मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कल पांच जून को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर जनता को हार्दिक शुभकामनाएं दी है। डॉ. सिंह ने पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी शुभकामना संदेश में कहा है कि धरती पर मानव समाज और प्राणी जगत के स्वस्थ जीवन के लिए स्वच्छ पर्यावरण का होना बहुत जरूरी है। डॉ. रमन सिंह ने कहा - हमें जल, जंगल और जमीन के पर्यावरण के साथ-साथ अपने गली-मोहल्लों, गांवों और शहरों के पर्यावरण को भी स्वच्छ बनाने के लिए मिलकर काम करना होगा। डॉ. सिंह ने कहा - पर्यावरण को स्वच्छ और शुद्ध बनाने में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन की भी निश्चित रूप से बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होगी।  डॉ. रमन सिंह ने सभी लोगों से पृथ्वी के पर्यावरण को बचाने के लिए अपने-अपने कार्य क्षेत्र में हर संभव प्रयास करने की अपील की है। डॉ. रमन सिंह ने कहा - आधुनिक युग में तीव्र औद्योगिक विकास और शहरीकरण की वजह से पूरी दुनिया में प्राकृतिक पर्यावरण पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है, जिसका असर ग्लोबल वार्मिंग के रूप में एक बड़ी चुनौती के रूप में देखा जा रहा है। ग्लोबल वार्मिंग की वजह से मौसम चक्र भी असामान्य रूप से बदल रहा है। कहीं बेमौसम की बारिश हो जाती है, तो कहीं सूखा पड़ जाता है। मुख्यमंत्री ने कहा - अब समय आ गया है कि हम सब मिलकर अपनी पृथ्वी को बचाने के लिए पर्यावरण की रक्षा करें, उसे साफ-सुथरा बनाएं और इसके लिए सघन वृक्षारोपण तथा लगाए पेड़ - पौधों की रक्षा भी सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने कहा - पर्यावरण संरक्षण का दायरा सिर्फ वृक्षारोपण तक सीमित नहीं रहना चाहिए, बल्कि जल प्रदूषण को रोकने के लिए नदियों, तालाबों, कुंओ, झरनों, झीलों और अन्य जल स्रोतों की स्वच्छता का भी ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। डॉ. रमन सिंह ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर समाजसेवी संस्थाओं से भी आग्रह किया है कि वे पर्यावरण संरक्षण के लिए जन-जागरण का अभियान चलाएं और इसके लिए प्रेरणादायक कार्यक्रम भी आयोजित करें। 

 
05-Jun-2018

Related Posts

Leave a Comment