दुर्ग : दुर्ग के पाटन ब्लॉक के ग्राम भोथली में बिजली खंभे के लिए गड्ढे की खुदाई करते हुए अचानक मजदूरों को एक तांबे के पात्र में 200 प्राचीन सिक्के मिले। इन सिक्कों को ग्रामीणों ने बीते दिन मंगलवार (21 नवम्बर) को कलेक्टोरेट में आयोजित जनदर्शन में जिला प्रशासन को सौंपा अंदाजा लगाया जा रहा है की ये सिक्के पांच सौ साल पुराना मुगलकालीन सिक्के हो सकते हैं. इन सिक्कों के मिलने के बाद तरीघाट बड़ा व्यापारिक केन्द्र होने के पुरातत्व विभाग का दावा और मजबूत हो गया है। ग्राम पंचायत भोथली के सरपंच गंगा प्रसाद निषाद ने बताया कि सोमवार को गांव में बिजली का पोल लगाने के लिए मजदूरों द्वारा खुदाई की जा रही थी। इस दौरान ही मजदूरों को तांबे के छोटे पात्र में प्राचीन सिक्का मिला। प्रथम दृष्टया देखने से सभी सिक्के चांदी का प्रतीत हुआ। उप संचालक पुरातत्व विभाग रायपुर जेआर भगत ने बताया कि सिक्के मुगलकालीन व कम से कम 500 साल पुराने हैं।

Image result for प्राचीन सिक्केप्रतीकात्मक तस्वीर 

 

 

22-Nov-2017

Related Posts

Leave a Comment