बिलासपुर : तुर्काडीह पुल घोटाले मामले में आज ईओडब्ल्यू की टीम ने पीडब्ल्यूडी के अस्टिटेंट इंजीनियर आरके वर्मा को गिरफ्तार किया है वर्मा लंबे समय से फरार चल रहे थे. आपको बता दें की बिलासपुर में तुर्काडीह पुल निर्माण का कार्य किया गया था पुल निर्माण के केवल 7 साल बाद ही पुल में ही दरार आ गयी जिसके बाद करीब 3 साल तक इसपर आवाजाही रोक दी गई इस पुल का निर्माण 3 करोड़ रुपए में किया गया था दरार आने के बाद इसे दोबारा तैयार करने के लिए फिर 3 करोड़ रुपए लगा दिया गया हाईकोर्ट ने मामले में संज्ञान लेते हुए जांच का आदेश दिया। इस मामले में आरोपी बनाए गए तत्कालीन ईई एससी खंडेलवाल, लोक निर्माण विभाग के कार्य प्रभारी अधीक्षण यंत्री, सब इंजीनियर आरके वर्मा और सुदंरानी कंस्ट्रक्शन के डायरेक्टर के खिलाफ पिछले वर्ष 2017 विशेष न्यायालय में चालान पेश किया गया सभी आरोपियों को कोर्ट में उपस्थित होने का नोटिस दिया गया था नोटिस जारी होने के बाद भी आरोपियों ने इसकी अनदेखी की और कोर्ट में उपस्थित नहीं हो रहे थे जिसके बाद कोर्ट ने सभी आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया

24-Jan-2018

Related Posts

Leave a Comment