'द न्यूज़ इंडिया समाचार सेवा' से साभार 

पंडरिया में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ...

कवर्धा : राज्य सरकार की प्राथमिकता में शामिल गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक में बताया गया कि जिले में 303 गौठान संचालित हैं,  12 आवर्ती चारागाह हैं।

उन्होंने ग्राम नरसिंगपुर में आवर्ती चाराई करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की समीक्षा की। जिले में एनीमिक महिलाओं की जानकारी ली।

जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले में मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक के माध्यम से स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए  एनीमिक पीड़ित माताओं, महिलाओं की काउंसलिंग की जा रही है।

पोषण आहार के प्रति लोगों में जागरूकता लाने और उसे आदत में शामिल करने पर जोर देने के निर्देश।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अधिकारियों की समीक्षा बैठक ले रहे हैं, उन्होंने अधिकारियों से कहा कि समय पर कार्यालय पहुंचे।

- बरसात समाप्त होने वाली है, खराब सड़कों का मरम्मत और नई सड़कों के निर्माण के लिए कार्य योजना तैयार करें। अपनी जिम्मेदारी के साथ अपने-अपने दायित्व का निर्वहन हो।

- अवैध शराब की शिकायत आ रही है। यह बिल्कुल भी नही होना चाहिए। पंडरिया के कुंडा, व वनांचल क्षेत्र में अवैध शराब की बिक्री पर तत्काल रोक लगाने और जिम्मेदारों पर कार्यवाही करने के निर्देश।

- मुख्यमंत्री ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के जिला नोडल अधिकारी की कार्यशैली पर कड़ी नाराजगी जताई।

- जुआ सट्टा पर कड़ी कार्यवाही करने के लिए पुलिस अधीक्षक को सख्त निर्देश दिए।

- पटवारी की शिकायत प्राप्त हो रही है, कार्य के लिए किसानों से पैसा लेन देन की, जांच करा कर कार्रवाई करें ताकि जनता को असुविधा न हो।

- मुख्यमंत्री ने आदिवासी क्षेत्रों में देवगुड़ी बनाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने समीक्षा बैठक में शासन की योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिये। ताकि लाभ उठाने से कोई वंचित न हो।

भेंट-मुलाकात इंदौरी और कुकदूर में ग्रामीणों से मिली शिकायतों, समस्याओं के जल्द निराकरण करने के निर्देश।

इंदौरी और कुकदूर में छत्तीसगढ़ सार्वभौम पीडीएस के तहत संचालित शासकीय उचित मूल्य दुकानों में शक्कर निर्धारित 17 रुपए प्रतिकिलो की दर से अधिक दर 20 रुपये में विक्रय होने की शिकायत को गंभीरता से लिया है।

समितियों के विक्रेता के विरुद्ध मिली शिकायतों पर जांच करने और कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए।

 जिला खाद्य अधिकारी को सतत रूप से शासकीय उचित मूल्य दुकानों अथवा अन्य समूह द्वारा संचालित दुकानों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लीनिक योजना की समीक्षा कर इस योजना से कबीरधाम जिले के सुदूर वनांचल क्षेत्रो में संचालित साप्ताहिक हाट बाजारों को जोड़ने के निर्देश।

अंतिम व्यक्तियों को मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना का  लाभ मिल सके इस उद्देश्य से कार्य करने के निर्देश।

बैठक में जलजीवन मिशन के काम की जानकारी लेते हुए जिले के आदिवासी एवं बैगा बाहुल्य बोड़ला और पंडरिया के दुर्गम पहाड़ी क्षेत्रों में पेयजल व्यवस्था, जैसे हैंड पम्प और पेय जल के अन्य स्रोतों की जानकारी ली गई।

जिले के वनांचल क्षेत्रो में विद्युत विस्तार की समीक्षा करते हुए छूटे हुए गांव, मजरा टोला में बिजली लाइन विस्तार करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने  अधिकारियों से कहा की आत्म संतुष्टि के लिए अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन अपना शत प्रतिशत देकर करें।

कोविड काल में बहुत ही प्रशंसनीय कार्य हुआ है, कोविड के दूसरे फेज के पीक में नर्सिंग के लिए ट्रेनिंग भी दी गई।

- मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने उपस्थित अधिकारियों से शासन की योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचने के लिए कार्य करने के लिए कहा।

- जहां-जहां देवगुड़ी है, वह विकासखण्ड आदिवासी क्षेत्र में आते हैं या नहीं यह सुनिश्चित करें ताकि क्षेत्र में स्थित पुजारी को राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत 7000 रुपए की राशि देना सुनिश्चित किया जा सके।

- डीएमएफ निधि से बुनियादी सुविधाओं को स्थानीय लोगों की मांग के अनुरूप और बेहतर करने के लिए अधिकारियों को निर्देश।

- आदिवासी अंचलों में बिजली कटौती की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने विद्युत अभियंता को विद्युत प्रबंधन को दुरूस्त करने के निर्देश दिए।

समीक्षा बैठक में वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, विधायक श्रीमती ममता चंद्राकर और श्री शैलेश पांडे भी उपस्थित हैं।

01-Oct-2022

Related Posts

Leave a Comment