नई दिल्ली: बीएसएफ से बर्खास्त तेज बहादुर यादव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है. इस वीडियो को देख लोग सकते में आ गए हैं. इस वीडियो में तेज बहादुर यादव पीएम मोदी को जान से मारने की बात कह रहे हैं इसके एवज में वो 50 करोड़ की रकम भी चाह रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ये वीडियो करीब दो साल पुराना बताया जा रहा है. हालांकि टीवी9 भारतवर्ष सोशल मीडिया में वायरल इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता.

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे इस वीडियो में तेज बहादुर यादव अपने कुछ दोस्तों के साथ बैठे नजर आ रहे हैं. तेज बहादुर यादव कुछ खा रहे होते हैं और तभी उनके सामने बैठा हुआ शख्स बोलता है कि एक सिपाही को इतनी नॉलेज नहीं हो सकती. तभी तेज बहादुर यादव बोलते नजर आते हैं…
तेज बहादुर यादव: मुझे पैसे दो और मैं मोदी को मार दूंगा.
दोस्त: तो तुम्हें मोदी को मारने में कोई दिक्कत नहीं है ?
तेज बहादुर यादव: मुझे दो 50 करोड़ रुपए
दोस्त: 50 करोड़ ? तुम्हें इतने पैसे भारत में तो मिलेंगे नहीं, हां लेकिन पाकिस्तान से मिल सकते हैं
तेज बहादुर यादव: नहीं, मैं ऐसा काम नहीं करूंगा। मैं अपने देश के प्रति वफादार हूं. फिर पैसा मायने नहीं रखता.
दोस्त: अरे मैंने तो इसलिए ये सवाल पूछा कि तुमने अभी कहा कि तुम 50 करोड़ रुपए के लिए मोदी को मार सकते हो
तेज बहादुर यादव: हां, लेकिन अपने देश से गद्दारी नहीं कर सकता हूं. मैं मारने के लिए तैयार हूं अगर कोई भारतीय मुझे इतने रुपए दे.

सोशल मीडिया में इस वीडियो को लाखों लोग देख चुके हैं और लोग अपनी-अपनी तरह से भड़ास निकाल रहे हैं. वहीं इस मामले में सियासत भी गर्मा गई है. भाजपा के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हैरानी जताई है.

नरसिम्हा राव ने कहा, ‘समाजवादी पार्टी के प्रत्‍याशी तेज बहादुर यादव के बयानों से स्‍तब्‍ध हूं. सपा ने उन्‍हें वाराणसी से पेश किया था. हालांकि, विभिन्‍न वजहों के चलते उनका नामांकन रद्द हो गया. हमलोग टीवी पर देख सकते हैं कि किस तरह वह 50 करोड़ रुपए के एवज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्‍या की साजिश रचने की इच्‍छा जता रहे हैं.’

गौरतलब है कि बीएसएफ से बर्खास्त सिपाही तेज बहादुर यादव को गठबंधन की ओर से पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव मैदान में उतारा गया था. विभिन्न कारणों की वजह से उनका नामांकन रद्द कर दिया गया है. अब तेज बहादुर ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. वही इस विडियो में सुनी जा रही आवाज़ को तेज़ बहादुर ने फर्जी बताया है.

https://twitter.com/ANI/status/1125378200391933952

siasat .com 

07-May-2019

Related Posts

Leave a Comment