मुख्यमंत्री ने तीन विशाल आमसभाओं में जनता को दी 475 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों की सौगात
गर्म हवाओं के थपेड़ों में भी उमड़ते जनसैलाब ने किया 
मुख्यमंत्री का स्वागत और अभिनंदन
लगभग 1.35 लाख किसानों को 208 करोड़ रूपए का धान बोनस
किसानों के हित में तीन बड़ी घोषणाएं

 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व में प्रदेश व्यापी विकास यात्रा का काफिला आज नवतपे की धधकती हुई धूप में भी लगातार चलती रही। दिन भर चली गर्म हवाओं के थपेड़ों में भी मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए हजारों की संख्या जनसैलाब उमड़ता रहा। उन्होंने दिन भर के अपने तूफानी दौरे में कबीरधाम जिले के पंडरिया, जिला बलौदाबाजार के भटगांव और जिला महासमुन्द के सरायपाली में विशाल जनसभाओं को और विभिन्न स्थानों में स्वागत सभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा-सरकार जिन विकास कार्यों और योजनाओं का संचालन करती है, उनका लाभ सबको मिलता है। विकास का विरोध करने वालों को भी विकास कार्यों और योजनाओं का लाभ मिलता है। धान का बोनस, तेन्दूपत्ते का बोनस, स्वास्थ्य बीमा सुविधा आदि योजनाएं सबके लिए है। इसलिए विकास का विरोध किसी को भी नहीं करना चाहिए, बल्कि विकास योजनाओं का लाभ सबको दिलाने का प्रयास करना चाहिए। 
    उन्होंने कहा-सबके साथ सबके विकास की भावना के अनुरूप राज्य के हर क्षेत्र में तेजी से तरक्की हो रही है। छत्तीसगढ़ में अब कोई भूखा नहीं सोता। स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा योजना के तहत लगभग 98 प्रतिशत परिवारों के स्मार्ट कार्ड बन गए हैं, जिन्हें 50 हजार रूपए तक वार्षिक इलाज की सुविधा मिल रही है। गरीबों को एक रूपए किलों में चावल दिया जा रहा है। यही तो विकास है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की आयुष्मान भारत योजना के तहत छत्तीसगढ़ के लगभग 37 लाख गरीब परिवारों को स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा मिलेगी और उन्हें हृदय रोग, कैंसर, किडनी तथा लीवर की गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए पांच लाख रूपए तक सहायता मिलेगी। यह देश और दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है। राज्य सरकार संचार क्रांति योजना के तहत 50 लाख परिवारों को निःशुल्क स्मार्ट फोन देने जा रही है। 
     तीनों आमसभाओं में मुख्यमंत्री के हाथों लगभग 475 करोड़ रूपए से ज्यादा के 325 निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास हुआ। मुख्यमंत्री पूर्वान्ह करीब 11.30 बजे रायपुर से हेलीकॉप्टर द्वारा पंडरिया पहुंचे और वहां की आमसभा के बाद भटगांव आए। डॉ. सिंह ने भटगांव की आमसभा के बाद विकास रथ में सवार होकर बलौदाबाजार जिले के ही सरसींवा पहुंचकर स्वागत सभा में जनता को सम्बोधित किया। डॉ. सिंह वहां से महासमुन्द जिले के ग्राम लम्बर और सागरपाली की स्वागत सभाओं को सम्बोधित करते हुए शाम को ओडि़शा की सीमा पर स्थित तहसील मुख्यालय सरायपाली पहुंचे।
    उन्होंने तीनों आमसभाओं में प्रदेश के लाखों किसानों के हित में तीन बड़ी महत्वपूर्ण घोषणाएं की। डॉ. सिंह ने कहा-कृषक जीवन ज्योति योजना के तहत पांच हार्स पावर तक सिंचाई पम्प धारकों को एकल सिंचाई पम्प पर वर्तमान में सालाना 7500 यूनिट बिजली निःशुल्क दी जा रही है। अब उन्हें 7500 यूनिट से ज्यादा खपत पर फ्लैट रेट में भुगतान की सुविधा मिलेगी। अब तक किसानों को इसके लिए कुछ ज्यादा राशि देनी पड़ रही थी, लेकिन अब उन्हें फ्लैट रेट की सुविधा मिलने पर काफी राहत मिलेगी। उन्होंने यह भी कहा कि एक से ज्यादा सिंचाई पम्प कनेक्शन होने पर और पांच हार्सपावर से ज्यादा के पम्पों पर भी फ्लैट रेट में भुगतान की सुविधा मिलेगी। यह निर्णय आज से ही लागू हो जाएगा। डॉ. सिंह ने यह भी कहा कि राज्य सरकार ने सिंचाई पम्प कनेक्शनों के लिए एक लाख रूपए तक अनुदान की सुविधा आज से फिर शुरू कर दी है। जनता ने करतल ध्वनि के साथ मुख्यमंत्री की इन घोषणाओं का स्वागत किया। