गुवाहाटी : 14 साल की एक लड़की की लाश को कब्र से निकाल कर उसका रेप करने की कोशिश का एक  रोंगटे खड़े कर देने वाला एक मामला सामने आया है। असम के देमाजी जिले के पुलिस अधीक्षक धनंजय गानावत के मुताबिक असम की 14 साल की लड़की की 17 मई को संदिग्ध स्थिति में मौत हुई थी और उसी रात परिजानों ने उसे गांव के किनारे साइमन नदी के तट पर दफना दिया। इस दौरान गांव के कुछ लोग भी मौजूद थे।

उसके एक दिन बाद (18 मई) को 51 वर्षीय अकान साइकिया नाम का एक व्यक्ति  कब्र से लड़की की लाश को बाहर निकाल कर उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास करने लगा। तभी वहां से गुजर रहे एक मछुआरे ने उसे देखा और तुरंत बाद इसकी सूचना पुलिस को दी। उसके कुछ ही देर बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी अकान के हाथ बांधकर उसे हिरासत में ले लिया गया। एसपी ने बताया कि लड़की की लाश के परीक्षण के लिए परिवार की अनुमति लेकर फिर से पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और रिपोर्ट का इंतजार है। पुलिस ने आरोपी अकान साइकिया के खिलाफ पोक्सो कानून सहित भारतीय दंड संहिता की धारा 306 और 377 के तहत मामले दर्ज किए हैं।

उधर, इससे पहले दो शादियां कर चुके आरोपी अकान साइकिया के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं। अकान की पहली पत्नी ने 2018 में उसके खिलाफ घरेलू हिंसा के तहत शिकायत करने पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर देमोजी जेल भेज दिया था। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के मद्देनजर जेल में कैद कैदियों में भी कोरोना फैलने की आशंका से कोरोना का कहर कम होने तक कुछ कैदियों को पैरोल पर रिहा करने का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया।

इसी के तहत मार्च महीने के आखिर में अकान को पैरोल मिलने पर जेल से रिहा हुआ था। परंतु जेल से बाहर आने के कुछ ही दिन बाद इस तरह की घिनौनी हरकत को अंजाम देने से डॉक्टरों ने उसकी मानसिक स्थिति की जांच की।  बताया जाता है कि अकान माहिलाओं के प्रति साइको (सनकी) की तरह बर्ताव करता था।  पुलिस अधीक्षक धनंजय गानावत ने बताया कि गांव के कई लोगों का कहना है कि अकान के लड़की का यौन शोषण करने के कारण ही उसने आत्महत्या कर ली है।

22-May-2020

Related Posts

Leave a Comment