रायपुर : छत्तीसगढ़ काँग्रेस कमेटी के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ चरणदास महंत ने प्रदेश में 15 साल की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य में विकास का दावा करने वाली भाजपा की रमन सरकार अपने किए हुए किसी भी वादे पर खरी नहीं उतर पाई है इसलिए त्रस्त हो कर छत्तीसगढ़ की जनता आंदोलन करने पर मजबूर हो गई है, फिर चाहे वो आदिवासी समाज हो, पुलिसकर्मियों के परिवार हो, शिक्षाकर्मी हो, मितानिन हो, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हो, वन कर्मी हो, महिलाएं हो, विद्यार्थी हो या बूढ़े और बच्चे हों। इसीलिए छत्तीसगढ़ अब रमन राज में आंदोलनों का गढ़ बन गया है। 

डॉ चरणदास महंत ने कहा कि सत्ता के अहंकार से ग्रसित भाजपा के नेता ऊटपटांग बयान बाजी करते हैं और अपनी भाषा व शैली पर नियंत्रण नहीं रख पाते, लेकिन अब भाजपा के लिए “बिलो द बेल्ट” की राजनीति के ये आखरी पल हैं और जनता ने आने वाले विधानसभा चुनाव 2018 में भारतीय जनता पार्टी को करारा जवाब देने का फैसला कर लिया है क्योंकि भाजपा के घोटालों और विकास के खोखले दावों की पोल खुल गई है फिर वो छत्तीसगढ़ में हो या फिर केंद्र में हो। नरेंद्र मोदी जी ने 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले कहा था कि भारत के लोगों का काला धन विदेशों में जमा है और भाजपा केंद्र में सत्ता में आते ही सारा काला धन वापस ला कर भारत के प्रत्येक निवासी को 15 से 20 लाख रूपये यूं ही दे देगी लेकिन हुआ उसका उलट । हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक मोदी के शासन काल में 50% से अधिक काला धन विदेशों में जमा हो गया। 

विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसे जैसे लोग बैंकों का पैसा लेकर विदेश भाग गए और मोदी जी चौकीदारी ही करते रहे। अमित शाह के पुत्र का बिजनेस, नोटबंदी और जीएसटी के बावजूद भी कई गुना बढ़ गया हर देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बिखर गई। 

डॉ महंत ने कहा कि छत्तीसगढ़ और देश की जनता, भारतीय जनता पार्टी के दोहरे मापदंडों को पूरी तरह समझ गई है और आने वाले विधानसभा चुनाव 2018 में छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस को भारी मतों से विजयी बनाकर इसका जवाब देगी व साथ ही कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी के नेतृत्व में 2019 के लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस की जीतने सुनिश्चित करने वाली है क्योंकि अब लोगों को समझ में आ गया है कि राष्ट्र हित में, कांग्रेस ही एक मात्र विकल्प है भले ही भारतीय जनता पार्टी और उनके आईटी व सोशल मीडिया के लोग कितना ही दुष्प्रचार करते रहें, “क्योंकि झूठ के दिन बहुत कम होते हैं और सच्चाई की हमेशा जीत हुई है” 

        "विज्ञप्ति "

 
 
 
30-Jun-2018

Related Posts

Leave a Comment