खुलासा पोस्ट मैगजीन 

वर्तमान छत्तीसगढ़ विधानसभा का समापन हुआ | कांग्रेस के कद्दावर नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंहदेव, इन 5 वर्षो  में  नेता प्रतिपक्ष के कार्यकाल के दौरान एक आदर्श नेतृत्वकर्ता के रूप में लोकप्रिय हुए, जिन्होंने छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस के लिए एक आदर्श स्थापित किया  है |

श्री टी.एस.सिंहदेव (बाबा) ने जिस शालीनता के साथ नेता प्रतिपक्ष के रूप में छत्तीसगढ़ विधानसभा में जनहित के मुद्दो को उठाया और शालीनता का परिचय दिया और लोकतंत्र के मन्दिर की गरिमा को बनाये रखा उससे कांग्रेस का गौरव बढ़ा है जबकि ऐसा बहुत कम राजनीति में देखने और सुनने को मिलता है, नेता प्रतिपक्ष जिनके कार्यो की प्राशंसा खुद मुख्यमंत्री डॉ रमनसिंह ने विधानसभा के अंतिम सत्र में किया है | बीते दिन छत्तीसगढ़ की मौजूदा विधानसभा का 15वां सत्र समाप्त हुआ  वर्तमान सरकार का यह अंतिम बजट सत्र भी था। एक दिन पहले ही सत्र की समाप्ति की घोषणा करते हुए स्पीकर गौरीशंकर अग्रवाल ने कहा कि चौथी विधानसभा संसदीय मूल्यों के संरक्षण और परंपराओं के परिपालन में एक आदर्श प्रस्तुत करने में सफल रही उन्होंने कहा कि इस सदन के प्रत्येक सदस्य ने उन्हें प्रदत्त भूमिकाओं के साथ न्याय किया है। 

स्पीकर ने सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति आपकी इस बचनबद्धता का मैं सम्मान करता हूं। यह सदन पक्ष-प्रतिपक्ष के भावों से ऊपर रहा है, न केवल प्रतिपक्ष के अपितु पक्ष के कई सदस्यों ने कई अवसरों पर जिस संजीदगी से सरकार के कार्यों की समीक्षा की और  आलोचना की और सुझाव दिए वे सभी बिंदु भविष्य में नजीर होंगे। 
कांग्रेस के लिए ये गौरव की बात है की नेता प्रतीपक्ष टी एस सिंह देव जैसे शालीन और सौम्य व्यक्तित्व और मृदु भाषी नेता मिले है जिनकी सभी प्रशंसा करते है, जो की दिखावा और आडम्बर से दूर रहने वाले नेताओ में गिने जाते है. जबकि वर्तमान कांग्रेस संगठन लोगो के चरित्र हनन, स्केंडल और दुनिया भर के कांडों को उजागर करने में लगा हुआ है, ऐसे कठिन घड़ी में कांग्रेस को टी.एस. बाबा जैसे नेता ही उबार सकते है |

Image result for छत्तीसगढ़ विधानसभा
टी.एस. सिंहदेव विगत 5 वर्षो से नेता प्रतिपक्ष का दायित्व निभाते रहे और कांग्रेस की गौरवशाली परम्परा को बचाये रखा अन्यथा जिस तरह से कांग्रेस का प्रदेश नेतृव हथकंडे अपनाते आ रहा है उससे कांग्रेस की छवि को नुकसान उठाना पड़ रहा है ! इस बात में कोई दो राय नहीं है की टी.एस. बाबा छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व के लिये वर्तमान में एक सर्वमान्य चेहरा और व्यक्तित्व हो सकते  है, जिन्होंने निर्विवाद रूप से नेता प्रतिपक्ष के दायित्व को निभाया जिस तरह की स्थिति से अभी कांग्रेस दो – चार हो रही है ऐसे समय में सभी कांग्रेसजनों और कार्यकर्ताओ को टी.एस. सिंहदेव जैसे निर्विवाद नेता ही मंज़ूर होगा क्योकि वे हमेशा गुटबाजी से दूर रहते हुए इन 5 वर्षो में अपनी अलग पहचान बनाई है |

टी एस बाबा ने कांग्रेस के लिए ईमानदारी और पूरी निष्ठा और समर्पण से अपने दायित्वों का निर्वहन किया है अब आगामी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में टी.एस. सिंहदेव को यदि कांग्रेस आलाकमान पूरी जिम्मेदारी के साथ फ्री हैण्ड देकर उनके नेतृत्व में चुनाव लड़ाया जाता है तो निश्चित ही कांग्रेस के लिए लाभदायक होगा और सभी कांग्रेस के कार्यकर्ता एक मत से इसे मानने को तैयार होंगे और निश्चित ही कांग्रेस के लिए आशाजनक परिणाम देखने को मिलेगा |

10-Jul-2018

Leave a Comment