धौलपुर। राजस्थान का सबसे कुख्यात डकैत जगन गुर्जर ने शुक्रवार रात को सरेंडर कर दिया है। इसी 12 जून को महिलाओं को निर्वस्त्र करके घुमाने समेत लूटपाट और डकैती की लगभग 100 वारदातों को अंजाम दे चुके जगन गुर्जर से धौलपुर जिले के बाड़ी सदर पुलिस थाना में पूछताछ की जा रही है। इस पर पुलिस ने 40 हजार रुपए का इनाम भी रखा हुआ था। 

धौलपुर एसपी अजय सिंह भी शनिवार सुबह बाड़ी सदर पुलिस थाना पहुंचे है। पुलिस पूछताछ के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी कि जगन गुर्जर ने खुद सरेंडर किया है या पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। हालांकि फिलहाल यही माना जा रहा है कि जगन गुर्जर ने खुद आत्मसम्पर्ण किया है। 

बता दें कि जगन गुर्जर मूलरूप से धौलपुर के डांग इलाके के गांव भवुतीपुरा का रहने वाला है। वारदातों को अंजाम देने के बाद अक्सर अपनी टीम के साथ जगन चंबल के बीहड़ों में छुप जाता है। बीहड़ों में छुपे जगन व उसकी गैंग से राजस्थान, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश पुलिस की कई बार मुठभेड़ हो चुकी है। 

मीडिया रिपोर्टर्स में दावा किया जा रहा है कि जगन गुर्जर ने खुद सरेंडर किया है। 12 जून को धौलपुर के करनपुर-सायरा पुरा में बंदूकों बटों से मारपीट महिलाओं को नग्न अवस्था में घुमाने का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने जगन गुर्जर की तलाश तेज कर दी थी। उसकी तलाश में कई संभावित ठिकानों पर दबिश दी गई। 15 जून को तो जगन की गैंग ने पुलिस पर हथगोले तक फेंके। बताया जा रहा है कि पूर्व विधायक भैरो सिह गुर्जर सहित कई लाेग जगन गुर्जर के सरेंडर के संबंध में पुलिस और उसकी गैंग के बीच मध्यस्थता कर रहे थे। इससे पहले भी जगन गुर्जर तीन बार सरेंडर कर चुका है। 

28-Jun-2019

Related Posts

Leave a Comment