बेमेतरा : कलेक्टर महादेव कावरे ने कल लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं जल संसाधन विभाग की बैठक लेकर पेयजल समस्या मूलक गांवों में ग्रामीणों को स्वच्छ पेयजल मुहैया कराने के निर्देश दिये। श्री कावरे ने पीएचई विभाग द्वारा स्थापित कंट्रोल रूम में बारी-बारी से ड्यूटी लगाने के निर्देश दिये। कलेक्टर के निर्देश पर विभाग द्वारा जिला स्तर पर एवं ब्लाॅक स्तर पर कंट्रोल रूम बनाया गया है। कलेक्टर ने पीएचई विभाग के मैदानी अमलें को गर्मी के मौसम में अलर्ट रहने के निर्देश दिये। श्री कावरे ने जिला मुख्यालय बेमेतरा के शेष वार्डाे में पाईप लाईन बिछाकर मीठा पानी की आपूर्ति प्रारम्भ करने के निर्देश दिये।

कार्यपालन अभियंता पी.एचई ने बताया कि जनपद पंचायत कार्यालय में शिकायत पंजी संधारित की जा रही है। कार्यपालन अभिंयंता ने बताया कि गत वर्ष खारा पानी से प्रभावित ग्रामों में साजा समूह योजना के अंतर्गत सभी 42 ग्रामों एवं नवागढ़ समूह योजना के अंतर्गत 57 ग्रामों में मीठा पानी जल प्रदाय योजना प्रारम्भ हई है इससे जिले के 99 गांवों में शुद्व मीठा पानी प्रदाय किया जा रहा है। इससे जिले की पेयजल एवं निस्तारी की समस्या दूर हुई है। बैठक में कार्यपालन अभियंता ने बताया कि वर्तमान में भू-जल स्तर निचे चले जाने के कारण जिले 1359 हैण्डपंप बंद है।

नवागढ़ ब्लाॅक के ग्राम मुरता में टेंकर से पानी की सप्लाॅई की जा रही है। कार्यपालन अभियंता जल संसाधन कुलदीप नारंग, ने बताया कि जिले के एनीकट के गेट बंद कर दिये गये है। ताकि भू-जल स्तर बना रहे। बैठक में अनुविभागीय अधिकारी सी.एस.शिवहरे, पीएचई के सहायक अभियंता बेमेतरा एनएस नेताम सहायक अभियंता, उपखण्ड साजा ए.आर.ध्रुव. सहायक अभियंता, बेरला एसआर नारनौरे, एवं उप अभियंता उपस्थित थे। 

 

10-May-2019

Related Posts

Leave a Comment