सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा .."हमनें ये पाया कि राजनीति में अपराधी पृष्ठभूमि के लोग बढ़ रहे हैं 

राजनीति पार्टियों को उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड को पब्लिक करना होगा

ये भी बताना होगा कि आपराधिक पृष्ठभूमि वाले को क्यों लिया.

-राजनीतिक दल अपनी वेबसाइट में प्रत्याशी का आपराधिक रिकॉर्ड बताएं

-टिकट देने की वजह बताएं

-क्षेत्रीय/राष्ट्रीय अखबार में छापें..

-फेसबुक/ट्विटर पर डालें..

आदेश का पालन कर चुनाव आयोग को जानकारी दें

-पालन न होने पर आयोग अपने अधिकार के मुताबिक कार्रवाई करे

-जीतने की संभावना ही नहीं बल्कि पार्टी आपराधिक पृष्ठभूमि के व्यक्ति को टिकट देने पर उसकी योग्यता, उपलब्धियों और मेरिट की जानकारी दे.

अगर पार्टी आपराधिक पृष्ठभूमि के व्यक्ति को चुनाव में टिकट देती है उसका कारण भी बताएंगी कि आखिर वो किसी बेदाग प्रत्याशी को टिकट क्यों नहीं दे पाई.
यू पी ब्यूरो 

 

13-Feb-2020

Leave a Comment