बेमेतरा : आजादी के बाद से बेमेतरा जिले के 113 ग्रामों में पानी की गंभीर समस्या थी ग्रामीण खारा और दूषित पानी पीने के लिए विवश थे तभी छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इस समस्या के निराकरण के लिए समूह जलप्रदाय योजना की नींव रखी इस योजना के तहत खारे पानी की समस्या से प्रभावित ग्रामों में शिवनाथ नदी का स्त्रोत लेकर 113 ग्राम, जो खारे पानी पीने को मजबूर थे एवं 39 एनारुट ग्रामों को मिलाकर 152 ग्रामो के लिए 190 करोड़ की यह योजना बनाई और उसे मूर्त रूप दिया और इस योजना को सबसे पहले बेमेतरा जिले में लागू किया जिससे आगामी 30 वर्षो में दो लाख छः हजार ग्रामीणों को लाभ मिल रहा है ।

बेमेतरा कलेक्टर श्री महादेव कावरे जी ने बताया की इस खारे पानी के सेवन से ग्रामवासियों को पाचन, उच्च रक्तचाप, हृदयघात, और गुर्दे सम्बन्धी समस्याएं हो सकती थी जिसे वक्त रहते माननीय मुख्यमंत्री जी ने समझा, ग्रामीणों को उससे छुटकारा देने के लिए यह योजना बनाई, पानी में घुलनशील तत्व की अधिकतम मात्रा 500 मिलीग्राम प्रति लीटर होना चाहिए, लेकिन खारे पानी से प्रभावित इन गाँवो के पानी में इसकी मात्रा 1200 से 2600 मिलीग्राम प्रति लीटर प्राप्त हो रही थी जो चिंताजनक था. 

इस योजना को पूरा करने के लिए शासन ने इसे तीन भागों में बांटा था जिसमें विकासखंड साजा के 41 ग्रामों को पहले लाभान्वित किया गया और यहाँ के ग्रामीणों को विगत 14 माह से शुद्ध जल प्रदाय किया जा रहा है, दूसरे भाग में विकासखंड बेमेतरा के 57 ग्रामों के ग्रामीणों को लाभान्वित किया गया और अब उन्हें इसी वर्ष 1 मार्च 2018 से शुद्ध जल प्रदाय किया जा रहा है तीसरे भाग में विकासखंड नवागढ़ के 54 ग्रामों को इस योजना का लाभ प्रदान किया गया यहाँ के ग्रामीणों को भी शुद्ध जल प्रदान करने का कार्य शुरू कर दिया गया है. 

कलेक्टर श्री महादेव कावरे ने कल 11 मई को बेमेतरा शहर के निकट ग्राम अमोरा स्थित समूह जलप्रदाय योजना के जलशोधन संयंत्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। इसके लिए राज्य शासन द्वारा लगभग दो करोड़ रूपए की धनराशि स्वीकृत की गई थी। जिलाधीश ने संयंत्र के विभिन्न कमरों में जाकर अवलोकन किया और इसे छत्तीसगढ़ शासन की सबसे बड़ी उपलब्धि बताया। श्री कावरे ने पानी का टेस्ट कर अपनी प्यास बुझायी। उल्लेखनीय है कि बेमेतरा शहर सहित आसपास के नागरिकों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए इस संयंत्र की स्थापना की गई है। विगत माह जुलाई से पानी की सप्लाई की जा रही है।

12-May-2018

Related Posts

Leave a Comment