कोरापुट 

एक नाबालिग के साथ वर्दीवालों ने गैंगरेप किया। इंसाफ नहीं मिलने पर पीड़िता ने खौफनाक कदम उठा लिया।  घटना ओडिशा के भुवनेश्वर की है। नक्सल प्रभावित कोरापुट जिले के कुंडुली में सोमवार को 14 साल की एक आदिवासी लड़की ने कथित रूप से आत्महत्या कर दी। नवीं कक्षा की छात्रा इस लड़की ने तीन महीने पहले आरोप लगाया था कि वर्दी पहने हुए चार लोगों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया था। 

इस पूरे मामले में यह बात स्पष्ट नहीं हो पाया की वे वर्दीधारी कौन थे इस बात का पता नहीं चल पाया है। रिश्तेदारों का कहना है कि लड़की ने रेप मामले में इंसाफ नहीं मिलने से आहत होकर आत्महत्या की है। वह पहले भी आत्महत्या करने की कोशिश कर चुकी है। लड़की ने पिछले साल अक्टूबर में आरोप लगाया था कि वर्दी पहने चार आदमियों ने कुंडुली क्षेत्र में उसके साथ रेप किया था। वह उस समय अपने गांव मुसागुडा लौट रहीं थीं। हालांकि, राज्य पुलिस ने दावा किया था कि लड़की का रेप नहीं हुआ है। लेकिन लड़की अपने बयान पर कायम थी। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने लड़की की मौत पर शोक व्यक्त किया है। वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

खुलासा पोस्ट न्यूज नेटवर्क ने भी इस मामले में घटनास्थल पर जाकर 2 महीने पहले रिपोर्टिंग की थी. और इस खबर को विशेष महत्व देते हुए प्रकाशित किया था लेकिन न्याय की गुहार लगाती नाबालिग पीड़िता ने आखिरकार हार मान ली और कथित रूप से आत्महत्या कर ली.  

23-Jan-2018

Leave a Comment