मेलबोर्न 

अपनी आस्ट्रेलिया-यात्रा के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉं.रमन सिंह ने आज विक्टोरिया राज्य के विधान परिषद अध्यक्ष श्री ब्रूस एटकिंसन से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने उन्हें छत्तीसगढ़ में हो रहे विकास तथा उपलब्धियों के बारे में बताया। साथ ही कहा कि वे विक्टोरिया और छत्तीसगढ़ के बीच अनुभवों की साझेदारी को लेकर उत्सुक हैं।
स्मार्ट सिटी के रूप में मेलबर्न का स्थान विश्व में सातवां है।

     मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने श्री एटकिंसन को बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने 92 वर्गमील क्षेत्र में भारत की पहली हरित स्मार्ट सिटी ‘नया रायपुर’ विकसित किया है। यह शहर विश्वस्तरीय अधोसंरचना के साथ स्वयं को सच्ची स्मार्ट सिटी साबित करता है। छत्तीसगढ़ द्वारा यहां 1.9 अरब आस्ट्रेलियन डालर का निवेश किया जा चुका है और लगभग 2.5 अरब आस्ट्रेलियन डालर का निवेश किया जा रहा है।

इस शहर में कमर्शियल काम्पलेक्स, नॉलेज पार्क, हेल्थ सिटी, इंटरटेनमेंट एंड रिक्रिएशन क्लस्टर, थीम टाउनशिप, स्पोर्ट्स काम्पलेक्स समेत वे सभी सुविधाएं विकसित की जा रही है, जो इसे एक विश्वस्तरीय शहर के रूप में पहचान देती हैं। नया रायपुर ऐसे गैर-प्रदूषणकारी उद्योगों को प्लग एंड प्ले अधोसंरचना की सुविधा प्रदान करता है, जो छत्तीसगढ़ में व्यापारिक लाभ उठाना चाहते हैं। सूचना आईटी, आईटीज टेक्नालॉजी, इलेक्ट्रानिक्स और लाजिस्टिक सेक्टर यूनिट्स के लिए नया रायपुर की भौगोलिक स्थिति बहुत फायदेमंद है। मेलबर्न और नया रायपुर के विकास के लिए छत्तीसगढ़ सरकार परस्पर समझौता करना चाहती है।

    उन्होंने श्री एटकिंसन को बताया कि छत्तीसगढ़ प्रदेश भारत के मध्य में स्थित है। उसकी यह स्थिति निवेश और व्यवसाय की दृष्टि से बहुत फायदेमंद है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत में मेक इन इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं, छत्तीसगढ़ राज्य इसके लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि आस्ट्रेलिया की तरह छत्तीसगढ़ भी एक खनिज समृद्ध राज्य है। कोयले और डोलेमाइट के उत्पादन में यह देश में अव्वल और लौह अयस्क के उत्पादन में दूसरे स्थान पर है। एल्यूमिनियम में राज्य का देश में योगदान 15 प्रतिशत, लोहे और इस्पात में 25 प्रतिशत, सीमेंट में 16 प्रतिशत और चूना पत्थर में 8 प्रतिशत है। आस्ट्रेलिया की स्वयं की पहचान माइनिंग हब के रूप में है। छत्तीसगढ़ सरकार खनन तकनीक, सुरक्षा, उपकरण और निर्माण के क्षेत्र में सहयोग कर सकती है।

    आस्ट्रेलिया के 7 प्रसिद्ध सार्वजनिक विश्वविद्यालय जैसे मेलबोर्न विश्वविद्यालय, विक्टोरिया विश्वविद्यालय, मोनाश विश्वविद्यालय, आरएमआईटी विश्वविद्यालय, डीकिन विश्वविद्यालय, ला ट्रोब विश्वविद्यालय और स्वाइनबर्न प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय यहां स्थापित है। मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि ठीक इसी तरह छत्तीसगढ़ में भी भारत के सभी शीर्ष शैक्षणिक संस्थान संचालित किए जा रहे हैं, जिनमें भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, अंतरराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, नेशनल इंस्टीट्यूट आफ टेक्नालाजी, इंडियन इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट, आल इंडिया इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेस, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी आदि शामिल है। छत्तीसगढ़ विक्टोरिया के शीर्ष विश्वविद्यालयों के साथ अनुसंधान और ज्ञान के हस्तांतरण के लिए टाइअप के जरिये अपने शैक्षणिक संस्थानों का विश्वस्तरीय उन्नयन करना चाहता है।

विक्टोरिया के विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ में अपना परिसर स्थापित करने पर विचार कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने उन्हें छत्तीसगढ़ में हो रहे शैक्षणिक विकास की जानकारी देते हुए कहा कि राज्य में 15 विश्वविद्यालय हैं, जहां छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जा रही है। हम इस गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए सहयोग चाहते हैं। डॉ.रमन सिंह ने उन्हें बताया कि राज्य में 30 प्रतिशत जनसंख्या अनुसूचित जनजाति की है, राज्य की कुल जनसंख्या 2.5 करोड़ है। मुख्यमंत्री ने श्री एटकिंसन को छत्तीसगढ़ राज्य की यात्रा का निमंत्रण दिया, ताकि वे स्वयं भी छत्तीसगढ़ की संभावनाओं और संसाधनों से प्रत्यक्ष परिचित हो सकें।

    श्री एटकिंसन ने मुख्यमंत्री डॉ. रमनसिंह को बताया कि विक्टोरिया में इसी साल संघीय चुनाव होने हैं। श्री एटकिंसन ने बताया कि कर, स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र की बेहतरी के लिए विक्टोरिया द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। भारत के साथ संबंधों को और प्रगाढ़ करने के लिए विक्टोरियन सरकार द्वारा रणनीति बनाई गई है। शिक्षा, कौशल विकास, पर्यटन, खनन, तकनीक, नर्सिक, मेडिकल, इंजीनियरिंग, हास्पिटालिटी में साझेदारी के बड़े अवसर है।

 

16-Jan-2018

Related Posts

Leave a Comment