एजेंसी 

लखनऊ : यूपी में योगी सरकार के बाद से अपराधियों में यूपी पुलिस का खौफ घर कर गया है. जिसके कारण पिछले 10 महीनों में 5500 अपराधी अपनी जमानत रद्द करवाकर जेल जा चुके हैं. ये कहना है यूपी पुलिस के मुखिया डीजीपी ओपी सिंह का. आगरा में अपराध समीक्षा बैठक में डीजीपी ने कहा कि अपराधियों के खिलाफ यूपी पुलिस की कार्रवाई को सफल बनाने के लिए एसटीएफ ने निष्ठापूर्वक प्रयास किए हैं, जिसके कारण अब तक 5500 अपराधी अपनी जमानत रद्द करवा चुके हैं.

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि योगी सरकार बनने के बाद से यानि मार्च 2017 से जनवरी 2018 के बीच यूपी पुलिस ने 1331 एनकाउंटर किए हैं. जबकि 10 महीने में 5409 अपराधियों ने अपनी बेल रद्द करवा ली है. इसके अलावा 3091 वांछित अपराधी गिरफ्तार किए गए हैं. इनमें से 50 फीसदी के ऊपर इनाम घोषित था.

बता दें कि एन्काउंटर के मामले में सबसे आगे पश्चिमी उत्तर प्रदेश है. सिर्फ मेरठ जोन में ही 449 एन्काउंटर्स हुए हैं. यहां 985 को गिरफ्तार किया गया, जबकि 22 अपराधियों को मार गिराया गया और 155 घायल हुए. हालांकि एन्काउंटर्स के दौरान 128 पुलिसकर्मी घायल भी हुए, जिनमें से एक शहीद हो गया. उत्तर प्रदेश पुलिस की जानकारी के मुताबिक 20 मार्च 2017 से 31 जनवरी 2018 के बीच सूबे में कुल 1331 एन्काउंटर्स हुए.

05-Mar-2018

Related Posts

Leave a Comment