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास यात्रा जनता जनार्दन को सरकार के कार्यों का हिसाब देने की यात्रा है। उन्होंने इसे एक बार फिर जनता से आशीर्वाद लेने की तीर्थ यात्रा भी बताया। डॉ. सिंह ने कहा-सम्पूर्ण विकास यात्रा में प्रदेश भर में 30 हजार करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास हो रहा है। 12 लाख से ज्यादा किसानों को 1700 करोड़ रूपए का बोनस ऑनलाइन दिया जा रहा है। तेन्दूपत्ता श्रमिकों को 700 करोड़ रूपए का बोनस मिल रहा है। करीब 12 लाख 50 हजार परिवारों को आबादी पट्टे भी दिए जा रहे हैं। उज्ज्वला योजना के तहत राज्य में अब तक 19 लाख से ज्यादा गरीब परिवारों की महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन मिल चुके हैं। 
    डॉ. सिंह पूर्वान्ह लगभग 11.30 बजे राजधानी रायपुर से हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर सबसे पहले कबीरधाम जिले के पंडरिया पहुंचे, जहां उन्होंने जनता को 115 करोड़ 53 लाख रूपए के 242 निर्माण कार्यों की सौगात दी। उन्होंने इनमें से 31 करोड़ 13 लाख रूपए के 200 निर्माण कार्यों का लोकार्पण और 84 करोड़ 40 लाख रूपए के 42 निर्माण कार्यों का भूमिपूजन तथा शिलान्यास किया। डॉ. सिंह इसके बाद बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के भटगांव आए, जहां उन्होंने लगभग 104 करोड़ रूपए के 30 निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। इनमें उनके हाथों 54 करोड़ 17 लाख रूपए के दस निर्माण कार्य लोकार्पित हुए और 49 करोड़ 69 लाख रूपए के 20 नये कार्यों का भूमिपूजन हुआ।
    डॉ. सिंह ने सरायपाली की आमसभा में महासमुन्द जिले की जनता को लगभग 266 करोड़ रूपए के 53 निर्माण कार्यों की सौगात दी। इनमें से उन्होंने 118 करोड़ रूपए के 35 पूर्ण हो चुके कार्यों का लोकार्पण और 148 करोड़ रूपए के 18 नये स्वीकृत कार्यों का भूमिपूजन तथा शिलान्यास किया। डॉ. सिंह ने पंडरिया और सरायपाली की आमसभाओं में एक लाख 35 हजार किसानों को लगभग 208 करोड़ रूपए का धान बोनस ऑनलाइन वितरित किया। इनमें से पंडरिया की आमसभा में 45 हजार किसानों को 42 करोड़ 70 लाख रूपए और सरायपाली की आमसभा में 90 हजार किसानों को करीब 165 करोड़ 11 लाख रूपए का बोनस मिला। मुख्यमंत्री ने लैपटॉप पर क्लिक करके बोनस की यह राशि किसानों के बैंक खातों में सीधे जमा करवा दी। तीनों आमसभाओं में मुख्यमंत्री ने हजारों की संख्या में ग्रामीणों को आबादी जमीन का पट्टा वितरित किया, वहीं सैकड़ों गरीब परिवारों की महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन भी दिए। 
    मुख्यमंत्री के साथ पंडरिया की आमसभा में प्रभारी मंत्री एवं वन मंत्री श्री महेश गागड़ा, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, संसदीय सचिव श्री मोतीराम चन्द्रवंशी, कवर्धा विधायक श्री अशोक साहू, जिला पंचायत कवर्धा अध्यक्ष श्री संतोष पटेल, जनपद पंचायत पण्डरिया की अध्यक्ष श्रीमती मधु महेन्द्र वर्मा सहित अनेक जन प्रतिनिधि और ग्रामीण बड़ी संख्या में उपस्थित थे। भटगांव की आमसभा में विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरी शंकर अग्रवाल, खाद्य मंत्री और जिले के प्रभारी श्री पुन्नूलाल मोहले, लोक निर्माण, आवास एवं पर्यावरण मंत्री श्री राजेश मूणत, विधायक और छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ. सनम जांगड़े, विधायक श्री शिवरतन शर्मा, लोकसभा सांसद श्रीमती कमलादेवी पाटले और छत्तीसगढ़ राज्य वनौषधि एवं पादप बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामप्रताप सिंह सहित अनेक जनप्रतिनिधि कार्यक्रम में उपस्थित थे। सरायपाली की आमसभा में विधानसभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, पर्यटन, संस्कृति और सहकारिता मंत्री श्री दयालदास बघेल, संसदीय सचिव और विधायक बसना श्रीमती रूपकुमारी चौधरी, विधायक सरायपाली श्री रामलाल चौहान, विधायक भाटापारा श्री शिवरतन शर्मा, विधायक खल्लारी श्री चुन्नीलाल साहू और विधायक महासमुन्द डॉ. विमल चोपड़ा सहित विभिन्न संस्थाओं के वरिष्ठ पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

 
28-May-2018

Related Posts

Leave a Comment