दिल्ली : एजेंसी 

सीबीआई विवाद के बाद अंतरिम निदेशक बनाए गए नागेश्वर राव को सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना मामले में सजा सुनायी है। कोर्ट ने नागेश्वर राव को सजा के तौर पर कोर्ट में कोने में जाकर बैठने और एक हफ्ते के अंदर 1 लाख रुपए बतौर जुर्माना कोर्ट में जमा कराने का आदेश दिया है। बता दें कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में सुप्रीम कोर्ट ने मामले के जांच अधिकारी और सीबीआई के संयुक्त निदेशक अरुण कुमार के तबादले पर रोक लगायी थी। लेकिन सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद नागेश्वर राव ने सीबीआई के अंतरिम निदेशक रहते हुए अरुण कुमार का तबादला कर दिया था। जिसे कोर्ट ने अपने आदेश की अवमानना माना और सजा के तौर पर नागेश्वर राव को यह सजा दी। सुप्रीम कोर्ट ने नागेश्वर राव के साथ-साथ सीबीआई के कानूनी सलाहकार को भी उपरोक्त सजा का आदेश दिया है।

12-Feb-2019

Related Posts

Leave a Comment