देश छोड़ती विदेशी कम्पनियाँ क्या ट्रिलियांन डॉलर एकानामि का दावा करने वालों के मुह में तमाचा नहीं ?

प्रधान सम्पादक 
देश के लिए  दुःखद कहा जाये या गर्व की बात कही जाय ,बड़ी बड़ी कम्पनियां देश छोड़ कर जा रही हैं,भारत में सभी की दुकान बंद क्यों हो रही हैं,यहाँ बैंक बिक रहा है रेल बिक रहा है रिसर्व बैंक खाली हो रहा है वही अब फोर्ड अपना काम काज समेटने मे   लगा है इसकेपहले जनरल मोटर चला गया फिर हार्ले डेविडसन अब फ़ोर्ड प्लस …आप को बता दें जनरल मोटर हाज़र्डले डेविड सन् *Harley Davidson के बाद Ford तीसरी अन्तर्राष्ट्रीय कम्पनी है जिसने भारत में काम नहीं करने का फ़ैसला लिया है। पिछले 5 साल में यह तीसरा बड़ा नुक़सान है। अकेले Ford के बंद होने से लगभग 4000 लोग बेरोज़गार होंगे सर्वे के मुताबिक़ भारत देश की एक साल में बेरोज़गारी दर 2.4% से बढ़कर 10.3% हुई है* !
क्या वास्तव में देश आत्मनिर्भर बन रहा है अंतर राष्ट्रिय स्तर पर भारत देश की साख गिर रही हैं और हैं ट्रिलियान डॉलर इकॉनमी  का रट लगाने वाले  गोदी मीडिया में बैठे लोग देश वासियो को झूठी धिराशा देने में लगे हुए  हैं!
हम कब समझेंगे अपने हाल को और  कब तक अंधे बने रहेंगे  आने वाला समय देश के लिये और खतर नाक हो ने वाला हैं किसान सड़क पर है देश में जाती गत वैमनस्यता शिखर पर है और हमारे देश की गोदी मीडिया तलीबांन - तालिबान का रट लगा कर  देश को दिग्भ्रमित कर रही ,इन्हे है पहले अपना गिरेबाँ तो झाँक लेना चाहिए धर्म के आफीम का नशा चढ़ा कर हम अपनों को  और अपने राष्ट्र को ही चोट पहुँचने में लगे हुए हैं  ऐसे में हम देश का विकास क्या ख़ाक करेंगे  उद्योग घरानो द्वारा संचालित गोदी मीडिया धर्म आधारित अफीम परोशने का काम कर रही है !

11-Sep-2021

Related Posts

Leave a Comment