कानपुर। एक व्यक्ति ने अपने ससुराल वालों पर एक ट्रांसजेंडर के साथ शादी के लिए प्रलोभन देने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। शख्स ने अपनी शिकायत में अपने ससुराल वालों पर शादी के वक्त उसे और उसके परिवार को अंधेरे में रखकर धोखा देने का आरोप लगाया है। शिकायत के अनुसार, 28 अप्रैल को शादी करने वाले व्यक्ति को सच्चाई का पता तब चला जब उसने शादी को अंजाम देने की कोशिश की। उसने दावा किया कि उसकी पत्नी के जननांग पूरी तरह से विकसित नहीं हुए थे, जिसके कारण वह उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने में असमर्थ थी।
 
उन्होंने कहा कि जब वह अपनी पत्नी का मेडिकल परीक्षण कराने गए तो उन्हें पता चला कि वह एक ट्रांसजेंडर हैं। पुलिस निरीक्षक कुंज बिहारी मिश्रा ने कहा कि "शास्त्री नगर निवासी ने जिले के पनकी क्षेत्र की एक महिला से शादी की। शादी के बाद, दुल्हन को दूल्हे के साथ संबंध बनाने में असहज पाया गया और उसने बताया कि उसे स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं। जैसे-जैसे दिन बीतते गए, लड़के को संदेह हुआ कि कुछ गड़बड़ है। वह आखिरकार अपनी पत्नी को चेक-अप के लिए स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास ले गया, जिसने पुष्टि की कि वह एक ट्रांसजेंडर है." यह सुनते ही पति के होश उड़ गए।
 
पीड़ित का कहना है कि लड़की के घर वालों ने शादी से पहले उससे यह बात छुपाई थी। उसने कहा कि शुरुआत में तो सब सामान्य थी लेकिन धीरे-धीरे उसे पत्नी पर शक होने लगा। पत्नी उसे अपने करीब आने में कोई ना कोई बहाना बना देती थी। उस व्यक्ति ने रविवार को अपनी पत्नी की मेडिकल रिपोर्ट के साथ प्राथमिकी दर्ज कराई। दुल्हन, उसके माता-पिता और मध्यस्थ के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई। इंस्पेक्टर ने आगे कहा, "ससुराल वालों सहित आठ लोगों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है और जांच जारी है। जांच के आधार पर कार्रवाई की जाएगी."

 

15-Jul-2021

Related Posts

Leave a Comment