कोरबा : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशानुसार कोरबा जिले में आगामी मानसून के मौसम में वृहद वृक्षारोपण की तैयारी शुरू हो गई है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने मंगलवार को समय सीमा की साप्ताहिक बैठक में वृक्षारोपण की तैयारियों के साथ-साथ सभी विभागों के कामकाज की समीक्षा की और अधिकारियों को शासन की मंशा अनुसार समय सीमा में काम करने के निर्देश दिए। 

आगामी मानसून मौसम के दौरान कोरबा जिले में 13 लाख पौधे रोपने की तैयारी की जा रही है। शासकीय परिसरों, ग्राम पंचायतों, शासकीय एवं वन भूमि सहित इस बार हसदेव, अहिरन, तान जैसी प्रमुख नदियों के दोनों किनारों पर भी वृक्षारोपण किया जायेगा। वन मण्डल कोरबा द्वारा छः लाख और वन मण्डल कटघोरा द्वारा पांच लाख पौधे रोपे जायेंगे। सार्वजनिक स्थलों एवं शासकीय परिसरों में भी लगभग ढाई लाख पौध रोपण की तैयारी है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने इस वृहद वृक्षा रोपण अभियान के लिए संबंधित विभागों को भूमि चिन्हाकित कर जरूरी व्यवस्थाएं करने के निर्देश दे दिये हैं। वृक्षारोपण के लिए गढ्ढे खोदने, सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था से लेकर पौधों को जानवरों से बचाने के लिए ट्री गार्ड की भी व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। इन पौधों में डालने के लिए कम्पोस्ट खाद की पूर्ति उपलब्धता के आधार पर नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी विकास कार्यक्रम के तहत गौठानों में बन रही कम्पोस्ट खाद से की जायेगी।

समय सीमा में मिले लोगों को शासकीय सेवाओं का लाभ, न रहे कोई पेंडेंसी- बैठक में कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत शामिल की गई सभी 260 सेवाओं को उनके निर्धारित समय सीमा में ही आमजनों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने उन सेवाओं से संबंधित किसी भी आवेदन को समय सीमा के बाद लंबित नहीं रखने के कड़े निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। श्रीमती किरण कौशल ने पिछले छः महिनों में लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत निराकृत हुए या लंबित प्रकरणों को पुनः जांच कर गंभीरता से निराकृत करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

कलेक्टर ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम को राज्य सरकार की प्राथमिकता का गंभीर विषय बताते हुए कहा कि इसके क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरतने पर संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही होगी। लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, विवाह प्रमाण पत्र सहित राजस्व सेवाओं को तेजी से निपटाने के विशेष निर्देश छुरीकला और दीपका नगरीय निकायों के अधिकारियों को दिए।

अगले दस दिनों में सभी गौठानों के पास चारागाह विकसित करने के निर्देश- कलेक्टर ने समय सीमा की बैठक में जिले के सभी पहले चरण में बन रहे 88 गौठानों में 10 दिनों के अंदर चारागाह के लिए चयनित भूमि पर चारा फसलों के रोपण का काम पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने बरसात के पहले इन चारागाहों में नेपियर घास, ज्वार, मक्का की फसलें लगाने के निर्देश दिए। श्रीमती कौशल ने सभी चारागाहों में सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था करने सोलर पंप लगाने के भी निर्देश क्रेडा विभाग के अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने सभी गौठानों में पशुओं की संख्या के आधार पर अनुकूल क्षमता का बायोगैस संयंत्र लगाने का काम भी तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए। श्रीमती कौशल ने कोटवारों द्वारा मुनादी कराकर ग्रामवासियों को अपने पशुओं को गौठानों में ले जाना सुनिश्चित करने के भी निर्देश बैठक में दिए।

12-Jun-2019

Related Posts

Leave a Comment