोषणा के बाद सदरलैंड ने कहा कि ये फैसला लेने के लिए ये सही समय है. उन्होंने कहा, 'क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में लगभग 20 साल बिताने के बाद मुझे लगता है कि मेरे लिए, खेल के लिए और टीम के लिए ये सही समय है.'

दरअसल जेम्स सदरलैंड पर मार्च महीने में बॉल-टेम्परिंग विवाद के बाद से ही अपना पद छोड़ने का दबाव बनने लगा था. हालांकि उस समय स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर की बर्खास्तगी और कोच डैरेन लेहमन के पद छोड़ने के बाद सदरलैंड अपने पद पर बने रहे. लेकिन अब अगले दौरे से ठीक पहले उन्होंने ये पद छोड़ने का बड़ा फैसला लिया है. अगली सीरीज़ में ऑस्ट्रेलियाई टीम इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेलेगी. बॉल टेम्परिंग विवाद से उनके इस्तीफे को जोड़ते पर किए गए पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कहा, 'वो उस समय बहुत बड़ा विवाद था. लेकिन जब आप बतौर सीईओ खेल जगत में इतने बेहतरीन माहौल में काम करते हो तो ऐसी चीज़े वक्त के साथ-साथ आती जाती रहती हैं. इसका मेरे फैसले से कोई लेना देना नहीं है.' सदरलैंड ने कहा, 'पिछले 12 महीनों में हमने नई नींव रखी है, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए नई रणनीति शामिल है. ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स एसोसिएशन के साथ एक नया समझौता ज्ञापन, जो हमारे पुरुष और महिला क्रिकेटरों को एक निश्चितता प्रदान करता है.'

06-Jun-2018

Leave a Comment