खम्मम जिले से लगे तेलंगाना के कोत्तागुड़म अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित  छत्तीसगढ़ के  नक्सली कमांडर कोरसा गंगा उर्फ आयतु की मौत हो गई। लंबे समय से ये बात सामने आ रही है कि नक्सली लगातार कोरोना संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। आज हुई इस घटना से नक्सलियों में कोरोना संक्रमण फैलने की पुष्टि भी हो गई। नक्सली कमांडर को अस्पताल में भर्ती कराकर लौट रहे तीन अन्य नक्सलियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

नक्सली में कोरोना का खौफ
प्राप्त जानकारी के अनुसार तेलंगाना के कोत्तागुड़म के एसपी सुनील दत्त ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि मृतक नक्सली कोरसा गंगा उर्फ आयतु उर्फ रमैया का कई दिनों से कैंप में ही इलाज किया जा रहा था। कोरोना संक्रमण के कारण जब उसकी हालत गंभीर हो गई, तो नक्सली उन्हें लेकर तेलंगाना के कोत्तागुड़म अस्तपाल पहुंचे, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि नक्सली कैंप में कई नक्सली बीमार पड़े हैं।

वे डॉक्टर के पर्चे के बिना दवाओं का उपयोग कर रहे हैं। तीन गिरफ्तार नक्सलियों के बारे में कोत्तागुड़म एसपी ने बताया कि पुलिस निरीक्षण में सावलम पूज्य, सोदी सीतैया और कुंजा जोगैया को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने पूछताछ में अपने आप को नक्सली गिरोह का सदस्य बताया। उनके पास से 10 जिलेटिन की छड़ें, 3 डेटोनेटर टेंडर, 4 बैटरी और एक तार का बंडल जब्त किया गया। कोरोना से मृत नक्सली को अस्पताल छोडक़र लौट रहे 3 नक्सलियों को गिरफ्तार कर जब उनका कोरोना टेस्ट किया गया, तो उनमें से एक नक्सली कोरोना संक्रमित मिला। जानकारी के अनुसार तेलंगाना के कोत्तागुड़म जिले में ही तीनों नक्सलियों की गिरफ्तारी हुई है। इस बात की पुष्टि तेलंगाना के कोत्तागुड़म एसपी सुनील दत्त ने की है।

पुलिस अधीक्षक दत्त ने कहा कि कई और नक्सली कमांडर हैं, जो कोरोना से संक्रमित हैं। पुलिस ने बताया कि कोरोना संक्रमित मृतक नक्सली का नाम कोरसा गंगा उर्फ आयतु है, जो बीजापुर जिले के गोरना का निवासी है। कोत्तागुड़म मनुगुरु पुलिस ने नक्सली गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने ये भी बताया कि पांच नक्सली नेता की कोरोना से मौत हो गई है। इसके साथ ही कई नक्सली अभी भी कोरोना से पीडि़त हैं।

02-Jun-2021

Related Posts

Leave a Comment