सनसनी फैलाने के लिए गलत खबर लिखने वाले कापी एडिटर की नौकरी गई. मामला समाचार एजेंसी एएनआई का है. ANI ने 12 अक्‍टूबर को खबर दी कि नागालैंड पुलिस की खुफिया शाखा ने रोहिंग्‍या शरणार्थियों की तरफ से हमला किए जाने की आशंका जाहिर की है और इसे लेकर सबको चेतावनी दी. इस खबर का सोर्स खुफिया सूत्रों को बताया गया.

खबर में आगे कहा गया कि दीमापुर के इमाम ने नागालैंड के लोगों पर हमला करने के लिए बांग्लादेश से हथियारों और गोला-बारूद लाने के लिए रोहिंग्‍या विद्रोहियों से संपर्क किया है. नागालैंड के अखबार ‘द मोरंग एक्‍सप्रेस’ ने इस खबर का खंडन किया और इसे पूरी तरह गलत बताया. इसके बाद एएनआई ने खबर लिखने वाले कापी एडिटर को नौकरी से हटा दिया. एएनआई की एडिटर स्‍मिता प्रकाश ने गलत खबर के लिए खेद जताया है.

भड़ास फॉर मीडिया से ली गई खबर 

19-Oct-2017

Related Posts

Leave a Comment