अंबिकापुर : छत्तीसगढ़ में नकली नोट खपाने की नियत से अंबिकापुर पहुंचे एक शख्स को आज गुरुवार 26 अप्रैल को क्राइम ब्रांच और कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने धरदबोचा मिली जानकारी अनुसार मध्यप्रदेश के रीवा के ग्राम कोल्हा निवासी ज्ञानेंद्र तिवारी 26 वर्षीय नकली नोट खपाने के लिए अंबिकापुर पहुंचा था उसने आज एक ड्राईफ्रूट की दुकान पर ड्राईफ्रूट खरीदा और दुकानदार को 2000 का नोट दिया जब दुकानदार ने नोट देखा तो उसे कुछ शक हुआ जिसपर दुकानदार ने चिल्हर न होना कहकर चिल्हर लेकर आता हूँ बोलकर चला गया और उसने इसकी सूचना पुलिस को दे दी

सूचना के बाद शहर कोतवाली पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम बताए आरोपी के बारे में पतासाजी की जिसपर पुलिस को जानकारी मिली की वह पुराना बस स्टैंड स्थित माया लॉज में ठहरा हुआ है जहाँ पुलिस ने दबिश देकर उसे हिरासत में लिया और जाँच में उसके पास से 66 हजार के नकली नोट बरामद किए सभी 2000 के नोट थे जिसे खपाने के लिए वह अंबिकापुर पहुंचा हुआ था पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी ने बताया की वह पहले 66 हजार के नकली नोट बरामद उसकी मुलाकात एक व्यक्ति से हुई थी जिसने एक लाख रूपये के नकली नोट दिए थे और बदले में आरोपी ने उसे 30 हजार रुपए दिए थे आरोपी ने बताया की उसे कुछ नोट जशपुर में खपाए हैं वहीँ बचे नोट को अंबिकापुर में खपाने की नियत से यहाँ पहुंचा था बहरहाल पुलिस आरोपी से और पूछताछ कर रही है । 

 
 
 
26-Apr-2018

Leave a Comment