ऑस्ट्रेलिया 

ऑस्ट्रेलिया प्रवास के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ब्रिस्बेन में क्विंसलैंड स्किल्स एण्ड एजुकेशन कंसोर्टियम (क्यूएसईसी) के अधिकारियों ने आत्मीय स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने उनके साथ कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बारे में विचार-विमर्श किया। यह संस्था युवाओं के कौशल विकास और प्रशिक्षण के लिए कार्यरत है और भारत में केन्द्र सरकार सहित कुछ अन्य राज्य सरकारों के साथ काम कर रही है।

उनके साथ बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री अमन कुमार सिंह और छत्तीसगढ़ सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। इस अवसर पर ऑस्ट्रेलियन रिटेल कॉलेज (एआरसी) के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। डॉ. रमन सिंह ने दोनों संस्थाओं के अधिकारियों को छत्तीसगढ़ के अध्ययन दौरे पर आने का न्यौता दिया और उनसे कहा कि हमारे यहां कौशल उन्नयन प्रशिक्षण के क्षेत्र में काम करने की व्यापक संभावनाएं हैं।

मुख्यमंत्री ने संस्था के सदस्यों को छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अपने युवाओं के कौशल उन्नयन के लिए संचालित योजनाओं की जानकारी दी। डॉ. सिंह ने उन्हें बताया कि छत्तीसगढ़ भारत का पहला राज्य है, जिसने अपने युवाओं को उनके मनपसंद व्यवसायों में कौशल प्रशिक्षण पाने का कानूनी अधिकार दिया है। राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ के सभी 27 जिलों में लाईवलीहुड कॉलेजों की स्थापना की है, जहां युवाओं को विभिन्न प्रकार के छोटे, लेकिन आम जनजीवन से जुड़े व्यवसायों का अल्पकालीन प्रशिक्षण देकर रोजगार और स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है।

    डॉ. रमन सिंह ने यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ में कौशल उन्नयन कार्यक्रमों के तहत विगत तीन साल में तीन लाख से ज्यादा युवाओं को प्रशिक्षित किया जा चुका है। इस अवसर पर क्विंसलैंड स्किल्स एण्ड एजुकेशन कंसोर्टियम (क्यूएसईसी) के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी संस्था द्वारा ऑस्टेªलिया के युवाओं को रिटेल सेक्टर, हॉस्पिटिलिटी, पर्यटन, हेल्थकेयर, ऑटोमोटिव सेक्टर, निर्माण सेक्टर, खनन और गैस इंजीनियरिंग तथा ऑटोमोशन के सेक्टरों में कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

20-Jan-2018

Related Posts

Leave a Comment