एजेंसी 

रिपोर्ट : भारत में हर दिन कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर बढ़ता ही जा रहा है। देश में पिछले दो दिन से लगातार तीन लाख से ज्यादा कोरोना के नए मरीज मिल रहे हैं और ढाई हजार से ज्यादा लोगों की जान जा रही है। इस बीच, एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत में आने वाले दिनों में कोरोना वायरस का कहर और बढ़ेगा। मई में हर दिन 5,000 से ज्यादा लोगों की जान जाएगी यानी कि अप्रैल से लेकर अगस्त तक 300,000 से ज्यादा लोगों की मौत होगी। 


वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन (आईएचएमई) की ओर से कोविड-19 की आगामी स्थिति पर अध्ययन किया गया है। 15 अप्रैल को प्रकाशित इस अध्ययन में कोविड टीकाकरण अभियान के बावजूद दूसरी लहर के लंबे समय तक कहर बरपाने की आशंका जताई गई है। 

आईएचएमई के विशेषज्ञों ने अध्ययन में चेतावनी दी है कि भारत में आने वाले समय में कोरोना महामारी और विकराल रूप धारण कर सकती है। इस अध्ययन में विशेषज्ञों ने भारत में कोरोना मरीजों की संख्या और कोविड से होने वाली मौतों का आकलन किया है। अध्ययन में दावा किया गया है कि भारत में मई में कोरोना महामारी से प्रतिदिन 5,600 से ज्यादा लोगों की मौत होगी। एक अनुमान के मुताबिक, 12 अप्रैल से 1 अगस्त के बीच 3,29,000 लोगों की कोरोना से मौत हो सकती है। कोरोना से मरने वालों की यह संख्या जुलाई के अंत तक 6,65,000 तक पहुंच सकती है। 

वाशिंगटन विश्वविद्यालय के अध्ययन में कहा गया कि सितंबर, 2020 से फरवरी, 2021 तक कोरोना संक्रमितों की संख्या और कोविड से होने वाली मौतों की संख्या में गिरावट देखी गई, लेकिन 15 फरवरी के बाद संक्रमण ने एक फिर अपनी  रफ्तार पकड़ ली। 

बता दें कि देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर जारी है। आज लगातार दूसरे दिन 3.45 लाख से अधिक कोरोना के नए मरीज मरीज मिले हैं और 2600 से अधिक लोगों की जान चली गई। इसी के साथ देश में सक्रिय मरीजों की संख्या 25.50 लाख से अधिक हो गई है।  

 

24-Apr-2021

Leave a Comment