रायपुर, 29 जुलाई 2020। राजधानी में बढते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग ने वार्ड स्तर पर कोरोना निशुल्क जांच शिविर लगाने का अभियान शुरु किया है। 
अभियान के तहत 29, 30 और 31 जुलाई को सैंपल संग्रह के लिए अलग-अलग वार्डों में स्थान तय किए गए हैं। ऐसे लोग जिन्हें सर्दी, खांसी, सांस लेने में कठिनाई या स्वाद व सूंघने की क्षमता का अभाव हो उनको जांच शिविर में जाकर तत्काल सेम्पल देना होगा। 
इसके लिए आज सुबह 11.30 बजे सरस्वती स्कूल पुरानी बस्ती, लीली चौक, वार्ड क्रमांक-44, ब्राहम्णपारा, रायपुर में शिविर लगाया गया। नगर निगम के जोन-4 के स्वास्थ्य अधिकारी चंद्रशेखर श्रीवास्तव ने बताया नवीन सरस्वती कन्या शाला परिसर, पुरानी बस्ती में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जनस्वास्थ्य सुविधा के लिए शिविर लगाया गया । शिविर में 108 लोगों  ने पहुंचकर स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों से कोविड 19 संबंधी जांच की जिसमें 10 पाजिटिव मिला। दोपहर बाद खपरा भट्ठी कालीमाता वार्ड नंबर 11 में 70 सेम्पल में से 3 पॉजिटिव मिले। वहीं जोन -9 के शंकर नगर आश्रय स्थल के पास 37 लोगों ने कोरोना जांच के लिए सेम्पल दिया। नगर निगम के अधिकारियों की मामने तो लोगों में जागरुकता की वजह से जरा सा भी लक्षण नजर आने पर एहतियात तौर पर खुद घरों से निकल कर कोरोना जांच कराने पहुंच रहे हैं। जोन-1 के तिलक नगर सियान सदन में 100 लोगों को सेंपल लिया गया है। 
सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल ने बताया राजधानी के विभिन्न वार्डों में 6 से 29 जुलाई तक 48 जांच शिविर आयोजित किए गए। शिविर में  लक्ष्य के 6803 के विरुद्ध 5230 लोगों का सेंपल कलेक्ट किया गया। जांच रिपोर्ट में 4930 निगेटिव , 250 पाजेटिव और 50 सेम्पल की जांच अभी पेंडिंग है। स्वास्थ्य विभाग कोरोना वायरस को कंट्रोल करने के लिए पूरी मुस्तैदी से कटेंमेनट जोन को कव्हर कर स्थित को नियंत्रण करने ज्यादा से ज्यादा कोरोना सेम्पल जांच कर रही है। 
राजधानी में लगातार बढ़ते कंटेंटमेंन जोन और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की वजह से जिला प्रशासन के आदेशानुसार निगम नगर के सभी 10 जोनों द्वारा नोवल कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जनस्वास्थ्य जागरूकता अभियान निरंतर चलाया जा रहा। 
शासकीय आयुर्वेदिक अस्पताल को भी अस्थायी तौर पर कोविड-19 अस्पताल में तबदील करते हुए अस्पताल परिसर को सेनेटाइजर किया जा रहा है। जनस्वास्थ्य जागरूकता की दृष्टि से नोवल कोरोना 
वायरस के संक्रमण के फैलाव की समाज हित में कारगर रोकथाम करने के लिए चिकित्सको ने लोगों  को स्वास्थ्य परीक्षण करने सहित सामान्य रूप से स्वस्थ रहने, रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने सदैव मास्क पहनने, सामाजिक दूरी के स्वास्थ्य नियम का पूर्ण व्यवहारिक परिपालन करने की जानकारी दी। दैनिक दिनचर्या में स्वास्थ्य नियमों को जीवन में दैनिक रूप से स्वास्थ्य रक्षा की दृष्टि से मानने का चिकित्सकीय परामर्श दिया गया। 
--------------------------------------------

 

30-Jul-2020

Related Posts

Leave a Comment