नई  दिल्ली :योग गुरु स्वामी रामदेव ने मुंबई हमले में शहीद हुए आईपीएस अधिकारी हेमंत करकरे को श्राप देने संबंधी बयान देने पर घिरी भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के साथ बहुत अन्याय हुआ है।
केवल आशंका के आधार पर किसी को गिरफ्तार कर प्रताड़ित किया जाना उचित नहीं है। उन्होंने प्रज्ञा ठाकुर द्वारा हेमंत करकरे के संबंध में की गई टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर यह बात कही। स्वामी रामदेव ने कहा कि जिस समय प्रज्ञा ठाकुर और उनके साथियों को गिरफ्तार किया गया था।
जांच और जेल में रखे जाने के दौरान उन्हें बहुत ज्यादा प्रताड़ित किया गया। वह मौत के मुंह से निकलकर आई हैं। उन्होंने कहा कि मीडिया को भी दोनों पक्ष पर ध्यान देना चाहिए। साध्वी प्रज्ञा ने जो कहा उसे तो देखें ही, लेकिन उनके साथ जो बीता और उन्होंने जो बर्दाश्त किया उस पक्ष को भी देखें।
अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, हरिद्वार में एक कार्यक्रम में शिरकत करने के दौरान अपने संबोधन में स्वामी रामदेव ने कहा कि पाकिस्तान ने देश को आतंकवाद दिया है लेकिन पतंजलि योगपीठ ने भविष्य में विकास की राह दिखाई है।
उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा कुछ समय पूर्व दिए गए उस वक्तव्य का जिक्र किया जिसमें सुषमा स्वराज ने कहा था कि पाकिस्तान ने देश को आतंकवाद दिया है। हमनें आईएमएम और आईआईटी जैसे प्रतिष्ठान दिए हैं।

 

23-Apr-2019

Related Posts

Leave a Comment