रायपुर : 15 वर्षो के लम्बे इंतजार के बाद कांग्रेस को आखिरकार छत्तीसगढ़ की सत्ता मिल ही गई 17 दिसंबर को कांग्रेस के भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उनके साथ-साथ टी.एस. सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई। बीते 15 वर्षो से वर्ष 2003 से छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार थी इस चुनावो में कांग्रेस ने जबरदस्त वापसी करते हुए 68 सीटो पर जीत दर्ज की भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के तुरंत बाद वादे के मुताबिक किसानों को राहत दी।

उन्होंने 16.65 लाख किसानों का सरकारी बैंकों से लिया गया 6100 करोड़ रुपए का कर्ज माफ करने का ऐलान किया। अन्य मदों में बैंकों से लिए गए कर्ज को भी जांच के बाद माफ करने का भरोसा दिलाया। बघेल ने धान पर समर्थन मूल्य भी 2500 रुपए प्रति क्विंटल करने की घोषणा की। अभी किसानों को 1750 रु. प्रति क्विंटल के हिसाब से समर्थन मूल्य मिलता है। अब इसमें 750 रुपए प्रति क्विंटल की प्रोत्साहन राशि और शामिल की जाएगी। मुख्यमंत्री ने झीरम घाटी हमले की जांच के लिए भी एसआईटी के गठन के आदेश दिए हैं। 2013 में हुए इस नक्सली हमले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नंद कुमार पटेल समेत 29 लोग मारे गए थे। 

 

18-Dec-2018

Related Posts

Leave a Comment