इलाहाबाद में बीजेपी के एक पार्षद  हत्या का मामला सामने आया है . बताया जाता है की वारदात के वक्त बीजेपी पार्षद पवन केसरी अपनी स्कूटी से घर जा रहे थे. उसी वक्त बदमाशों ने उन पर गोलियां बरसा दीं. इसके बाद बदमाश हथियार लहराते वहां से फरार हो गए. घायल बीजेपी पार्षद को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.
जानकारी के मुताबिक, इलाहाबाद के रहने वाले पवन केसरी बीजेपी के पार्षद थे. बीती रात वह अपने स्कूटी से घर जा रहे थे. उसी वक्त कुछ बदमाशों ने पीछा करके उन पर फायरिंग शुरू कर दी. पवन घटनास्थल पर ही नीचे गिर गए. इसके बाद बदमाश वहां से फरार हो गए. लोग आनन-फानन में उनको अस्पताल ले गए, लेकिन तब तक उनकी मौत हो गई.
बताया जा रहा है कि मृतक बीजेपी पार्षद ने गोली मारने की इस वारदात से कुछ देर पहले ही इलाहाबाद के एसएसपी से फोन पर बात करके उनसे मिलने के लिए समय मांगा था. पुलिस का मानना है कि इस वारदात को किसी आपसी रंजिश में अंजाम दिया गया है. इस मामले में शक के आधार पर तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.
बीजेपी पार्षद पवन केसरी को सूबे के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी का बेहद करीबी माना जाता था. वह फूलपुर नगर पंचायत के वार्ड नंबर 11 से पार्षद थे. बीजेपी युवा मोर्चा में जिले का महामंत्री रहने के साथ ही आरएसएस से भी जुड़े हुए थे. पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है. बदमाशों की तलाश की जा रही है.

 

09-May-2018

Leave a Comment