बागबाहरा : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज लोक सुराज अभियान के अंतर्गत महासमुंद जिले के बागबाहरा ब्लाक के टुरीझर पहुंचे मुख्यमंत्री ने यहाँ तालाब की मेड़ पर चौपाल लगाई। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से शिकायत की, कि यहाँ राशन दुकान समय पर नहीं खुलता इस शिकायत के बाद मुख्यमंत्री ने ग्राम‌ डोकरपाली के सेल्समैन शिवराज साहू को हटाने का आदेश दिया। सीएम ने टुरीझर से डोकरापाली तक पक्की सड़क निर्माण और महिलाओं के लिए सामुदायिक भवन निर्माण की घोषणा की। टुरीझर में दो साल से अधूरे स्टाप डैम का निर्माण जून माह तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

 ग्रामीणों को अपने गांव के आकाश में जैसे ही मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर नजर आया, किसान, मजदूर और स्थानीय बच्चे तथा युवा उनके स्वागत के लिए दौड़ पड़े। उनका हेलीकाप्टर एक खेत में उतरा। मुख्यमंत्री ग्रामीणों के साथ  खेतों की मेड़ से पैदल चलकर तालाब के किनारे निर्माणाधीन मंदिर परिसर पहुंचे जहां, चौपाल लगी और गांव वालों से बातचीत का सिलसिला शुरू हुआ। क्षेत्रीय विधायक श्री चुन्नीलाल साहू और टुरीझर सहित आसपास के गांवों के अनेक पंचायत प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। डॉ. सिंह ने ग्रामीणों की अनेक मांगों पर तत्काल अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी।

चौपाल में उन्होंने टुरीझर के तालाब गहरीकरण और सामुदायिक भवन सहित टुरीझर से डोकरपाली सड़क निर्माण की मंजूरी दी। उन्होंने टुरीझर के पुरानापारा में सी.सी.रोड के लिए पांच लाख मंजूर कर दिए। साथ ही नीचेपारा में भी सीसी रोड बनवाने की घोषणा की। डॉ. सिंह ने वन परिक्षेत्र अधिकारी को निर्देश दिए कि टुरीझर वन प्रबंधन समिति को बांस के विक्रय से मिलने वाले लाभांश की राशि 31 मार्च तक प्रदान कर दी जाए। डॉ. सिंह ने पटवारी को ग्रामीणों के लिए आमदनी प्रमाणपत्र और जाति प्रमाण पत्र बनवाने टुरीझर में शिविर लगाने के भी निर्देश दिए। ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत घरों में निर्मित शौचालयों में से कुछ शौचालयों की राशि बकाया है। इस पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बकाया राशि का भुगतान 15 दिनों के भीतर सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव श्री अजय सिंह भी चौपाल में मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने टुरीझर की चौपाल में उचित मूल्य दुकान के सेल्समेन के बारे में ग्रामीणों से मिली शिकायत को गंभीरता से लिया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि सेल्समेन को तत्काल हटाया जाए और वहां राशन वितरण के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जाए।  मुख्यमंत्री के आगमन की सूचना मिलते ही महासमुंद कलेक्टर श्री हिमशिखर गुप्ता भी वहां पहुंच गए थे।

19-Mar-2018

Related Posts

Leave a Comment