नई दिल्‍ली। महाराष्ट्र के यवतमाल जिले में 52 साल के एक किसान ने आत्महत्या की और इसका जिम्मेदार कथित तौर पर राज्य की बीजेपी-शिवसेना सरकार को बताया। पुलिस के मुताबिक पंढरवाड़ा तहसील के पहापाल के निवासी धनराज बलिराम नवहटे के कथित सुसाइड नोट में अपनी दुर्दशा के लिए राज्य में बीजेपी-शिवसेना सरकार को दोषी ठहराया। पुलिस ने शव को कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की कार्रवाई कर रही है। वहीं पुलिस खुदकुशी के पीछे की असली वजह तलाश रही है। 

पुलिस के एक आला अधिकारी के मुताबिक नवहटे के पास चार एकड़ जमीन है और उन्होंने दो लाख रुपये का कर्ज एक स्थानीय महाजन से लिया था। उनके परिवार का कहना है कि वो पिछले कई सालों से फसलों के बर्बाद होने से परेशान थे। महाजन रोज अपना कर्ज वापस मांगता था। बुधवार को वो अपनी शादीशुदा बेटी के घर जाने के लिए निकले, लेकिन जब गुरुवार की शाम तक वापस नहीं आए तो उनकी तलाश शुरू की गई। जिसके बाद उनका शव उनके खेत के ही एक गड्ढे में पाया गया। प्रारंभिक जांच के मुताबिक उन्होंने कीटनाशक पीकर आत्महत्या की है। 

पुलिस के एक आला अधिकारी के मुताबिक नवहटे के पास चार एकड़ जमीन है और उन्होंने दो लाख रुपये का कर्ज एक स्थानीय महाजन से लिया था। उनके परिवार का कहना है कि वो पिछले कई सालों से फसलों के बर्बाद होने से परेशान थे। महाजन रोज अपना कर्ज वापस मांगता था। बुधवार को वो अपनी शादीशुदा बेटी के घर जाने के लिए निकले, लेकिन जब गुरुवार की शाम तक वापस नहीं आए तो उनकी तलाश शुरू की गई। जिसके बाद उनका शव उनके खेत के ही एक गड्ढे में पाया गया। प्रारंभिक जांच के मुताबिक उन्होंने कीटनाशक पीकर आत्महत्या की है। 

साभार : hindi.oneindia.com से ली गई खबर 

30-Mar-2019

Related Posts

Leave a Comment