अकलतरा जिला जांजगीर-चांपा से आई महिला के साथ गैंग रेप महिला काम की तलाश में रायपुर आयी थी 

रायपुर। क्राइम बयूरो खुलासपोस्ट की खबर के अनुसार एक महिला निवासी अकलतरा जिला जांजगीर-चांपा ने थाना खमतराई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह दिनांक 11.08.21 को अपने पति के साथ काम की तलाश में रायपुर आयी थी तथा अपने पति के साथ रात्रि लगभग 8 बजे एक परिचित से मिलने बंजारी मंदिर पास गये थे। इसी दौरान तीन लड़के प्रार्थिया एवं उसके पति का पीछा कर रहे थे। रात होने से प्रार्थिया अपने पति के साथ बंजारी मंदिर में जहां लोग सोते हैं, वहां पर बैठी थी कि रात्रि करीबन 12 बजे दो लड़के प्रार्थिया के पति के पास आए जो प्रार्थिया के पति को बुलाकर ले गए तथा एक लड़का बाहर खड़ा था। प्रार्थिया के पति को लेकर जाने के बाद तीनों लड़के रात्रि करीबन 12.40 बजे पुनः प्रार्थिया के पास आए तथा बोले कि तुमको तुम्हारे पति बुला रहे हैं। जिस प्रार्थिया उनके साथ जाकर पिकअप वाहन में बैठ गयी। इसी दौरान तीनों लड़के प्रार्थिया को पिकअप वाहन में बैठाकर खेत की ओर ले गये तथा दो लड़के प्रार्थिया के साथ बारी-बारी सामूहिक दुष्कर्म किये तथा एक लड़का रास्ते में उतरकर चला गया।
 
प्रार्थिया उन लड़कों से बोली उसे अपने पति के पास जाना है, तो वह लड़के बोले पुलिस को नहीं बताओगे तो तुम्हारे पति को छोड़ देंगे एवं प्रार्थिया को बंजारी मंदिर पास लाकर छोड़ दिए। प्रार्थिया मंदिर के पास पुलिस चौकी में गई, तब उसे पता चला कि उसका पति उन लोगों से स्वयं को छुड़ाकर भागकर थाना गया है एवं प्रार्थिया का मुलाकात उसके पति से थाना में हुआ। तब प्रार्थिया का पति बताया कि तीनों लड़के उसे पकड़कर कहीं ले जा रहे थे एवं उसका मोबाईल फोन भी लूट लिये थे। इसी दौरान प्रार्थिया का पति किसी प्रकार से स्वयं को उनसे छुड़ाकर भाग गया। जिस पर तीनों अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 492/21 धारा 376, 376डी, 506बी, 392 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया। घटना को पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस महोदय अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर तारकेश्वर पटेल, नगर पुलिस अधीक्षक उरला विश्वदीपक त्रिपाठी एवं थाना प्रभारी खमतराई विनीत दुबे को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।
 
जिस पर थाना प्रभारी खमतराई विनीत दुबे के नेतृत्व में थाना खमतराई की एक विशेष टीम का गठन कर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी प्रारंभ किया गया। घटना के संबंध में प्रार्थिया एवं उसके पति से विस्तृत पूछताछ की गई। टीम के सदस्यों द्वारा बंजारी मंदिर एवं उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजेस का अवलोकन करने के साथ ही तकनीकी विश्लेषण के माध्यम से भी अज्ञात आरोपियों की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। अज्ञात आरोपियों की पतासाजी के संबंध में मुखबीर भी लगाए गए। इसी दौरान अज्ञात आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को घटना में संलिप्त आजाद नगर रावाभांठा खमतराई निवासी आरोपी राजेश कुमार साहू के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई, जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा आरोपी की पतासाजी कर आरोपी राजेश कुमार साहू को पकड़ने में सफलता मिली।
 
प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर टीम के सदस्यों द्वारा आरोपी राजेश कुमार साहू से कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा अपने अन्य दो साथी मुकेश साहू एवं संतोष बेलदार के साथ मिलकर उक्त घटना को कारित करना स्वीकार किया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा घटना में संलिप्त आरोपी मुकेश साहू एवं संतोष बेलदार को भी पकड़ा गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि दिनांक घटना को तीनों ने पहले प्रार्थिया के पति को बुलाकर उसे पकड़कर पिकअप वाहन में बैठाकर उसके मोबाईल फोन को लूट लिए एवं आउटर क्षेत्र में ले जा रहे थे। इसी दौरान प्रार्थिया का पति स्वयं को छुड़ाकर भाग गया। तीनों आरोपी पुनः बंजारी मंदिर आए एवं प्रार्थिया को पिकअप वाहन में बैठाकर आउटर क्षेत्र में ले जाकर आरोपी राजेश कुमार साहू एवं मुकेश साहू ने बारी-बारी प्रार्थिया के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया तथा आरोपी संतोष बेलदार रास्ते में उतरकर चला गया। आरोपी राजेश कुमार साहू एवं मुकेश साहू ने प्रार्थिया को पुनः बंजारी मंदिर पास ले जाकर छोड़ दिया।
 
तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर कब्जे से लूट की 01 नग मोबाईल फोन एवं घटना में प्रयुक्त पिकअप वाहन को जप्त किया। आरोपी राजेश कुमार साहू पिता भरत साहू उम्र 37 साल निवासी आजाद नगर रावाभांठा खमतराई रायपुर, मुकेश साहू पिता सेवा राम साहू उम्र 24 साल निवासी फुलवारी चौक रावाभांठा खमतराई रायपुर, संतोष बेलदार पिता कुंजल बेलदार उम्र 30 साल निवासी आजाद नगर रावाभांठा खमतराई रायपुर को गिरफ्तार करने में निरीक्षक विनीत दुबे थाना प्रभारी खमतराई, उपनिरीक्षक कमल नारायण शर्मा थाना खमतराई, सायबर सेल से प्रधान आरक्षक महेन्द्र राजपूत, सुरेश देशमुख, थाना खमतराई से आरक्षक सुदीप मिश्रा, पुष्पराज परिहार, सुनील सिलवाल, दीपक मिश्रा, विकास सिंह एवं आदित परिहार की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

19-Aug-2021

Related Posts

Leave a Comment