मीडिया रिपोर्ट 

इस्लामाबाद। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष इमरान खान के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। पाकिस्तान के चुनाव आयोग (ईसीपी) ने इमरान खान के खिलाफ कोर्ट की अवमानना का केस लगाया है। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, इमरान खान ने चुनाव आयोग की कार्यवाही को भी गंभीरता से नहीं लिया। ईसीपी के अनुसार, वे न तो सुनवाई के दौरान पहुंचे और न ही उन्होंने लिखित में कोई माफीनामा दिया, जिसके बाद उनके खिलाफ वारंट जारी हुआ है। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इमरान खान ने जो पहले जवाब दिया था, उसे ईसीपी ने खारिज कर दिया है। ईसीपी ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि उन्हें 26 अक्टूबर को आयोग के सामने पेश करने के लिए गिरफ्तार कर लिया जाए।

पीटीआई लीडर बाबर आवान ने ईसीपी के निर्णय को असंवैधानिक बताते हुए, मामले को इस्लामाबाद हाईकोर्ट में ले जाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि न्यायालय के निर्णय के बिना ही ईसीपी ने फैसला शीघ्रता से घोषित किया गया है। पीटीआई नेता ने आगे कहा कि ईसीपी तहरीक-ए-इंसाफ और इमरान खान को टार्गेट कर रहे हैं। उन्होंने साथ में यह भी कहा कि सभी दलों ने दावा किया था कि चुनावों में हेराफेरी हुई थी, लेकिन किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

12-Oct-2017

Related Posts

Leave a Comment