रायगढ़ ?कापू
 दिन शुक्रवार को छत्तीसगढ़ राज्य के रायगढ़ जिला अंतर्गत ग्राम-कापू में रास्ट्रीय आदिवासी एकता परिषद के माध्यम से हर वर्ष की भांति राजा रावण की बलिदान  तथा महिषासुर शहादत दिवस के रूप में भव्य शोभायात्रा निकाल कर विधिवत ग्राम बैगा द्वारा प्रकृति पूजा कर, कर्मा नृत्य व प्रबोधन के साथ सफल सम्पन्न हुआ। कर्यक्रम की अध्यक्षता मा. धरमू उरांव जी (प्रदेश अध्यक्ष रास्ट्रीय आदिवासी एकता परिषद) के द्वारा किया गया। महिषासुर की याद में नवरात्र की शुरुआत के साथ दशहरा यानी दस दिनों तक असुर शोक मनाते हैं. इस दौरान किसी किस्म की रीति-रस्म या परपंरा को नहीं निभाया जाता. बड़े-बुज़ुर्गों के बताए गए नियमों के तहत उस रात एहतियात बरते जाते हैं जब महिषासुर का वध हुआ था.
इस दौरान किसी किस्म की रीति-रस्म या परपंरा का निर्वहन नहीं होता. बड़े-बुजुर्गों के बताए गए नियमों के तहत उस रात एहतियात बरते जाते हैं जब महिषासुर का वध हुआ था. मूर्ति पूजक नहीं हैं, लिहाजा महिषासुर को दिल में रखते हैं.

 

20-Oct-2018

Related Posts

Leave a Comment